ऑफीस मे काम करने वाली लड़की की चुदाई – १

office sex kahani ही, यह मेरी कहानी लॉक्कडोवन् के पहले की है. मई इट कंपनी मे पुणे मे काम करता हूँ आंड मेरी ज़िंदगी की कहानी तब रंग लाई जब मेरे टीम मे रिचा नामे की लड़की आई.

स्टार्टिंग मे तो हम दोनो सिर्फ़ दोस्त ही थे. उसकी बेसिक ट्रैनिंग की ज़िम्मेदारी मुझे दी गयी थी. तो हम दोनो ज़यादा टाइम साथ बिताने लगे.

वो सिटी मे न्यू थी आंड किसी को जानती भी नही थी. तो मई ही उसका एक फ्रेंड बन गया. आंड उसकी हर हेल्प की लीके फ्लॅट ढूँढना एट्सेटरा. वो मेरे सोसाइटी मे ही 1 भक फ्लॅट मे एक लड़की के साथ रहती थी.

धीरे धीरे हम दोनो आचे दोस्त बन गये आंड शॉपिंग एट्सेटरा साथ मे जाने लगे. हम साथ मे ही अक्सर रहते थे. करीब 2 मंत गुज़र गया आंड अब हम मज़ाक भी करते थे आंड आचे दोस्त बन गये थे.

एक दिन रिचा मुझे ताकि ताकि लगी मैने कहा क्या हुआ? तो उसने कहा अरे यार मेरी रूमेट कल अचानक से घर चली गयी आंड मुझे अकेले रहने मे दर्र लगता है. मई रात भर सोई नही हूँ.

मई हंसा और मज़ाक मे बोला मुझे बुला लिया होता (हाहाहा)? मैने मज़ाक मे ही बोला बुत उसने कहा तो आज से आजा. वो मंडे आएगी आंड पूरा वीकेंड मई अकेले नही रह पावंगी. पहले मई तोड़ा हेज़िटेट किया फिर कहा ओके. तुझे कोई प्राब्लम नही तो मई जाता हूँ ऑफीस के बाद.

ऑफीस के बाद शाम मे मई उसके रूम चला गया. उसका 1 भक फ्लॅट था. एक रूम आंड 1 हॉल. जिसमे एक सोफा था.

मई: मई सोफा पर सो जौंगा.

रिचा: अरे उ शुवर? कोई दिक्कत तो नही होगा ना?

मई: अरी एक इंजिनियर कही भी सो सकता है तुम तेनतीओं मत लो (हहा).

रिचा: हाहाहा वेरी फन्नी. अछा तुम फ्रेश हो जाओ.

मई: हन यार.

मई बातरूम गया आंड वहाँ मेरी नज़र उसके पनटी पर पड़ी. पता नही कीयू मुझे अजीब सा लगा. मैने उसे उठाया आंड मैने स्मेल किया. उफ़फ्फ़ उसके पनटी की स्मेल. मेरे दिमाग़ तक चली गयी आंड पहली बार मुझे रिचा की खूबसूरती का उस वक़्त एहसास हस.

मेरे नज़रों के सामने 5 फ्ट 6इंच की रिचा घूमने लगी. उसके करीब 32 28 34 फिगर सामने आगाए. उसके पिंक लिप्स को घूमने का दिल किया. मई होश मे आया आंड अपने आप को संभाला.

मूह हाथ धो कर बाहर आया तो रिचा शॉर्ट्स मे और त-शर्ट मे थी. उसने अंदर कुछ नही पन्ना था. इससे पहले भी मैने उसे शॉर्ट्स मे देखा था बुत आज वो कुछ अलग ही लग रही थी.

फिर उसने कहा डिन्नर मे क्या बनौ? मैने कहा कुछ भी. चलो मई भी हेल्प कर देता हूँ. किचन छोटा था 2 लोग एक साथ काम करना मतलब बॉडी का टच होना ही है. बार बार हम दोनो टच हो रहे थे.

पहले भी हम दोनो तौकब होते थे बुत आज मुझे कुछ अलग ही लग रहा था. मई लोवर मे था आंड मेरा लंड हल्का टाइट भी हो गया था. किसी तरह खुद को संभाल कर डिन्नर बनाया आंड डिन्नर करने बैठे.

