विडो लेडी के साथ गोआ में घपा-घाप की स्टोरी

हेलो दोस्तों, मैं एक बार फिर आया हू आपके लिए न्यू स्टोरी लेके. मेरी ये स्टोरी भी पिछली स्टोरीस की तरह रियल है. मुझे आप लोगों का बहुत प्यार मिला है. मैं आपको बता डू, ये जुलाइ का मंत मेरे लिए बहुत सेक्सी गया है. इस मंत में मैने 6 फीमेल्स के साथ सेक्स किया है.

आज मैं आपको इस मंत में किए सेक्स की न्यू स्टोरी सुनने जेया रहा हू. प्लीज़ मुझे आप मैल करके ज़रूर बताए, की कैसी लगी आपको मेरे ये स्टोरी. तो स्टोरी स्टार्ट करते है.

ये बात जुलाइ की है. मेरी स्टोरी पढ़ कर एक लेडी का मैल आया. और उसने मुझसे बातें की. उसने बताया की वो एक डॉक्टर थी. हाइ प्रोफाइल थी. उसके हज़्बेंड की डेत 2 साल पहले हो गयी थी. उसने अपना नामे सोनिया (नामे चेंज्ड) बताया.

सोनिया की आगे 37 थी. उसने बताया की वो मुंबई से थी. और कहा की मैं उसकी और अपनी बातें सेक्यूर रखू.

उसने कहा: मैं एक हाइ स्टॅंडर्ड डॉक्टर लेडी हू. इसलिए मेरी छत और नंबर कही आउट ना हो.

मैने उससे कहा: आप इस बात की टेन्षन मत लो. मैं एक परसोनल और सेक्यूर कॉल बॉय हू. मेरे पास से किसी की प्राइवसी आउट नही होती. आप मुझे पर ट्रस्ट कर सकते हो. और आप मुझसे ओपन्ली बात कर सकते हो.

फिर सोनिया ने बताया की उसे सेक्स और प्यार की बहुत ज़रूरत थी. और कहा की वो हर किसी के साथ अपना अफेर नही कर सकती थी. उसके 2 बच्चे थे, और फॅमिली भी थी.

सोनिया बोली: मुझे सेक्यूर एंजाय्मेंट चाहिए. जिससे सब काम हो जाए, और किसी को पता ना चले.

मैने कहा: बेबी, आप आ जाओ जाईपुर. आपको पूरा एंजाय दूँगा और किसी को कुछ पता नही चलेगा.

तो उसने कहा: हम कही बाहर चलते है. मेरे पास पैसे की कमी नही है. बस एक हब्बी की कमी है.

मैने कहा: मेरी जान. आप कहा ले जाना चाहती हो मुझे?

सोनिया: हम कही बाहर तौर पर चलते है. हम दोनो साथ में एंजाय कर लेंगे. मुझे भी ओपन्ली खुल के आपके साथ मज़ा लेना है.

मैं: ओक बेबी. मैं आपके साथ जाने को रेडी हू. जाना कहा है हमे?

सोनिया: रोहित, तुम अपना व्हातसपप नंबर दो. मैं वाहा बताती हू, कहा जाना है. कैसी क्या प्लानिंग करनी है. मैं तुम्हे अपना सारा प्लान व्हातसपप पर बताती हू.

फिर मैने सोनिया डार्लिंग को अपना नंबर दिया, और उसने उसी टाइम मुझे मेसेज किया.

सोनिया बोली: हेलो, मी न्यू हब्बी.

मैं: एस, मी डार्लिंग.

सोनिया: बेबी, हम दोनो गोआ चलेंगे घूमने, 3 दिन के तौर पर. मैं यहा सब हॅंडल कर लूँगी.

मैं: ओक मेरी जान.

सोनिया: तुम बस आ जाना मेरी जान. मुझे तुम्हारे साथ हसीन पल जीने है. मेरी लाइफ में तुम फिरसे खुशी और एंजाय्मेंट भर दो.

मैं: मेरी सोनिया बेबी, मैं आपके लिए ज़रूर अवँगा. आपको 3 दिन में पूरा एंजाय दूँगा.

सोनिया: तट’स मी हब्बी. लोवे योउ मेरी जान.

तो दोस्तों, फिर हम 16 जुलाइ को गोआ पहुँच गये. अब मैं आपको सोनिया के बारे में बता डू. जब वो मेरे पास आई, तो मैं उसे देखता रह गया. उसने ब्लू जीन्स आंड ब्लॅक त-शर्ट पहनी हुई थी. उसके बूब्स त-शर्ट में टाइट थे. उसकी गांद उभरी हुई थी, अची मोटी गांद वाली औरत थी. बाल लंबे और खुले हुए थे.

सोनिया ने होंठो पर हल्की लिपस्टिक लगा रखी थी, और बहुत ही बाला की खूबसूरत लग रही थी. मैने गोआ रेलवे स्टेशन पर उसकी कमर पकड़ के उसे अपनी और खींच लिया. फिर एक लिप्स किस दे दी उसको. सोनिया मेरे किस से खुश और तोड़ा दर्र गयी. वो बोली.

