मैं और मिस्टर पटेल

हाय फ्रेंड्स, आई एम दिशा अगेन ग्लॅड टू सी अलॉट ऑफ मेल्स फॉर दोज़ हू डोंट नो मी कॅन रीड माय फर्स्ट स्टोरी “कॉलेज प्रोफेसर से चुदि” पूरे 9 मंथ मेरा और मिस्टर रेम्मलेर का रीलेशन रहा और थोड़ी देर बाद मुझे पता चल गया की मिस्टर रेम्मलेर की पॉवेर नॅचुरल नही थी, वो हमेशा मेडिसिन लेके ही मेरे से सेक्स करते थे तभी वो इस उमर मे रोज़ 2 या 3 बार सेक्स कर जाते पर मुझे क्या था मैं पास भी हो गयी और 8 मंथ तक ऐश भी पूरी की, लेकिन अब मुझे लॅंड की और ऐश की हॅबिट पड़ चुकी थी इसीलिए लाइफ मे फिर से प्राब्लम आ रही थी और वैसा एक्सटेंड करवाने के लिए अब मुझे काम की भी ज़रूरत थी और लाइफ चलाने के लिए पैसो की सो अब पोस्ट ग्रॅजुयेशन कंप्लीट हो चुकी थी, कुछ अमझ नही आ रहा था तो फिर एक फ्रेंड की हेल्प से मुझे एक जॉब मिली वो एक प्राइवेट इन्षुरेन्स कंपनी है जिसके हेड एक इंडियन थे उनका नाम राजेश पटेल था वो कोई 50 साल के करीब के थे, वो पिछले 40 साल से यूके मे थे इसीलिए खुद को ब्रिटिश ही मानते थे.

पर बिहेवियर के बहुत ही आछे और हेल्पफुल और सबसे बड़ी बात रिच तो मैं बस ऐसा ही कुछ ढूंड रही थी पर प्राब्लम ये थी की ही ईज़ मॅरीड, तो अब मैं भी इंडियन थी तो थोड़ा उनसे जल्दी घुल मिल गयी और उनकी वाइफ से भी उनका नाम अनुपमा पटेल और सब उन्हे अनु ही कहते थे क्यूकी अब मेरे पास काम था पर घर नही था और रूम शेरिंग मे काफ़ी प्रोब्लेम आ रही थी, तो तभी मिसेस पटेल से बात हुई तो वो बोली की हमारे घर के आउटसाइड मे एक रूम अपार्टमेंट है इफ़ आई वॉंट आई कॅन शिफ्ट देर और रेंट भी कुछ ज़्यादा नही बताया तो मैने झट से हान कर दी और मैं भी तो इसी वेट मे थी की किसी तरह से मिस्टर पटेल के करीब आ जाउ, तो फिर हम साथ मे काम पर जाते और वापिस भी और मिसेस पटेल भी बहुत खुश थी और सम टाइम हम डिन्नर भी साथ मे करते और मैं हॉलिडे पर मिसेस पटेल की हेल्प करवा दिया करती थी और कई बार मिसेस पटेल अपने रिलेटिव्स के घर जाती तो मैं मिस्टर पटेल को खाना बना देती.

तो ईयर 2012 डिसेंबर मे मिसेस अनु के पापा की डेत हो गयी गुजरात मे तो उन्हे एमर्जेन्सी जाना पड़ा कुछ 3 से 4 वीक्स के लिए, तो अब मिसेस पटेल मुझे उनके हज़्बेंड की केर के लिए बोल गयी और बस मुझे अब चान्स मिल गया जिसकी मैं तलाश मे थी और उस साल डिसेंबर और जॅन मे बहुत स्नो फॉल हुई और ठंड भी बहुत ज़्यादा हो गयी और मिसेस अनु चली गयी, तो मैने प्लॅन बनाया की कैसे मिस्टर पटेल को फसाया जाए और नेक्स्ट डे मॉर्निंग मैने सेक्सी ड्रेस पहनी और एक लोंग कोट डाला और गुड मॉर्निंग मिस्टर पटेल हम उनकी कार मे बैठ गये और मैने जान बुझ कर अपना कोट उतार दिया और टाँगो से थोड़ी ड्रेस उपर कर ली, अब मिस्टर पटेल की आँख मेरी जाँघो पर ही थी और उनसे रहा नही गया बोले “दिशा लुकिंग ब्यूटिफुल” मैं “सिर्फ़ ब्यूटिफुल सर” मिस्टर पटेल “नाइस टू” वो काफ़ी शाइ थे तो मैं समझ गयी की स्टार्ट मुझे ही करना पड़ेगा और शाम को घर आने के बाद मैं अपने अपार्टमेंट मे गयी एक सेक्सी नाइटी डाली और मिस्टर पटेल के घर आ गयी और उनके लिए कुकिंग करने लगी.

