लड़की को लड़कों ने थ्रीसम के लिए माना कर चोदा

ही फ्रेंड्स, एक बार फिर आपका दोस्त राहुल और आपकी हॉट भाभी काव्या अपनी आयेज की स्टोरी ले कर आपके सामने है.

जो मेरे पुराने रीडर्स है, उनको तो कुछ बताने की ज़रूरत नही. जो न्यू है, प्लीज़ एक बार सारे पार्ट्स रेड कर ले. तब ही आपको सब समझ भी आएगा, और मज़ा भी. मैं ज़्यादा टाइम ना लेते हुए आयेज की स्टोरी पे आता हू.

जैसे की आपको पता है रॉकी और काव्या एंजाय करने के बाद बैठ के बात कर रहे थे, और वीडियो देख रहे थे.

काव्या: ऐसा भी होता है क्या? ऐसा कों करता है?

रॉकी: सब होता है यार, और इसमे लड़की और ज़्यादा मज़े करती है.

काव्या: अछा ऐसा क्यूँ?

रॉकी: देखो वीडियो, खुद समझ जाओगी.

और दोनो ऐसे ही कुछ वीडियोस देखते रहते है. काव्या को भी अछा लगने लगा था. लाइफ में फर्स्ट टाइम काव्या ऐसी कोई वीडियो देख रही थी. थोड़ी देर बाद रॉकी का मूड फिरसे बनने लगा.

रॉकी: काव्या यार फिरसे मूड बन रहा है.

काव्या: नही यार अभी तो करा है, फिरसे नही.

फिर काव्या बोली: चलो अब मैं चलती हू.

और वो रूम से बाहर आ गयी. बाहर ईशाण बैठा हुआ था.

उसने काव्या से पूछा: कैसा रहा.

काव्या: अछा ही रहा, उसमे क्या है?

इतने में अंदर से रॉकी भी बाहर आ गया और बोला-

रॉकी: भाई अछा, बहुत मज़ा आया.

ईशाण: चलो अछा है, तेरा भी हो गया.

रॉकी: यार मैने अभी काव्या को ब्लू फिल्म दिखा रहा था थ्रीसम वाली.

ईशाण: अर्रे वाह, काव्या ने ब्लू फिल्म देखी? क्या बात है!

काव्या: इसमे क्या बात वाली कों सी बात है? देख नही सकती क्या?

ईशाण: अर्रे ऐसा नही है. देख क्यूँ नही सकती? कैसी लगी ये बताओ?

काव्या: अची थी, अची लगी. बुत एक लड़की पे 2 लड़के, ऐसे कैसे हो सकता है?

ईशाण: यार सब होता है, और मज़ा भी आता है जब एक से दो होते है.

काव्या: ऐसा क्या मज़ा आता है? मुझे तो अजीब लग रहा था.

रॉकी: अछा सच बोलना, अजीब लग रहा था या अछा?

काव्या: यार अजीब भी और, मतलब मैं बता नही सकती. अंदर से अजीब सा लग रहा था. समझ नही पा रही हू की आचे में था या कैसे में.

ईशाण: काव्या ये तो वो वाली बात है ना, जब मेरे अलावा बाकियो से करने को कहा था, तो भी तुमको बुरा लग रहा था. आज मज़ा आ रहा है ना?

काव्या: यार पहले अजीब लग रहा था. बुत फिर सब के टच अलग-अलग आंड सब का तरीका अलग-अलग अछा लगने लगा.

ईशाण: अछा या मज़ा?

काव्या: एक ही बात है ना.

ईशाण: नही यार, अछा अलग है और मज़ा अलग.

काव्या: ठीक है ना, मज़ा आने लगा अब इन सब में. तुम सब के साथ सब दोस्त थे, तो अछा भी रहा और मज़ा भी आया.

रॉकी: काव्या यार एक बात बोलू? आपने ईशाण की बात मान कर सब से करा. हम भी तो दोस्त है, हमारी भी बात मान लो एक बार.

काव्या: मानी तो, सब के साथ करा तो.

रॉकी: यार मैं सब के साथ नही, थ्रीसम की बात कर रहा हू. ईशाण भी यहा, मैं भी, और तुम भी.

