ऑफीस कोलीग के साथ चुदाई की हॉट कहानी

ये कहानी कुछ हफ्ते पहले की है. मुझे ळिन्केदीन पे एक लड़की की रिक्वेस्ट आई, जो जॉब सर्च कर रही थी. और मैने उसका इंटरव्यू अपने ऑफीस में करवा दिया. उसका सेलेक्षन हो गया आंड 2 हफ्तों बाद उसने जाय्न कर लिया.

मुझे नही पता था उसका फिगर क्या था, बुत जब उसने जाय्न किया तब मैं उससे पहली बार मिला. वो थोड़ी सावली थी, लंबी थी, 32सी-28-30 का फिगर था, और जब वो पहली बार आई, तो उसने मुझे थॅंक्स किया और हमारी दोस्ती हो गयी.

हम हर तरीके की बातें करने लग गये थे, और उसने बताया की बहुत टाइम से उसने किसी को डटे नही किया था. मैने सोचा और उससे मज़ाक में पूच लिया की सेक्स कब किया था. तो उसने बताया काफ़ी टाइम हो गया. जब मैने पूछा की करने का मॅन नही करता, तो उसने बताया की कोई है ही नही. और तब से मैने कोशिश बढ़ा दी.

एक रात उसने ज़्यादा दारू पी ली, और मैं जब उससे घर छोढ़ने जेया रहा था, तो मैने सेक्स की बातें शुरू कर दी.

मैने पूछा: इतनी दारू के बाद किस करने का मॅन नही करता.

उसने बोला: बहुत करता है.

तो मैने गाड़ी साइड लगाई, और बोला: मेरे को करोगी क्या?

उसने मेरे को खींचा और 5 मिनिट तक हम एक-दूसरे को किस करते रहे. वो पागल हो चुकी थी. तो मैने गाड़ी में ही उसको फिंगरिंग करके शांत किया.

अगले दिन जब हम ऑफीस में मिले, तो वो खुश थी की आयेज कुछ नही किया मैने.

फिर उसने बोला: कैसे कंट्रोल किया?

मैने बोल दिया: मॅन तो था, बुत ऐसे रोड पे सेफ नही था. और ऐसे हाल में ओयो सही नही लगा.

ये सुन कर वो खुश हो गयी, और बोली: आज रात मिलना, और कॉंडम के साथ चॉक्लेट लेके आना.

ये सुनते ही मेरा खड़ा हो गया. बुत मैने अपने आप को संभाला, और रात का इंतेज़ार करने लगा.

रात में हम साथ में निकले, और उसने पूछा: चॉक्लेट ली?

तो मैने बोला: अभी लूँगा.

फिर मैने मेडिकल के बाहर कार रोकी, तो वो साथ आ गयी और साथ में गयी मेरे. इससे पहले मैं कुछ बोलता, उसने बोल दिया-

वो: ऐसा कॉंडम देना जो पूरी रात चले.

और मेरे को देखते हुए आँख मार दी. मेरे को केमिस्ट ने बहुत गंदी नज़र से देखा, और 1 डिब्बी दी. साथ में 1 गोली भी दी, और बोला-

केमिस्ट: 20 मिनिट पहले ले लेना.

हम जैसे ही होटेल पहुँचे, उसने बोला: दवाई लेलो, मैं अभी आई.

मेरा तब से खड़ा था, और दवाई लेने के 20 मिनिट बाद तो वो इतना कस्स गया की पूछो मत. वो वॉशरूम से बातरोब में आई, और मेरे कपड़े उतारने लगी और लंड को छूने लगी.

वो बोली: अभी और कड़क होगा.

ये बोल के उसने अपना बातरोब निकाला, और अंदर उसने केवल अपने निपल्स पे टेप लगाई हुई थी और कुछ नही. उसको देख कर तो मैं बहुत पागल सा हो गया. मेरा लंड मोटा और 7″ का हो गया होगा

उसने 30 मिनिट तक बहुत सताया. मेरे उपर अपनी गांद रगडी, बूब्स चूसने नही दिए, बुत मूह पे मार रही थी. वो मेरे उपर बैठ जाती, बुत छूने नही देती. 1 घंटे बाद मेरे को उसने बोला-

वो: अब तुम्हारी बारी.

