रेशमा की चूत का बाजा बजाया

दोस्तो जिनको मेरे बारे मे नही पता उनको ज़रा मेरे इंट्रो देता हू. तो मेरा नाम सचिन है और मैं हयदेराबाद से हूँ. मैं एक कंपनी मे जॉब कर रहा हूँ. मेरी उमर 24 साल है और मेरे लंड का साइज़ 6.5 इंच लंबा और 2 इंच मोटा है.

तो ये था मेरा इंट्रो.

अब शुरू करते है स्टोरी…

रेशमा की आधी और सारा की गांद की अची तरह से चुदाई के बाद अभी बारी थी रेशमा की पूरी चुदाई की और उसको अपनी रंडी बनाने की.

अब आयेज..

सॉरी दोस्तो ये पार्ट के बहोट लाते हो गया कुछ रीज़न की वजह से उपलोआड नही हुई थी, अब स्टोरी को एंजाय कीजिए.

रेशमा साली एक नंबर की रंडी है, साली उसका फिगर 32-30-32 है. उसकी आगे 20 साल है, ये रेशमा का छोटा सा इंट्रो.

रेशमा के मूह के पास लंड लेके जाता हू और वो मेरे लंड को बड़े मज़े से चुस्ती है. साली जो कुछ दिन पहले अपने पैसे की घमाद दिखा रही थी आज मेरा लंड चूस रही थी. मूज़े बहोट मज़ा आ र्हा था. मई उसके बाल पकड़ के उसका मूह को छोड़ रहा था. रेशमा का मूह लाल हो गया. साली घोरी चाँदी, फिर उसके हाट खोल दिए और उसको कुटिया बनाया.

उसको कुटिया बना कर उसे बेल्ट से उसकी गांद को मार मार के लाल किया. फिर उसकी छूट मे लंड को सेट किया और ज़ोर से धक्का दिया जिससे पूरा लंड घुस गया. जिससे उसकी आँखो से पानी निकल गया और वो रोने लगी.

बुत मैने एक ना सुनी और उसको इग्नोर किया और उसको छोड़ने लगा. उधर सारा हमारी चुदाई देख रही थी क्यूकी वो मेरी बेस्ट रंडी बनना चाहती थी. वो एक कुटिया की तरह मेरे ऑर्डर का वेट कर रही थी.

मेरी और रेशमा की चुदाई 25 मिन्स तक चली और मैने सारा माल उसकी छूट मे छोढ़ा. ये देख के सारा मुझसे पूछी मे कैसे चतु आपके माल को?

मे बोला उंगली डाल और निकाल के चाट ले सारा. सारा ने 3 उंगली डाल दी और अंदर बाहर करके माल चाट रही थी और उधर रेशमा की छूट जाली जा रही थी. ये देख के मूज़े मज़ा आ र्हा था. मैने तोड़ा ब्रेक लिया और थोड़ी देर बाद दूसरे रूम मे गया.

मैने देखा ज़ोया और साना अपनी मूट से सबिहा को नहला दिए थे और दोनो बेड पर सो रही थी. मुझे देख के सबिहा बोली प्लीज़ मुझे जितना चाहे छोड़ लो बुत यहा से निकलो.

मैने बेल्ट लिया और ज़ोया को मारा ये देख के साना और सारा चूक गये. क्यूकी ज़ोया को मे सबके सामने नही मारता था क्यूकी मेरी बेस्ट रंडी थी. ये देख के सारा खुश होई और ज़ोया बोली क्या हुआ मलिक आज सब के सामने मार रहे हो?? मे बोला इसके मूह से पट्टी क्यू निकाली? और इसके मूह मे क्यू नही मूती तुम लोग! ये सुन कर सबिहा शॉक हो गयी.

मे बोला तुम लोगो को 20 मीं देता हू इस्पे जितना हो सके उतना मूत्ो और मूह मे भी डालो.

सबिहा रोने लगी बोली सब कार्लो बुत मेरी छूट की आग शाट कर दो प्लीज़. सभी बोले सबिहा मैल्क बोले है की तुझे कल छोड़ेंगे, आज सिर्फ़ मूट तुझपे. फिर सब मूतने लगे उसपे और मे वापस रेशमा और सारा के रूम मे आया. देखा रेशमा कपड़े पहें रही थी.

मे देख के उसको गुस्से मे बोला साली किसको पूछ के कपड़े पहें रही है, रख उसको! मुझे गुस्सा आया और उसके सारे कपड़े फाड़ दिए और वो बोली एक ड्रेस 15क के था. मे फिर बेल्ट से मारने लगा और बोला पैसा के घमंड किसको धिका रही है! रंडी नंगी ही रेती है, चल कुटिया बन अब तेरी गांद की बारी है!