काव्या: अर्रे पागल हो क्या? बोला ना नही.

ईशाण: काव्या एक बार ट्राइ करते है. अछा ना लगे तो बोल देना, हम रुक जाएँगे.

काव्या: ईशाण ऐसे थोड़ी ना होता है. आज का मेरा हो गया, अब नही.

रॉकी: कोई नही, किसी और दिन कर लेंगे. अगर आज का हो गया तो.

काव्या: मतलब कुछ भी.

ईशाण: अछा काव्या, चलो आज नही किसी और दिन करेंगे, बुत सच बताओ कैसा लगा वीडियो देख कर? सच बोलना अंदर से कैसा मॅन हो रहा था?

रॉकी: यार काव्या और मैं मज़े में देख रहे थे बस. मैने बोला फिरसे मूड हो रहा है, तो काव्या ने जाने के लिए बोला दिया की जाना है. नही तो देख रही थी मज़े में. क्यूँ काव्या सही बात है ना?

काव्या: यार अब ऐसा कुछ देख कर अछा ही लगता है. ई नो मॅन होता है. रॉकी तुम्हारा मूड बन रहा था ई नो. देखो मुझे भी मज़ा आ रहा था. होता है, सब के मॅन में, ई नो.

ईशाण: काव्या मेरी बात मानो तो एक बार करते है. ट्राइ तो करो. ना सही लगे तो बोलना.

ये बोलते हुए ईशाण काव्या के पास आके, उसके हाथ पकड़ के, आपनी तरफ खींच के लिप्स पर किस करने लगता है.

काव्या (पीछे करते हुए): ईशाण तुम…

इतने में रॉकी पीछे से आके काव्या के नेक पे किस करना स्टार्ट कर देता है. काव्या पीछे होते हुए बोलती है-

काव्या: तुम दोनो क्या कर रहे हो?

इतने में पीछे से ईशाण ने काव्या को पीछे से पकड़ लिया, और बोला-

ईशाण: थोड़ी मस्ती

काव्या: तुम दोनो आज पागल हो गये हो.

रॉकी सामने से आके काव्या के बूब्स को प्रेस करते हुए बोलता है-

रॉकी: तुम भी होके देखो, मज़ा आएगा.

ईशाण ने काव्या को छ्चोढते हुए बोला: काव्या अगर मॅन नही है तो हम नही करेंगे.

और तोड़ा फेस डाउन कर उदास सा मॅन बना लिया.

काव्या: क्या यार तुम बार-बार यही करते हो. ठीक है, आओ ट्राइ करते है. बुत जहा बोलो रुकने को, रुक जाना.

इतना सुनते ही दोनो खुश हो गये. ईशाण ने काव्या को कस्स के हग कर लिया, और फेस पे किस करने लगा. रॉकी ना पीछे से आके काव्या को पकड़ लिया, और पीछे से नेक पे किस करने लगा.

दोनो काव्या को आयेज और पीछे से किस कर रहे थे. ईशाण काव्या के लिप्स किस कर रहा था. रॉकी बॅक से नेक पे और शोल्डर पे, और साथ में काव्या के बूब्स दबा रहा था. काव्या मज़े में ईशाण को किस कर रहा थी, और उसका एक हाथ रॉकी के सर पे था.

सब मिल के मज़े कर रहे थे. ईशाण ना काव्या को रॉकी की तरफ घुमा दिया, और रॉकी काव्या के लिप्स किस कने लगा, और ईशाण बॅक पे. फिर ईशाण ने काव्या के कपड़े उतारने स्तरी कर दिए, और अपने भी. रॉकी ने भी अपने कपड़े उतार दिए, और अब तीनो न्यूड हो गये फुल.

पहली बार काव्या 2 लड़कों के सामने नंगी खड़ी थी, और वो काव्या की बॉडी प्ले करने लगे. वो फुल बॉडी पे किस करने लगे.

काव्या दोनो के सर पे हाथ फेर रही थी. फिर काव्या भी दोनो के लंड पे हाथ रख के सहलाने लगी, और अब तीनो फुल मज़े में आ गये थे. वो भूल गये थे, की थोड़ी देर पहले काव्या माना कर रही थी.

