पड़ोस की आंटी की जमकर चुदाई

ही. मेरा नाम सवमै और मैं मुंबई का रहनेवाला हू. मेरी हाइट 5.3 फीटस आंड लंड का साइज़ 6.5 इंचस है. मेरी आगे अब 27 यियर्ज़ है और मेरा कलर ब्लॅक और फिज़ीक आवरेज. मैने आज तक 50 से ज़्यादा लड़किया और औरतो को छोड़ा है. उंमेसए कुछ ने मेरे बाकछे को जानम भी दिया है. मैं माले एस्कॉर्ट भी हू.

चलो आते है एक नयी स्टोरी पे जो मेरे पड़ोस के आंटी के साथ हुई थी. आंटी का नाम मानी है. उसके हज़्बेंड एक गोडोवन् मैं मॅनेजर है और उनका एक लड़का है. आंटी का फिगर एकद्ूम कमाल का है. उनकी स्किन एकद्ूम गोरी है. वो हमेशा ड्रेस या नाइटी मैं ही रहती थी घर्मे.

तो स्टोरी पे आते है. ये मेरे साथ हुआ 9 साल पहले मेरे टुटीओन टीचर को छोड़ने के बाद. उनकी शादी आज से 15 साल पहले हो चुकी थी. उसके 2 साल बाद उनको एक लड़का हुआ. उसके बाद उनका फिगर एकद्ूम भर गया. (क्या ग़ज़ब की लगती थी जब वो चलती थी या झुकती थी तो उसके बूब्स दिखते थे.)

मेरा उनके घर उनके शादी से पहले से ही आना जाना रहता था. तो शादी के बाद भी आना जाना था. जब उनको लड़का हुआ तो वो मेरे सामने ही उससे दूध पिलाती थी. तब मैं बाकचा था ना तो उससे उसका फ़र्क नही पड़ता था और मुझे उतना कुछ मालूम नही था. पर दूध पाइलेट वक़्त उसके बूब्स देखने में माज़ा आता था.

ऐसे ही वक़्त चलता गया और उनका लड़का स्कूल जाने लगा. उनके हज़्बेंड जॉब में बिज़ी होने लगा, पर में उनके घर जाता था और खेलता था. एक दिन ऐसे मैं उनके घर गया तो मानी रो रही थी. मैने उसको पूछा तो उसने कहा ही तू बाकचा है तुझे नही समझेगा. (तब मैं 18 साल का था.)

फिर भी मैने उसको बोला की अब मैं 18 साल का हो गया हू तो अब तो बाकचा नही रहा. इसपार उससे हासी आ गयी, मुझे अक्चा लगा जब वो हासी. मैने फिरसे उससे पूछा की आप रो क्यू रही थी. तो उसने बोला की कुछ नही ऐसे ही. तो मैने बोला की बताओ ना क्या हुआ आप क्यू रो हो. उसने कहा.

मानी: तेरे अंकल का अफेर चल रहा है बाहर.

मैं: क्या, आपको कैसे पता.

मानी: मुझे मालूम है.

मैं: परंतु आपको मालूम कैसे चला की अंकल का अफेर चल रहा है.

मानी: वो कब कब रात को घर लाते आते है या कभी कभी आते भी नही. और जब मैं उन्हे पूछती हू तो वो मुझपर चिल्लाते है और मुझे मारते भी है.

मैं: पर वो किसी काम में बिज़ी होंगे इसलिए लाते आते है या नही आते.

मानी: मुझे भी पहले ऐसे ही लगा बुत एक दिन उसके नंबर पे एक कॉल आया और मैने रिसीव किया. तो सामने से कॉल कट कर दिया और वोही बात अंकल को बताया तो वो अकेले में उससी नंबर पे बात करने लगे. उसके बाद वो चले गये.

मैं: फिर आपने क्या किया?

मानी: मुझे डाउट लगा तो मैने भी उन्हे फॉलो किया. तो वो गोडोवन् नही उनके एक कोलीग के घरपे गये. जब मैने विंडो से देखा तो मेरे होश उड़ गये.

मैं: ऐसा क्या देख लिया आंटी?

मानी: (उसने टॉपिक चेंज करने की कोशिश की) तुझे क्यू बतौ, वो मेरा पर्सनल प्राब्लम है.

