मैं और मेरा भाई अर्पित के साथ चोदन

हाय दिस इझ माय फर्स्ट सेक्स स्टोरीस इन हिन्दी इन दिस साइट, इट इझ अ ट्रू स्टोरी सो आई मेन्षन हियर, आई होप यू ऑल गाईझ लाइक इट.

हान तो स्टार्ट पे आती हू, मेरा नाम मोनिका है, और मैं देखने मे गोरी हू और थोड़ी लंबी हू मेरी हाइट तकरीबन 5’8 इंच होगी और इस वजह से मैं काफ़ी अच्छी और स्मार्ट दिखती थी.

पर इसी वजह से लड़के मुझसे दूर रहते थे मेरी हाइट की वजह से, वैसे मेरी फिगर उस टाइम शी थी जो अब 34,30,32 हो गई है, मेरे गद्राये बदन को बनाने मे मेरे भाई की मेहनत लगी है, थॅंक्स अर्पीत, लव यू , अब लड़के मेरी फिगर को ही देखते है ना की मेरे हाइट को.

खैर बात उस टाइम की है जब हम जम्मू मे रहते थे और मेरे पापा और मम्मा अक्सर कही घूमने जया करते थे, और घर मे बस हम दोनो भाई बहन रहते.

वैसे तो हम काफ़ी खुले थे पहले से ही किसी को भी हग करना या गालो पे क़िस्सी आम बात थी, पर हमने कभी भी ग़लत नही सोचा था एक दूसरे के लिए, पर उस दिन कुछ अलग था.

अर्पित अपने दोस्तो से कुछ बात करके आया था, उस टाइम मैं 20 और वो 19 का था, घर पे बस हम दोनो थे और उसको जगाने के बाद मैं नहाने चली गई थी.

मैने गीले मे ही कपड़े डाल लिए थे और ब्रा नही पहनी थी जिसके कारण से मेरी बूब्स के निप्पल बाहर दिख रहे थे., जब अर्पित बाजार से आया और मुझे ऐसे देखा तो वो लालची नज़रो से मुझे देखने लगा, मैने नोटीस किया पर जाने दिया, यूँही कोई नही भाई है मेरा.

खैर दोपहर के खाने के बाद वो बाहर चला गया, और शाम कुछ सीडी लेकर आया, मैने पूछा क्या है तो बोला मूवी हैं हॉलीवुड की तू तो देखती नही, मैं रात को देखूँगा, और रात के खाने के बाद सो गया मुझे नींद नही आ रही थी.

यह कहानी भी पड़े  kaumkta सौतेली माँ का प्यार

उस रात पता नही क्या होना था जो मैं हॉलीवुड की मूवीस ही देखनेका मन हुआ, और मैं अर्पित के रूम से वो सीडीज़ उठा लाई और अपने लॅपटॉप पर लगा लिया, ये मेरा फर्स्ट टाइम था जो मैने बीएफ देखा, हाए शर्म तो आई पर मन नही हुआ बंद करने को, सो चलने दिया, और कब मेरे हाथ मेरे होल तक पोहच् गये पता ही नही चला., मैं गरम हो चुकी थी, अब, बोहोत मन कर रा था कोई कुछ कर दे आकर, मैं थोड़ा शांत हुई तो भाई को देखने चली गई, वो लेटा था ., मैने सोचा अच्छा हैं.

मैं वैसे भी साथ सो जाती थी, पर आज तो बोहोत मन कर रा था, मैं उसको पकड़ कर सो गई, पर मैं सो नही पाई थी आज मैने देखा वो मुझे प्यार कर रा था जग कर, धीरे से की मैं उठ ना जाउ.

मुझे भी अच्छा लग रा था, फिर मैने सुबह उठ कर उसके लिए चाय बनाई और पूछा भाई देख ली तुमने क्या मूवीस, मुझे भी देखनी हैं अगर देख ली हो तो., वो तोड़ा डरर सा गया की सच मे ना, दिखाना पडे फिर उसने पूछा मोनिका तुम रात मेरे रूम मे आई थी, मैने हान बोला मुझे डर लगा तो उसने बोला ओके.

तुम सो जाया करो मेरे पास ही मुझे भी डर लगता थोड़ा रात, मैने हान कर दी, धीरे धीरे हम रात का ही वेट कर रहे थे की कब रात हो, वो रात आ गई.

मैं उसके पास जा कर लेट गई, और सोने का नाटक करने लगी, थोड़ी देर मे ही वो मेरे उपर को आने लगा मैं गरम हो रही थी, मैने नींद मे ही उसको किस कर दिया, उसे अच्छा लगा की मैं मना नही कर रही, तो उसने मुझे अच्छे से पकड़ा और मेरे उपर चढ़ गया, इस तरह रातमे हम सो गये एक दूसरे के उपर.

यह कहानी भी पड़े  भारती दीदी की गांड में लंड

पर अब हर रात सोने लगे धीरे धीरे करके वो मेरे हर एक पार्ट्स को जान गया और छुने लगा तो मैने भी हिम्मत करके उस रात अचानक उठ कर उसके बेबी को पकड़ लिया वो हक्का बक्का रह गया.

मैने बोला तू रोज़ मुझसे छेर चार करता, मुझे अच्छा लगता जभी मैं मना नही करती तुम्हे, आज मुझे भी करने दो, दिखाओ क्या हैं तुम्हारे पास, फिर मैं उसके बेबी को पकड़ती हू अंदर से निकाल कर, उसे अच्छा लगता हैं वो बोलता इसे अपने टंग से फील करो फिर मज़ा आएँगा.

मैने मना कर दिया तो वो बोलता मज़े दिलौँगा तू कर तो, और मेरे बाल पकड़ लिए ज़बरदस्ती मेरे मूह, मे अपने बेबी को डाल दिया, और बोला इसे लंड बोलते हैं और आज से ये तेरा है, तू जब चाहे मूह मे डाल या जहा तुझे मन करे.

मैने उगल दिया उसके लंड को थोड़ा कड़वा था, पर फिर उसने डाल दिया मेरे मूह मे, इस तरह करते करते उसके लंड का साइज़ बड़ा हो गया, वो देखने लायक था 8 इंच और 3 इंच मोटा लंड था.
मेरे मूह मे तो अटक ही गया था, भलेहि थोड़ा कड़वा था पर मैं अब नशे मे थी, मुझे अच्छा लगाने लगा., और मई अच्छे से चूसने लगी वैसे भी बीएफ मे देखा ही था उस दिन, तो मैं रंडी की तरह चूसने लगी.

Pages: 1 2

Comments 1

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!