यह कहानी भी पड़े  साक्षी रंडी और उसकी मा

और मैं जानबूझ कर अपनी नाइटी का एक बटन खोल दिया जिससे उन्हे मेरे बिग बूब्स आछे से दिख सके और आई एम सक्सेस्फुल उनकी आँख मेरे बूब्स पर टिक गयी तो मैं भी थोड़ा सिड्यूस करने लगी, ठंड काफ़ी थी उन्होने मेरे से पूछा “दिशा वुड यू लाइक टू ड्रिंक सम्तिंग” आई रिप्लाइ “या मे आई हॅव ए ग्लास ऑफ रेड वाइन” मिस्टर पटेल “ओह शुवर इट्स डॅम कोल्ड ईवन आई एम इन मूड ऑफ वाइन” मैने काम फिनिश किया और उनके साथ सोफे पर बैठ गयी मैने अपनी नंगी टाँग बाहर निकाली नाइटी से और बूब्स तो पहले ही दिख रहे थे, तो उनकी आँखे मेरे जिस्म पर दौड़ रही थी और हमने वाइन फिनिश की साथ मे खाना खाया और टीवी देखने लगे और बाहर ठंड थी पर अब हम दोनो के अंदर पूरी गर्मी उछल रही थी और मैं जान बुझ के टून होने की आक्टिंग करने लगी और धीरे धीरे उनकी बॉडी के साथ अपनी बॉडी टच करने लगी, वो भी एंजॉय कर रहे थे और फिर उन्होने हाथ उठाया और मेरी जाँघो पर फेरने लगे और मैं भी इसी वेट मे थी.

तो मैने झट से उन्हे स्मूच करना शुरू कर दिया और मैने जो मिस्टर रम्मेल से सीखा मिस्टर पटेल पर यूज़ करने लगी, हम कुछ 10 मिनट किस करने के बाद मैने मिस्टर पटेल को न्यूड करने लगी और उन्होने एक पल मे ही मुझे न्यूड कर दिया और मेरे बूब्स को चूसने लगे जो की मेरी बॉडी के सबसे अट्रॅक्टिव पार्ट है तो मिस्टर पटेल भी एक वीक से भूखे थे और मैं भी 2 मंथ से, हम बड़े ही पॅशनेटिंग तरीके से किस कर रहे थे और फिर मैने धीरे से मिस्टर पटेल का पैजामा उतार दिया उनका लॅंड जो की 5 इंच का था मेरे सामने था मुझे छोटा लग रहा था पर अब इसी से काम चलाना था तो मैने झट से उनका लॅंड मूह मे लेके सक करने लगी और पहली बार पूरा लॅंड मूह मे ले लिया और मिस्टर पटेल लेटे हुए मोन कर रहे थे “कम ऑन दिशा यू’र ग्रेट गर्ल सक इट” एंड ऑल फिर कुछ 5 मिनट मे उनका पानी मेरे मूह मे था, अब मैं भी चाहती थी की वो भी मुझे चाट ले तो फिर वो मुझे किस करने लगे मेरे पेट पर मेरे बूब्स पर.

यह कहानी भी पड़े  चाची ने अपने पति से मेरा कौमौर्य तुड़वाया

लेकिन वो मेरी चुत को किस नही कर रहे थे तो मैने अपने हाथ उनके सिर पर रखे और पेट पर किस करवाने लगी तो फिर उन्हे नीचे करने लगी शायद वो समझ गये और लीक करना शुरू किया, तो अब मुझे कुछ अछा फील होने लगा स्टार्टिंग मे वो थोड़े लीक आछे से नही कर रहे थे पर कुछि देर मे उन्होने मुझे मिस्टर रेम्मलेर की याद दिलवा दी, शायद अब उन्हे मेरा पानी का टेस्ट अछा लगा वो अब मेरी चुत को छोड़ ही नही रहे थे पर अब चुत जीब नही लॅंड की भूखी थी मैने बोली पटेल कम ऑन, तो फिर मिस्टर पटेलने लॅंड मेरी चुत पर रखा और अंदर धकेल दिया और मैने जान भुज कर अहह करने लगी जैसे मुझे दर्द हो रहा हो पर पटेल का लॅंड पहली बार मे ही पूरा अंदर चला गया और फिर वो स्ट्रोक मारने लगे मैं चिल्लाने लगी “कम ऑन आई वॉंट मोर स्ट्रोक्स” कोई 10 मिनट मे ही पटेल का पानी निकल गया और हमने 2 वीक मे रोज़ सेक्स किया अलग पोज़िशन पर बस मज़ा तो रेम्मलेर जितना नही आया.

पर अब लाइफ फिर से ऐश वाली थी ना रूम का रेंट रहा ना कोई खर्चे की टेन्षन पर मैं अभी भी एक आछे लॅंड की तलाश मे थी, आई होप यू लाइक दिस स्टोरी ऑल्सो कीप मी ऑन मेलिंग एंड डॉन’ट फर्गेट अबौट युवर कॉमेंट्स मेरी मैल आईडी है कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार नीचे कॉमेंट्स मे ज़रूर लिखे, ताकि हम आपके लिए रोज़ और बेहतर कामुक कहानियाँ पेश कर सके – डीके

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published.


error: Content is protected !!