मैं: आंटी आपने इतना कुछ बता दिया है तो आप बताओ ना की आपने क्या देखा (मैने उससे बहुत फोर्स करने के बाद बताया)

मानी: बटौगी पर यह किसिको को मत बताना.

मैं: प्रॉमिस आंटी नही बतौँगा.

मानी: अंकल का शर्ट निकला हुआ था और वो दोनो किस्सिंग कर रहे थे (और वो रोने लगी)

मैं उसके पास गया और उससे दिलासा देने लगा. और उसके शोल्डर्स रब करने लगा. मैने उसको बोला. “यह तो अंकल ने बहुत ग़लत किया. आप जैसी खूबसूरत और सेक्सी वाइफ होते हुए दूसरी औरत के साथ अफेर रखना ग़लत है. अगर मैं आपको हज़्बेंड होता तो अब तक आपको 3-4 बाकचो की मा बनता.”

मेरी यह बात सुनकर वो तोड़ा शॉक हो गयी और उसने मुझे गुस्से में पुकचा.

मानी: के बोला तुम्ही अगर मैं तुम्हारी बीवी होती तो अब तक 3-4 बाकचो की मा होती.

मैं: वो तो मैं.

मानी: (वो तोड़ा मूड मैं आ गयी) क्या मैं तुम्ही सछमे उतनी सेक्सी लगती हू की तुम मुझे छोड़के मा बनाते?

मैं: (उसकी बात सुनकर मैं भी एग्ज़ाइट हो गया) अगर मौका मिले तो अब भी आपको प्रेग्नेंट कर सकता हू. और आपको इतना खुश कर दूँगा की आप अंकल को भी भूल जाओगी.

मानी: क्या बोल रहे हो तुम? तुम्हे समझमे आ रहा है की क्या बोल रहे हो? मैं अंकल को चीट नही कर सकती.

मैं: आप उन्हे चीट नही कर सकती, बुत वो आपको चीट कर रहे है. (और उसके दोनो बूब्स के हाथ रखके दबाया)

मानी: सवमै यह ग़लत है.

मैं: कुछ ग़लत नही है, आपकी की पर्सनल नीड्स है. मैं बस उससे पूरा करना चाहता हू.

मानी: वो तो है बुत किसिको पता चल गया तो.

मैं: किसिको मालूम नही पड़ेगा, नही मैं बतौँगा और नही आप बताॉगी.

मानी: (मुझे हग करके किस करने) मेरी नीड्स को पूरा करो सवमै. मैं तुम्हारे अंकल को दिखना चाहती हू की चीटिंग किससे कहते है.

मैं: ई लोवे योउ आंटी.

मानी: आंटी मत बोल अब से मुझे मानी करके बोल.

मैं: लोवे योउ मी जान.

मानी: लोवे योउ टू. (और मुझे ज़ोर ज़ोर से किस करने लगी.)

मैने उसको जमके किस करने लगा और उसके बूब्स ज़ोर ज़ोर से दाबने लगा. वो भी मेरा साथ दे रही थी. उसके बाद मैने उसकी नाइटी निकली तो वो मेरे सामने ब्रा और पनटी में थी. मैं पागल हो गया और उसका ब्रा निकालकर उससे ज़ोर से सक करने लगा. मानी भी पूरा साथ दे रही थी और मोन भी कर रही थी.

मानी: सवमै माज़ा आ रहा है ऐसे ही सक करो. एयाया. उूउउइई माआ आआआ आआआहह आआआहह और ज़ोर्से सक करो.

मैं: मेरी जान अब यह मेरे है और अब हमेशा के लिए मेरे होगआय है.

मानी: (मेरी पंत और अंडरवेर निकल कर लंड को पकड़ा) और यह मेरा है. तेरा कला लंड तो बहुत ही मस्त है और एकद्ूम लोहे की तरह कड़क हो गया है.

मैं: मानी मेरे लंड को चूसना.

मानी: ठीक है मेरे राजा, आजसे में तेरी बीवी हू और तू जो बोले वो मुझे करना है. (और मेरे लंड को मूह में लेके चूसने लगी)

मैं: मानी मज़्ज़ा आ रहा है, आआ ऐसे ही चूस्ते रह, मान तो करता है हमेशा मेरा लंड तेरे मूह में ही रहे और तू उससे चुस्ती.

