सेक्सी टीचर की गंद मई लंड

मेरी ये कहानी मेरी और मेरी प्यारी टीचर सुहानी की हे. ये कहानी आज से 3 साल पहले की हे जब मैं 20 साल का था और मैं बीबीए की पढ़ाई कर रहा था. मैंने बीबीए मैं एडमिशन लिया और जब कोलेज जाना स्टार्ट किया तो हमारे क्लास में फर्स्ट डे मेथ्स की क्लास लेने के लिए एक लेडी टीचर आई. जैसे ही उन्होंने क्लास में एंट्री की मैं तो उनको देखता ही रह गया. उनका फिगर बहुत ही सेक्सी था. वो करीब 34- 28- 36 का होगा.

क्लास में आने के बाद सब से पहले उन्होंने अपना इंट्रो दिया और बताया की उनका नाम सुहानी हे. फिर उन्होंने हम सब का इंट्रो लिया. वो जब चलती थी तो उनकी गांड क्या मस्त लग हिलती थी. मैं तो उनकी गांड का दीवाना हो गया था जैसे. और सिर्फ एक अकेला ही नहीं था. मेरे क्लास के सारे लड़के उनको देख के जैसे आहें भर रहे थे. क्लास में जब भी वो आती तो मैं उनको ऐसे देखता जैसे मैं उनको अपनी आँखों से ही चोद दूँ. उन्होंने भी मुझे दो तिन बार ऐसे नोटिस किया था.

कुछ ही दिनों में हमारे इंटरनल एक्साम्स स्टार्ट हो गए और मुझे मेथ्स में कम मार्कस मिले. फिर जब हमारा एक्सटर्नल एग्जाम स्टार्ट होने वाला था तो मैं पर्सनली उनसे उनके रूम में मिलने गया और मुझे जहाँ प्रॉब्लम आ रही थी वो उनसे पूछने लगा. उन्होंने मुझे बहुत अच्छे से समझाया.

हमारी प्रिपरेशन होलीडे होने वाली थी तो उसने मुझसे कहा की अगर आप को मेथ्स में कोई भी प्रॉब्लम हो तो मुझे कॉल कर सकते हो. फिर हम दोनों ने मोबाइल नम्बर एक्सचेंज किये एक दुसरे के साथ.

फिर एक दिन जब मैं घर पर बोर हो रहा था तो मैंने सोचा की मेडम से मिलने चला जाऊं. फिर मैंने उनको कॉल किया और हमने एक दुसरे को हल्लो किया और फिर सुहानी मेडम ने पूछा की किस काम के लिए कॉल किया हे. तो मैंने उनको बताया की मुझे मेथ्स में प्रॉब्लम आ रही हे तो वो सोल्व करनी हे. तो उन्होंने मुझे अपने घर पर बुला लिया और घर का एड्रेस दे दिया.

यह कहानी भी पड़े  गेट एग्जाम की तैयारी ने चूत दिलवाई

जब मैं उनके घर पहुंचा और जैसे ही मैंने डोरबेल बजाई तो उसने दरवाजा खोला और मैं उन्हें देख के चौंक सा गया. उस वक्त उन्होंने एक टाईट टी शर्ट पहनी हुई थी. तो मेरा तो उनको देखते ही खड़ा हो गया था.

फिर उसने मुझे अन्दर बुलाया और उसने मुझे कोफ़ी के लिए पूछा. तो मैंने हाँ कर दी. और जब वो किचन में जाने लगी तो मैं उनकी गांड की लचक देख देख के पागल हो गया और मेरा मन उन्होंने चोदने के लिए होने लगा था. मुझे तो ऐसा लग रहा था की आज मेरा लंड मेरी पेंट फाड़ कर बहार आ जाएगा. पर किसी तरह से मैंने कंट्रोल कर के रखा उसको. क्यूंकि वो टीचर थी और मैं उसका स्टूडेंट और मुझे उनकी फिलिंग के बारे में कुछ भी पता नहीं था. अगर नाराज हो जाती तो मुझे फेल भी कर सकती थी वो.

थोड़ी देर बाद वो कोफ़ी ले कर आई और मेरे पास ही बैठ गई. हम ने थोड़ी इधर उधर की बातें की और उसने मुझे कहा की चलो बुक्स निकालो अब हम पढ़ाई स्टार्ट करते हे. मैंने बुक्स तो निकाली लेकिन मेरा ध्यान पढ़ाई में जरा भी नहीं था. सुहानी मेथ्स पढ़ा रही थी लेकिन मैं तो उसके बड़े बूब्स के मेथ्स को समझने की कोशिश में लगा हुआ था. उसके बदन से उस वक्त एक अलग ही खुसबू भी आ रही थी.

मेरा लंड पूरा के पूरा खड़ा हो चूका था. उसने मुझे बार बार नोटिस किया की मैं उसके बूब्स देख रहा हो. तो उसने मुझे टोका और कहा की अब ऐसा नहीं होना चाहिए. और हम ने फिर से पढाई काली की. तो थोड़ी देर के बाद मेरा ध्यान फिर से उसके बूब्स पर चला गया. सुहानी मेडम के बूब्स इतने सेक्सी थे की ध्यान तो जाना ही जाना था वहां पर. उसने मुझे देखा बूब्स की तरफ बार बार झांकते हुए और मेरा लंड भी उस वक्त एकदम कडक और लम्बा हुआ पड़ा था.

यह कहानी भी पड़े  सौतेली माँ और नानी की चुदाई

सुहानी मेडम: ऐसे क्यूँ देख रहे हो मुझे बार बार, क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं हे?

मैं: नहीं हे मेडम कोई भी.

सुहानी मेडम: क्यूँ तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं बनी अब तक?

तो मैंने कहा की कोई मिली ही नहीं अब तक आप के जैसी!!!

सुहानी मेडम: मेरे अन्दर ऐसा क्या हे भला?

मैंने कहा की आप तो परी के जैसी सुंदर हो मेडम. इतनी खुबसुरत औरत मैंने कभी नहीं देखी और मुझे आप को देखने का बहुत मन करता हे.

सुहानी मेडम: और क्या मन करता हे?

मैं: मन करता हे की मैं आप को किस कर लू! क्या मैं आप को किस कर सकता हूँ?

वो बोली: क्या बस एक ही करनी हे?

उसने जैसे ही ये कहा मैं उनके ऊपर टूट पड़ा और उनको जोर जोर से किस करने लगा. पहले तो वो नोर्मल खड़ी रही. फिर थोड़ी देर बाद वो भी मेरा साथ देने लगी और वो भी मुझे जोर जोर से किस कर रही थी.

Pages: 1 2

error: Content is protected !!