लंड की भूखी मा थ्रीसम के लिए मानी

लास्ट पार्ट में आपने पढ़ा कैसे मैने मम्मी को छोड़ा आंड हम बेड में नंगे कड्ड्ल करके रोमॅन्स करने लगे. अब आयेज-

मम्मी भी मस्त मुझे प्यार कर रही थी. हम रोमॅन्स कर रहे थे, और एक-दूसरे को किस्सस कर रहे थे. मैं मम्मी के बूब्स चूसने में लगा था. फिर मम्मी भी मुझे मेरी चेस्ट में निपल्स को चूसने में लगी हुई थी.

धीरे-धीरे मम्मी नीचे जाने लगी, और मेरा लंड वापस से खड़ा हो गया. मम्मी ने पहले मेरे लंड के टोपे को चूसा जीभ से. फिर धीरे-धीरे मूह में डाल कर चूसने लगी.

मम्मी ब्लंकेट में घुस के मेरा लंड चूस रही थी, एक-दूं पोर्नस्तर के जैसे. और कंपेर अगर करू मम्मी को किसी पोर्नस्तर के साथ, तो बात ग़लत नही होगी. मेरी मम्मी कह लो ब्रुक्लाइन चेस, जैसी है. किसी को अगर देखना है तो मेरी मम्मी की पिक, तो एमाइल कर सकते है.

मम्मी मज़े से मेरा लंड चूसने में लगी हुई थी, और मम्मी ने मेरी बॉल्स को भी चूसा. वो भी मुझे काफ़ी अछा लगा बता नही सकता, क्यूंकी मम्मी के मूह की गर्माहट ही बहुत थी.

फिर ठीक से गीला करके मम्मी ने मेरे लंड को अपने बूब्स में दबा लिया और बूब्जोब करने लगी. मम्मी की शैतानी हस्सी भी समझ आ रही थी. वो पूरी तरह से हॉर्नी थी.

मैं: एक बात बताओ मम्मी, फ़ैज़न पसंद आया या मैं?

मम्मी: फ़ैज़न तो तेरे सामने तोड़ा सा कम है. बुत तेरे जैसा नही है. तेरा लंड उससे काफ़ी बड़ा है और चौड़ा भी. अगर वो नही होता तो तुम मुझे छोड़ नही रहे होते.

मैं: हा मम्मी, अब उसकी मम्मी को भी छोड़ना चाहता हू, जैसे उसने आपको छोड़ा (अंजन बन कर मम्मी को बोला).

मम्मी: क्यूँ बेचारी को छोड़ेगा. मॅर ना जाए तेरा लंड लेके.

मैं: मैं तो उनको छोड़ूँगा, क्यूंकी फ़ैज़न ने आपको छोड़ा इसलिए. और आज ही छोड़ूँगा, जब आप फ़ैज़न से छुड़वा रही होगी.

मम्मी: क्या वो आज ही आ रहे है?

मैं: हा, और 3-4 दीनो में चले जाएँगे. और शायद फ़ैज़न भी आपको ज़रूर छोड़ेगा आज रात.

मम्मी: बेटा मुझे अब से तेरे से छुड़वाने का मॅन है.

मैं: कोई बात नही मम्मी, मुझे बस आंटी को छोड़ने दो. फिर उनको छोड़ कर आपको छोड़ूँगा. अछा क्या मम्मी आप मेरे और फ़ैज़न दोनो के साथ चुड़वावगी?

मम्मी: नही मुझे शरम आएगी.

मैं: अब क्या शरम. आपने पहले उससे चुडवाया. अब मुझसे चुड रही हो. फिर दोनो से. क्या ऐतराज़ है आपको?

मम्मी: क्या फ़ैज़न मानेगा?

मैं: वो मेरे पे छ्चोढ़ दो. मैं बात करूँगा, तो आपको छोड़ने के लिए तो कोई भी मान जाएगा.

मम्मी: चल ठीक है, पहले मुझे तो शांत कर.

मैं फिर जोश में आ गया, और एक ही झटके में लंड मम्मी की छूट में डालने लगा और घपा-घाप छोड़ने लगा.

मम्मी: आ बेटे आहह, आराम से छोड़. मा हू तेरी बेटे, आराम से छोड़.

मैं: छोड़ने दो मम्मी प्लीज़. बहुत टाइम से आपको छोड़ना चाहता था. अब मौका मिला है.

