अंधेरे में फ्रेंड की मामी को चोदा

ही फ्रेंड्स, हाउ अरे योउ? मी नामे इस सूरज, आंड ई आम फ्रॉम पुंजब. आगे 26 यियर्ज़, हाइट 5’6″, बॉडी टाइप इस नॉर्मल. मैं रहता पुंजब में हू, बुत मेरा होमे टाउन उप में है. मैं 6 मंत पहले जॉब करता था, बुत जुलाइ में मैने जॉब छ्चोढ़ दी, और अभी फ्री हू.

तो आज मैं आपको अपनी एक लस्टी सेक्स स्टोरी बताने जेया रहा हू, जो फेब के मंत में मेरे साथ हुई, जब मैं अपनी फ्रेंड की शादी में गया था उप. मैं 6 फेब को उप पहुँच गया, और 8 फेब को दोस्त के विलेज. सब रिलेटिव्स वाहा आए थे. फ्रेंड की हॉट-हॉट भाभी आंड आंटी उनमे से एक थी.

मालिनी जो मेरे फ्रेंड की मामी थी, क्या आंटी थी वो साली एक-दूं मस्त. उसका बॉडी टाइप मा कसम किसी का भी पानी निकाल दे. रंग सावला, हाइट 5 फीट, फिगर 36-34-38 होगा, और आगे करीब 42 साल थी. उससे बात करके मेरे अंदर का कामसुत्रा उठ गया. मैं बस अब मालिनी को छोड़ना चाहता था.

मैं उससे तोड़ा ज़्यादा बातें करने लगा. उनकी ज़्यादा हेल्प करने लगा. अब उससे थोड़ी अची दोस्ती हो गयी मेरी, और उसके हज़्बेंड से भी, मतलब मामा जी से भी. उसके बाद 10 फेब को तिलक था, तो ईव्निंग सब काम ख़तम होने के बाद सब रेडी होने लगे. मैं भी नहाने के लिए बातरूम देखने लगा.

नीचे के सब बातरूम बिज़ी थे, तो फ्रेंड ने कहा उपर जेया कर रेडी हो जेया. तो मैं उपर आ कर एक रूम में गया. वो रूम दो डोर वाला रूम था. मैं बातरूम में गया, बात लिया, और जब बाहर आया तो देखा की एक लेडी मिरर के सामने ओन्ली साया पहने हुए खड़ी थी. मैं सिर्फ़ बर्म्यूडा पहने था, और टवल मेरे कंधे पर था.

तभी वो अपनी ब्रा उठाने के लिए पीछे मूडी, और उसने मेरे को देख लिया. वो मालिनी थी. उसने जब मेरे को देखा तो वो दर्र गयी. हम एक-दूसरे को देखते रह गये. क्या बूब्स थे साली के. 3 सेकेंड्स बाद मामी ने बेड पर पड़ा टॉवल उठ कर अपने उपर लिया.

मामी: अर्रे आप यहा क्या कर रहे हो?

मैं: नहाने आया था. सॉरी मामी, मेरे को नही पता था आप यहा है.

मामी: हा बुत ये मेरा रूम है.

मैं: सॉरी मेरे को नही पता था मामी. नीचे सब बातरूम बिज़ी थे, तो मेरे को उपर भेजा गया. जब मैं इस रूम में आया तो यही खाली था.

मामी: अछा ठीक है, जाओ तुम.

मामी ने हाथ उठ कर इशारा किया, और उनका टॉवल फिर गिर गया. उनके बूब्स के फिर दर्शन हो गये, और मेरा भी लंड पूरा खड़ा हो गया. जब वो झुकी टॉवल के लिए, तो मेरे लंड की तरफ देखा.

अब सब तिलक एंजाय करने लगे. जेंट्स सब शराब पी रहे थे. मैने भी पी. अब मुझे नशा हो गया, और मेरी नज़र मामी की तरफ गयी. साली ने पिंक कलर की सारी पहनी थी. क्या माल लग रही थी. सब डॅन्स कर रहे थे. तो मैं भी डॅन्स करने गया, और मामी के पीछे जेया कर उनकी कमर पर हाथ फेर दिया.

मामी ने मेरे को घूर के देखा, बुत कुछ बोली नही. फिर बाद में सब खाना खाने लगे. करीब 20 मिनिट बाद सब लॅडीस अपने रूम्स में जाने लगी, और अब जेंट्स रह गये थे. रात के 11 पीयेम हो गये थे. मैं भी मौका देख कर मामी के पीछे चला गया. वो अपने रूम में गयी. मामी ने रूम लॉक किया, बुत वो 2न्ड डोर लॉक नही किया

मैं देख रहा था उनको वाहा से. उसने अपनी सारी उतरी, और ब्लाउस भी उतार दिया. मेरी तो हालत खराब हो रती थी, उपर से शराब का सुरूर. मैं धीरे से अंदर गया, डोर लॉक किया, और लाइट बंद करके मैने मल्टी को पीछे से पकड़ कर उसकी आइज़ बंद कर ली. फिर उसको बेड पर लिटा लिया.

मामी: आ हट्तो जी, क्या कर रहे हो? पीने के बाद आप भी बस, वैसे तो ध्यान नही देते, (मामी मुझे अपना हब्बी समझ रही थी), और पीने के बाद जोश में आ जाते हो.

