पुणे के क्लब में मिली लड़की की चुदाई की

हे गाइस मेरा नाम आदित्या है. मैं पुणे में रहता हू. मैने पहले भी बताया है किसी भी औरत या लड़की को सॅटिस्फॅक्षन चाहिए या सेक्स करना हो तो कॉंटॅक्ट करे. फुल प्राइवसी रहेगी. या किसको अपनी पत्नी को प्रेग्नेंट करना हो, तो वो भी टेन्षन ना ले. सिर्फ़ मुझसे कॉंटॅक्ट करे.

ज़्यादा बोर ना करते हुए मैं स्टोरी पर आता हू. तो मैं पुणे के य्ड क्लब (क्लब नामे नही मेन्षन कर सकते ड्यू तो प्राइवसी) गया.

मैं य्ड क्लब में गया, तो मैने देखा वाहा उस दिन कोई टेबल खाली नही था. सो मेरी नज़र एक लड़की पर पड़ी जो अकेले बैठ कर दारू पी रही थी. मेरा देखते ही खड़ा हो गया. फिर मैने वाहा के मॅनेजर से पूछा की वो अकेली थी क्या, ताकि मैं जेया कर बैठू. उसने हा बोला. देन मैं उस टेबल पर गया तो.

मे: ही.

शी: ही.

मे: कॅन ई जाय्न योउ, इफ़ योउ अरे कंफर्टबल?

उसने हा कहा. देन मैने उसका नाम पूछा.

शी साइड: हर्षा.

उसका फिगर मी गोद 34-32-34 था. ब्लॅक कलर की ओनेपीएसए ड्रेस पहनी थी, वो भी थाइस तक थी. क्या लग रही थी वो. फिर हमने नॉर्मली बातें करना शुरू कर दिया. 3-4 पेग लगाने के बाद उसको नशा चढ़ने लगा.

फिर वो बोली: मेरा बाय्फ्रेंड आया ही नही. उसके साथ क्लब आना था. उसने धोखा दे दिया.

फिर मैने कहा: मैं हू ना.

सो वो आ कर मेरे से चिपक गयी. उसके बूब्स मेरी चेस्ट में लग रहे थे. मज़ा आ गया था मुझे. फिर वो मेरे साथ कपल डॅन्स करने लगी.

धीरे-धीरे उसको नशा चढ़ता गया, और वो मेरे लिप्स में अपने लिप्स रख दी, और वाइल्ड किस करने लगी. मैं भी मौके का फ़ायदा लेके उसको किस करने लगा, और साथ में उसकी गांद दबाने लगा.

फिर मैने कहा: कही चले हम?

उसने कहा: मैने अपने बाय्फ्रेंड के साथ डटे नाइट प्लान करी थी. अब तुम मेरे बाय्फ्रेंड बन गये हो, तो चलो हम दोनो मेरे होटेल में जाके मज़ा करते है.

फिर हम वाहा से तुरंत निकले, और होटेल आए. जैसे ही हम रूम में पहुँचे, हमने स्मूछिंग स्टार्ट कर दी. हमारी किस्सिंग वाइल्ड हो गयी थी. हमारी किस लगभग 10 मिनिट तक चली. इस बीच मैं उसका ओनेपीएसए उपर उठा चुका था, और उसकी छूट रगड़ने लगा था पनटी के उपर से. वो मदहोश हो रही थी, और मेरे बालों पर हाथ घुमा रही थी, और बोल रही थी-

वो: 2 दिन के लिए मैं तुम्हारी रंडी हू. जी भर कर छोड़ो. मैं तुम्हारी रंडी हू.

उसने 5 स्तर होटेल का टॉप फ्लोर में रूम बुक किया था, जहा फ्रंट पे सिर्फ़ ग्लास था. फिर उसने मेरी पंत की ज़िप खोली, और मेरा 8 इंच का लंड उसको सलामी देते हुए उसके मूह में लगा.

वो स्माइल करते हुए बोलती है: मेरे ब्फ का इससे छ्होटा है.

और फिर वो ब्लोवजोब देने लगती है. क्या मज़े से चूस रही थी, जैसे कोई ट्रेंड रंडी चूस्टी है. मुझे तो मज़ा ही आ गया. फिर मैं उसके सर पर हाथ रख के ज़ोर-ज़ोर से उसका मूह छोड़ने लगा. 20 मिनिट छोड़ने के बाद मेरा होने वाला था, तो मैने उसके मूह में ही सारा माल गिरा दिया.

