मॉडेल को बालकोनी में लाके किया मज़ा

मैं कुछ दीनो के लिए एक-दूसरे शहर में रह रहा था. मैने ऑनलाइन एक रूम बुक करवाया था, और वाहा जाके मैने चेक-इन किया. वो रूम काफ़ी अछा बना हुआ था.

रूम में से मैं बहुत सारे फ्लॅट्स की बाल्कनीज़ देख सकता था. कुछ बाल्कनीज़ मेरे फ्लॅट के उपर थी, और कुछ नीचे थी. एक शाम मैने बाल्कनी में बैठ कर कॉफी का मज़ा लेने का प्लान बनाया. और तभी मेरी नीचे की एक बाल्कनी पर पड़ी.

वाहा एक कपल था, जो पॅशनेट्ली सेक्स कर रहा था. मैं खुद को उनको देखने से रोक नही पाया. जो आदमी था उसने लड़की को बाल्कनी की रेलिंग से लगाया हुआ था, और उसके टॉप को शोल्डर से नीचे करके उसको किस कर रहा था.

फिर उस लड़की ने अपना सिर पीछे की तरफ कर दिया, और अपनी आँखें बंद कर ली. वो आदमी उसकी गर्दन और गले को चूमने चाटने लग गया. तभी उस लड़की ने आँखें खोल ली, और उसकी नज़र मुझ पर पड़ी.

मैने कॉफी की चुस्की ली, ये दिखाने के लिए की मैं कॉफी पी रहा था. मुझे लगा था, की मुझे देखने के बाद वो अपने पार्ट्नर को अलर्ट करेगी. लेकिन उसने ऐसा कुछ नही किया, और बस मेरी आँखों में देखती रही.

फिर जब आदमी ने उसके गले को छाता, तो मेरी नज़र उसी पर टिक गयी. फिर उस लड़की ने भी आदमी को पॅशनेट किस किया, और अपना टॉप उतार दिया. वो आदमी तोड़ा कन्फ्यूज़्ड और सावधान सा लग रहा था. फिर उस लड़की ने अपनी ब्रा उतार दी, और उस आदमी के कान में कुछ कहा.

उस आदमी ने लड़की के बूब्स में अपना मूह डाल लिया, और लड़की ने मेरी तरफ देखते हुए किस का इशारा किया. वो जानती थी, की वो क्या कर रही थी. फिर उस आदमी ने लड़की को घुमा लिया, और उसकी पनटी उतार दी. वो लड़की को प्यार करने में इतना मस्त था, की उसने मुझे देखा भी नही.

उसके बाद उसने लड़की के शोल्डर पर ज़ोरो से किस्सस किए. फिर उसने पीछे से लंड लड़की की छूट पर सेट किया, और उसको अंदर घुसा दिया. लड़की ने भी अपनी गांद को उसके लंड की तरफ मोड़ लिया, और उसके धक्को का मज़ा लेने लगी.

हर धक्के के साथ उसके बूब्स उछाल रहे थे, और गांद हिल रही थी. वो ज़ोर-ज़ोर से मोन करने लगी, और मेरी तरफ देखने लगी. उसने अपने हाथ बाल्कनी की रेलिंग पर रख लिए, और अपनी टाँगो को उस आदमी के लिए और खोल लिया. उस आदमी ने लड़की की कमर को पकड़ लिया, और ज़ोर-ज़ोर से उसकी छूट छोड़ने लगा.

उस लड़की ने आदमी कहा, की वो अपनी बॅक को रेलिंग के साथ लगा ले. और उस आदमी ने वैसे ही किया. फिर वो लड़की उसके सामने अपने घुटनो पर बैठ गयी. ये बड़ा ही तगड़ा सीन था. लड़की ने आदमी के लंड को चूसनक़ शुरू कर दिया, और आदमी अपनी आँखें बंद करके मोन करने लगा. वो पुर मज़े में था.

फिर उस आदमी ने अपने दोनो हाथो से लड़की के सिर को पकड़ लिया, और उसके मूह में ज़ोर के धक्के मारता हुआ उसको चोक करने लगा. ये सब करते हुए भी उसकी नज़र मेरी तरफ थी. उसके लंड चूसने की स्पीड तेज़ होती जेया रही थी.