ये सुन कर वो भीख माँगने लगी. सारा बोली जैसे ऑर्डर है कर रंडी वरना ग्रूप मे वीडियो उपलोआड होगा. वो रोने लगी और घोड़ी बन गयी. पर मे लंड को सारा से आचे से चुस्वाया और उसको बोला डिल्डो पहें ले आज तू और मे इसको छोड़ेंगे.

ये सुन के सारा खुश हो गयी बुत रेशमा बोली नही एक साथ दो नही. मे बोला तुझसे कोई पर्मिशन ले रहा है? और बोला जब एक रौंग होगा गांद मारने तब आना इसकी छूट मारने..

मे लंड को रब का र्हा था गांद पे और एक ही धक्के मे आधा लंड चला गया. इससे उसकी गांद से खून आने लगा. मे बिना रुके छोड़ने लगा, 3-4 धक्को मे पूरा लंड उन्ड़े उसकी गांद मे, मई बुरी तरह से छोड़ रहा था.

थोड़ी देर बाद उसको मज़ा आ रहा था. रेशमा बोली और ज़ोर से चूड़ो फाड़ दो गांद को भी रंडी बना दिया अपने एक दिन मे और ज़ोर से मारो मेरी गांद को पूरी खोल दो मलिक…! मेरे जिस्म के मैल्क… फक मे हार्ड एस फक मे… जोश जोश मे सारा बोली तू क्या बैठी है आजा छूट मार ना रंडी!

मे बोला आजा मार दे इसकी छूट भी और दोनो सता सात उसको छोड़ रहे थे. रेशमा पूरे जोश और चुदाई के नशे मे छुड़वा रही थी.

तकरीबन 30 मीं को चुदाई की बाद मैने लंड निकाला और उसके बूब्स और फेस पर माल निकाल दिया. फिर उसकी पिक्स लेने लगा और उसके बाद सारा और वो डन चाट चाट के सॉफ करने लगे और हम तीनो सो गये.

रात को जब हम उठे तब सब बाहर बैठ के टीवी देख रहे थे. रेशमा से चला नही ज़रा था तो वो बेड पे लेती थी. सारा मेरे पास आई बोली अब मे बेस्ट हू ना मलिक? मे बोला अभी नही अभी सिर्फ़ 70 % हुई, अभी 30% बाकी है. ये सुन के वो साद हो गयी है और उधर ज़ोया खुश होती है.

मे बोलता अभी एक टास्क और रहेगा फिर देखते है तुम दोनो मे से कों बेस्ट रहेगी. उधर मे बोलता हू साहिबा को लेके आओ बाहर. जब वो आती है मे उसको बोलता हू आज तू बातरूम मे रहेगी और सब इस्पे मूटेंगे और कल ये पार्लर जाके अपनी सफाई करके आएगी फिर इसकी चुदाई होगी.

ये सुन के सबिहा शॉक हो गयी. गिर खाना कहने के बाद मे और ज़ोया जाते हमारे रूम मे और उधर उसकी चुदाई कैसे करता हू ये स्टोरी मे नेक्स्ट पार्ट मे बतौँगा,

अब नेक्स्ट पार्ट मे पाडीए कैसे ज़ोया भी बेस्ट बने के लिए क्या करती है, सो स्टे ट्यूंड.

हन दोस्तो आप लोगो के बहोट सारे मेल्स मिले है मुझे फीडबॅक के लिए, थॅंक योउ सो मच गाइस फॉर लोवे आंड सपोर्ट.

नेक्स्ट पार्ट बहोट जल्दी ही उपलोआड करूँगा दोस्तो बस इस साइट मे उपलोआड होने के लिए बहोट टाइम होता.

थॅंक योउ मुझे मेरी स्टोरी के बहोट फीडबॅक्स मिले ऐसे ही अपना प्यार देते रहेघा. प्लीज़ अपना फीडबॅक देना ना भूले. तब तक पढ़ते रहे मेरी स्टोरी और अपनी फीडबॅक और कॉमेंट्स मुझे मेरी एमाइल ईद पे सेंड करे. मी ईद इस: सचिनसस[email protected]गमाल.कॉम

और कोई आंटी या कोई लड़की मुझसे सेक्स करना चाहती है, या सेक्स छत करना चाहती है, तो भी मुझे मैल करे.

यह कहानी भी पड़े  हीना की सेक्स कहानी ऑटो वाले से - २

error: Content is protected !!