रिचा डिन्नर के टाइम मेरे सामने बैठे थी आंड जब वो हल्का झुकती तो उसका क्लीवेज मुझे दिखता. आंड यह मेरे लंड को और भी टाइट करता. बुत मैने अपने आप पर काबू किया.

डिन्नर के बाद वो अपने घर मे फोन पर बात करने लगी और रूम मे चली गयी. और मई इधर सोचने लगा कैसे मूव करू. अगर किया तो क्या होगा. रिचा गुस्सा गयी तो कहीं दोस्ती ना टूट जाए.

रिचा बात करके आई आंड फिर हम लोग सोफा पर बैठ कर बात करने लगे. मैने मोविए देखने का प्रपोज़ किया उसने कहा हन. वैसे भी कल छुट्टी है तो रात मे लाते से ही सोएंगे.

करीब 11 भाज रहे थे उस टाइम. मैने नेत्फलिक्ष ओपन किया आंड मैने बोला आइज़ वाइड ओपन देखना है टॉम क्र्यूज़ की है?

रिचा: तुमने देखा है?

मई: नो (मैने मोविए देख रखा था.) कल ही रेकमेंडेशन मे आया था, सोचा था देखूँगा.

रिचा: ओके चलो देखते हैं.

मोविए स्टार्ट हुआ आंड फर्स्ट ही सीन न्यूड सीन था. मुझे पता था यह मोविए बहुत सेक्सी है आंड इसमे सेक्स सीन बहुत हैं.

मई (आफ्टर सीन): अरे दूसरी मोविए लगा डू?

रिचा: नही ठीक है रहने दो, तुम्हे तो कोई प्राब्लम नही ना?

मई: नो.

और हम मोविए देखने लगे. थोड़े देर बाद ही एक सेक्स सीन आया. यह देख कर मेरा लंड टाइट होने लगा तो मैने कुशन ले कर रख लिया. यह बात रिचा ने नोटीस किया.

रिचा: हाहाहा क्या हुआ?

मई: कुछ नही.. तुम हंस क्यू रही हो?

रिचा: कुछ नही, बस इतने मे ही कुशन की ज़रूरत पद गयी.

मई: हाहाहा सिर्फ़ मोविए का असर नही है.

रिचा: अचाअ बदमाश, देखो कुशन धोना ना पद जाए.

मई: घबराव मत उसकी नौबत नही आएगी.

रिचा: ई होप सो.. हाहाहा.

आंड मोविए चलने लगी. थोड़े देर बाद ग्रूप सेक्स का सीन आया. जहाँ बहुत से लोग सेक्स कर रहे थे. यह देखते देखते मैने रिचा के हॅंड पर अपना हॅंड रख दिया. उसने जल्दी से खींच लिया आंड उठने लगी.

मई: क्या हुआ??

रिचा: मुझे नींद आ रही है.

मई: क्या.. अरे इतना जल्दी?

वो उठ कर जाने लगी. मैने उसका हाथ पकड़ लिया आंड बोला रूको.

रिचा: यह क्या कर रहे हो! लीव मे…

मई: नो… (आंड उसे अपनी तरफ खींचा.)

रिचा: नही प्लीज़ जाने दो. (वो समझ गयी थी मेरे इरादे.)

मैने उसके कान मे कहा. सच मे जाना चाहती हो. या फिर बस खुद से भाग रही हो? उसने कुछ नही बोला. मैने उसे घुमाया आंड उसके फेस को उपर किया. वो ज़ोर ज़ोर से साँस ले रही थी.

मैने देर ना की आंड उसके होंठ पर होंठ रखना चाहा. वो पीछे हटी आंड हाथ छुड़ाने लगी. आंड बोलना चाहा प्लीज़ नूऊओ.

मैने उसकी बात कंप्लीट होने भी नही दिया आंड उसे ज़ोर से पकड़ा. आंड उसके होंठ पर अपने होंठ रख दिया. स्टार्टिंग मे वो अपोज़ की. बस कुछ पल मे ही उसने भी साथ देना स्टार्ट कर दिया उसकी बॉडी ढीली हो गयी. आंड वो भी मुझे किस करने लगी.

अब हम दोनो पॅशनेट किस करने लगे आंड एक दूसरे मे गुम हो गये. कुछ देर बाद हम अलग हुए एक दूसरे को देखे आंड हँसे. मैने रिचा से बोला-

रिचा ई लोवे योउ. उसने भी मुस्कराया आंड बोला – लोवे योउ टू.

