नौकरानी को अपने लंड का दम दिखाया

मैं नाज़ को गर्दन पर किस करने लगा और उसके बूब्स दबाने लगा. इससे वो गरम हो गयी. मैं उसकी गांद के बीच अपना लंड घूमने लगा. फिर मैने नाज़ को उठाया, और सीधा बेड पर लिटा कर उसके उपर आ गया, और उसको किस करना स्टार्ट किया.

नाज़ धीरे-धीरे आवाज़ में ह्म आ करने लगी, और मैं उसके बूब्स दबाते हुए उसको किस कर रहा था पागलों के जैसे. इतने में नाज़ बोली-

नाम: आ आराम से करो ना, कही नही जेया रही मैं.

मे: अब रहा नही जेया रहा मुझसे.

और बोलते हुए उसको उल्टा करके उसकी गांद को आचे से दबाते हुए मैने उसका बुरखा उपर किया. क्या मस्त गांद लग रही थी. उसने रेड कलर की अंडरवेर पहनी थी, और मैं अपना लंड उसकी गांद पर घुमा रहा था.

नाम: आ, बहुत मज़ा आ रहा है. आज तक ऐसा मज़ा मुझे कभी पहले नही आया. और आचे से दब्ाओ.

मैने ज़्यादा ना सोचते हुए सीधे उसकी अंडरवेर निकली, और अपने हाथ से पीछे से उसकी छूट को सहलाने लगा. क्या मज़ा आ रहा था. नाज़ उल्टी लेती हुई थी, और उसका फेस नीचे था, और दोनो हाथो से बेडशीट को पकड़ कर आवाज़ निकालने लगी.

नाज़: आह आह, बहुत अछा लग रहा है.

मैं पीछे उसके उपर ही था, और अपने हाथ से अपना लंड सहला रहा था उसकी छूट के उपर. फिर एक ही बार में मैने अपना लंड उसकी छूट में डाल दिया. नाज़ जब तक सोचती, तब तक मैने अपना लंड डाल दिया था. वो इतना ज़ोर से चिल्लाई-

नाज़: आअहह प्लीज़, निकालो इसको, प्लीज़ निकालो. बहुत दर्द हो रहा है.

मैने उसकी एक ना सुनी और धीरे-धीरे अंदर-बाहर करने लगा. करीब 10 मिनिट तक उसको ऐसे छोड़ने के बाद मैने उसको सीधा किया, और उसको किस करने लगा. उसकी आँखों में आसू थे दर्द के मारे. फिर मैने नीचे जेया कर उसके पर खोले, और छूट को चाटने लगा.

नाज़ तोड़ा शॉक हो गयी और बोली: ये आप क्या कर रहे हो? आ, बहुत मज़ा आ रहा है.

ये करते हुए उसने मेरे बाल पकड़ लिए, और खुद अपनी छूट उपर करते हुए चटवा रही थी. मैने करीब 5 मिनिट तक उसकी छूट छाती. फिर मैं बेड की साइड में खड़ा हुआ, और उसके दोनो पैर अपने शोल्डर पर रखे, और छूट में लंड सेट करते हुए एक ही बार में डाल दिया. नाज़ दोनो हाथो से बेडशीट को पकड़े हुए चिल्ला रही थी-

नाज़: आअहह, आराम से करो यार. बहुत दर्द हो रहा है आ. प्लीज़ रुक जाओ यार, प्लीज़ आअहह. प्लीज़ रुक जाओ, बहुत दर्द हो रहा है.

मैं उसकी एक भी नही सुन रहा था. स्पीड बढ़ते हुए मैं उसको किस करने लग गया, ताकि वो ज़्यादा नही चिल्लाए और कोई सुन ना ले. करीब 7-8 मिनिट तक ऐसे ही छोड़ने के बाद मैने अपना लंड निकाला बाहर और साइड में टेबल पर रखा पानी पी रहा था. नाज़ अभी भी वैसे ही लेती थी. मैंस हेस्ट हुए उसको देखा.

नाज़: अल्लाह कसम आज तक मेरी चुदाई इस तरीके की नही हुई. तोड़ा हमारे बारे में सोचो. इतना बड़ा लंड हमने आज तक नही लिया, और तुमने एक बार में डाल दिया.

ये बोल कर वो खड़ी हुई. उससे सही से खड़ा भी नही हुआ जेया रहा था. मैने उसकी हेल्प की, और पानी दिया, और बेड पर बैठ गया. मैं सीधा बेड पर जेया कर बैठा, और अपना लंड हिलाते उसको देख रहा था.

नाज़: क्या देख रहे हो?

