मम्मी की सहेली मुस्कान आंटी की चूत थूक लगा कर चोदा

Hindi Sex Kahaniya दोस्तों मैं दीवान राज कई सालों से इंडियन सेक्स कहानी पढ़ रहा हूँ। मेरे एक दोस्त ने मुझे इसके बारे में बताया था। तबसे हर रात मैं इसे पढता हूँ और मजे लेता हूँ। आज मैं आपको अपनी कहानी सूना रहा है। आशा है आपको पसंद आएगी। लोग मुझे प्यार से दीवान कहकर बुलाते है।
मैं लखनऊ का रहने वाला हूँ। मेरी दादी की अनाचक बहुत तबियत खराब हो गयी थी इसलिए पापा और मम्मी को गाँव जाना पड़ा। मेरे दादा और दादी जी गाँव में ही रहते है। मेरे एक्साम चल रहे थे इसलिए मैं नही जा सका। यहाँ लखनऊ में मुझे टाइम टाइम पर खाना कौन देता इसलिए मेरी मम्मी के मुझे कुछ दिनों के लिए पड़ोस वाली मुस्कान आंटी के घर भेज दिया और पापा और मम्मी गाँव चली गए। दोस्तों मुस्कान आंटी बहुत ही हॉट माल थी। उनकी उम्र अभी 32 – 33 की होगी पर देखने में अभी 18 साल की लगती थी। वो अपने आप को हमेशा मेंटेन करके चलती है। अपने जिस्म, फीगर और खूबसूरती का बड़ा ख्याल रखती है। तला भुना खाना बिलकुल नही खाती थी और जादातर फल, सलाद और जूस ली लेती थी। मुस्कान आंटी को देखकर अच्छो अच्छो के लंड खड़े हो जाते थे। वो जब भी बजार जाती थी जींस और टॉप पहनकर जाती थी। उसके दूध 38″ के थे और फिगर 38 30 32 का था। दोस्तों बस ये समझ लीजिये की एक मोटा गद्दा थी आंटी। शादी और पार्टीज में आंटी स्लीव लेस और बैकलेस ब्लाउस पहनती थी। पीठ तो पूरी दिखती थी जो बहुत सुंदर और चिकनी रहती थी। हमारी गली के कितने लड़के मुस्कान आंटी को देखकर मुठ मार लेते थे। सब उसकी रसीली चूत पीना चाहते थे और लंड डालकर चोदना चाहते थे। मेरी कितने दिन से तमन्ना थी की आंटी की चूत बजा दूँ। मुस्कान आंटी के मम्मे बड़े बड़े, गोल गोल और बहुत रसीले थे। मेरा तो उसके मम्मे पीने का बहुत मन करता था। वो हमेशा सज धजकर रहती थी और ओठो पर गहरी लाल रंग की लिपस्टिक लगाती थी। पलकों के उपर और नीचे तरह तरह के काजल लगाती थी। दोस्तों इतना मेक अप तो कैटरिना भी नही करती होगी जितना मुस्कान आंटी करती थी। जब वो कुल्हे मटका मटकाकर चलती थी मन करता था की उनको कुतिया बनाकर उसकी गांड में लंड डाल दूँ और कसके आंटी की गांड चोद लूँ।

यह कहानी भी पड़े  निधि की चुदाई शादी के दिन

दोस्तों मेरे पापा मम्मी के जाने के बाद मैं मुस्काना आंटी के घर में रहने लगा था। मेरे पेपर अच्छे जा रहे थे। जो मैंने तैयार किया था आ रहा था। अचानक एक दिन पढ़ते समय मेरे सर में तेज दर्द हुआ। मैं सिर दर्द की गोली मांगी तो गलती से मुस्कान आंटी ने मुझे वायग्रा की गोली दे दी। मैं खा गया। पर आधे घंटे बाद मेरा लंड खड़ा हो गया और मुझे पसीना आ गया।
मुस्कान- क्या हुआ बेटा???
दीवान- पता नही आंटी मुझे पसीना आ रहा है. मेरा लंड भी खड़ा हो गया है और दर्द हो रहा है
मुस्कान आंटी दवा का रैपर देखती है
मुस्कान- अरे बेटा!! गलती है मैंने तुझे वायग्रा की गोली खिला दी. तेरे अंकल इसे खाकर ही मुझे रोज चोदते है और मजा देते है.

दीवान- पर आंटी अब मैं क्या करूं. ये गोली बहुत पावरफुल है. अब तो मुझे किसी की चूत चोदनी पड़ेगी तब मेरा लंड शांत होगा
मुस्कान- बेटा तुझे ये दिक्कत मेरी वजह से हुई है. चल तू मुझे चोदकर अपना लंड शांत कर ले
दीवान के परेशानी देखकर मुस्कान आंटी उससे चुदाने का फैसला कर लेती है। वो जल्दी जल्दी अपनी साड़ी, पेटीकोट ब्लाउस निकालती है। फिर ब्रा और पेंटी भी उतार देती है। मुस्कान पूरी तरह से दीवानके सामने नंगी हो जाती है।
दीवान- वाह क्या कटीला माल है यार। आज आंटी को चोदकर मुझे जन्नत के मिल जाएंगे। दीवान देखकर सोचता है।
मुस्कान- आओ बेटा चलो बेडरूम में चलते है। तुम मुझे कसके चोद लो जिससे तुम्हारे लंड को शान्ति मिल जाय।
दोनों बेडरूम में चले जाते है।
दीवान- “आंटी पर आपकी झांटे कितनी बड़ी बड़ी है। कितनी गंदी लग रही है जैसे किसी आदिवासी औरत की चूत हो। प्लीससस..आंटी अपनी झांटे बनाओ ना प्लीसससस.
दीवान जिद करता है। मुस्कान हंसने लग जाती है।
मुस्कान- दीवान बेटा मेरे पति राजेश को भी मेरी झांटे बिलकुल नही पसंद है। अच्छा तुम कहते हो तो बना लेती हूँ”
फिर वो अपने पति राजेश की शेविंग किट ले आई है और शेविंग मशीन से अपनी झाटों को छीलने लग जाती है। मुस्कान बिस्तर पर नंगी दोनों टांग खोलकर लेटी हुई है।
दीवान- वाह क्या कमसिन माल है आंटी। आज तो इनकी चूत मैं अंदर तक चोदूंगा
दीवान मन ही मन सोचता है। वो मुस्कान की रसीली चूत देखकर ललचा जाता है और अपने होठो पर जीभ लगाने लग जाता है। दीवानका लंड पूरी तरह से खड़ा हुआ है। मुस्कान अपनी झांट को क्लीन शेव कर देती है।
मुस्कान- आओ बेटा चोद लो आकर मुझे
दीवान- आंटी पहले शेविंग जेल और क्रीम अपनी चूत पर लगा लो।
मुस्कान लगा लेती है। अब उसकी चूत पूरी तरह से साफ़ और चिकनी है और चमक रही है।
दीवान- मुस्कान आंटी चूत पिलाओ ना प्लीसससस!!
वो जिद करता है ,,

यह कहानी भी पड़े  अपने माँ के लिए एक मोटा लंड ढूंढा

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!