फिर हम किस करने लगे और कुछ देर बाद मैने उसका टॉप उतरा. उसने अंदर कुछ नही पहना था. उसके बूब्स मेरे नज़रों के सामने आ गये.

उसके पिंक निपल्स उफ़फ्फ़ क्या लग रहे थे. वो शर्मा रही थी. मैने अपना भी टशहिर्त उतरा आंड हम दोनो हाफ न्यूड हो गये. मैने अपना एक हाथ उसके बूब्स पर डाला. उसके लेफ्ट बूब्स को प्रेस किया उसके मूह से आआहह की आवाज़ आई.

फिर मई झुका आंड उसके लेफ्ट निपल को किस किया आंड हल्का सा बीते किया. उसकी आवाज़ और तेज़्ज़ हुई, उसकी आवाज़ ने मुझे और एग्ज़ाइट कर दिया. अब मई उसके लेफ्ट बूब्स को चूसने लगा, ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा. आंड दूसरे हॅंड से उसके रिघ्त बूब्स को दबाने लगा.

वो आहह आहह. करने लगी. मई थोड़ी देर उसके दोनो बूब्स को चूसा और दोनो बूब्स लाल हो गये थे. मई फिर से उपर गया आंड उसके होंठ चूसने लगा.

इस बार मई और ज़यादा एग्ज़ाइटेड था. मैने उसे लोवे बीते दे दिया और उसके होंठ से हल्का ब्लड आने लगा. हम दोनो एक दूसरे को देखे आंड हँसने लगा.

तब तक मेरा लंड बिल्कुल खड़ा हो चुका था. रिचा की नज़र नीचे गयी.

रिचा: कोई बाहर आना चाहता है.

मई: तो आज़ाद कर दो, तुम्हारा ही गुलाम है.

रिचा नीचे झुकी और मेरे लोवर को नीचे कर दी. मेरे 7.5″ का लंड उसके सामने बिल्कुल टाइट खड़ा हो गया.

रिचा: इतना बड़ा!

मई: पहले कभी लिया है?

रिचा: नही, दर्र लग रहा है.

मई: कुछ नही होगा मत डरो.

मैने उसे लंड चूसने को कहा बुत वो हेज़िटेट करने लगी. तो मई नीचे झुका आंड उसके लोवर को उतार दिया. उफफफ्फ़ उसकी छूट, उफ़फ्फ़ यह स्मेल. जिसने मुझे पागल कर दिया था.

उसकी छूट बिल्कुल सॉफ थी. मैने कहा सोफा पर बैठ जाओ और मैने उसका पैर फैलाया आंड उसके छूट को किस किया. उसकी बॉडी मे एक करेंट दौड़ गया.

मैने अपने एक फिंगर उसके छूट मे डालनी चाही बुत छूट एक दूं टाइट थी. आज मई रिचा की वर्जिनिटी लेने वाला था. यह सोच कर मुझे और जोश आ गया.

मैने छूट खुशी से किस किया आंड फिर अपने टंग से उसे चाटने लगा. रिचा और आाहीईँन्न भरने लगी आंड मई और चूसने लगा. मैने उसके छूट को करीब 5 मीं छाता आंड हल्का गीला कर दिया.

अब रिचा को शरम बिल्कुल ही मार गयी थी आंड अब मई जानता था की वो मेरा लंड चुसेगी. मैने उसे अपना लंड बढ़ाया तो उसने आक्सेप्ट कर लिया.

उसने पहले बार टच किया. उफफफ्फ़ उसके मुलायम हॅंड्ज़. उसने मेरी लंड की टोपी किस किया आंड फिर अपने मूह मे लिया. आआहााहह… मुझे आनंद आने लगा.

अब वो मेरे लंड को चूस रही थी आंड मई आआहह आआहह कर रहा था. करीब 5 मिन्स बाद मैने उसका बाल पकड़ा आंड उसे मौत फक करने लगा.

मेरा लंड उसके थ्रोट तक जाने लगा. वो चोक करने लगी आंड पूरे घर मे खाकच काअकच्छ की आवाज़ आने लगी. फिर मैने बाहर निकाला.

