सेक्सी ज़ीया ने कॅमरा पर अपनी सेक्सी चूत का पानी निकाला

ही फ्रेंड्स, मेरा नाम संदीप है. अब मैं आपको अपने एक हॉट एक्सपीरियेन्स के बारे में बताने जेया रहा हू, जो रीसेंट्ली ही हुआ है. एक दिन मैं स्वाती नाम की एक लड़की से ऑनलाइन छत कर रहा था, और छत काफ़ी अची जेया रही थी.

उसके बाद हमारी फोन कॉल्स शुरू हुई, और हम ज़्यादा से ज़्यादा शैतानिया करने लगे. एक दिन स्वाती के साथ मेरी कॉल पर बात काफ़ी आयेज तक बढ़ गयी. फिर उसने मुझे छत पर आके बात ख़तम करने को बोला. फिर मैने कॉल कट करके छत पर उसको जाय्न किया. जल्द ही हमारी छत बहुत सेक्सी टाइप होने लगी.

स्वाती चाहती थी की मैं उसको बेड पर लिटा कर उसको चोक करू. मैने उसको कहा, की फिर मैं उसकी सेक्सी जांघे खोलूँगा, और उसकी पानी बहती हुई सेक्सी छूट मेरे सामने होगी.

फिर जब मैं उसकी छूट में एक उंगली डाल कर हिलौँगा, तो उसकी आहें निकलनी शुरू हो जाएँगी. जैसे-जैसे मेरी उंगली उसकी कोमल छूट के साथ खेलेगी, वैसे-वैसे उसकी आहें कंट्रोल से बाहर होती जाएँगी. फिर जब मैं उसके बूब्स को पकड़ कर मसलूंगा, तो उसकी बॅक में हुलचल होगी. और तभी वो मुझे डीप किस करेगी.

फिर मैं नीचे जाके उसके निपल्स को चूसूंगा, और वो मेरी गर्दन के पास आके मेरे कान को छबाएगी. मेरा लंड धीरे से उसकी छूट में जाएगा, और वो मुझे पागलो की तरह किस करना चाहेगी.

शी: ओह गोद! मेरी छूट नदी की तरह पानी बहा रही है. प्लीज़ कॉल करते है, और बाकी सब कॉल करके करते है.

फिर मैने उसको कॉल की, और उसने बिना एक सेकेंड गवाए मेरी कॉल पिक कर ली. मैं दूसरी साइड पर उसकी चढ़ि हुई सांसो की आवाज़ को सुन पा रहा था. फिर मैने उससे बात शुरू की. जैसे-जैसे हमारी बात हो रही थी, मैं उसको मोन करते हुए सुन पा रहा था.

मैने उसको बोला, की मैं उसको बेड पर लिटा कर उसकी टाँगो को अपनी गर्दन पर लपेट कर उसकी छूट को खाना चाहता हू. ये सुन कर उसकी आहें और ज़ोर की निकालने लगी, क्यूकी वो अपनी छूट के साथ खेल रही थी. मैं उसकी तेज़ होती सांसो को सुन पा रहा था, जब मैने उसको कहा की मैं उसकी टांगे खोल कर अपना लंड उसकी छूट की गहराई तक उतार दूँगा.

शी: आहह… ऐसे ही छोड़ो मुझे.

फिर उसने किसी रांड़ की तरह आहें भारी, क्यूकी वो तेज़ी से अपनी छूट को मसल रही थी. फिर जब मैने आहह आ करते हुए कॉल पर ही अपना माल निकाल दिया, तो उसकी आहें एक सेकेंड के लिए रुकी.

मैने उसको बोला, की किस तरह से मेरा माल उसकी छूट से लेके उसकी जाँघो पर बहेगा, और वो आहें भारती रही. फिर उसकी तेज़ साँसे चरम पर पहुँची, और उसकी छूट बह गयी. उसके बाद उसने मुझे अपनी नंगी एक पिक भेजी. उसका जिस्म पसीने से भरा हुआ था, और बाल बिखरे पड़े थे. वो अपनी उंगलिया चाट रही थी, और संतुष्ट थी.

शी: मैं रियल में ये करने के लिए वेट नही कर सकती. चलो मिलते है.

मैं उसको मिलने के लिया बहुत उत्सुक था, तो मैने उसके साथ एक दिन बिताने का प्लान बनाया. लेकिन जब मैने उसको अगले हफ्ते मेसेज किया, तो वो मुझे कही नही मिली. उसके इस तरह से गायब हो जाने से मैं बहुत गुस्से में था.