वो पूरा चूस-चूस कर पी गयी. हम उठे, देन वी स्टार्टेड किस्सिंग. मैं साथ में उसके बूब्स के साथ खेलने लगा था उपर से. फिर उसने तुरंत अपना ओनेपीएसए निकाल फेंका. अब वो मेरे सामने ब्लॅक रेड सेक्सी ब्रा आंड पनटी में थी, जैसे आज उसको पता था आज वो चूड़ने वाली हो.

साली कोई रंडी से कम नही लग रही थी. मैने देर ना करते हुए तुरंत उसकी ब्रा उतार फेंकी, और उसके बूब्स आज़ाद हुए और मैं उसको चूसने लगा. एक हाथ से दूसरे बूब को दबा रहा था मैं ज़ोर-ज़ोर से. वो मदहोश होने लगे थी, और मैं एक हाथ से उसकी पनटी नीचे करने लगा, और छूट में उंगली करने लगा था.

वो आ आ करके चिल्लाने लगी, जैसे बहुत दीनो से प्यासी हो. उसकी छूट में काफ़ी बाल थे. मेरे को छूट में बाल और बिना बाल की छूट दोनो आचे लगते है. बस मेंटेंड होने छाईए. जैसे कट करके मीडियम में रखे हो.

10 मिनिट तक उंगली करने के बाद मैं नीचे की और गया.

उसकी छूट पूरी गीली हो कर बह रही थी, और उसकी छूट के बालों से खुश्बू आ रही थी. मज़ा ही आ गया सुन के. फिर मैं उसको चाटने लगा कुत्ते की तरह. वो पागल होने लगी, और गालियाँ देनी लगी-

वो: मदारचोड़ चूस मेरी छूट. मेरा ब्फ तो चूस्टा नही है कभी. आज से मैं तेरी रंडी हू.

उसकी छूट को मैने 10 मिनिट चूसा, और उसका काम हो गया. अब वो अपना माल मेरे मूह में डालने लगी. फिर हमने वाइन ऑर्डर की, और एक-एक पेग पिया. उसके बाद धीरे-धीरे मैं उसको उसको ग्लास वॉल के पास ले गया, वो पूरा नंगी थी, और मैं भी.

हम दोनो ग्लास से चिपक के किस करने लगे थे. वाइल्ड तरह से किस करने करने लगे थे. एक हाथ से मैं उसकी छूट में उंगली कर रहा था, और दूसरे से उसके बूब्स दबा रहा था. वो मेरे लंड को हाथ में ले कर खेल रही थी.

धीरे-धीरे हमारी किस वाइल्ड होने लगी, और हम बेड पर जाने लगे. मैं उसको 69 पोज़िशन में ले गया था. मज़े से हमने एक-दूसरे को चूसा 15 मिनिट तक. वो पूरी मदहोश होने लगी, और कहने लगी-

वो: मेरा ब्फ चूतिया है. बस उसका 2 मिनिट में हो जाता है. आज मुझे मज़ा आया है. अभी तक लंड अंदर नही गया. जब जाएगा तो क्या होगा?

उसका दर्र से पसीना निकल गया.

मैं उसको बोला: पहले दर्द होगा, फिर मज़ा भी आएगा. टेन्षन मत लो.

फिर उसको बेड पर लिटा दिया, और मैं अपना लंड छूट पर सेट करने लगा. हम बिना कॉंडम के कर रहे थे, जिससे वो घबराने लगी. तो मैने उसको समझा दिया की कुछ नही होगा, और होगा भी त ई-पिल ला दूँगा. फिर मैने धीरे-धीरे उसकी छूट में लंड सेट किया, और अंदर डालने लगा.

उसकी छूट बहुत टाइट थी, जैसे उसने बहुत दीनो से सेक्स नही किया हो. मैने 1 झटका मारा. अभी लंड आधा ही गया था, की वो चिल्लाने लगी और बोलने लगी-

वो: बाहर निकालो आहह!

पर मैं कहा सुनने वाला था. फिर मैने दोबारा धक्का मारा, तो पूरा लंड चल गया. अब मैं उसके साथ सेक्स करने लगा. थोड़ी देर बाद वो गांद उठा-उठा कर सेक्स करने लगी. हमने बहुत सारी पोज़िशन्स में सेक्स किया, और मज़ा ही आ गया.

हमने उस दिन कितनी बार सेक्स किया, और कों-कों सी पोज़िशन में किया, जानने के लिए अपना प्यार दीजिए इस कहानी को. उसके बाद उसकी सिस्टर ने भी हमे जाय्न किया, जिसकी शादी हुई थी, लेकिन उसको बच्चा मैने दिया.

यह कहानी भी पड़े  स्टोरी अंजान आदमी के साथ बीवी की चुम्मा-छाती की


error: Content is protected !!