मामी को चुदाई करने पे मजबूर कर दिया

मेरा नाम मुकुल शर्मा है, कॉलेज के फाइनल एअर मई हूँ. मई फिज़िकल फिट हूँ, मैं जिस कॉलेज मेी जाता हू वाहा से मेरा मामा मामी का घर पास है, इसलिए मैं उनके साथ ही रहता हू.

मेरे मामा (रंजीत) का एलेक्ट्रॉनिक्स का बिज़्नेस है. मामी (कमला) एकदम सेक्सी पातोला, जबसे मुझे छूट का पता चला है की क्या बाला है तबसे मामी की छूट का ही दीवाना हू. और अब तक ना जाने कितने बार उनके नाम से हिला चुका हू.

एक दिन-

जैसे ही कॉलेज की छुट्टी हुई, मामा का फोन आया-

मैं :- हन मामा, बोलिए?

मामा :- बेटा तू कहा है अभी?

मैं :- अभी जस्ट कॉलेज से निकला हू.

मामा :- एक काम कर जल्दी से दुकान पे आजा.

मैं :- कुछ अर्जेंट है मामा?

मामा :- हन बेटा.

मैं :- ठीक है 15 मिंट मे पौचता हूँ.

(दुकान मे पौचने पेर)

मैं :- बोलिए मामा क्या अर्जेंट है??

मामा मुझे साइड मे ले गये और बोले-

मामा :- ये चाभी ले और गोडोवन् के लोककर मेी 5 लाख होंगे उसे ले जाके घर पेर रख दे.

मैं :- इतने रूपीए?

मामा :- क्लाइंट्स के है, और हन 2 दिन के लिए बाहर जेया रहा हू, मामी का ध्यान रखना.

मैं :- ओक मामा.

फिर जैसा मामा ने कहा गोडोवन् से 5 लाख लेके घर चला गया. जैसे ही घर पौच्ा, मामी ने लाल कलर ही स्कर्ट और शर्ट पहना था. जिससे उनकी पनटी की लकीर सॉफ सॉफ दिख रही थी. और बूब्स भी काफ़ी बड़े बड़े दिख रहे थे. जिसे देख कर लंड खड़ा हो गया. और मेरा सबर का बाँध भी टूथ गया.

मैने डोर लगाया और सीधा मामी की तरफ बढ़ने लगा.

मुझे देख मामी बोली :- तू आ गया, बैठ.

मैने सीडा मामी के बूब्स दोनो हाथो से पकड़ लिया. और अपनी कीच कर मामी के होंटो को चूमने लगा. जब मामी को समझ आया की क्या हुआ, मामी ने झटके से मुझे धक्का दिया. और मुझे मारने के लिए एक थप्पड़ उठा लिया.

मेरे दिमाग़ मे भी पता न्ही चला. उनका हाथ देखते ही मुझ से जल्दी मे निकल पड़ा-

मैं :- मामी अगर तुम मुझे छोड़ने डोगी तो मैं तुम्हे 1.5 लाख रूपीए दूँगा.

ये सुन कर मामी का हाथ हवा मेी ही रुक गया.

मामी :- क्या बोला तू, तू मुझे छोड़ने के पैसे देगा?

मैं :- पैसे नही रूपीए, वो भी पूरे 1.5 लाख.

मामी :- सेयेल कुत्ते मुझे क्या रंडी समझा है तूने??!

मैं :- तो क्या फ्री मैं छोड़ने डोगी?!

मामी :- तू चूतिया है क्या?

मैं :- 2.5 लाख मे छोड़ने डोगी?

ये सुन कर मामी के कान खड़े हो गये.

मामी :- तेरे पास इतने रूपीए आए कहा से?

मैं :- उसकी टेन्षन आप क्यू ले रहे हो, आप 2.5 लाख मे डोगी ये बताओ?

मामी :- सेयेल मामी से चुदाई करने का सौदा करता है 2.5 लाख मेी, शरम न्ही आती तुझे?

मैं :- 5 लाख मेी?

