फ़ोन पर लड़की पटा कर उसकी चूत चोदी

दोस्तो, यह कहानी मेरे एक मित्र निखिल की है।
तो पेश है निखिल की मज़ेदार कहानी उसी के शब्दों में!
मेरा नाम निखिल है, मैं 5’11” का हूँ, मेरे लंड का साइज औसत है, मैं यमुनानगर का रहने वाला हूँ, मेरा खुद का व्यापार है।

मैं आपसे अपनी और मेरी गर्लफ्रेंड नीलम की कहानी शेयर कर रहा हूँ।
बात 4 महीने पहले की है, मुझे मेरे भाई ने एक नंबर दिया और कहा- इससे बात कर ले, इसका नाम नीलम है, सही माल है।

मैंने नीलम को फ़ोन किया वो बहुत मासूम सी आवाज में बोली, उसने मुझे बताया कि उसने बताया कि उसका पति उससे प्यार नहीं करता।
मैंने उसे समझाया क़ि टेंशन ना ले।
उसने मुझे थैंक्यू बोला और हमारी बात होने लगी।

एक दिन उसने मुझे ‘आई लव यू’ बोल दिया और हम फ़ोन सेक्स करने लगे, सेक्स चैट करने लगे।

अब हम एक दूसरे से मिलना चाहते थे। हमारा मिलने का प्रोग्राम बना हरिद्वार जाने का… उसने घर झूठ बोला कि वो अपनी मौसी के घर जा रही है।

जब वो मुझसे मिली तो मैं उसे देखता ही रह गया।
उसके बारे में बता दूँ वो 30 साल की एक मस्त जिस्म की औरत है, उसकी लंबाई लगभग साढ़े पांच फ़ीट के करीब थी, उसका फिगर 34 30 36 था, वो बहुत सुन्दर है, वो दिखने में सच में एक माल थी।

हम दोनों मेरी बाइक पे चल दिए। उसने मुझे कस के पकड़ा हुआ था। हमने हरिद्वार जाकर एक होटल में कमरा लिया। उसने रूम में जाते ही मुझे हग कर लिया। मैंने उसे बैड पर लेटा दिया और किस करने लगा।

यह कहानी भी पड़े  बदनाम रिश्ता बहन भाई का

उसने मुझे बताया क़ि उसके पति का लौड़ा बहुत बड़ा है पर वो पूरे मजे नहीं देता, बस थोड़ा सा चोद कर ही संतुष्ट हो जाता है।
उसने कहा कि उसके लिए प्यार ज्यादा अहम है ना कि सेक्स!

मुझे उस पर प्यार आया पर मैंने उसे बताया कि मेरा लौड़ा ज्यादा बड़ा नहीं है।
वो तो मेरे लौड़े को निकाल के चूसने लग गई।
मुझे बहुत मजा आया।

मैंने उसके और मेरे कपड़े निकाल दिए और मैं उसे चूमने लगा।
वो गर्म हो गई और मुझे चूमने लगी।
फिर मैंने उसकी ब्रा और पैंटी भी निकाल दी, अब वो पूरी तरह से मेरे सामने नंगी हो चुकी थी।

मैंने उसके चूचों को चूसना शुरू किया और हाथ से उसकी चूत को मसलने लगा।
वो बहुत ज्यादा उतेजित हो गई, मैंने उसकी चूत को चूमा तो वो सिहर उठी, उसने कहा कि उसकी चूत को आज तक किसी ने नहीं चाटा।

मैंने उसकी चूत को चाटना शुरू किया तो वो मजे से मेरे बाल नोचने लगी।
मैंने उसकी चूत में साथ साथ उंगली देनी शुरू कर दी।

उसकी चूत की एक ख़ास बात यह है कि उसकी चूत टाईट रहती है, जितनी चुदाई करेंगे उतनी टाईट हो जाती है।
अब वो मेरा लौड़ा चूसने लगी, बहुत मजे से जीभ फिरा के चूस रही थी।

मैंने वियाग्रा की गोली ले ली थी तो लेट निकलने वाला था और मेरा लौड़ा फटने को हो रहा था।

मैंने उसे लेटाया और उसके ऊपर लेट कर लंड उसकी चूत में डालने लगा तो चूत बहुत टाईट थी, मैंने थोड़ी क्रीम लगाई तो लौड़ा एकदम अंदर चला गया और उसकी सिसकारी निकल पड़ी।

यह कहानी भी पड़े  बहन को मज़े से चोदा

उसने मेरे होठों को अपने होठों में ले लिया और मैं झटके मारने लगा।
वो चूतड़ उठा कर चुदवाई करवाने लगी।
मेरा लौड़ा उसके g-spot पर रगड़ रहा था तो उसका एकदम फव्वारा फ़ूट पड़ा और उसने मुझे कस के पकड़ लिया।

Pages: 1 2

error: Content is protected !!