रीतु दीदी की चुदाई

येह घतना कैए साल पहले कि है जब मेरि उमर 19-20 साल कि थि और मैन BA मेन पधता था। मैन देखने मेन गोरा चित्ता खूबसूरत इनसान था। मेरि लमबै 5 फ़ीत 11 इनच थि और मेरा शरीर हत्ता कत्ता था। मैन होसकेय तेअम का सपतैन था और रोज़ सविम्मिनग भि करता था। मेरा बदन अथलेते के बदन जैसा था।

मेरे पदोस मेन एक सोलोनेल सहब अपने परिवार के साथ रहते थे। परिवार मेन वोह सवयम, उनकि पतनि और एक बेति थि। सोलोनेल सहब का नाम सोल।बलविनदेर सिनघ था उनकि उमर लगभग 54 साल कि होगि। उनकि पतनि का नाम नीतु था और वोह एक खूबसूरसत महिला थीन उमर लगभग 52 साल होगि पर देखने मेन 45-46 साल कि हि लगति थिन। उनकि जवन बेति का नाम रितु था और उमर करीब 27 साल कि थि। देखने मेन बहुत सुनदर। बदन एक दम धला हुआ । बदे बदे उभरे हुए मम्मे पतलि कमर और भरे हुए कुलहे। हर दरेस्स मेन बहुत जमति थीन। 27 साल कि हो जाने पर भि उनहोन ने शादि नहिन कि थि कयोन कि उनहोन्ने गरमेनतस बनाने का काम शुरू किया था और उनका बुसिनेस्स अच्चहा चल निकला था। कहते हैन कि विदेश मेन भि उनके गरमेनतस एक्सपोरत होते थे जिस्से उनकि अच्चहि इनसोमे हो रहि थि। उनके माता पिता भि उनके वयोपार मेन उनकि सहायता करते थे।

सुना था कि सोलोनेल सहब का परिवर बहुत हि बरोअद मिनेद था। किसि चीज़ से परहेज़ नहिन था। शराब उनके घर मेन सुना था कि सभि पीते हैन। सेक्स मेन भि लिबेरल थे। आए दिन उनके यहान परती होति थीन। या वोह लोग कहिन परती मेन जाते थे। सेक्स परतनेरस मेन भि अदला बदली होति थी जैसा कि लोगोन के मुनह से मैने सुना था।

यह कहानी भी पड़े  Bhai Aur Uske Dost Se Meri Chut Gaand Chudi

हुम लोगोन का उनके यहन आना जाना कम हि था। तीज तयोहारोन मेन हुम लोग उनके यहान जाते थे या वोह आते थे।

उन दिनोन दशेहरा कि छुतियान थीन।मेरे पास कोइ काम धाम तो था नहिन कभि किसि दोसत के यहन कभि किसि और दोसत के यहन चला यहान चला जाया करता था।

उस दिन असमनजस मेन था कि किस के यहान जाउन। तभि मेरे कान मेन रितु दिदि कि आवाज़ सुनाई दि: विजय।

मैन उनके पास गया उनसे पूनछा कया आप ने बुलाया है। वोह बोलीन कि कया तुम इस समय खालि हो। अगर खालि हो तो मेरा एक काम कर दो।

मैन ने कहा मैन आज कल बिलकुल खालि हुन। काम बताइये।

वोह बोलीन लतेसत विदेओ सतोरेस को जानते हो? मैन ने कहा हान जानता हुन

वोह बोलीन। अभि उसका फोने आया था कि एक नया सद आया है उसे मनगवा लीजिये। मेरे यहान आज कोइ नहिन है अगर तुम ला सको तो ला दो।

मैन ने कहा येह कौनसि बदि बात है अभि ला देता हुन

रितु दिदि बोलीन उस्से बता देना कि मैन ने भेजा है वोह दे दे गा

मैन लतेसत विदेओ सतोरेस चला गया और उस्से बोला कि रिता जि ने भेजा है आपने अभि उनहेन फोने किया था।

उस ने कहा अभि देता हुन और अनदर जा कर एक सद लाकर मुझे दे दि। मैन सद ले कर रितु दिदि के पास गया और उनहेन वोह सद दे दि।

रितु दिदि बोलीन अगर तुम खालि हो तो आओ मोविए साथ बैथ कर देखेन

यह कहानी भी पड़े  भाई निकाल लो वरना में मर जाउंगी

Pages: 1 2 3 4 5

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!