मैने छत अपने पास ही रखी, और माइंड चेंज करने के लिए पॉर्न साइट्स ओपन करके बैठ गया. लेकिन कुछ भी काम नही कर रहा था. फिर मैं सरफिंग करते-करते इंडिंसेक्शसतोरिएस2.नेट पर पहुँचा.

जल्दी ही उस साइट से मैं आकर्षित हो गया. इस साइट की कहानियों ने मेरे लंड पर पॉर्न वीडियोस से ज़्यादा असर डाला. फिर स्टोरीस देखते-देखते मेरी नज़र एक ‘देल्ही सेक्स छत’ नाम की एक साइट पर एक लड़की की कहानी मिली. मैं उत्सुक था, तो मैने स्टोरी लिंक पर ताप कर दिया.

फिर मैं एक साइट पर पहुँच गया, जहा बहुत सारी इंडियन लड़किया थी. मैने ज़रा भी वेट नही की, और क्रेडट पर्चेस करके साइन उप किया. अब मैं वेबसाइट पर था. फिर मैने एक ज़ियः नाम की एक मॉडेल पर क्लिक किया, जो हयदेराबाद से थी, और उसके साथ छत करने लग गया. वो आचे से जानती थी सेक्स छत करना. लेकिन मुझे सिर्फ़ यही ही नही चाहिए था.

मे: आपके साथ सेक्षटिंग करने में बहुत मज़ा है.

ज़ियः: मुझे खुशी हुई तुम्हे पसंद आई.

मे: हा, बुत और कुछ भी चाहिए.

ज़ियः: तुम मुझे वीडियो कॉल करना चाहते हो नॉटी बॉय? (और उसने आँख मारने वाला एमोजी भेज दिया)

मे: मैं तुम्हारे साथ मज़े लेना चाहता हू, तुम्हे देख कर.

ज़ियः: सुन कर ही मज़ा आ रहा है. चलो करते है.

फिर ज़ियः की वीडियो मेरे सामने आई, और उसने ब्लॅक कलर की सेक्सी लाइनाये पहनी हुई थी. उसके पीछे म्यूज़िक चल रहा था, और जैसे ही उसने मुझे देखा, तो वो स्माइल करने लगी. वो अपने होंठो को गाने की रिदम में हिला रही थी.

फिर वो 26 साल की हयदेराबाद गर्ल कॅमरा के पास आई, और झुक गयी. मैने उसकी टॉप के अंदर उसकी सेक्सी क्लीवेज के दर्शन किए. उसने अपने होंठो को हिलाते हुए अपने दोनो बूब्स पकड़े, और आहें भरने लगी. फिर वो हस्सी और मेरे लिए घूम गयी.

ज़ियः: ये है वो गांद जो तुम देखना चाहते हो?

उसकी गांद देखते ही मैने अपना लंड बाहर निकाल लिया, और उसकी हल्के हाथो से हिलने लगा. फिर मैं बोला-

मैं: हा, ये बिल्कुल वही गांद है जो मैं देखना चाहता था.

ज़ियः: अछा, तो तुमने मुझसे कहा है की तुम मुझे नॅस्टी चीज़े करते हुए देखना चाहते हो. तो क्या चाहते हो तुम मुझसे.

फिर मैने उसको तोड़ा आयिल लाने के लिए कहा. ज़ियः स्क्रीन से हॅट गयी, और एक मसाज आयिल की छ्होटी बॉटल लेके वापस आई. उसने अपने होंठ काटे, और मुझसे पूछा की मैं उससे क्या करवाना चाहता था. फिर जब मैने उसको उसका टॉप उतारने को बोला, तो वो नाच उठी.

फिर धीरे से उसने अपनी ब्लॅक टॉप उपर की, और फिर ज़ोर की साँस ली. उसके बूब्स उपर की तरफ उछले, और उसका टॉप नीचे गिर गया. उसने अपना होंठ काटा, और आ भारी, और मसाज आयिल अपने हाथ में लिया. फिर वो बोली-

ज़ियः: शीत! काश मैं इस सख़्त लंड को अपने मूह में ले सकती.

मैं: उससे पहले मैं तुम्हारे इन खूबसूरत बूब्स को छोड़ता.

फिर ज़ियः ने आयिल अपने बूब्स पर डाला, और मसालने लग गयी. वो मुझे बोली-

ज़ियः: क्या तुम इनकी बात कर रहे हो?

फिर उस कमाल की देसी लड़की ने आयिल को अपने जिस्म पर मलना शुरू कर दिया. वो खड़ी हो गयी, और उसने अपनी पनटी उतार दी. फिर वो अपने जुवैसी बूब्स को कॅमरा में दिखाने लग गयी.

