पड़ोस की चुड़क्कड़ भाभी

हेलो, मैं राज आज आपको अपनी एक सच्ची घटना सुनाता हूँ मैं छोटे से शहर राँची झारखंड से हूँ यहा लड़कियाँ या भाभियाँ थोड़ा झिझकति है सेक्स टॉपिक पे बात करने मे या किसी के साथ संबंद बनाने मे, बट यहा की भाभियाँ या लड़कियाँ है बम एक दम मस्त छोटा शहर होने से लोग एक दूसरे को काफ़ी पहचानते है जानते है और मेरी आपनी शॉप है एलेक्ट्रॉनिक की, तो एक बार एक भाभी जी आई अपने और अपने मोबाइल की कुछ प्राब्लम ठीक करवाने और बोली मेरा मोबाइल हॅंग करता है बॅटरी बॅक अप भी काफ़ी कम है, तो मैं मोबाइल रेसिव किया और उनको शाम को फोन करने को बोला और अपना कार्ड दे दिया तो वो बोली “मेरे हज़्बेंड का कॉल आने वाला है वो बाहर रहते है तो कोई मोबाइल यूज़ करने के लिए मुझे देते तो ठीक होता तो मैं अपना सिम कार्ड उसमे लगा लूँगी” तो मैने एक पुराना मोबाइल जो मेरे पास एक्सट्रा था दे दिया और वो चली गयी और फिर जब मुझे थोड़ी देर बाद याद आया की मेरा मोबाइल का चिप तो उसी मे रह गया है.

और उसमे मेरी कुछ न्यूड पिक है और हॅंड जॉब की वीडियो है तो मैं डर गया पर कर भी क्या सकता था और जब मैने उनकी मोबाइल देखी तो उसमे भी उनकी कई एरॉटिक पिक थी पति के साथ चुदाई की वीडियो भी थी, तो मैं समझ गया की ये भी वैसी ही है और मेरा डर थोड़ा कम हुआ और फिर मैने उनके मोबाइल का बॅकप लेके फॉर्मॅट कर दिया और बॅकप रिस्टोर कर दिया और जब शाम को उनका फोन आया तो मैने बोला की “जी आपका फोन ठीक हो गया है” तो वो बोली “ठीक है मैं आती हूँ” फिर जब वो आई तो मैने बोला “जी आपका फोन ठीक हो गया है” तो वो बोली “मेरा सारा डेटा है या फॉर्मॅट हो गया” तो मैने बोला “जी मैने बॅकप ले लिया था और फिर रिस्टोर भी कर दिया है” तो फिर वो फोन ले कर चली गयी और रात को उनका मेसेज आया व्ट्सॅप पे “हाय” तो मैने भी रिप्लाइ किया “हाय हू ईज़ दिस” तो वो बोली “मैं शालु भाभी भूल गये” तो मैने बोला “जी नंबर सेव नही किया था सॉरी”.

यह कहानी भी पड़े  विनीता आंटी की चूत चुदाई की कहानी

तो वो बोली “मैं इतनी भी बुरी नही हूँ की आपके मोबाइल के फोन बुक मे मेरा नंबर सेव ना कर पाए” तो मैने रिप्लाइ दिया “नही ऐसी बात नही है सॉरी मैं नंबर सेव कर लेता हूँ” फिर बोली “फोन तो बहुत बाड़िया चल रहा है बट आप कैसे हो और क्या कर रहे हो” तो मैने रिप्लाइ किया “जी मैं सोने जा रहा था” बोली “सॉरी मैने डिस्टर्ब किया आप को” मैं “इट्स ओके” फिर वो बोली “एक बात बोलू आप बुरा तो नही मानेगे” फिर उसने बोला “मैने आपकी पिक एंड वीडियो देखी अछी लगी” तो मैने सॉरी बोला “वो बाइ मिस्टेक चिप उसमे रह गया था और वैसे आपकी भी पिक और वीडियो मैने देखी बहुत सेक्सी है आप” तो वो बोली “क्या फ़ायदा अभी इतनी ठंड मे बिना हब्बी के रहना पड़ रहा है क्या करू इस सेक्सी फिगर का” फिर हम लोग काफ़ी देर बात करते करते वीडियो चॅट करने लगे और वीडियो सेक्स भी किया तो वो बोली “अब मुझे आपका लॅंड चाहिए प्लीज़ आप अभी मेरे पास आ जाओ” तो मैने बोला “इतनी रात मे कैसे आउ मैं कल मॉर्निंग आउन्गा”.

और फिर मैने उनका आडड्रेस लिया और बाइ बोला पर रात भर मुझे नींद नही आई ठीक से, मॉर्निंग 4.30 एम को मैं उठा मॉर्निग वॉक के लिए और घर से बाहर निकलते ही मुझे ठंड के कारण फिर भाभी जी की याद आने लगी तो मैने सोचा अभी ही चलते है और मैं चला गया, उस वक़्त अंधेरा था तो मैने उनके घर के बाहर जा कर फोन किया तो उसने तुरंत फोन रेसिव किया और बोली “गुड मॉर्निंग” मैने बोला “मैं बाहर हूँ” तो बोली “वाउ एक मिनट” फिर दरवाजा खुला वो नाइट सूट मे थी और इधर उधर देखा और मुझे अंदर ले गयी और दरवाजा बंद करते ही लिपट गयी और बोली “राज मैं रात भर तुम्हारा ही वेट कर रही थी मुझे पता था तुम ज़रूर आओगे” और मुझे किस करने लगी तो मैने भी रिप्लाइ किया किस के साथ, फिर हमलोग बेड पे गये और मस्त सेक्स किया मॉर्निंग मे सेक्स का मज़ा ज़्यादा आता है, पहले उसने मुझे उपर से नीचे तक किस्सिंग की बाइट की और मुझे पूरा नंगा कर दिया और मेरा लॅंड ले कर सकिंग की मस्त सकर है वो और फॉर प्ले मे तो उसका जवाब नही.

यह कहानी भी पड़े  ट्यूशन सर ने मेरी मम्मी की चुदाई की

तो अब मेरी बारी थी तो मैने भी धीरे धीरे उसके सारे कपड़े उतार दिए, उसकी बॉडी के एक एक पार्ट को प्यार किया बूब्स निप्पल नॉवेल आइज़ नेक बॅक हिप्स लेग्स फिंगर्स सभी और करीब 40 मिनट तक प्यार किया तो अब चुत की बारी थी और चुत से पानी टपक रहा था मतलब वो एक दो बार झड़ चुकी थी, चुत बिल्कुल गीली हो चुकी थी तो मैने चुत की सेवा की यानी चुत चाटी वो पागल के जैसी छटपटा रही थी और बोली “बस करो अब डाल दो” तो फिर मैने अपना लॅंड चुत पे रखा और थोड़ा लॅंड से चुत को प्यार किया यानी उपर नीचे रगड़ा कितना मज़ा आ रहा था और फिर धीरे से लॅंड को अंदर कर दिया, तो उसने आपनी आखे बंद कर ली और मैं धीरे धीरे स्पीड बढ़ाता गया “आहह अह्ह्ह्ह्ह उउउइइ” की आवाज़ो से सारा रूम गूँज रहा था और आहह ह की आवाज़ मानो चारो तरफ से आ रही थी और मैं उसके उपर लेटकर चुचियो को मूह मे लेकर चुदाई कर रहा था, उसकी चुचिया लाल लाल हो गयी थी और निप्पल खड़े हो गये थे और मेरे लार से गीली हो गयी थी वो बस नीचे से झटके दिए जा रही थी.

Pages: 1 2

error: Content is protected !!