पति, पत्नी और पड़ोसी की थ्रीसम की तैयारी

आपने लास्ट पार्ट में पढ़ा कैसे मेरी और मेरी पड़ोसन सेजल ने मिल कर हज़्बेंड स्वापिंग का प्लान सक्सेस किया. हमारे हज़्बेंड फिरसे स्वापिंग करना चाहते थे, पर सेजल पीरियड में आ गयी. उन दोनो ने सेक्स में पवर बना रहे इसके लिए टॅब्लेट्स खा ली थी. अब आयेज-

काव्या: सेजल यार ये ग़लत है. और आप दोनो की ग़लती है हमसे पूछे बिना टॅबलेट क्यूँ खाई? अब आप जानो और आपके रॉकेट.

मैने माना कर दिया तो अनुज और प्रतीक की शकल देखने लायक हो गयी थी. उनको भी पता था की टॅबलेट का असर कितना लंबा रहने वाला था. वैसे तो मैं भी ऐसे ही किसी मौके की तलाश में थी. मेरी फॅंटेसी थी की एक साथ मुझे 2-3 मर्द छोड़े.

अनुज: काव्या प्लीज़ आज की रात मान जाओ, हमने टॅबलेट खा लिया है. अब कुछ नही हो सकता.

काव्या: वॉट दो योउ मीन? तुम दोनो ने. कहना क्या चाहते हो?

अनुज: आज तुम हम दोनो से सेक्स करो. मुझे भी अछा लगेगा कोई मेरे सामने मेरी सेक्सी वाइफ की चुदाई करे.

अनुज की बात सुन कर प्रतीक खुश हो गया. उसने मेरी और देख कर आँख मारी. मैं समझ गयी की प्रतीक ने अनुज को हर एक सिचुयेशन के लिए कन्विन्स किया हुआ था.

काव्या: अनुज ये ग़लत है. तुम मेरी मर्ज़ी के बिना ऐसा नही सोच सकते मेरे बारे में.

सेजल: काव्या, अनुज ठीक कह रहे है. उन्होने सेक्स की टॅबलेट खा ली है. अब सेक्स तो करना पड़ेगा.

काव्या: फिर भी यार एक साथ 2-2, और अकेली में, बात ठीक नही है. अनुज के सामने मैं किसी और से सोच भी नही सकती.

सेजल ( मेरी और सर्प्राइज़ लुक दे कर): ओह ऐसा है. ठीक है तो जब तुम अवेलबल नही होगी, तब मैं अनुज और प्रतीक के साथ कर लूँगी.

सेजल की बात सुन कर अनुज और प्रतीक खुश हो गये.

प्रतीक: हा सही है. आज मुझे अनुज जो चान्स दे रहा है. किसी और दिन मैं उसको रिटर्न गिफ्ट में सेजल के साथ थ्रीसम करने का मौका दूँगा. और वैसे भी हम ऑलरेडी स्वापिंग कर चुके है, तो अब ये इतना मुस्किल नही है.

अनुज: हा काव्या, प्लीज़ मान जाओ ना डार्लिंग. ( वो मेरे आयेज गिड़गिदा रहा था)

काव्या: ठीक है, आप सब कह रहे है तो मैं मान जाती हू. पर अनुज मुझे आपसे कुछ बातें पूछनी है. आप अग्री है तो मैं रेडी हू. अनुज क्या आप मुझे अपनी आँखों के सामने चूड्ता देख पाओगे?

अनुज: प्रतीक अब अपना क्लोज़ है यार. तो क्यूँ नही.

काव्या: अरे योउ शुवर की आप अपनी आँखों के सामने मुझे किसी और से आइ कॉंटॅक्ट बना कर उसके जिस्म से खेलना पसंद करोगे? आपकी आँखों के सामने कोई और आपसे आँखें मिला कर आपकी बीवी के जिस्म का मज़ा लेगा. आप ये सब से पाओगे ( मुझे पता था अनुज का नेचर. वो मुझे उनकी आँखों के सामने ये सब करते देख नही सकता था)?

अनुज ( तोड़ा अपसेट हो गये हो ऐसा लग रहा था): काव्या मैं तुमसे बहुत प्यार करता हू. तुम कह रही हो वो सब सच है. कल रात तुम प्रतीक के साथ थी तो मैं एक टाइम बहुत ही अपसेट हो गया था. सेजल ने मुझे संभाला था. पर मैं ये जानता हू की अगर ऐसा ही नेचर रखूँगा तो आयेज कुछ हो नही पाएगा.

