हॉट कलिग को चोद के खुश किया

office-colleague-ki sexy chudaiदोस्तों मेरा नाम राजू हे और मैं कोइम्बतुर से हूँ. मेरी उम्र 26 साल, लम्बाई 6 फिट 1 इंच और वेट 70 किलो हे. मैं लम्बा और चौड़े कंधे वाला आदमी हूँ. आज मैं आप को अपनी ऑफिस की कलिग अनुपमा के साथ में हुए मेरे सेक्स अनुभव के बारें में बताने के लिए आया हूँ. ये बात अप्रेल 2016 में हुई थी. और वो बात हम दोनों के लिए ही एक ना भूलने वाला अनुभव बन के रह गई. वो केराला की एक सेक्सी लड़की थी जो उम्र में मेरे से बड़ी थी.

उसके बारे में बताऊँ तो वो लम्बी 5 फिट 6 इंच की, गुलाबी लिप्स वाली और बड़े बूब्स और गांड वाली गोरी लड़की थी. उसकी जांघे एकदम मोटी थी जो दिखने में एकदम हॉट लगती थी. एक लाइन में कहूँ तो वो टिपिकल साउथ इंडियन माल थी. मेरे लिए जॉब नया था, जहाँ पर मुझे कहा गया था की मुझे अनुपमा के साथ में काम करना हे. हम दोनों को एक कोमन केबिन मिला हुआ था जहाँ पर हम दोनों साथ में मिल के काम करते थे. तब वो 25 साल की और मैं 24 साल का था. उसके बूब्स एकदम सेक्सी और पुरे 34D साइज के थे. वैसे उसका ओवेरआल फिगर 34D-28-36 का था.

उसकी नयी नयी शादी हुई थी उन दिनों. और पूरा दिन साथ में कम करने की वजह से हमारी अच्छी बनने लगी थी एक दुसरे के साथ में. उसका पति किसी गल्फ कंट्री में था और साल में एकाद बार ही उसे इंडिया आने के लिए छुट्टी मिलती थी. वैसे पहले मुझे अनुपमा के लिए कोई गलत इरादा नहीं था. अक्सर वो काम के लिए झुकती तो उसका क्लीवेज भी मुझे दिख जाता था. और उसने भी मुझे वहां देखते हुए देखा था लेकिन कोई सिरियस बात नहीं हुई उस से. कभी कभी उसके डीप गले वाले सलवार में उसकी ब्रा की स्ट्रिप भी देखने को मिलती थी. मोस्टली वो सलवार कुरते पहनती थी. या फिर निचे लेगिंग होती थी. और लेगिंग में उसका बदन एकदम हॉट लगता था क्यूंकि जांघ के पास कपडा टाईट होने की वजह से मस्त लगता था.

यह कहानी भी पड़े  मदमस्त जवानी वाली मॅरीड औरत की दुकान मे चुदाई

हम दोनों अक्सर साथ में शोपिंग के लिए और मूवी देखने भी जाया करते थे. जैसे जैसे दिन निकले मेरी उसको ले के फिलिंग चेंज हो रही थी. जैसे जैसे हम करीब हुए वो मुझे और भी हॉट लगने लगी थी. मैं अब जानबुझ के उसके बूब्स को क्लीवेज को देखने और टच करने की फिराक में रहता था. और ये सब उसको भी नोटिस होने लगा था.

एक दिन संडे को मोर्निंग में उसका कॉल आया और उसने मुझे अपनी हॉस्टल पर लंच के लिए बुलाया. हम दोनों ने साथ में लंच किया और फिर मैंने उसे उसका हाथ पकड के अपनी तरफ खिंच लिया. वो कुछ कहती उसके पहले तो मैंने उसके होंठो के ऊपर एक किस दे दिया था. वो बड़ा घुस्सा दिखा रही थी और मेरी गिरफ्त से छूटना भी चाहती थी लेकिन मेरी ग्रिप ने उसे कोई मौका दिया नहीं और मैं उसे चूसता ही रहा होंठो से होंठो को लगा के. मेरी सेक्सी लिप किस से उसके अन्दर की अन्तर्वासना भी जाग गई. और वो भी स्लोवली स्लोवली मेरे होंठो की मूवमेंट को अपने होंठो से सपोर्ट करने लगी थी. अब मैंने हाथ को उसके बूब्स पर रख के हलके से दबा दिया.

उसने उस वक्त एक ट्रांसपेरेंट कुरता पहना हुआ था जिसके अन्दर काली ब्रा थी. मैंने कुरते को पकड़ा और उसके होंठो को जंगली ढंग से चुसे. वो भी मेरे होंठो को बड़े सेक्सी ढंग से चूसने लगी थी. और मुझे उसकी बगल से पसीने की स्मेल आ रही थी जो मुझे और भी उत्तेजित करने लगी थी. मैंने उसके हाथ को ऊपर कर के कुरता निकलवा दिया. और फिर उसकी बगल के ऊपर के पसीने को मैंने अपनी जबान से चाट चाट के साफ किया. वो एकदम चुदासी हो गई थी. और उसने कहा की ऐसे कभी नहीं किया किसी ने उसके साथ इसलिए उसे भी एकदम अलग फिलिंग हो रही थी. फिर मैंने उसकी ब्रा का हुक खोला और उसके बड़े गोर बूब्स बहार आ गए. मैं नीपल्स को काटने लगा जिस से उसे दर्द भी हुआ. लेकिन साथ में उसे मजा भी बहुत आया. मैं उसके एक बूब को चूसता था और दुसरे को अपने हाथ से जोर जोर से दबाता था.

यह कहानी भी पड़े  मौसी की बेटी यानि मौसेरी बहन को चोदा

फिर मैंने अनुपमा को कुर्शी पर बिठा दिया और उसकी लेगिंग को निकाला. उसकी पेंटी गीली हो चुकी थी. मैंने उसकी पेंटी को भी निकाल लिया. उसकी चूत के बाल ट्रिम किये हुए थे. मैंने अपनी फिंगर वहां पर लगाईं और चूत को ऊँगली से एकदम जोर जोर से चोदने लगा. वो चिल्ला रही थी एकदम जोर से. मैंने फिर अपनी ऊँगली चूत से निकाली और वहां पर अपनी जबान को लगा दी. मैं उसकी चूत के सेक्सी रस को चाटने लगा था और वो एकदम जोर जोर से मोअन करने लगी थी.

उसकी चूत को ऐसे जोर जोर से चाटा मैंने की वो एकदम आउट ऑफ़ कंट्रोल हो गई थी. वो मुझे मलयालम में चूत में लंड देने के लिए कह रही थी. उसने मेरे बाल नोंचे और बोली आज तुम अपने लंड से मेरी चूत को फाड़ दो जल्दी से जल्दी.

Pages: 1 2

error: Content is protected !!