टीन लड़कियो के मज़े एक साथ

हेलो फ्रेंड्स आंड वेलकम बॅक. तो आंटी का फोन रखने के बाद अर्पिता शॉक में थी. क्यूँ की उसे नहीं पता था आंटी के बारे में. तो वो कुछ पूछने ही बलि थी तो रिया ने कहा की बाद में समझौँगी तुझे और मेरी तरफ देख के बोली – कल आंटी की चुदाई करेगा?

मे: नहीं पता यार. अगर चुदाई होती तो टीया को क्यूँ बुलाते?

टीया: में थोड़ी जा रही हूँ तुम्हारे साथ.

मे: हन पर यह बात तो आंटी को नहीं पता ना.

रिया: हे भगवान यह लड़का अगर अकेला जाएगा ना टीया तू मेरे से लिख के लेले खा जाएगा आंटी को. और वो तो वेसए भी गरम होके बैठी है.

रानी: छोड़ो वो सब बातें कल की बाद में देखेंगे. अभी शुरू करें. तो मैने हन कहा और टीया का पास चला गया.

रिया: आंटी की बात सुन के गरम हो गया सयद.

मे: आंटी की ज़रूरत नहीं है मुझे मेरे पास मेरा माल है.

में टीया के पीछे चला गया और उसे पीछे से हग करने लगा. टीया ने एक टांक टॉप और जीन्स पहना हुआता. जिस से उसकी पेट दिखाई पद रही थी. पर मेरे हग करने से उसकी पेट चुप गयी.

जब मैने उसे हग किया तो वो शरम के मारे अपना चेहरा नीचे कर दी. फिर मैने धीरे से उसके बाल को एक साइड में किया और उसकी गार्डेन पर किस करने लगा.

तब वो थोड़ी शिसकियाँ लेती हुई अपना चेहरा उपर किया पर उसकी आँखे बंद थी. फिर मैने उसकी गार्डेन पे हल्का सा काटने लगा तो वो कांप उठी, और अपना हाथ मेरे हाथों पर से हाता कर अपने बलों को खुद उपर कर के पकड़ के रखी.

जैसे की मुझे बोल बोल रही हो की दूसरी साइड गार्डेन पर भी किस कारू. तो मैने देरी ना करते हुए दूसरे साइड गार्डेन पर किस करने लगा और चाटने लगा. वो आँखे बंद कर के मज़ा ले रही थी.

फिर मैने जब सामने देखा तो वो तीनो ह्यूम एसए देख रहे थे जैसे कोई बचा कुछ अजूबा देख रहा हो. तो मैने रिया को देख कर आँख मारी. तो उसने भी आँख मारी.

मैने अपना एक हाथ टीया की त-शर्ट के अंदर दल दिया और ब्रा के उपर से उसकी चुचियाँ मसालने लगा. वो और ज़ोर्से शिसकियाँ लेने लगी. मैने गार्डेन से तोड़ा उपर जाके उसकी कन के नीचे वेल हिशे को काटने लगा और चुचियों कू मसालने लगा.

तब उसने अपना एक हाथ मेरे हाथों के उपर रखा और दूसरे हाथ से मेरा लंड पकड़ ने लगी. तो में पीछे हो गया और उसे अपनी तरफ घुमा लिया और बोला आज इतनी जल्दी नहीं मिलेगा लंड. तेरी बड़ी बहने आई है तेरी चुदाई देखने के लिए. वो भी तो देखे की उनकी छोटी बहें कितनी बड़ी रंडी है और लंड के लिए क्या क्या कर सकती है.

फिर उसने मुझे बेड के उपर एक ढाका दिया और मेरे उपर आ गयी. और बोली. उनको पता है में कितनी बड़ी रंडी हूँ. उन्हे यह नहीं पता की मेरा होने वाला पति कितना बड़ा गन्दू है. और वो मेरा गला दबके मेरे गाल पर एक ज़ोर्से तपद मारा. तो मैने उसे अपने उपर किंच लिया और उसकी होंठों को चूसने लगा.

में इतनी ज़ोर्से उसकी होंठों को चूस रहा था की एक टाइम में मुझे लगा की सयद खून निकल आएगा. तो मैने उसे उसे छोड़ दिया. फिर उसने मेरे मूह को एक हाथ में दबाने लगी.

मैने अपना मूह खोल दिया. तो उसने अपने मूह से मेरे मूह में थूक गिरने लगी. और जब गिरना ख़तम हुआ तो मेरे मूह से अपना मूह लगा के अपने थूक चूसने लगी.

तब वो तीनो भी सोफे पे से उठ कर हुमारे साइड में बेड पे लाइट गयी. अर्पिता मेरे पैर के पास बैठी हुई थी और रिया बिल्कुल मेरे वगल में और रानी उसकी वगल में.

फिर टीया ने दूसरी बार मेरे मुहन से चूस कर्ट हुक निकाला और ज़ोर्से मेरे पूरे मूह के उपर थूक दिया और चाटने लगी. वो मेरे मूह को एसए छत रही मानो किसी कुत्ते को पहली बार हड्डी मिल्ली हो.

टीया बीच बीच में मेरे गाल को काट रही थी. उधर रिया ने मेरा बाएँ हाथ पकड़ रखा था. और ज़ोर्से दबा रही थी. जबही टीया मुझे काट ती रिया मेरे हाथ को दबा ती थी.