मे: यार तुम पहले क्यूँ नही मिली? क्या मस्त फिगर और क्या मस्त छूट है तुम्हारी. आज तो तुमको पूरी रात छोड़ूँगा आ, और तुम्हारी गांद देख कर मारने का मॅन हो रहा है.

नाम: अर्रे चुप, एक तो बिना बोले एक-दूं से इतना लंबा मोटा लंड डाल दिया. कपड़े खोलने का वेट तक नही किया, और पूरा डाल दिया. चलने लायक तो रखोगे?

फिर मैने उसको अपनी और खींचा, और बोला: चलो जल्दी से नंगी हो जाओ.

नाज़ मेरी बात सुन कर हासणे लगी, और अपना बुरखा निकाला, और अपनी ब्रा निकाल कर मेरे मूह पर मारी.

फिर वो बोली: आज तूने मेरी आग जगाई है. देखते है कितना दूं है तेरे इस लंड में.

और ऐसा बोलते हुए लंड हाथो में लेकर देखने लगी.

नाज़: यह अल्लाह, क्या लंड है तेरा. कसम खुदा की आज तक हमने सुना था पर आज पहली बार देख रहे है.

और ऐसा बोल कर आइस क्रीम को जैसे चाट-ते है, वो वैसे मेरे लंड की स्किन चाटने लगी. फिर धीरे-धीरे पूरा मूह में ले लिया मेरा लंड. वो लंड ऐसे लेने लगी, जैसे की कोई भूखी रंडी होती है ना, जो लंड देख कर पागल हो जाती है, वैसे पूरा चूसने लगी. मैने उसको बेड पर लिटाया और उसके उपर आ गया.

फिर उसके बूब्स के बीच में डाल कर अपना लंड हिलने लगा. मैने उसके बाल अपने हाथो में पकड़े, और उसका मूह खोल कर अपना लंड उसके मूह में डाला. फिर उसके बाल पकड़ कर जैसे छूट हो वैसे छोड़ने लगा. 2 मिनिट के बाद उसने मेरा हाथ पकड़ा और हाँफने लगी.

नाज़: ये क्या कर रहे हो यार? मूह है हमारा, छूट नही है, जो मूह पकड़ कर डाले जेया रहे हो.

उसका पूरा फेस रेड हो गया था, और आँखों में आँसू थे. फिर मैं तोड़ा आयेज आया, और अपनी बॉल्स चुसवाने लगा, और अपनी गांद का च्छेद आयेज किया.

नाज़: हम ये नही चाटेंगे, हमने कभी नही किया है.

मे: एक बार छातो, मज़ा आएगा.

तोड़ा उसको फोर्स करने के बाद उसने अपनी जीभ निकली और जैसे ही गांद के च्छेद पर लगी, मेरी आवाज़ निकल गयी. मेरी आँखें बंद हो गयी, और नाज़ एक हाथ से मेरा लंड हिलाते हुए चाटने लगी. पूरी गांद गीली कर दी उसने. फिर मैं उठा, और उसको खड़ा किया मैने. मैने एक पैर उसका बेड पर रखा, और अपने लंड से उसकी छूट पर रब करते हुए उसको किस करे जेया रहा था. फिर धीरे-धीरे मैने डालना स्टार्ट किया.

नाज़ धीरे-धीरे आवाज़ करते हुए मुझ यहा वाहा किस करने लगी. फिर मैने उसको बेड की साइड में सुलाया, और उसके पैर अपने शोल्डर पर रख दिए.

नाज़: प्लीज़ धीरे-धीरे करना. मैं काई महीनो से नही चूड़ी हू, इसलिए छूट टाइट है. आंड तुम्हारा काफ़ी बड़ा है, इसलिए एक-दूं से नही ले पौँगी.

मे: हा मेरी जान, आराम से ही करूँगा.

और अपना लंड उसकी छूट पर रब करते हुए आयेज का टोपा डाला. फिर निकाला, फिर डाला, फिर निकाला.

नाज़: प्लीज़ ऐसा मत करो. डालो ना यार, अब नही रहा जेया रहा. तुम्हारे लंड का टेस्ट हमने और हमारी छूट ने ले लिया है. तो अब हुमको तड़पाव मत और डाल दो.

मैं हेस्ट हुए बोला: जान तेरी जैसी सेक्सी लड़की को तडपा-तडपा कर ही छोड़ने का मज़ा आता है. दूसरी बार खुद आओगी छुड़वाने.

और ऐसे बोलते हुए मैने धीरे-धीरे अपना लंड डालना स्टार्ट किया. नाज़ धीरे-धीरे आवाज़ करना स्टार्ट हुई. मैं धीरे-धीरे उसके पैर पकड़ कर अपनी स्पीड बढ़ानी स्टार्ट करते हुए एक-दूं से छोड़ने लगा.