5 लाख सुन कर मामी सोच मेी पद गयी.

मैं :- 5 लाख बस आपकी छूट के, इतना तो किसी रंडी को भी न्ही मिलता, और वैसे भी इतने रूपीए मेी पता न्ही कितनी रंडी छोड़ अओ.

मामी बहुत देर सोचने के बाद-

मामी :- तेरे मामा को पता चला तो?
मैं :- 2 दिन के लिए बाहर गये है.

मामी :- ठीक है छोड़ ले लेकिन पहले रूपीए दिखा.

मैने बाग का चैन खोला और 5 लाख दिखा दिया. फिर मामी के पास जाके उनके लीप पे किस करने लगा और इस बार तो वो भी साथ देने लगी. उनको गोध मेी उठा के बेडरूम मेी ले गया और बाग को साइड मेी रख के मामी की स्कर्ट उठा के रेड कलर की पनटी उतार के शुंगने लगा.

साथ ही मामी मेरी पंत की ज़िप खोल के लंड चूसने लगी. मैं उनकी पनटी शुंगते शुंगते मदहोश हो गया.

मामी :- तेरा लंड कितना बड़ा और लंबा है मुकुल! मेरी तो गांद फाड़ देगा तेरा लंड!

मैं :- तो ले ना जल्दी इसे फिर अपनी गांद मेी.

मामी :- नही मुकुल, सही मेी तेरा लंड गांद फाड़ देगा मेरी, छूट मार ले बेशक.

मैं :- ओह रंडी मामी, 5 लाख दे रहा हू, कुछ तो फड़ुँगा ही 2 दिन मेी.

ये कह कर मामी को खड़ा किया और उनके शर्ट के बटन खोलने लगा. और लास्ट बटन खोलने के बाद वाइट कलर की ब्रा मे बड़े बड़े बूब्स छुपे हुए थे.

3-4 सेकेंड मे ब्रा को फाड़ कर फेक दिया और मोटे मोटे बूब्स को आज़ाद कर दिया. उसके बाद उनको लेता कर बालो से भारी छूट को फेला कर उसपे थूक लगा के उंगली करने लगा. 5 मिंट मे छूट पूरी गीली हो गयी और अब मामी भी लंड लेने को बेचन हो गयी.

मामी :- मुकुल बेटा इतना क्यू तडपा रहा है, डाल दे ना लंड मेरी छूट मे.

ये सुन कर मैने लंड छूट पे लगा के झटके मारने चालू कर दिया. और देखते देखते मामी मदहोश हो गयी और पागलो की तरह लंड की दीवानी हो गयी.

मामी :- क्या मस्त लंड ह तेरा मुकुल, मोटे लंड से मेरी छूट और खुल गयी. अहााहह आआहहााहह अहहााआआ आआहहहहहाआआआअ अहहहहहहहहााआहह…

उनकी आवाज़े सुन कर छूट से लंड निकल कर मामी को कुटिया बना के पीछे से गांद मे 4-5 छानते मारे. उसके बाद लंड डालते ही मामी ज़ोर सी छीलाने लगी-

मामी :- निकल लोड गांद से लंड दर्द हो रहा है आआआआहहााअ..!!!

फिर क्या इसी बात पेर लगातार 9-10 झटके मार दिए और उसके बाद मामी शांत हो गयी और चुदाई के मज़े लेने लगी. गांद मारने के बाद लंड को मूह मे डाल दिया और मूह की चुदाई करने लगा. फिर उनके दोनो बूब्स के बीच मे रख कर और साथ साथ मेी गली गलोच भी करने लगा.

मामी :- मुकुल तू इतनी गंदी गलिया भी देता है..?

मैं :- साली जब तेरी गांद मार सकता हू तो गली देने मेी क्या है!

फिर मामी को गोद मे उठा कर दोबारा उसकी छूट मे लंड डाल कर चुदाई करने लगा. 35 मिंट तक धक्का देने के बाद सरर से सारा माल मामी के अंदर ही झार गया. मामी ये देख कर खड़ी हुई और एक लफा कीच के मारा-

मामी :- मदारचोड़, छूट मेी झाड़ने को किसने बोला था!