प्रतीक ( अनुज की पीठ पर हाथ रख कर): रिलॅक्स बडी, तुम कंफर्टबल नही हो तो इट’स ओक. हम हमेशा आचे दोस्त रहेंगे ( अनुज कुछ बोल ही नही रहे थे. मैं भी टेन्षन में आ गयी यार की कुछ गड़बड़ ना हो जाए. मैने सेजल को इशारा किया वो समझ गयी की अनुज को वो ही कंट्रोल कर सकती थी).

सेजल ( अनुज के पास आकर उसका हाथ पकड़ कर ): आप नही चाहते तो हम ये सब यही ख़तम कर सकते है. प्रतीक के बाद मैने किसी को अपना माना है तो वो आप है.

सेजल की इस बात को सुन कर मैं डांग रह गयी. ये नही था की वो मेरे पति को प्यार करने लगी थी. पर उसके पति के सामने ये बात बोल देना बहुत हिम्मत की बात थी.

सेजल: प्रतीक आपको बुरा ना लगे तो एक बात बोलू? मुझे अनुज से प्यार है. जितना प्यार मैं आपसे करती हू ( अनुज सेजल की और देखने लगा).

प्रतीक: ई नो बेबी, मैं जानता हू तुम किसी से एमोशनल अटॅचमेंट के बिना सेक्स नही कर सकती. ये नॅचुरल है बेबी, ऐसा होता है. उसमे ग़लत क्या है? जैसा तुम फील करती हो, वैसा मैं भी काव्या के लिए करता हू.

अनुज: तो क्या सच में प्रतीक आप इस सब चीज़ो से कंफर्टबल है?

प्रतीक: एस बडी. ई लोवे मी वाइफ आंड युवर वाइफ टू.

प्रतीक की ये बात सुन कर मेरी धड़कने तेज़ हो गयी. अनुज के सामने ये स्टेट्मेंट बहुत बड़ी बात थी.

अनुज: वैसे तो मैं भी सेजल से प्यार करता हू. पर कभी हिम्मत नही हुई ये रिलेशन्षिप को आक्सेप्ट करने की.

प्रतीक: कोई बात नही यार, आज बोल दिया ना. अब तुम रिलॅक्स फील करोगे. मुझे तुम दोनो पर पूरा भरोसा है.

ये सब बात सुन कर मैने भी सोच लिया की प्रतीक और सेजल के लिए मेरी जो फीलिंग है, वो अनुज के सामने शेर करू.

काव्या ( अनुज का हाथ पकड़ कर): तो आप क्या ये रिलेशन्षिप में रहना चाहते है सेजल के साथ? (सेजल की और देख कर) मैं बहुत खुश-नसीब हू की मेरा और आपका प्यार एक ही है. ( मैने प्रतीक का हाथ पकड़ लिया) क्या आप सेजल को मेरे हज़्बेंड के साथ रिलेशन्षिप में आक्सेप्ट करते हो?

प्रतीक/अनुज: हा हम दोनो रेडी है.

काव्या: ठीक है तो मेरे और सेजल के 2-2 हज़्बेंड है. और आप दोनो की हम दोनो वाइफ. अब आप जब चाहो हमे बता देना.

मैने सेजल को हग किया. मैं बहुत एमोशनल हो गयी थी. सेजल से हग करते ही मैं रोने लगी. सेजल की आँखों में भी आँसू आ गये. हम दोनो को अनुज और प्रतीक ने हग कर लिया. हम चारो में चुदाई का जो खेल रचा था, वो अब प्यार में बदल गया था.

सेजल: चलो बहुत हुआ. आज काव्या की अपने पुराने पति के साथ मिल कर उसके नये पति के साथ सुहग्रात है.

अनुज: ये सही बात कही सेजल.

सेजल: आज मेरी रानी को उसके नये राजा के लिए तैयार करती हू. और हा, आप दोनो रेडी रहिए आपकी बीवी के साथ सुहग्रात मानने के लिए.

अनुज: ई आम वेरी एग्ज़ाइटेड. आज मुझे दूसरी बार सुहग्रात मानने का मौका मिल रहा है.

मैं बहुत शर्मा रही थी. मैने चुपके से प्रतीक की और देखा. अब सेजल मुझे रेडी करने मेरे घर मेरे साथ चल पड़ी. आपको नेक्स्ट पार्ट में बतौँगी कैसे मेरी दूसरी बार सुहग्रात मनाई.

आपको स्टोरी अची लगे तो प्लीज़ कॉमेंट करना. और बात करने के लिए मूडछंगेरबोय@गमाल.कॉम पर मैल कर सकते है.

यह कहानी भी पड़े  रंडी मा बिना कॉंडम के 2 लड़कों से चुदी


error: Content is protected !!