मुस्लिम माँ की थ्रीसम सेक्स कहानी

मेरा नाम असलम है, मेरी उम्र 18 साल है। मेरी एक बहन है जिसका नाम शेनाज़ है, मगर हम लोग उसे शन्नो कहकर बुलाते हैं। उसकी उम्र 23 साल है। उसकी शादी हो चुकी है और वो एक बच्चे की माँ है। शन्नो बहुत ही सेक्सी है, उसकी चूची और गांड बहुत बड़ी है, एकदम बाहर की तरफ निकली हुई ! जब वो चलती है तो उसके कूल्हे ऊपर नीचे हिलते रहते हैं। जो भी उसे एक बार देख ले, उसका लौड़ा खड़ा हो जाये। मेरे अब्बू और बाजी के मियाँ दोनों सऊदी अरब में रहते हैं। घर में मेरी अम्मी, बाजी और मैं हम तीनों ही रहते हैं।

एक दिन अम्मी नानी के घर चली गई और मैं स्कूल चला गया। लेकिन स्कूल से मैं जल्दी घर आ गया। बाजी घर में अकेली थी। जब मैं घर पहुँचा तो बाहर एक कार खड़ी थी। यह तो राहुल अंकल की कार थी। राहुल अंकल मेरे अब्बू के दोस्त थे उनकी उम्र 50 साल के आसपास थी लेकिन देखने में 40 के लगते थे। लम्बे, चौड़े और मजबूत बदन के थे। दरवाज़ा अंदर से बंद था। मैं पीछे के दरवाज़े से अंदर गया तो देखा कि बाजी का कमरा बंद था। मैंने जल्दी से चाबी वाले छेद से अंदर देखा तो दंग रह गया। अंदर राहुल अंकल और राज अंकल बाजी को पकड़े हुए थे। बाजी एक झीनी सी नाइटी पहने हुए थी जिसमें से उसकी ब्रा और पैंटी दिखाई दे रही थी। राज अंकल बाजी को चूम रहे थे और राहुल अंकल बाज़ी की गांड सहला रहे थे। बाज़ी भी मज़े ले रही थी।

तभी राज ने कहा- यार राहुल, लौंडिया तो ज़बरदस्त है ! पेलने में बड़ा मज़ा आएगा !

यह कहानी भी पड़े  जालिम लंड पापा का

क्यूँ नहीं यार ! बड़ी मुश्किल से मानी है ! बहुत दिनों से सोच रहा था इसकी गांड मारने की ! आज इसकी ऐसी गांड मारूँगा कि याद रखेगी कि कोई लौड़ा मिला था। जब जब मैं इसके घर आता तो अपनी गांड ऐसे मटका कर चलती कि मेरा लौड़ा खड़ा हो जाता और मेरा मन करता कि यहीं पटक कर इसकी गांड में अपना लौड़ा पेल दूँ।

मुझे बहुत गुस्सा आ रहा था और मज़ा भी ! मैं भी देखना चाहता था कि बाजी की कैसी पिलाई होती है। तभी राज अंकल ने बाजी की नाइटी उतार दी अब बाजी सिर्फ ब्रा और पैंटी में थी। राज ने झट से ब्रा भी उतार फेंकी, बाजी की चूची पकड़ ली और जोर जोर से दबाने लगा।

हाय हाय ! क्या मस्त बड़ी बड़ी चूचियाँ थी ! पूरी रस से भरी हुई लगती थी !

राज ने एक चूची को मुँह में भर लिया और दूसरी को जोर जोर से दबाने लगा।

बाजी सिसकारी भरने लगी- ऊओह्ह्ह्ह आऽऽऽह आऽऽऽईऽऽय !!!

बाज़ी ने राज का सर अपनी चूचियों के बीच में दबाया और बोली- साले ! और तेज़ी से दबा ! पी मेरा दूध ! साले बहुत दिनों के बाद आज किसी ने मेरी चूची को दबाया है ! मेरी चूची में बहुत दूध भरा हुआ है ! जल्दी जल्दी से चूस मेरी चूची को !

घबरा मत ! आज तेरी चूची का सारा रस निचोड़ कर पी जायेंगे !

उसके बाद राज अंकल बाजी की चूची को जोर जोर से पीने लगे। बाजी की इतनी बड़ी चूची थी कि राज अंकल के मुँह में नहीं आ रही थी, फिर भी राज अंकल बाजी की चूची को पी रहे थे। राज अंकल के मुँह में दूध भरा हुआ था क्योंकि बाजी की चूची भी दूध से भरी हुई थी।

यह कहानी भी पड़े  दोनों साली की सील तोड़ी एक ही रात में

राज अंकल ने कहा- बड़ा मीठा दूध है तेरा !

उधर राहुल अंकल बाजी की गांड को सहला रहे थे। तभी राहुल अंकल ने बाजी की पैंटी उतार दी।

वाह ! क्या मस्त चूत और गांड थी ! एक भी बाल नहीं था। चूत और गांड दोनों एकदम चिकनी थी !

मेरा तो लौड़ा खड़ा हो गया था।

तभी राहुल अंकल ने कहा- क्या मस्त चूत और गांड है तेरी ! एकदम चिकनी ! एक भी बाल नही है ! पेलने में बड़ा मज़ा आएगा !

राहुल अंकल ने बाजी की गांड को फैला कर अंदर देखा तो बोले- एकदम कसी गांड है ! राम कसम, आज तो इस लौंडिया की गांड फाड़ने में बड़ा मज़ा आएगा !

राहुल अंकल ने बाजी की गांड पर तीन चार चपत लगाई। वाह क्या मस्त गांड है ! बहुत दिनों के बाद पर्दा करने वाली लड़की की गांड मारूँगा !

मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था। मैं देखना चाहता था कि राहुल अंकल बाजी की गांड कैसे मारते हैं। मैंने अपनी पैंट उतार दी और अपने लण्ड को आगे पीछे करने लगा। मेरा लण्ड चार इन्च लम्बा और दो इंच मोटा था। उधर राज अंकल बाजी की बड़ी बड़ी चूचियों को जोर जोर से मसल रहे थे और बाजी जोर जोर से सिसक रही थी- ऊह्ह्ह,आह्ह्ह्ह,ओऊ बहुत मज़ा आ रहा है ! और जोर जोर से मसल के पूरा दूध पी जा !

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!