मेरी गर्लफ्रेंड अदिति की चुदाई सेक्स कहानी

तो दोस्तो यॅ स्टोरी मेरी गर्लफ्रेंड अदिति की है जो की अब लुक्कणोव मे हॉस्टिल मे रहती है. उसका फिगर 34ब-32-34 है सेक्सी है एकद्ूम और खूबसूरत भी. ये कहानी रेड करने के बाद आपको मज़ा ही आ जाएगा और रियल स्टोरी है उसका एहसास भी हो जाएगा.

ज़्यादा समय ना बर्बाद करते हुए हम कहानी को शुरू करते है.

पर अब सभी लोग इस कहानी को पढ़ने के बाद कॉमेंट ज़रूर करे.

तो दोस्तो मई और अदिति 3 साल से रिलेशन्षिप मई थे. ह्मने आज तक सिर्फ़ कभी सेक्स नही किया था पर उप्र उप्र से ऑलमोस्ट ज़्ब हुआ था. एक दिन अदिति का कॉल आया-

अदिति: ही कहा हो?

मे: कही नही यार, जेया रहा हू हेरकट लेने.

अदिति: मई भी नॉर्मल हेरकट आंड वॅक्स के लिए जेया रही. तुम भी आ जाओ यूनिसेक्स सलून & स्पा है वो काफ़ी अछा है मई रेग्युलर जाती हू. और मेरे पास 50% डिसकाउंट कपल भी है तो हेर कलर भी तुम कारलो आज.

मे: ठीक है मई रास्ते से पिक करता हू ट्ंको.

फिर मैने उसको पिक किया और हम सलून पोहच् गये.

हम रिसेप्षन पर पोहचे वा बैठी लड़की ने अदिति को पहचान लिया और वेलकम किया. तो अदिति रिसेप्षन काउंटर पर गयी उसने सेरविसे कार्ड ओपन किया आंड मेरे किए हेर कट हेर कलर बोला. आंड अपने लिए फुल वॅक्स और हेड आंड बॅक (मसाज बोली).

तो रिसेप्षन ने मेरेको सामने वेल रूम मे बुकिंग करके जाने को कह दिया. और ज्ब मई जेया रहा था तो मेने सुना रिसेप्षन वाली लड़की न अदिति से कहा माँ आज स्टाफ कम है सो वॅक्स अगर आप माले स्टाफ से लेलो इफ़ उ डॉन’त हॅव प्राब्लम?

अदिति: बुत मेरे को बिकनी वॅक्स भी लेना है, सो कैसे?

रिसेप्षनिस्ट: कोई प्राब्लम नहिी माँ ह्मारा स्टाफ एकद्ूम अछा और प्रोफेशनल है.

अदिति: पर मई मेरे फ्रेंड के साथ आई हू आप साँझ सकते हो.

रिसेप्षनिस्ट: नो प्राब्लम माँ ह्मारे मसाज रूम मई आप वॅक्स आंड मसाज ले लो.

अदिति: ह्म ठीक है..

फिर अदिति जाने ल्गी और उसने मेरी साइड देख के इशारा किया एक अवर लगेगा आराम से हेर कट करना. मैने भी उसको देख के स्माइल दी.

तभी एक लड़का आया 30-35 साल का रिज़वान नाम का. उसने अदिति को बोला के माँ आप इस टरफ़ आइए और वो उसको दूसरी साइड एक रूम मई ले गया. और मुझ को सुनाई दे रहा था के उसने कहा आप कपड़े चेंज कार्लो, मई 5 मिनिट मई आया.

फिर रिज़वान उस रूम मई आया जहा मेरा हेरकट हो रहा था. उसको नहिी टा था अदिति मेरे साथ है. उसने एक आल्मिरा खोली उसमे से वॅक्स का समान आयिल निकाला और फिर जो मेरा हेर कट का रहा था उसका नाम आदिल था, उसके पास आके बोला-

भाई कॉंडम है?

आदिल: नहिी भाई क्यू?

रिज़वान: माल का मसाज और छूट की वॅक्स होगी, क्या पता लॉटरी लग जाए.

आदिल: सेयेल पागल है बाहर पता लग जाएगा.

रिज़वान: एकद्ूम अंदर वेल रूम मई है आ/सी ओं है, चिल्लेयगी भी तो भी आवाज़ नही अयगी.

आदिल: कॉंडम है नहिी मंगवा डुगा, पर सुन्न केक कटेगा तो बाटना पड़ेगा.

रिज़वान: पर तू मसाज किसकी करेगा?

आदिल: देखता हू शयद कोई मिले, तब ट्के तू ठोकना मत, और सुन्न एक काम कर मई 5 मिनिट मई उसको कोल्ड ड्रिंक भेजुगा एक डॉवा मिला के पीला डियो, फिर ठुके बिना रह नही पाएगी.