फिर टीया मेरे उपर से उठ कर मेरे रिघ्त साइड में आ गयी. जब टीया मेरे उपर से उठी तो मेरा लंड टवल में से बाहर आगेया और एक दूं हार्ड था. अर्पिता बिना पालक झपकाए मेरे लंड को देखी जा रही थी. फिर टीया ने मेरे छाती पे हाथ फेरते हुए मेरे कन्नो को काटने लगी.

तो मैने अपना मूह रिया की तरफ घुमा लिया. मैने जब आँख खोला तो देखा की रानी ने रिया के त-शर्ट के अंदर अपना हाथ दल के उसकी चुचियाँ मसल रही थी. में रिया को देख रहा था और रिया मुझे और हम दोनो सीधा बेड पे लायटे हुए अपना हाथ पकड़ कर एक दूसरे को हवस भारी नज़र से देख रहे थे.

इधर टीया तोड़ा नीचे खीस कर मेरे छाती को किस करना शुरू कर दिया और मेरे निपल को चूसने लगी. मेरे निपल्स बहुत सेन्सिटिव हैं. जब भी में खुद मेरे निपल्स पर हाथ लगता हंट ओह मेरा लंड खड़ा हो जाता है.

तो चूसने से तो आप साँझ ही सकते हॉकी क्या हाल हो रहा होगा मेरा. तो टीया ने जब मेरा निपल चूसना शुरूर किया तो मैने रिया की हाथ को ज़ोर्से दबा दिया.

मैने इतनी ज़ोर्से दबा दिया की वो छिला उठी. तब मैने उसकी हाथ को छोड़ दिया और रानी को इशारा किया की उसकी हाथ को सहलाए.

इधर टीया के निपल चूसाई के वजे से मेरी हालत खारप हो रही थी तो मैने सीधे लायटे लायटे जिस हाथ से रिया को पकड़ रखा था उसी हाथ से अर्पिता को उपर बुलाया.

अर्पिता सलवार कमीज़ में थी. और वो मेरा इशारा साँझ के अपनी चुननी निकल के फेंक दी और कुट्टिया की तरह धीरे धीरे मेरे पास आने लगी और मेरे और रिया के बीच में आके लाइट गयी.

टीया उसे देखने लगी तो अर्पिता ने उसे उसे हल्की आँख मारी ऐसा लग रहा था जैसे की वो मुझे खाने के लिए टीया से पर्मिशन ले रही हो. तो टीया ने भी हल्की सी स्माइल दी. जैसे की वो बोल रही हो की आज तुम भी शेर कर लो मेरे पति को.

फिर अर्पिता ने मेरा टवल निकल के फेंक दिया और अपना कमीज़ भी उतार के फेंक दिया. उधर रानी ने भी रिया की और अपने कमीज़ उतार दी थी.

अब चारों में से तीनो लड़कियाँ सिर्फ़ ब्रा में थी. रानी रिया के उपर चाड कर बैठ गयी थी और मेरे वगल में लेयिटी हुई अर्पिता एक हाथ से मेरा लंड कर कर सहला रही थी और मेरे दूसरे साइड में टीया मेरे छाती और पेट पर जीभ फेर रही थी और अपने लार टपका रही थी मेरे उपर.

फिर अर्पिता ने अपने ब्रा में से लेफ्ट वाला ब्रेस्ट निकल के मेरे मूह में देने लगी.

में पहली बार किसी दूसरी लड़की का चूसने जा रहा था. तो मैने टीया को देखा.

टीया ने मेरे छाती और पेट पर से सारा थूक चूस के मेरे मूह में भर दिया और मेरे मूह को अर्पिता की चुचियों पर सेट कर दिया.

क्या बतौन दोस्तों. अपने ग्रूप की सबसे हसीन चुचियाँ अब मेरे मूह में थी.

तो में उसे एक छोटे बचे की तरह चूसने लगा. जैसे की कोई बचा काई दीनो से अपना मा का दूध ना पिया हो. मैने इतनी ज़ोर्से चूस रहा थी की अर्पिता ने मेरा लंड छोड़ के अपने हाथों से मेरा बाल पकड़ के खुद से अलगा करने की कोशिस कर रही थी.

मैने और ज़ोर्से चूसना शुरू किया तो वो ज़ोर्से छिला पड़ी. सबने मेरी तरफ देखा तो मैने अपना मूह उसकी चुचियों से हटाया.

तब टीया ने बोला अब समझ में आया दीदी किस जानवर ने पाला पड़ा है मेरा. फिर अर्पिता ने मेरे गाल पर एक हल्का चटा मरते हुए खा. में यही हूँ जितना मर्ज़ी खा ले पर तोड़ा धीरे.

इतने में मेरे फ्लोर की घंटी बाजी.

तो हम सब हड़बड़ी में उठ के अपने कपड़े पहने लगे. सभी लड़कियाँ रेडी होने के बाद में बेडरूम से निकल कर दरवाज़ा खोला पर सारी लड़कियाँ बेडरूम में बैठी रही. अब दरवाज़े के उस पर कौन था यह अगली पार्ट में. तब तक के लिए हिलाते रहिए स्वस्त रहिए.

यह कहानी भी पड़े  आंटी जी का चुदाई का ज्ञान-1

error: Content is protected !!