सोनिया: आ रोहित. क्या कर रहे हो? यहा ये सब खुल्ले में नही करो. होटेल में जाके कर लेना जो करना है. ये पब्लिक प्लेस है बेबी.

मैं: मेरी जान. क्या हुआ, यहा कों जानता है हमारे बारे में?

मैने फिर उसकी कमर पकड़ ली, और एक किस और दे दिया. वही खड़े-खड़े उसकी मोटी गांद दबा दी. वो शरमाते हुए बोली-

सोनिया: उहह, रोहित क्या करते हो. तुमने ज़ोर से दबा दिया. प्लीज़ चलो यहा से.

सोनिया को मेरा फ्लर्ट करना पसंद आ रहा था. बुत वो अपनी पोज़िशन के दर्र से दर्र रही थी. उसे पब्लिक प्लेस पर फ्लर्ट करने में शरम आ रही थी. उसने मुझे कहा-

सोनिया: ऐसे प्यार और फ्लर्ट आज तक मेरे हज़्बेंड ने नही किया. मैं तुम्हारे साथ बहुत अछा फील कर रही हू. अभी से तुम इतना लस्टी हो रहे हो. अभी 3 दिन में क्या-क्या होगा. ई आम सो एग्ज़ाइटेड, आंड दररी हुई हू.

मैं: मेरी जान. मैं तो आपको खुशी और एंजाय्मेंट देने आया हू. आप बस मेरा साथ देती रहा करो. 3 दिन हम खुल के मस्ती करेंगे.

सोनिया: एस बेबी, तुम्हे ही करना है. जो चाहे करो.

सोनिया का शरीर बहुत ही मादक था. उसका शरीर ज़्यादा मोटा नही था. लेकिन भरे हुए मादक जिस्म की मालकिन थी. चलते टाइम गांद झटके लेते थी, और बूब्स टाइट और छ्होटे थे. उसने कॅब बुक की हुई थी. और हम कॅब में होटेल जेया रहे थे. मैने सोनिया को कॅब में ही पकड़ लिया, और उसकी नेक पर किस करने लगा.

वो भी मुझे मेरे गले पर किस कर रही थी. स्माइल भी दे रही थी. उसे ड्राइवर से शरम आ रही थी, तो वो मुझे डोर हटा रही थी. सोनिया को मज़ा आ रहा था. मैं कभी उसके टाइट बूब्स हल्के से दबा देता था. इससे उसके मूह आ निकल जाती.

ड्राइवर मिरर से सब देख रहा था. मैं सोनिया के जाँघ पर हाथ घूमने लगा, और घुटनो को मसल रहा था. सोनिया मेरे हाथ को हटाने के कोशिश कर रही थी. उसका मॅन नही था हटाने को, लेकिन ड्राइवर के दर्र से हटाने का नाटक कर रही थी.

अब वो भी धीरे-धीरे गरम हो रही थी. तो मैने उसका हाथ अपनी जीन्स के उपर, खड़े लंड पर रख दिया. वो उपर से ही मेरे मोटे लंड को अपने हाथो से फील कर रही थी. वो धीरे-धीरे मेरे लंड पर अपने हाथो से सहला रही थी.

उसे बहुत मज़ा आ रहा था. मैने मस्ती लेते हुए उसके बूब्स के निपल को उपर से ही ज़ोर से दबा दिया. तो सोनिया की ज़ोर से उहह आह निकल गयी. मैं हासणे लगा. और वो भी गुस्से वाली स्माइल दे रही थी. उसको मेरी ऐसी मस्ती पसंद आ रही थी. ड्राइवर फ्री में मज़े ले रहा था.

लगभग 30 मिनिट बाद हम एक हाइ क्लास होटेल में पहुँच गये. अब सोनिया भी तोड़ा ओपन हो गयी. उसने अपना हाथ मेरे हाथ में डाला, और एक पति-पत्नी की तरह हमने होटेल में एंट्री ली. उसने काउंटर से रूम के ली, और हम लिफ्ट में रूम तक जेया रहे थे. मैने लिफ्ट में सोनिया की मोटी गांद आचे दबा दी, और उसको वही गाल पर किस करने लगा. वो भी अब मज़ा ले रही थी.

सोनिया भी मुझे खुल के किस कर रही थी. मैने अपने हाथ से जीन्स के उपर से ही उसकी छूट को मसालने लगा. उसके मूह से ऑश उहह निकल गयी. वो अपने दोनो हाथ मेरी पीठ पर सहला रही थी. और वो बोली-

सोनिया: ऑश आह रोहित. बेबी क्या मज़ा देते हो तुम. पहले मिल जाते तो इतना वक़्त नही जाता मेरा. मैं कब से इस मज़े के लिए तड़प रही हू.

सोनिया की आँखों में आँसू आ गये. वो मुझे पुर फेस पर ज़ोर-ज़ोर से किस करने लगी. 5 मिनिट हमने ऐसा रोमॅन्स किया. फिर हम रूम में आ गये. उसने वॉटर ऑर्डर किया. हम वाहा तोड़ा फ्रेश हुए. वो बातरूम में नहाने गयी.

