राहुल की बीवी को चोद कर प्रेग्नेंट किया

हेलो दोस्तों मैं सोनू शर्मा फिरसे हाजिर हु “गांडू पति की बीवी को छोड़ा पार्ट २” लेकर.

अगर अपने पिछली कहानी “गांडू पति की बीवी को छोड़ा” नहीं पढ़ी है तोह उसको पहले पढ़ ले.

तोह चलिए स्टोरी पे थे है.

तोह उस रात मैंने अच्छे कीर्ति की चुदाई की और अपना माल कीर्ति और राहुल पिलाया. उसके बाद मेरा गाला शुक रहा था तोह मैंने राहुल को बोलै प्लीज पानी ले आओ. राहुल पानी लेन चला गया किचन मैं.

में (कीर्ति से)- कैसा लगा कीर्ति तुमको मेरा साथ चुदाई का खेल?

कीर्ति- बहोत मज़ा आया सोनू काफी दिन बाद. थैंक यू.

में- आगे भी करना है मज़ा?. लेकिन अभी नहीं क्यों की मुझे घर भी जाना है घर मैं थोड़ी देर का बोल कर आया हु.

कीर्ति- हाँ ज़रूर करना है. एक काम करो तुम मेरा नो. लेलो और मुझे मैसेज करना १२:०० के बाद. लेकिन यह बात मेरा पति को मत बाटना

में- लेकिन क्यों?

किरीट- व्हाट्सप्प पे बैठी हु.

में- ओके. (मैंने कीर्ति का नंबर अपने फ़ोन में सेव कर लिया था).

राहुल- लो भाई सोनू पानी! वैसे तुम्हारा माल काफी टेस्टी था.

में- अच्छा. वैसे मैंने कभी किसी मेल को लुंड नहीं चूसा या था. क्यों की मुझे फीलिंग नहीं थी है.

राहुल- कोही बात नहीं. मेरा मान था की तुम कृति के साथ साथ मुझे भी छोड़ो. लेकिन आईटी’स ओके सबकी अपनी अपनी चॉइस होती है.

में- हाँ.

राहुल- एक और राउंड हो जाए सोनू?

में- नहीं नहीं अभी मुझे घर जानना है फिर कभी..

राहुल- चलो कोही बात नहीं. वैसे यह सब प्लीज किसी के साथ भी शेयर मत करना.

में- उसकी चिंता मत करो मैं किसी को नहीं बताहुगा.

राहुल- थैंक्स सोनू…

मैंने अपने कपडे पहिने और वह से निकल गया और अपने घर आगया. जैसे किरीट ने बोलै था की रात में १२ बजे मैसेज करना. लेकिन मेरी नींद लग गयी थी तब तक. फिर मुझे नेक्स्ट डे याद आया की कीर्ति को मैसेज करना था. उसके बाद मैंने दोपहर मैं २ बजे मैसेज किया कीर्ति को.

में- हेलो सोनू थिस साइड

कीर्ति (४:३० बजे रिप्लाई आया)- हेलो! बहोत जल्दी मैसेज कर दिया तुमने तोह मैंने बोलै था न १२ बजे करना मैं वेट कर रही थी तुम्हारा.

में- सॉरी कीर्ति तुम्हारी चुदाई कर्क तक गया था कब नींद लग गयी पता हे नहीं चला.

कीर्ति- ठीक है. अभी में कुछ काम कर रही हु रात बात करते है.

में- ओके

फिर रात में १० बजे के करीब कीर्ति का मैसेज आया.

कीर्ति- हेलो! कैसे हो

में- बढ़िया. तुम बताओ?

किरीट- मैं भी ठीक हु. मुझे कुछ इम्पोर्टेन्ट बात करनी है तुमसे

में-हाँ बोलो न.

कीर्ति- मुझे प्रेग्नेंट कर दो?

में- तुम्हारे पति को पता है?

कीर्ति- नहीं उनको भी पता नहीं चलना चाहिए.

में- प्रॉब्लम तोह नहीं होगी न बाद मैं कुछ.

कीर्ति- नहीं सब मैं देखा लगी बस तुम मुझे प्रेग्नेंट कार्डो.

में- मुझे कोही प्रॉब्लम नहीं है. बस कल को मेरा पे कोही बात नहीं ांनी चैये.

कीर्ति- ओके तोह फिर कल शुबहा ९ बजे मेरा घर पर आजाना. राहुल चला जायेगा ऑफिस और मैंने ३ दिन की ऑफिस से छुट्टी ली है.

में- ओके.

कल ९:१० पे कीर्ति के घर निचे पूछ गया कीर्ति को कॉल किया वो निचे आयी गेट खोलने के लिए. फिर हम उप्पेर जाने लगे. कीर्ति मेरा सामने चल रही थी मैं उसकी गांड देख रहा था. पता नहीं मुझे क्या हुआ मैंने गांड को देकते हे मेरा हाथ उसकी गांड पर फेयर ने लगा. लेकिन कीर्ति कुछ नहीं बोली. एक बुड्ढे अपनी बालकनी से देखा लिया था मुझे ए हरकत करते हुआ.