फिर थोड़ी देर में उस आदमी ने अपना लंड लड़की के मूह से बाहर निकाल लिया, और अपना माल उसके सेक्सी बूब्स पर निकाल दिया. फिर वो खिलखिलाने लगी, और खड़े होके उसने आदमी को किस किया.

आदमी को किस करने के बाद वो पीठ टीका कर बैठ गयी, और उसने आदमी को कुछ कहा. वो आदमी तभी अंदर चला गया. फिर उस लड़की ने मेरी तरफ देखा, और बड़े हॉर्नी तरीके से अपने चेहरे पर लगा कम चाट लिया. फिर वो खिखलने लगी, और मेरा हाथ मेरे लंड पर चला गया. मैं उसको अपना लंड दिखाने लगा.

फिर वो घूम गयी, और उसने अपनी गांद पर ज़ोर का थप्पड़ मारा. वो फिरसे घूम गयी, और अपने दोनो हाथो से अपने निपल्स को मसालने लग गयी. फिर उसने अपने निपल्स पर कम लगाया, और उसको चूस लिया. उसके बाद वो अंदर चली गयी, और मेरी लाइफ से गायब हो गयी. ये जो भी हो रहा था, उसपे मुझे विश्वास नही हो रहा था.

मेरी इक्चा थी, की मैं उसको देखते हुए वही बाल्कनी में लंड हिला कर माल निकालु. उसने मुझे पूरी तरह रोमांचित कर दिया, लेकिन मुझे अपना माल नही निकालने दिया.

फिर मैं इश्स पर गया, और वाहा मैने बाल्कनी वाली सेक्स स्टोरीस सर्च की. लेकिन मुझे वाहा कुछ ख़ास नही मिला. फिर सर्च करते-करते मुझे कॅम गर्ल की स्टोरी मिली. जब मैने उसपे क्लिक किया, तो वो लिंक मुझे देल्ही सेक्स छत की वेबसाइट पर ले गया.

ये जो वेबसाइट है, यहा पर आपको ऐसी-ऐसी हॉट लड़किया मिलेंगी, जिनके बारे में आपने सोचा भी नही होगा. मैं तो वेबसाइट देखते ही उसका मुरीद हो गया. फिर मैने अपने डेबिट कार्ड से पेमेंट करके कुछ क्रेडिट्स खरीद लिए.

उसके बाद मैं अपने मतलब की लड़की को ढूँढने लग गया. फिर मुझे एक लड़की दिखी, जो मेरे टाइप की थी. उसका नाम अनुश्री था. मैने अनुश्री को मेसेज भेज दिया. मैं बाल्कनी में सेक्स सीन होता हुआ देखना चाहता था, और मैने ये मेसेज करके उसको बता दिया. उसने जल्दी ही रिप्लाइ कर दिया, और वो मेरी फॅंटेसी पूरी करने को रेडी भी हो गयी.

अनुश्री: मैने घर में हर जगह पर ये सब किया है. लेकिन बाल्कनी में करने का कभी सोचा नही. कितना मज़ा आएगा ये सब बाल्कनी में करने में. तो मैं ये करने के लिए रेडी हू.

फिर कुछ देर बार वो वीडियो कॉल पर मेरे सामने आई. उसने एक पर्पल सिल्क रोब पहना हुआ था. उसके नीचे उसने पिंक कलर की ब्रा और पनटी पहनी हुई थी. वो बहुत ही हॉट लग रही थी इस ड्रेस में.

उसके बिखरे हुए बाल उसके शोल्डर्स पर आए हुए थे, जो उसको और भी सेक्सी बना रहे थे. वो किसी केक की तरह लग रही थी. फिर उसने मेरी तरफ देखते हुए अपने लाल रस्स-भरे होंठो से एक स्माइल पास की. उसने अपने दोनो रस्स-भरे बूब्स को दबाया, और मोन करते हुए कॅम में देखने लगी.

अनुश्री: मैं इसके लिए काफ़ी एग्ज़ाइटेड हू.

मैं: मैं भी.

अनुश्री: क्यू ना तुम पुर नंगे हो जाओ, और रिलॅक्स करो. मैं आज तुम्हारा ख़याल रखूँगी.

फिर वो अपने लॅपटॉप को बाल्कनी के दरवाज़े पर ले गयी, और उसको सेट करके रख दिया. ताकि हम दोनो एक-दूसरे को देख सके. फिर उसने दरवाज़े को पूरा खोल दिया, और बाल्कनी में चढ़ गयी.