मम्मी: बेटे मैं अब तेरी हू आह आह आह, आराम से.

5 मिनिट्स बाद मम्मी मेरे नीचे से निकल के उपर आ गयी, और मेरे को मूह में लेके चूसा. तो मेरा लंड तंन के सीधा खड़ा हो गया. मम्मी ने थूक अपनी छूट में लगाया, और सीधा एक झटके में मेरे लंड पे बैठ गयी.

मेरे को तो जैसे सुकून आ गया. मम्मी धीरे-धीरे मेरे लंड पे उपर-नीचे हो रही थी.

मैं: आहह आ उफफफ्फ़ मम्मी आ आ.

मम्मी: हा मेरे बेटे कैसा लग रहा है? मज़ा आया?

मैं: हा मम्मी, बहुत मज़ा आ गया आ आ आ आ.

मैने उनकी गांद में हाथ रख के ज़ोर झटके देने शुरू किए. मम्मी को बर्दाश्त नही हुई, और मम्मी ज़ोर से मेरे लंड पे बैठ गयी, और अपनी छूट को रगड़ने लग गयी. मम्मी अपनी छूट को मेरे लंड पे उछाल रही थी.

वो मुझे झुक कर कभी बूब्स चुस्वा रही थी. फिर कभी किस करते हुए मेरे होंठो को, और टंग को चूस रही थी. मम्मी पूरी वाइल्ड हो गयी थी.

मैं भी जोश में आ गया, और मम्मी को गोद में उठा लिया. मैं बेड से नीचे उतार गया, और हवा में मम्मी को झकते देकर छोड़ने लगा. 2-3 मिनिट्स तक मम्मी को हवा में छोड़ा था.

फिर मम्मी के पीछे गया और उनकी छूट को खोल कर लंड डाला मैने, और फुल स्पीड में छोड़ने लगा. मम्मी भी अपने मूह में हाथ रख के चिल्ला रही थी, ताकि बाप ना उठ जाए.

फिर मम्मी बोली: मेरा होने वाला है.

मैं फिर पीछे से मम्मी को पकड़ा, और बूब्स दबाते हुए छोड़ने लगा. मम्मी को मैं दबा रहा था और जाम के छोड़ रहा था. पापा का कोई दर्र नही था, क्यूंकी वो नींद की मेडिसिन लेके सोते है, तो वो डाइरेक्ट मॉर्निंग में उठते है. मैं मम्मी को झकते पे झकते मार रहा था.

फिर मम्मी को गर्दन में किस करते हुए उनकी छूट में धार मार दी. तभी मम्मी भी छूट गयी, और उनका भी हो गया. हम दोनो मा बेटे कुत्ते की तरह हाँफ रहे थे. फिर हम बेड में आ गये और मेरा लंड अभी खड़ा था, तो मम्मी ने लंड आचे से चूस के सॉफ किया, और बातरूम में फ्रेश होके आई.

उसके बाद मैं भी टाय्लेट करके आया, और हम दोनो नंगे एक-दूसरे को किस करते हुए सो गये.

इश्स पार्ट में यही तक. फीडबॅक करो गाइस. आपके रेस्पॉन्सस नही आते यार इतने ज़्यादा. राइटर्स के लिए फीडबॅक दो, आप लोग सभी जो स्टोरी पढ़े है.

प्लीज़ गाइस जो मुझे मेसेज करके स्पेशली गाली दे रहे है, आप लोग स्टोरी मत पढ़ो, या फिर मेसेज मत करो. और अगर तमीज़ ना हो, तो मेसेज तो ग़लती से भी मत करो.

कुछ छूतियों की वजह से लास्ट टाइम मैने स्टोरी लिखना छ्चोढ़ दिया था. आप चाहते है स्टोरीस कंटिन्यू रहे, तो उल्टे सीधे मैल मेसेज नही करे. करना है तो पॉज़िटिव मेसेज करो, मोटीवेट करो. किसी राइटर को गाली मत दो.

एस्पेशली बाय्स जो अपनी मम्मी को पसंद करते है उनको थॅंक योउ. आप लोगों के बहुत आचे मेसेजस आए है. किसी भी लड़की या भाभी को कोई भी मज़ा करना हो, तो मुझे मैल कर सकती है. मेरी मैल ईद है-

यह कहानी भी पड़े  कंप्यूटर लेब में मिस नेहा को ठोका


error: Content is protected !!