मेरी चुदाई एक कंप्यूटर वाले से

हाय फ्रेंड्स, आप सबको मेरा नमस्कार मेरा नाम रेखा है मैं आज यहा पर मेरी पहली स्टोरी लिख रही हूँ वैसे तो मैं काफ़ी बार चुद चुकी हूँ शादी से पहले भी और शादी के बाद भी, मेरे पति महीने मे 10 दिन ही घर पर होते बाकी बाहर अपने काम से घूमते रहते है और मैं अपनी चुत दूसरो से चुदवाति हूँ, अब मैं आपको मेरे बारे मे बताती हूँ मेरी उमर 28 साल है और मेरा साइज़ 36,30,38 है और मैं हमेशा टाइट कपड़े ही पहनती हूँ जिससे मेरे मम्मे और चूतड़ तने हुए ही रहते है, मैं एक खूबसूरत और सेक्सी औरत हूँ तो अब मैं अपनी स्टोरी पर आती हूँ, एक दिन घर पर मैं अकेली थी और मेरे पति भी बाहर थे 10 दीनो से और मैं काफ़ी दीनो से चुदि नही थी तो मेरी चुत मे आग लगी थी और मैने थोड़ी देर सोचा और फिर मैने अपने कंप्यूटर सर्विस करने वाले लड़के को बुलाया बहाना कर के उसका नाम सोनू है और वो करीब 24 साल का जवान और मजबूत शरीर वाला लड़का है.

उसको फोन किया और मैं नहाने चली गयी और नाहकार मैने जाँघो तक की एक नाइटी पहनी और मैने ब्रा पैंटी नही पहनी थी और मैने मेकप किया थोड़ा सा फिर बालो को खुल्ला ही रखा और मैं उसका इंतेज़ार करने लगी, थोड़ी देर मे घंटी बजी तो मैं गयी और दरवाजा खोला तो सोनू था वो मुझे उपर से नीचे तक घुरने लगा तो मैने उसे कहा अंदर आ जाओ कहा देख रहे हो तो वो बोला कुछ नही क्या हुआ मैं पीसी मे तो मैने कहा चल नही रहा एक दम से बंद हो गया तो फिर मैने उसे पानी दिया और मेरे बेड रूम मे ले गयी और वो पीसी देखने लगा और मैं उसके बाजू मे खड़ी रह गयी और बार बार उसके पैर से मेरे पैरो को टच करवा रही थी और फिर मैने जानबूझ कर एक स्क्रू नीचे गिराया और मैं उसे ढूँढने लगी जिससे मेरे पूरे के पूरे मम्मे सॉफ सॉफ दिख रहे थे, मैने देखा की वो अपने पैंट मे ताने हुए लॅंड को छुपा रहा था और थोड़ी देर मे उसने पीसी चालू कर दिया क्यूंकी उसमे कोई खराबी नही थी.

यह कहानी भी पड़े  रोहतक रोड पर मिली एक लड़की की चूत चुदाई

तो मैने ही जानबूझ कर उसे निकाल दिया तो वो मुझे बोला मॅम ये हो गया है और सब ठीक कर के खड़ा हुआ तो मैं दूसरी साइड घूम गयी जिससे अब उसका लॅंड मेरे चुतडो को टच हुआ तो वो थोड़ा सा डर गया और दूर खिसक गया, मैने उसे पूछा क्या हुआ सोनू इतना डर क्यो रहे हो क्या छुपा रहे हो तो वो बोला कुछ नही है जेब मे वो तो आप इतनी हॉट लग रही हो तो मेरा लॅंड खड़ा हो गया था, मैने कहा तो उसे शांत कर दो क्यू तड़पाते हो उसे ये सुन कर वो दंग रह गया और मन ही मन मे खुश हुआ, अब मैने उसका हाथ पकड़ा और उसे मैने बेड पर बिठाया और मैं उसके होंठो पर अपने होंठो को रख कर किस करने लगी और उसके बालो को सहलाने लगी और अब वो भी थोड़ा खुल गया और मेरे होंठो को चूसने लगा और मेरे होंठो का रस चूसने लगा और एक हाथ से मेरी चुचियाँ दबाने लगा, करीब 20 मिनट तक हम ऐसे ही रहे और फिर उसने मेरे कपड़े उतार दिए और मुझे पूरी नंगी कर दिया और खुद भी नंगा हो गया.

मैं उसका लॅंड देख कर ही खुश हो गयी उसका लॅंड 8 इंच लंबा और 3 इंच मोटा था तो फिर वो मेरे बाजू मे लेट गया और मेरी एक चुचि को चूसने लगा और दूसरे की निप्पल को मसल रहा था, मुझे बहोत मज़ा आ रहा था मैं उसके मूह को अपनी चुचि मे दबाने लगी और सिसकिया लेने लगी और उसे कहने लगी चूस साले चूस पिजा सारा दूध अहहिईीईईईईईईईई उउउफफफ्फ़, अब वो और भी जोश मे आ गया और जोरो से मेरे मूम्म को चूसने लगा फिर काटने लगा और मैं भी अपने एक हाथ से उसके लॅंड को सहला रही थी और करीब आधे घंटे वो बारी बारी मेरी दोनो चुचिया चूस्ता रहा इससे मेरी चुत भी गीली हो चुकी थी, तो अब वो खड़ा हुआ और मेरे उपर 69 मे सो गया अब मैं उसके लॅंड को चाटने लगी और वो मेरी चुत को चाटने लगा और मेरी चुत के दानो को चूस्ता और काटता था और अब मुझसे रहा नही जा रहा था और मैं जोरो से उसके लॅंड को चूस रही थी.

यह कहानी भी पड़े  पेंटिंग्स बनाने आई लड़कियो की कामुकता

और वो भी अब कमर हिलाकर मेरे मूह को चोदने लगा वो मेरे गले तक लॅंड डाल देता था जिससे मेरी आँखो मे पानी आ गया और मैने उसे कहा आराम से थोड़ा सोनू, तो वो बोला साली रांड़ आज तो तुझे जी भर के और ऐसे ही चोदुन्गा आज जो इतना अछा माल वो भी सामने से अपनी चुत फड़वाने आया है तो फिर मैं क्यू रुकु पर वो और तेज़ मेरे मूह को चोदने लगा और मेरी चुत चाटने लगा, अब मैं झड़ गयी थी और वो मेरी चुत का सारा रस पी गया और अब वो खड़ा हुआ और मेरे पैरो को फैलाकर मेरे टाँगो के बिच मे बैठके मेरी चुत पर अपने लॅंड को रगड़ने लगा, अब मुझसे सहा नही जा रहा था और मैने उसके लॅंड को पकड़ कर मेरी चुत पर रखा पर उसने एक झटका मारा और मेरी चुत गीली थी पूरा का पूरा लॅंड आराम से अंदर चला गया और अब वो मेरे मुम्मे को चूस रहा था और अपनी कमर हिल्ला रहा था और धक्के मार रहा था, अब मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था और मैं जोरो से सिसकिया लेने लगी और अपने चुतडो को उछाल उछाल कर उसका साथ दे रही थी.

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!