फिर उसने अपने सिर को पीछे किया, ताकि बाल्कनी की रोशनी उसकी सेक्सी बॉडी पर पद सके. उसका रोब उस रोशनी में झिलमिल चमक रहा था. और वो उसने बहुत खूबसूरत लग रही थी. फिर उसने कॅमरा में देखा, और अपनी पिंक ब्रा में से अपने बूब्स बाहर निकाल कर स्माइल देने लगी.

फिर उसने अपनी दो उंगलियो को अपने मूह में डाल कर चूसा, और फिर उसको निपल्स पर लगा कर घूमने लगी. साथ में वो मोन करने लगी.

अनुश्री: फक! इसमे तो अलग सा ही मज़ा है.

मैं: तुम्हारा निपल बहुत ही सेक्सी है.

अनुश्री: सच में? तो दूसरे पर भी नज़र डाल लो.

फिर उसने अपना दूसरा बूब भी ब्रा से बाहर निकाल लिया. उसने अपने बूब्स को दबाया, और खींचा, और ज़ोर से साँसे लेने लगी. फिर अनुश्री ने इधर-उधर देखा, और अपना रोब शोल्डर से हटते हुए खीखिलते हुए. उसके बूब चमकने लगे, और उसने आहें भरते हुए अपना रोब नीचे गिराया, और ब्रा स्ट्रॅप्स खोल दिए. फिर मैने उसको बोला-

मैं: अपनी ब्रा खोल दो, लेकिन रोब रहने दो.

औश्री(खिखलते हुए): यही तो मैं भी सोच रही थी, योउ नॉटी बॉय.

फिर उस सेक्सी मॉडेल ने वही किया जैसा मैने उसको बोला था. उसने अपने होंठ काट-ते हुए स्माइल की, और मेरे लिए अपने बूस से खेलने लग गयी. उसने अपने एक बूब को पकड़ा, और उसको चूसने लग गयी. मैं भी उसके ये करने पर अपने लंड को धीरे-धीरे हिलने लगा.

उसने अपने बूब को चूस्टे हुए मुझे इशारा कर दिया. फिर उसने रोब वैसे ही रहने दिया, और अपनी पनटी नीचे कर दी. उसकी पनटी इतनी नीचे थी, जिससे मुझे उसकी छूट का बालों वाला हिस्सा दिखने लग गया. इससे मैं गरम हो गया, और मैने लंड को ज़ोर से हिलना शुरू कर दिया.

अनुश्री: मुझे हमेशा से ऐसा ही कुछ रिस्की टाइप काम करना था.

मैं: अब तुम्हारे इस किकी दिमाग़ में क्या चल रहा है?

अनुश्री: काश तुम यहा होते मुझे खाने के लिए, हॅंडसम.

मैं: ओह फक!

अब मैं अपने लंड को और ज़ोर से हिलने लग गया, और वो अपने सेक्सी बदन के साथ खेलती रही. फिर उसने एक हाथ से अपनी पनटी उतार दी, और अपनी टाँगो को मेरे लिए खोल लिया. उसके बाद उसने अपने रोब को एक कंधे से हटा दिया, और उसका बूब बाहर चल रही हवा का मज़ा लेने लग गया.

फिर पहले उसने अपने बूब को दबाया. उसके बाद उसने मेरे लिए अपने एक हाथ से अपनी छूट के होंठो को खोला. मैं अब अपने आप को रोक नही पा रहा था. वो कॅमरा के आयेज हो गयी, और अपने बूब्स को ज़ोर-ज़ोर से मसालने लग गयी. फिर मेरे माल की पिचकारी निकल गयी.

अनुश्री: तुम्हारा माल निकालने में बहुत मज़ा आया. दोबारा आना यहा, और हम फिरसे मज़ा करेंगे.

मैने पूरी तरह से सॅटिस्फाइड होने कॉल कट कर दी. मैं दोबारा भी उस साइट पर मज़ा करने के लिए गया. सीस्क जैसा कुछ भी नही है. अब मैं यहा का रेग्युलर कस्टमर हू.

यह कहानी भी पड़े  Mera Kamuk Badan Aur Atript Yauvan- Part 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published.


error: Content is protected !!