सोनिया जब जेया रही थी, तो वो अपनी कमर मटका कर चल रही थी. मैं भी उसके पीछे बातरूम में जाने लगा. उसने मुझे देखा, और स्माइल देते हुए बोली-

सोनिया: बेबी, अभी नही आना अंदर. बाद में आना जब हम दोनो पुर ओपन हो जाएँगे. अभी मुझे शरम आ रही है.

मैं: मेरी जान, मुझसे क्या शरमाना. चलो ना अंदर मज़े करते है.

वो माना करने लगी. मैने उसकी कमर पकड़ी और उसके कोमल होंठो को चूसने लगा. वो उउउहह उहह करने लगी. मैं एक हाथ से उसके बूब्स दबाने लगा, और एक हाथ से उसके बालों में सहलाने लगा. वो भी मज़े कर रही थी. उसने भी किस्सिंग शुरू कर दी.

मैने उसकी कमर पकड़ के उठाया, और सोनिया को बातरूम में ले गया. वो माना कर रही थी. लेकिन मैं नही माना. मैने बोला: श मेरी सोनिया. मैं आपका हब्बी हू. और कोई अपने हब्बी से शरमाता है क्या?

सोनिया: लेकिन बेबी, आह हम बेडरूम में मस्ती कर लेंगे ना.

मैने उसकी एक नही सुनी, और हम बातरूम में थे. डॉक्टर सोनिया के बदन का मैं अकेले में बहुत गरम होके मज़े ले रहा था. मैने शवर ओं कर दिया. वो और मैं दोनो पानी में गीले हो गये. बात टब में मैने सोनिया को गिरा दिया. मैं भी उसके उपर आ गिरा. वो ज़ोर-ज़ोर से हासणे लगी और बोली-

सोनिया: आह रोहित, नही, धीरे-धीरे करो. मैं कहा भागी जेया रही हू. उहह अफ बेबी स्लो बेबी.

सोनिया को बहुत खुशी मिल रही थी. मैं जब उसके उपर पानी डालता, और वो ठंडे पानी में मचल जाती. सोनिया की त-शर्ट पानी से उसके बूब्स पर चिपक गयी. मैं सोनिया को टब में ही किस करने लगा, और धीरे-धीरे बूब्स दबाने लगा.

वो भी मेरा साथ देने लगी. सोनिया भी मेरे लिप्स को पागलों की तरह चूसने लगी. मेरी ज़ुबान को अपनी ज़ुबान से चाटने लगी. बहुत गरम माहौल हो गया था. उसकी सिसकियाँ बातरूम में गूँज रही थी.

सोनिया: आह उहह रोहित. एस, एस बेबी, चूसो मुझे. बहुत मज़ा आ रहा है. कितने टाइम बाद मुझे ये प्यार मिला है.

मैं: हा मेरे रानी. आज तुम्हे बहुत मज़े देने वाला हू. बहुत ही कड़क हुस्न है आपका डॉक्टर मेडम जी.

किस करते टाइम कभी वो मेरे उपर थी, तो कभी मैं उसके उपर था. बहुत वाइल्ड किस हो रहा था. सोनिया ने मेरा उपर का लीप काट लिया था. मुझे मज़ा आया. फिर मैने भी ज़ोर से उसके बूब्स दबाए, और उसका नीचे का लीप काट दिया.

सोनिया: ऑश चूस ले राजा, ऑश चूस, आहह मज़ा आ रहा है. एस बेबी, और चूस मेरे बदन को. निकाल दे सारी गर्मी मेरे जिस्म की. मेरे रोहित राजा.

मैं: हा मेरी डॉक्टर जान. आज आपका बदन पूरा निचोढ़ के तोड़ दूँगा.

उसके बाद हम दोनो किस करते हुए ही फ्लोर पर आ गये, और शवर ओं किया. वो मेरे उपर थी. मुझे बिना रुके मेरे फेस पर मेरे गले पर किस किए जेया रही थी. सोनिया ने मेरे शर्ट निकाल फेंकी, और मैने उसकी त-शर्ट फाड़ के फेंक दी. हम दोनो अग्रेसिव हो गये.

उसने मुझे ज़ोर-ज़ोर से किस करना और चाटना शुरू कर दिया. मैं उसके बालों में हाथ घूमने लगा. वो आह उफ़फ्फ़ करे जेया रही थी. अब मैने उसे अपने नीचे लिया, और उसकी चेस्ट को चाटने लगा.

दोस्तों, बाकी की कहानी नेक्स्ट पार्ट में बतौँगा. अभी के लिए इतना ही है. आयेज ज़रूर पढ़ना की, कैसे मैने गोआ में सोनिया के साथ मस्ती करी. और किसी लेडी, गर्ल को मेरे साथ ऐसे रियल मस्ती चाहिए तो मुझे मैल करे. फुल सेक्यूर्ली एंजाय मिलेगा. मेरे मैल ईद गम0288580@गमाल.कॉम है. आप मुझसे गूगले छत करके बातें कर सकते हो.

थॅंक्स ड्के.

यह कहानी भी पड़े  चाचा ने पता के चोदा मेरी मा को


error: Content is protected !!