मानी: (लंड बहेर निकल कर) मैं भी यही चाहती हू.

मैं: (10 मिनिट्स चूसने के बाद अब मेरा पानी निकालने वाला था) मानी मेरा पानी निकालने वाला है तुम इससे आपने मूह में ले लो. (और उसके मूह में ही गिरा दिया)

मानी: अब तेरी बारी है मेरी छूट चाटने की. (और आपनी निकालकर ज़मीन पर सो गयी)

मैं: मेरी जान आजसे तेरी छूट रोज़ मेरे लंड के लिए तरसेगी (उसकी छूट चाटने लगा) वा मानी क्या छूट है तेरी माज़ा आ रहा है.

मानी: मुझे भी माज़ा आ रहा है. आज कही सालो के बाद कोई मेरी छूट छत रहा है. एयाया सवमै मत रूखो ऐसे ही करते रहो. आआआ मेरा पानी निकालने वाला है सवमै उससे पी जा.

मैने उसके छूट का पानी पी लिया, क्या ग़ज़ाब का स्वाद था. मैने उसके गंद के नीचे एक पिल्लो रखा और मेरे लंड को उसकी छूट में पुश किया. तोड़ा सा गे तो चिल्लाने लगी.

मानी: सवमै ज़रा आराम से. मैं कही भागी नही जा रही हू. ज़रा आराम से छोड़ मुझे.

मैं: क्या करू मानी मुझे अब कंट्रोल नही हो रहा है. (और एक पुश मारा तो पूरा लंड उसकी छूट में चला गया)

मानी: सवमै आराम से करो मेरी जान. मैं तेरी हू और हमेशा तेरी ही रहूंगी. ऐसे ही करो. माज़ा आ रहा है. छोड़ो मुझे और ज़ोर्से छोड़. मुझे मेरे पति को दिखना है की चीटिंग किससे कहते है. मत रूखो. करते रहो ऐसे ही. सवमै माज़ा आ रहा है.

मैं: मुझे भी बहुत माज़ा आ रहा है. मानी मेरी जान तू आजसे मेरी हो गयी. तेरे इस जिस्म पर अब मेरा आधिकार है. माज़ा आ रहा है.

मानी: मैं तेरी हू जब भी तुझे छोड़ने का मान करे तो मेरे आ, मेरे पैर हमेशा तेरे लिए खुले रहेंगे.

मैं: (20 मिनिट्स की चुदाई के बाद मेरा पानी निकालने वाला था तो उसको बोला) मेरा पानी निकालने वाला है तो कहा निकालु.

मानी: तुमने ही तो बोला था की अगर में तेरी वाइफ होती तो 3-4 बाकचो की मा होती. तो वोही बात पूरी करदो और निकल दो मेरे अंदर, मैं तुम्हारे बाकछे की मा बनाना चाहती हू.

मैं: तो मुझे तुझे मा बनाना पड़ेगा. और मैं भी चाहता हू तू मेरे बाकछे को जानम दे. (और उसके छूट मैं आपना पानी निकल दिया और उसके उपर सो गया)

मानी: (रोते हुए) सवमै आज मुझे सछमे चुदाई का असली माज़ा मिला है. तेरा पानी जो गिरा है मेरे अंदर वो इस बात का सबूत है की मैं तुमसे प्यार करने लगी हू.

मैं: मैं भी तुमसे बहुत प्यार करता हू.

उस्दीन मैने उसको 4 बार छोड़ा और उसके दूसरे दिन उसकी गंद भी मारी और घरपे पे कोई भी नही होता था तो हमारा चुदाई का खेल चलता था. कुछ महीनो के उसने मुझे बताया की वो मेरे बाकछे की मा बननेवाली है और उसने मेरे बाकछे को जानम दिया.

आजतक हमारी चुदाई का सिलसिला चल रहा है और उससी डॉरॅन उसने मेरे दूसरे बाकचो को जानम दिया.

यह कहानी भी पड़े  भाभी की बच्चे की लालसा

error: Content is protected !!