मैने मामी को बेड पर पेट के बाल लिटा लिया, और उनके उपर चढ़ गया, और उनका पेटिकोट खोल दिया. मामी बस ब्रा पनटी में थी नीचे. मैं अब उसके बूब्स दबा रहा था. मामी भी मदहोश हो रही थी. 1 मिनिट बाद मैने ब्रा और पनटी भी उतार दी, और उनकी छूट में उंगली करने लगा.

मामी: आहह बस करो ना, आज हो क्या गया आपको उफफफ्फ़ माआ.

मैने अपनी पकड़ नही छ्चोढी, और और अपना पाजामा निकाला. फिर मैने अंडरवेर निकाला, और लंड पीछे से मामी की छूट में डाल दिया एक धक्के में पूरा. मामी ज़ोर से चिल्लाने वाली थी, लेकिन मैने उसका मूह दबा लिया. वो बस ह्म ह्म करके रह गयी.

फिर मैने अपने धक्को की स्पीड तेज़ कर दी. करीब 5 मिनिट बाद मैने पोज़ बदला, और मामी को सीधा किया. फिर उसकी लेग्स फैला के बूब्स पकड़ कर दबाने लगा, और नीचे चुदाई करने लगा. मामी भी बस मदहोशी में छुड़वा रही थी. हम दोनो पसीने से भीग गये थे.

करीब 10 मिनिट बाद मेरा होने वाला था, तो मैं मामी के बूब्स पर बैठ गया, और उनका सर पकड़ कर उपर उठाया. फिर पूरा लंड उनके मूह में देकर सर दबा कर रखा. करीब 5 धक्के मारे, और सारा माल उनके मूह में ही छ्चोढ़ दिया. अब मैं बस हाँफने लगा.

मामी हाँफ रही थी, और थूक रही थी. फिर मैं अपना लंड उसकी छूट में डाल उसके उपर लेट गया. वो भी तक गयी थी. करीब 10 मिनिट बाद मैं उसकी छूट को रब करने लगा, क्यूंकी मेरे को पता था अब और कुछ होने वाला था. वो भी मेरा लंड सहलाने लगी. बुत उसको तोड़ा-तोड़ा डाउट लगा क्यूंकी मैं 30 मिनिट से कुछ बोला नही था. फिर वो उठी, और लाइट जलाई. वो मेरे को अपने बेड पर देख कर हैरान रह गयी.

मेरे को अपने बेड पेर नंगा देख कर उसकी नज़र मेरे 7 इंच लंबे लंड पर गयी, और अपने बूब्स और छूट को च्छुपाने लगी.

वो बोली: सूरज तुम यहा! और ये क्या किया.

मैं भी कमीने की तरह बोला: आपको चोदा.

उसको गुस्सा आया और वो मेरे पर भड़क गयी.

वो बोली: कमीने, शरम नही आई तेरे को ये करते हुए.

और बेड पर आ कर मेरे को ज़ूर का थप्पड़ मारा.

फिर वो बोली: अभी मैं सब को बुलाती हू.

लेकिन मैने उसको पकड़ा, और अपना लंड फिरसे उसकी छूट में डाल कर छोड़ने लगा. कुछ देर में वो भी गरम हो गयी, और सेक्स एंजाय करने लगी. अभी 5 मिनिट ही हुए थे, की किसी ने दरवाज़ा नॉक किया. मामी की गांद फटत गयी और मेरी भी.

मामी बोली: कों?

तो मामा बोले: मैं हू मालिनी.

तो मैं रिलॅक्स हुआ क्यूंकी मामा ने पी रखी थी फुल. सेट था वो साला. मैने मामी को छ्चोढा नही, और फिर छोड़ने लगा. मामी की गांद फटत रही थी, तो मामी बोली-

मामी: छ्चोढो ना, मामा आ गये है. दोनो को मारेगा आज.

बाहर से फिरसे आवाज़ आई: खोलो मालिनी.

तो मामी बोली: आई जी, रूको तो.

उसने मेरे को बेड के पीछे च्छूपने को कहा, और मैं कपड़े उठा कर वाहा च्छूप गया. मामी अभी भी न्यूड थी.

तभी बाहर से मामा बोला: खोल बहनचोड़ साली, क्या कर रही है?

मामी ने बेडशीट ली अपने उपर, और दरवाज़े पर गयी, और डोर खोला.

मामा: इतनी देर क्यूँ लगाई बहनचोड़.

मामी: वो मैं चेंज कर रही थी.

मामा: ठीक है.

मामा साला पुर नशे में था. तो उसने मामी का न्यूड शोल्डर देखा. फिर उसने भी मामी को नंगा कर लिया.

मामी: ये क्या कर रहे हो? कोई देख लेगा.

मामा: कों देखेगा बहनचोड़. देख भी लेगा तो क्या? मैने अपनी बीवी को नंगा किया है, किसी और को नही. और उसने भी मामी को बेड पर पटक लिया.

अब आयेज कैसे मामा और मैने दोनो ने मामी को छोड़ा, नेक्स्ट स्टोरी में बतौँगा आपको. आप लोगों को मेरी स्टोरी कैसी लगी, आप मेरे को मैल या हणगौट पर मेसेज कर सकते हो. मेरी कॉंटॅक्ट ई’द है-

यह कहानी भी पड़े  सब्ज़ी वाली को पटा के चोदा


error: Content is protected !!