उसने मुझे बेड पर चलने को कहा. मई उसे उठा कर बेड पर ले गया. मेरा लंड अब उसकी छूट के लिए रेडी था. वो अब बेकरार थी. मैने उसकी छूट फैलाई आंड ठुका एक फिंगर डाली. फिर 2 फिंगर बुत अभी भी छूट बहुत टाइट थी.

मैने तोड़ा क्रीम लगाया छूट पर आंड अपने लंड के टोपी पर भी. फिर अपना लंड के छूट पर रखा आंड घुसना चाहा पर टोपी स्लिप कर गया. मैने फिर रखा आंड ज़ोर से पुश किया तो तोड़ा टोपी अंदर गया.

मैने एक और पुश ज़ोर का मारा तो मेरा आधा लंड अंदर गया आंड रिचा ज़ोर से चीखी. रिचा के छूट से ब्लड आने लगा. मई नही रुका आंड एक और पुश मारा और पूरा लंड अंदर चला गया.

रिचा दर्द से बहाल हो गयी मुझे बाहर निकालने को कहने लगी. वो रोने लगी ज़ोर ज़ोर से. मैने पुश करना चोर दिया बुत लंड को अंदर ही रखा आंड रिचा को किस करने लगा.

बुत उसे बहुत दर्द हो रहा था. उसका सील जो टूटा था. करीब 2 मिन्स ऐसे ही रहा आंड उसे किस करता रहा. उसने दर्द मे मेरे होंठ भी काट दिए बुत मई ऐसे ही रहा.

फिर जब उसका दर्द कम हुआ तब मैने अंदर बाहर करना स्टार्ट किया. अब दर्द एक मीठा दर्द बन चुका था आंड वो कम हो रहा था. थोड़ी देर बाद रिचा को भी मज़ा आने लगा आंड फिर हुमलोग ने करीब 15 मिन्स जाम कर चुदाई की.

वो मुझे जोश दिलाती आंड मई ज़ोर ज़ोर के पुश करता. करीब 15 मिन्स बाद मई झड़ने वाला था. मैने बाहर निकाला आंड उसके पेट पर पूरा कम निकल दिया.

मई तक कर लेट गया, मेरे लंड मे रिचा के छूट का ब्लड लगा हुआ था. बेडशीट भी खून खून हो गया था. मैने बोला, कुशन नही बेडशीट बदलना होगा. यह सुनकर रिचा हँसने लगी.

रिचा लेते रही वो हिल नही पा रही थी. हम दोनो ऐसे ही लेते रहे आंड हम को आँख लग गयी.

करीब 5 भजे सुबह मे मेरी नींद टूटी. मैने रिचा को उठाया. वो अभी भी पाईं मे थी. मैने उसे गोद उठाया आंड बातरूम ले गया. उसके छूट को पानी से सॉफ किया. फिर बाहर ला कर सोफा पर लिटाया. बेडशीट चेंज की आंड फिर बेड पर लियतया.

वो खुश थी और उसने मुझे कान मे कहा – थॅंक योउ.

फिर हम दोनो किस करने लगे आंड किस करते करते सो गये.

सुबह करीब 10 भजे रिचा ने मुझे उठाया. रिचा बेड पर ही थी आंड हम दोनो न्यूड ही थे. मैं उठा हम दोनो ने किस किया आंड हम दोनो बातरूम गये.

हम दोनो नहाने लगे आंड हम दोनो ने शवर मे एक बार सेक्स किया. फिर नहा धोकर बाहर आए.

मई: रिचा मेरे पास एक आइडिया है, ई मीन एक फॅंटेसी है.

रिचा: क्या बोलो?

मई: हम दोनो मंडे मॉर्निंग तक ड्रेस नही पहनेंगे आंड न्यूड रहेंगे.

रिचा: वॉट!!! हाहाहा… रियली.. ओके.

आयेज की कहानी अब नेक्स्ट पार्ट मे.

यह कहानी भी पड़े  ऑफ़िस में ब्लू फिल्म और हस्तमैथुन

आगे की कहानी अगले पार्ट मे जल्दी ही आएगी. ओर भी जवान भाभी लड़किया ओर आंटी को हॉट बाते करना ही तो आप मैल करे [email protected] आप की सारी डीटेल्स एक दम सीक्रेट रहेंगी उससे आप लोग बेफ़िक्र रहे.


error: Content is protected !!