उसके बाद वो घूम गयी, और आयिल को अपनी गांद पर रगड़ने लगी. फिर उसने अपनी गांद पर ज़ोर का थप्पड़ मारा. मैं ये देख कर अपने लंड को ज़ोर से हिलने लगा, और वो अपने चूतड़ पकड़ कर मसालने लगी.

फिर उसने अपने आयिल से भरे छूतदो को पकड़ा, और मेरी तरफ देख कर हासणे लग गयी.

मैं: अगर मैं वाहा होता, तो तुम्हारी जुवैसी छूट पर आयिल मसाज करता, और उसको उंगली से पानी-पानी कर देता.

ज़ियः: हा, ये तो सुनने में ही बड़ा मज़ेदार लगता है.

फिर उसने अपनी जुवैसी ब्रेस्ट को रब किया, और वाहा से अपने हाथ सीधे अपने सेक्सी जिस्म पर ले गयी. उसके बाद उसने अपनी छूट को रब करना शुरू कर दिया. वो आहें भर रही थी, और उसका सर पीछे की तरफ था, और वो अपनी छूट में उंगली कर रही थी. उसके रंडी जैसे एक्सप्रेशन से मेरा लंड और सख़्त हो गया, और मैं उसको तेज़ी से हिलने लगा.

ज़ियः मोन करने लगी, क्यूकी वो अपनी छूट को आयिल से मलते हुए उपर-नीचे मसाज कर रही थी. फिर वो पीछे की तरफ अपने बेड पर लेट गयी. उसने अपनी टांगे खोली, और अपनी छूट में तेज़-तेज़ उंगली करने लगी, जिससे उसकी टांगे काँपने लगी.

उसको देख कर मैं अपना लंड और तेज़ी से हिलने लग गया. उसने मुझे लंड को ज़ोर से हिलाते देख लिया. फिर वो बोली-

ज़ियः: एस बेबी! स्ट्रोक हार्डर. मैं चाहती हू, की तुम्हारे माल से स्क्रीन भर जाए. मेरी छूट बहुत गीली है.

मैं और ज़्यादा कंट्रोल नही कर पाया. लेकिन मैने कोशिश पूरी की अपने लंड को कंट्रोल करने की. फिर ज़ियः आ भारी अपना सिर पीछे किया, और अपने जिस्म को मसालने लग गयी. उसने अपने बूब्स दबाए, होंठ को काटा, और उंगली अपनी छूट में दबा ली.

जब उसकी छूट अपना पानी छ्चोढने लगी, तो उसकी बॉडी अकड़ने लगी, और वो आहें भर रही थी. फिर उसने अपनी आँखें खोली, और अपनी छूट में तेज़ी से फिंगरिंग कर रही थी. उसकी साँसे चढ़ि हुई थी.

फिर मैने अपना माल स्क्रीन पर निकाल दिया. वो भी मेरे साथ ही झाड़ गयी, और उसको चरमसुख का एहसास हो गया. मेरा डिक ठंडा हो गया था. फिर मैने स्क्रीन को सॉफ किया, और पीछे होके बैठ गया.

ज़ियः भी अपनी पीठ के बाल लेट गयी. उसकी च्चती उपर नीचे हो रही थी, और साथ में टांगे काँप रही थी. फिर उसने आराम से अपने जिस्म के साथ खेला, और मेरी तरफ देख कर खिलखिलाई.

ज़ियः: आचे से देखो बेबी. मैं जानती हू, की जो तुम देख रहे हो वो तुम्हे बहुत पसंद है. अपने दिमाग़ में ये तस्वीर रखो, और जब तुम्हे याद आए, तो दोबारा मुझसे मिलने आ जाना.

मैं: हा बिल्कुल.

ज़ियः: मैं इंतेज़ार करूँगी.

फिर उसने मुझे एक किस दी, और अपनी गांद पर थप्पड़ मारा. मैं खिखलाया, और मैं जान बूझ कर अपना लंड हिलने लगा. ज़ियः ने अपनी छूट को फैलाया मुझे तंग करने के लिए, और अपनी उंगली को चूसने लगी. फिर वो कॅमरा के पास आई, और कॉल कट करने से पहले उसने मुझे एक किस दी.

कितना सेक्सी दिन था ये. अब मैं बड़ी मुश्किल से वीकेंड की वेट कर रहा हू, ताकि मैं वापस उसके पास जेया साकु.

यह कहानी भी पड़े  कोच को पटा कर चूत चुदवायी

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *


error: Content is protected !!