तो मैने सबसे पहले उसकी टेप निकली और उसको आचे से चूसा. उसको घुमाया, और अपना लंड उसकी गांद पे फेरने लगा. उसकी आँखों पे मैने एक कपड़ा बाँध दिया, और 45 मिनिट तक उसको इतना तडपया की उसकी छूट पूरी गीली हो गयी थी.

यहा तक मैने उसके हाथ बाँध दिए थे, और चेर पे बिता के पैर खोले, और उसको छाता. इतनी अची छूट थी, की जीभ अंदर डालते ही उसकी सिसकियाँ निकल रही थी. जब वो 2 बार झाड़ गयी, तो मैने पूछा-

मैं: अब और तंग करू, या रुकु?

तो वो बोली: प्लीज़ अब लंड घुसा दो, और नही तड़पाव.

और मैं मान गया. फिर जैसे ही उसके हाथ खोले, वो मेरे उपर कूद गयी और लंड पकड़ लिया. पकड़ते ही बोली: ये बस मेरा है.

और उसने पकड़ के मुझे बिस्तर पे लिटा दिया. वो कूद के मेरे उपर आ गयी, और मेरे दोनो हाथो को कस्स के पकड़ लिया, और लंड पे अपनी छूट फेरने लगी.

फिर वो बोली: अब बोल तेरे को फिर तड़पौ?

मैने बोला: सोच लो, अगर अब नही तो 1 घंटे तक नही मिलेगा. ये सुनते ही उसने कॉंडम खोला, और मूह से चूस्टे हुए पहनाया. फिर छूट को लंड पे टीकाया और उसपे बैठ गयी.

लंड धीरे से गया और वो चिल्लाने लगी. मैने उसकी गांद पकड़ी, और ज़ोर से धक्का मार के अपने लंड को अंदर डाल दिया. इससे पहले वो चिल्ला पाती, मैं उसके होंठो को चूस रहा था.

15 मिनिट के बाद वो शांत हुई, और तब तक 1 बार झाड़ भी चुकी थी. मैने थोड़े धक्के और मारे ताकि छूट थोड़ी खुल जाए, और फिर दूसरी पोज़िशन में आ गये.

मैने उसको झुकाया, और पीछे से लंड घुसा दिया. कुछ देर ऐसे छोड़ने के बाद उसने बोला-

वो: डॉगी में करना है.

तो हम बेड पे गये और फिरसे लंड घुसाया. उसको मैने 1 घंटे तक अलग-अलग तरीक़ो से छोड़ा, और वो 3 बार झाड़ गयी. उसने मेरा लंड चूसा और आख़िरकार 2 घंटे बाद मेरा भी निकला. फिर हम वैसे ही सो गये.

सुबा जब मेरी नींद खुली, वो मेरा लंड सहला रही थी और बोली-

वो: देखा दवाई ने काम किया. मैने बोला: हा, कुछ ज़्यादा ही.

तो उसने बोला की उसको और चूड़ना था.

मैने बोला: आज रात फिर से करे क्या?

तो बोली: नही, अभी करेंगे.

ये बोलते ही उसने मेरे को किस किया और दवाई मूह में डाल दी. जब तक वो नीचे नही उतरी, वो किस करती रही और फिर बोली-

वो: ऑफीस में माना कर दो की आज नही आओगे.

मैं: मैने कर दिया है.

वो: मैं तैयार होके आ रही हू. और आज के दिन तुम्हारी बॉस मैं हू.

फिर वो वॉशरूम में गयी, और मैने ऑफीस में बोल दिया की मैं नही अवँगा. 15 मिनिट के बाद वो वॉशरूम से आई, और इस बार उसने मेरी शर्ट और टीए पहनी हुई थी.

मुझे बताना ये कहानी कैसी लगी, और अगर पसंद आई होगी तो इसके आयेज भी ज़रूर बतौँगा. आपकी फीडबॅक का इंतेज़ार रहेगा.

यह कहानी भी पड़े  लड़के को मम्मी और चाची से मिली ट्रैनिंग की कहानी


error: Content is protected !!