हम दोनों कीर्ति के घर के अंदर गए और मैंने गेट लॉक कर दिया और कीर्ति ने एक डैम से मुझे हुग कर लिए. उसके बूब्स मेरी छथि प् लग रहे थे. मेरा ७ इंच का लुंड पूरा टाइट हो गया था.

मैंने कीर्ति को किश करना चालू कर वह भी मेरा पूरा साथ दे रही थी. हम दोनों किश करते करते बैडरूम में आगये. फिर कीर्ति ने मेरा कपडे उतरे मुझे पूरा नांगा कर दिया उसके बाद मैंने कीर्ति के कपडे उतरे किश करते हुए मैं उसका चुत मसल रहा था और वह मेरा लुंड हिला रही थी.

कीर्ति कड़ी थी मैं निचे झुका और उसकी चुत में ३ उंगलिया दाल कर उसकी चुत छत रहा था. वह मोअन कर रही थी ाः खा जा मेरी छूट. कुछ मिनट बाद कीर्ति झाड़ गयी उसका पूरा पानी मैं पे गया. फिर कीर्ति ने मुझे बीएड पे लेथय और मेरा लुंड मुँह मैं लिए और जोर जोर से लुंड चूसने लगी. मैंने कृति के बाल पकड़े और उसके गले तक मैंने अपना लुंड दाल दिया वह खस्ने लगी.मेरा लुंड पूरा गिला हो चूका था.

फिर कीर्ति ने अपनी चुत पे थोड़ी सी थूक लगायी और मेरा लुंड पर बैठ गयी. कीर्ति जोर जोर से उप्पेर निचे करने लगी. कुछ मिनट उप्पेर निचे होने के बाद कीर्ति तक गयी थी. फिर मैंने जोर जोर शॉट मरना शुरू किया. एक डैम पता नहीं लुंड निकल कर उसकी कुआरी गांड के छेद मैं आधा लुंड चला गया. कृति जोर से चिल्ला उठी और साइड में लेथ कर रोने लगी. मुझे बोली क्या कर दिया तुमने बहोत ज्यादा दर्द हो रहा है.

उसकी आँखों में ासु आगये थे. फिर मैंने उसको बताया की मैंने जान भुजकर नहीं किया है. उसके बाद में उसकी चुत प्यार से शैला ने लगा और उसके बूब्स को चूसने लगा. कीर्ति गरम हो गयी. उसके बाद मैंने उसको खड़ा किया और देवर से सत्ता दिया और उसका एक पेअर साइड में टेबल पर रखा फिर मैंने अपना लुंड कीर्ति की चुत रगड़ा और आराम आराम से उसको छोड़ने लगा धीरे धीरे मैंने भी अपनी स्पीड बड़ा दी.

फिर मैंने उसको बीएड पे डोगग्य स्टाइल मैं किया और उसकी चुत पीछे से जोर जोर से मरने लगा. कृति काफी एन्जॉय कर रही थी. उसके बाद मैंने कीर्ति को बीएड पे लेथय और उसकी गर्दन बीएड के नीच की और उसके मुँह में अपना लुंड दिया और उसके मुँह मैं अपना अंदर भर करना लगा वही मैंने उसके पेअर खोले और कीर्ति की चुत छंटे लगा(तब हम ६९ पोजीशन मैं आगये थे).

ऐसे हे हमने काफी देर तक किया. फिर मैंने उसको सीधा किया और मिशनरी पोजीशन में उसको छोड़ना चालू किया.

काफी देर तक वैसे हे उसको छोड़ा. उसके बाद मैंने अपना गदा पानी उसकी चुत मैं निकल दिया(किरीट ३ बार झाड़ गयी थी) और लुंड आदर हे रखा हम दोनों काफी हाफ रहे थे. कुछ मिनट बाद में उसके उप्पेर से उतारा और साइड में लेट गया.

फिर कीर्ति थोड़ा सा नार्मल हुए और मेरा से चिपक कर लेती रही.

कृति- यार सोनू मेरा पुरे बदन में दर्द हो रहा है.

में- अच्छा रुको थोड़ी दर मैं अच्छे से मस्सगे कर देता हु पूरा दर्द दूर हो जायेगा.

कीर्ति- ठीक है सोनू…

कुछ मिनट बाद में उठा और उससे पूछा की तेल कहा है. उस्सने बोलै की हॉल मैं है. मैंने हॉल से नारियल का तेल लेकर आया और बीएड पे एक पुराणी चादर बिछा दिया और कीर्ति को बोलै की तुम उल्था लेथ जाओ. फिर मैंने उसके पेट पर तेल डाला और अच्छे से मस्सगे करने लगा( हम दोनों नांगे हे थे).

कीर्ति के हाथो और पैरो की काफी अच्छे से मस्सगे की. वह बिच बिच में मेरा लुंड पक्कड़ कर शिला रही थी काफी दर तक मस्सगे करने के बाद.