वो तीनो मज़े में डूब रहे थे. फिर ईशाण और रॉकी काव्या को उठा के बेडरूम में ले गये, और बेड पे लिटा दिया. अब काव्या के दोनो साइड आके दोनो के हाथ में 1-1 बूब था, और दोनो उसको पीने लगे. वो एक-एक हाथ काव्या की छूट पे रब करने लगे.

दो हाथ बूब्स पे, और दोनो बूब्स दोनो के मूह में. और फिर दो लड़कों के हाथ छूट पे. पहली बार ये सब हो रहा था. काव्या बहुत एंजाय कर रही थी. दोनो एक-एक करके काव्या की छूट चाट रहे थे, और कभी बूब्स छत रहे थे. काफ़ी देर ऐसे ही करने के बाद रॉकी ने कॉंडम निकाल के अपने लंड पे लगा लिया.

फिर उसने काव्या को अपने उपर बिता लिया, और काव्या की छूट में आराम से लंड घुसा दिया. अब धीरे-धीरे काव्या उपर-नीचे हो रही थी.

सामने से ईशाण काव्या को लिप्स किस कर रहा था, और बूब्स दबा रहा था.

थोड़ी देर ऐसे करने के बाद ईशाण ने भी कॉंडम लगा लिया, और काव्या को नीचे लिटा के उसके उपर आ गया. फिर वो अपना लंड काव्या की छूट में डाल के आराम-आराम से आयेज-पीछे करने लगा, और रॉकी काव्या के बूब्स पीने लगा. ईशाण ने काव्या से पूछा-

ईशाण: अब भी बीच में रुकना है क्या मॅन ना हो तो?

काव्या ने हेस्ट हुए कहा: नही, अब तो बहुत मज़े आ रहे है. अब तो करो.

15-20 मिनिट्स ऐसे ही करने के बाद कभी ईशाण तो कभी रॉकी अपने लंड निकाल और डाल रहे थे. 25-30 मिनिट ऐसे ही करने के बाद ईशाण लूज़ हो गया. काव्या ऑलरेडी 2 बार हो चुकी थी. फिर रॉकी ने भी अपना लंड वापस से अंदर करा, और आफ्टर 5 मिनिट्स वो भी लूज़ हो गया.

तीनो ऐसे ही लेते हुए थे. फिर तीनो उठ के फ्रेश हुए नंगे ही एक साथ. दोनो ने मिल के काव्या को बातरूम में ले-जेया कर क्लीन करा, और वापस बेड पे लिटा के दोनो ने काव्या की छूट चाटनी स्टार्ट कर दी. ऑलमोस्ट 20-25 मिनिट उन्होने काव्या की छूट छाती. काव्या लूज़ हो गयी फिरसे.

फिर काव्या वॉशरूम जाके फ्रेश होके आती है. उसके बाद सब कपड़े पहन के बाहर आ जाते है, और ईशाण काव्या को घर छ्चोढने चला जाता है. उसके बाद ये लोग काई बार मिले, मज़े भी करे, बुत थ्रीसम नही करा. सब के साथ अलग-अलग फन करा.

उसके बाद काव्या मेरे साथ जो 1स्ट्रीट पार्ट में आपने रेड करा, वो थ्रीसम करा था. ये मेरी इस स्टोरी की लास्ट पार्ट था. आयेज मैं आपको बतौँगा की जो 1स्ट्रीट पार्ट में हुआ, उसके बाद क्या-क्या हुआ, और कैसे हम लोगों ने क्या-क्या करा. होप आप सब को ये स्टोरी पसंद आई हो.

दोस्तों आपको कैसी लगी ये स्टोरी मुझे मैल करके रिप्लाइ करे. आंड प्लीज़ उल्टा सोचने वाले और उल्टा बोलने वाले डोर रहे. फन करना और सेक्स करना कोई बुरा नही है. फिर चाहे वो एक से हो या अनेक से.

इंसान की अपनी मर्ज़ी और अपनी खुशी, और दूसरो की खुशी के लिए करना ग़लत नही है.

यह कहानी भी पड़े  चार सहेलियों को बजाया - 2


error: Content is protected !!