मैं :- तो क्या हुआ 5 लाख दिए है!

मामी :- 5 लाख को डाल अपनी गांद मेी! सेयेल मदारचोड़!!

मैं :- मामी आप गली क्यू दे रही हो, झाड़ा ही तो बस..

मामी :- बेटीचोड़ अगर प्रेग्नेंट हो गयी ना तो तेरी खेर नही!

ये सुन कर मामी का मूह पकड़ कर लंड पे ले गया और मामी भी लंड मूह मेी लेके चूसने लगी. थोड़ी देर बाद हम बेड पेर 69 की पोज़िशन मे गये. मई मामी की छूट चाटने लगा और मामी मेरा लंड चूसने लगी.

काफ़ी देर बाद मामी और मैं उठा और नहाने चले गये. वाहा पेर भी मई और मामी किस करते हुए नहाने लगे. फिर हुँने खाना खाया और फिर रात पेर पॉर्न वीडियो चला के उनकी तरह मामी की चुदाई करी.

अगली सुबा जब मैं नहा के आया तो देखा मामी किचन मेी झुक के कुछ निकाल रही थी. मैं पीछे से गया और उनकी स्कर्ट उठा कर छूट मे लंड गुस्सा दिया और वही झुक चुदाई करने लगा.

मामी :- रात भर चुदाई से मॅन नही भरा तेरा?

मैं :- बहुत डिंनो बाद ऐसा मोका मिला है, हाथ से कैसे जाने डू, वैसे आज पनटी क्यू न्ही डाली?

मामी :- सेयेल रात भर से तू मेरी आधी से ज़्यादा ब्रा पनटी फाड़ चुका है, तो कहा से पहनु, बता!?

फिर मामी को खड़ा किया और उसकी कमीज़ उतार के ब्लू कलर की ब्रा को भी फाड़ दिया.

मामी :- कुत्ते इसे भी फाड़ दिया!?

थोड़ी देर लीप किस किया और फिर चुदाई चालू की. पूरे 2 रात 2 दिन मामी की छूट और गांद मार मार के सूझा दी और उनकी चाल बिगाड़ दी.

(2 दिन बाद सुबा सुबा)

लंड-लाइन फोन बजने लगा. मामी मेरे बगल से नंगी उठ कर फोन उठाने लगी. मैं भी उनके पीछे गया और जैसे ही मामी फोन उठाने के लिए तोढ़ा झुकी, मैने लंड उनकी गांद मेी गुस्सेद दिया.

मामी फोन पे हंत रख कर-

मामी :- सुबा सुबा तो शांत हो जेया.

मैं :- अपना काम कर और मुझे अपना काम करने दे.

मामी :- मार ले, मौका है.

उसके बाद मामी ने फोन से हाथ हटा लिया.

मामी :- हेलो, कों?

मामा :- मैं बोला रहा हू कमला, रंजीत.

मामी :- हन बोलिए?

रंजीत :- आज नही आ पौँगा, कल अवँगा. और मुकुल को 5 लाख रुपए दिए है वो लोककर मेी रख देना, किसी क्लाइंट्स के है वो.

ये सुन कर मामी के नीचे से ज़मीन किशस्क गयी. और मैं पीछे से उनकी गांद मारे जेया रहा था. उनको समझ ही न्ही आ रहा की क्या हुआ.

तभी अचानक मुझसे अलग हुई और मेरे पेट पे एक जोरदार लात मारी.

मामी :- साले हरमज़ाड़े! चूतिया बनता है!!

ये सुन कर मुझे सब समझ आ गया की अब मेरी लगने वाली है. उस दिन मामी ने मुझे बहुत मारा.

रात मेी खाना खिला के मेरे कमरे मेी आके मेरे लंड पे आके बैठ गयी. अगले दिन मामा के आने तक मामी की चुदाई की.

यह कहानी भी पड़े  चुदाई के दिन चुदाई की रातें

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published.


error: Content is protected !!