कीर्ति के पुरे बॉडी पे तेल लगा हुआ था वह काफी रिलैक्स फील कर रही थी. और अब मेरा लुंड भी खड़ा हो गया था. फिरसे मैंने उसको मिशनरी पोजीशन में छोड़ने लगा. काफी देर वैसे हे कीर्ति को छोड़ने के बाद मेरा बॉडी पे भी तेल लग गया था.

मैंने कीर्ति से बोलै चलो बाथरूम मैं. हमारी चुदाई की एंडिंग वही पे करुगा.हम दोनों बाथरूम मैं गए और वह पे शावर चालू किया और काफी दर तक चुदाई की और मैंने अपना पानी उसकी चुत मैं निकला.

उसके बाद हम दोनों ने नहाया और भहर आगये.कीर्ति की ३ दिन की छुट्टी मैंने उसकी चुत काफी अच्छे से मरी जब उसका गांडू पति घर पर नहीं रहे था तब. उसके बाद कीर्ति की लाइफ भी नार्मल हो गयी थी….

फिर कुछ टाइम निकल जाने के बाद कीर्ति ने मुझे मैसेज किया.

कीर्ति- मुझे तुमसे मिलना है.

में-फिरसे चुदाई करनी है क्या?

कीर्ति- कुछ इम्पोर्टेन्ट बात है..

में- लेकिन अभी में दिल्ली मैं नहीं हु ओने वीक बाद हे ाहुगा. वैसे बात क्या करनी है?

कीर्ति- तुम आजाओ उसके बाद मिलकर बताहुगी.

में- ठीक है

ओने वीक बाद में दिल्ली पूछ गया और कीर्ति को मैसेज किया. कीर्ति एक कैफ़े की लोकेशन सेंड की और बोलै एक घंटे बाद आजाओ ेदार. लोकेशन बस २कम की थी. मैं कैफ़े पे पूछ गया और अंदर चला गया वह पे कीर्ति बैठी हुए थी.

उस्सने मुझे देकते हे हुग कर लिया. फिर मैंने बोलै क्या बात करनी है तुमको.

कीर्ति- अरे अभी रुको कुछ चाय कॉफ़ी तोह आर्डर करलो.

में- ठीक हाँ मैंने एक कॉफ़ी आर्डर की.

कॉफ़ी आगयी उसके बाद मैंने फिरसे पूछा क्या बता है अब बता.

कीर्ति- ी ऍम प्रेग्नेंट…

में- तहत’स ा गुड न्यूज़ कोंग्रटुलतिओन्स!!

कीर्ति- थैंक यू सोनू. लेकिन मुझे एक प्रॉमिस चाहिए तुमसे?

में- क्या बोलो.

कीर्ति- यह बच्चा तुम्हारा है ए बात तुम्हे और मुझे हे पता है. लेकिन तुम इसका जीकर किसी के साथ भी नहीं करोगे प्रॉमिस करो.

में- तुम खुश होना न बस प्रॉमिस करता हु मैं किसी को नहीं बताहुगा. वइसे राहुल का क्या रिएक्शन रहा जब उसको ए बात पता चली?

कीर्ति- उसको लगता है की उसका हे बच्चा है. इतने टाइम से कुछ हो तोह पाया नहीं उससे.

में- जानने दो उसको पता न हो वही ाचा है तुम और राहुल दोनों खुश रहो..

कीर्ति- वन्स अगेन थैंक यू मच.

में- चलो यर अब बस करो थैंक यू का खेल खुश रहो अपनी लाइफ में और एन्जॉय करो.

फिर उसके बाद हम ने कॉफ़ी फिनिश की और निकल गए.

कीर्ति को लड़का हुआ है २ मोनथस का है वह अभी. कीर्ति मेरा घर के पास रहे थी है आज भी वह कही कही न देख जाती है. अब हम दोनों नहीं मिलते है और बात भी नहीं करते है.

तोह ए हे थी दोस्तों मेरी सच्ची कहानी. इसमें मैंने कपल्स का नाम चेंज कर दिया है बाकि सब कुछ रियल है. मैंने भी फर्स्ट टाइम किसी औरत को प्रेग्नेंट किया है.

नेक्स्ट स्टोरी- मैं आपको बताहुगा कैसे मुझे फब पे एक लड़की फिर आगे क्या क्या हुआ….

बाकी आप अपना फीडबैक जरूर दे क्युकी काफी म्हणत लगती है स्टोरी लिखने में. आपके फीडबैक से मोटिवेशन मिलता है और कोई गलती हो तोह वह भी पता लगती है. तोह नेक्स्ट टाइम मैं उसका दिन जरूर रखुगा.

और हाँ अगर दिल्ली में किसी गर्ल आंटी भाभी को सटिस्फैक्शन चाहिए तोह मुझे मेल कर सकती है. मैं कोही चार्जेज (पैसा) नहीं लेता हु. मुझे बस मज़े करने और सामने वालो को मज़े देना से ही मतलब होता है. १००% प्राइवेसी रहेगी

यह कहानी भी पड़े  सागर के साथ मिल कर सालो तक लिए हॉट आंटी के मज़े

error: Content is protected !!