नाज़: आहह धीरे-धीरे करो आह. काफ़ी मज़ा आ रहा है जान. और छोड़ो, और छोड़ो, मुझे अपनी रांड़ बना लो बस.

ये सुन कर मुझे और मज़ा आया. मैने उसके पैर नीचे किए, और उसको गर्दन से पकड़ और लंबे-लंबे शॉट मारने लगा. पूरा बेड हिल रहा था, और नाज़ की हालत खराब हो रही थी. मैं तोड़ा रुका, और हेस्ट हुए उसको किस की और बोला-

मे: देखना है इस लंड का दूं, या हो गया?

नाज़: अया, तुम सच में सकचे मर्द हो जान. तुमने एक ही झटके में हमारी छूट को पूरा खोल दिया. ऐसी चुदाई हमने कभी सोची नही थी. आ अल्लाह, बहुत दर्द हो रहा है, और मज़ा भी आ रहा है.

मे: तो वापस से चालू करू मैं?

नाज़ बिना कुछ बोले अपना मूह नीचे करते हुए हा बोली, और मैं उसको उसी पोज़िशन में फास्ट-फास्ट छोड़ने लगा. करीब 10 मिनिट के बाद मैने उसको घोड़ी बनाया और अपना लंड डाल कर उसको छोड़ने लगा. उसके बाल पकड़ कर जैसे कोई रंडी होती है, वैसे छोड़ने लगा. 15 मिनिट तक उसको घोड़ी बना कर छोड़ रहा था, और पुर रूम में हमारी चुदाई की आवाज़े आ रही थी. इसी बीच मैने नाज़ की गांद को मार-मार कर पूरा लाल कर दिया था.

नाज़: तुमने . ली हुई है क्या. इतना फास्ट-फास्ट कब से चोद रहे हो? . माल निकल ही नही रहा (मैं . भूल गया नाज़ का 2 बार पानी निकल गया था).

मे: जान मुझे उसकी ज़रूरत नही . है.

और मैने उसको किस करते हुए अपनी गोद में उठाया. फिर मैं नाज़ को . का . . हुए छोड़ने लगा. ऐसे ही खड़े-खड़े . हुए मुझे 5 मिनिट हो गये थे, और मेरा निकालने वाला था. तो मैने उसको बेड पर लिटाया, और उसके उपर आ कर छोड़ने लगा स्पीड से.

फिर मैने नाज़ से बोला: मेरा होने वाला है.

नाज़: आअहह, और ज़ोर से छोड़ो. आ मज़ा आ रहा है. बस ऐसे ही छोड़ते ..

और उसने मुझे पकड़ लिया था. करीब 45-50 मिनिट हो गये थे, और अब मेरा होने वाला था. मैने नाज़ को नीचे बिताया, और उसके मूह में अपना लंड दिया और चुस्वा रहा था. उसको नही . था मेरा होने वाला था, और मैने सारा माल उसके मूह में निकाल दिया.

नाज़ पूरा पी गयी, और फिर मेरा लंड चाट कर पूरा सॉफ किया. मैं सीधा बिस्तेर पर लेट गया. नाज़ अपना मूह सॉफ करके सीधा मेरे उपर आ गयी, और किस करते हुए बोली-

नाज़: यार पहली बार किसी ने मेरा पानी निकाला, और इतना गंदा छोड़ा होगा.

फिर वो अपनी छूट को देखते हुए बोली: ये देखो कैसी रेड हो रही है.

और वो साइड में लेट गयी, और मैं उसको देखते हुए यहा वाहा की बातें करने लगा. फिर मेरा लंड वापस खड़ा हो गया.

नाज़: अर्रे ये वापस इतना जल्दी जाग भी गया?

मे: इतनी सेक्सी रंडी पास में हो तो क्यूँ नही होगा. आज तो ना ही ये सोएगा ना तुमको सोने देगा.

और ऐसा बोल कर मैं उसके उपर आ गया.

सो दोस्तों कैसी लगी अब तक की कहानी? ये पूरी रियल स्टोरी है. जो हुआ वही मैने बताया है. कोई मॅन से नही बना कर बोला.

नेक्स्ट पार्ट में बतौँगा कैसे मैने उसकी गांद मारी खुले आसमान के नीचे. जब पूरी दुनिया सो रही थी, मैं उसको छोड़ रहा था.
[email protected]

यह कहानी भी पड़े  नोकर के बड़े लंड से खुश मेरी बीवी


error: Content is protected !!