रिज़वान: ठीक है भाई पर ज्लडी कॉंडम भी भेज.

तभी आदिल ने कहा: मई तो उसकी छूट का भोसड़ा..

तभी आवाज़ आई अंदर से आई और ये सुनकर रिज़वान दौड़ कर अंदर गया. तब ही मेरेको धक धक होने लगी.

मैने आदिल को बोला भाई बॉडी मसाज का क्या रते है?

आदिल: सिर 1500 एक घंटा.

मैने उसको तुरंत 1500 दिए और कहा हेर कलर बाद मे करौगा, पीठ मई पाईं है मसगे चाहिए. वो बोला सिर अंदर चलिए फिर मई 10 मिनिट मई आता हू.

मई साँझ गया के वो क्या क्या लेने गया है खा गया है. तो मई तुरंत अंदर गया और बगल वेल रूम मई बेड पर बैठ गया झा. उस रूम की बाते सुनाई दे रही थी.

रिज़वान: माँ पार पर बिल्कुल हेर्स नहिी है अब आप सीधी हो जाए अगर तो अब मई आपकी छूट सॉफ कर दी.

अदिति: क्या?

रिज़वान: माँ मेरा मतलब है प्राइवेट पार्ट के हेर्स.

अदिति सीधी लेट गयी उसने उप्र ब्रा नीचे नेट पनटी पह्न रखी थी.

रिज़वान: माँ पनटी उतरनी पड़ेगी.

अदिति: रूको मई करती हू.. और अदिति ने घुटनो तक नीचे कर दी.

रिज़वान: माँ पूरे लेग्स नही खुल रे, इन्नर तिघत पे भी हेर्स होगे.. और इतना बोल के उसने पूरी पनटी हटा दी.

फिर अपनी शर्ट भी उतार दी, अब वो उप्र से फुल न्यूड था नीचे लोवर मे था. और वो अदिति की छूट पर हाथ फेरने लगा और फिर उसने उसपर एक क्रीम लगाई और फिर छूट और बगल मे थाइ पर माला,

अदिति सिसकिया लेने लगिइइ ह्म्‍म्म्मम उफफफफफ्फ़… और पेर सकोडने लगी.

रिज़वान: माँ पेर सीधे रखे.. इतना बोल के वो छूट पे और हाथ फेरने लगा.

तभी उनका गाते नॉक हुआ जिससे अदिति शॉक हो गयी.

रिज़वान: कौन?

आदिल: माँ के लिए कॉंप्लिमेंटरी जूस.

रिज़वान: ओक कमिंग.

तभी रिज़वान गाते पे आया कॉंडम लिया और जूस लिया फिर आदिल को खा मे ब्ठौगा तब आ जाना.

आदिल: डॉन’त वरी ब्ग्ल मे ही हू.. ये बॉलर रिज़वान न गाते बंद कर दिया.

रिज़वान: माँ ये जूस लेलिजिए आपको पसीना भत हो गया है.

अदिति: थॅंकआइयू.

बोल कर लगभग 80% ग्लास का जूस पिई गयी और बाकी बचा ग्लास रखने ल्गी रिज़वान की ट्रे मई. तभी ग्लास रिज़वान न जान के अपने पंत पे गिरवा दिया.

अदिति: श ई आम सू सॉरी..

रिज़वान: नो प्राब्लम माँ मई 2 मिनिट मे चेंज करके आया, आप लेट जाए, बे कंफर्टबल.

उधर आदिल मेरे रूम मे मेरे पीठ की मालिश हल्के कर हा था मेरी त्रह उसके कान भी इसी रूम मई ल्गे हुए थे.

रिज़वान फिर चेंज कर के आ गया, उसने स्र्फ नीचे टवल ओधी हुई थी बस और एक कॉंडम का पॅकेट लिया हाथ मे जो उसने साइड मे रख दिया.

अदिति: सॉरी वो ग़लती से हो गया.

रिज़वान: नो प्राब्लम माँ और इतना बोलकर वो क्रीम लगाने ल्गा.

अब जूस का असर हो रा था. फिर उसने ढेरे ढेरे वॅक्स किया और छूट एकद्ूम सॉफ कर दी. पर अदिति सही से होश मे नही बल्कि मदहोश थी. और बार बार पेर सिकोड लेती थी.

रिज़वान: माँ आप एसए करोगे तो कैसे सही से होगा. आप एक काम करो, मई उपर बेड पे आता हू आप मेरे कमर का सहारे पेर रख दो.

और वो उपर आ गया और उसने अदिति को खिछा और पेर अपनी कमर मे फसा लिए.

आयेज की कहानी अगले पार्ट मे.

यह कहानी भी पड़े  बेबस नागपुर की लेडी को नयी ज़िंदगी दी

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published.


error: Content is protected !!