कहानी जिसमे भाई ने दोस्त को अपनी बहन को चोद्ते देखा

हेलो दोस्तों, मैं राज हाज़िर हू फिरसे लंड कड़क कर देने वाली स्टोरी के साथ. मेरे पापा प्राइवेट जॉब करते है, और मम्मी हाउसवाइफ है, आंड दो बहने है एक रीया और एक जिया. इनमे रीया 26 साल की है, और वो देल्ही रहती है, आंड जिया 20 साल की है और वो हमारे साथ ही रहती है.

मैं और जिया एक ही कॉलेज में पढ़ते है, इसलिए मैं जानता हू की कुछ बाय्स उसको पटना चाहते थे. बुत मैं सीनियर था, इसलिए कोई ज़्यादा पीछा नही करता था जिया का.

हमारा पूरा एक ग्रूप था जिसमे अमन और जे मेरे बहुत आचे दोस्त थे. जे के पास कार थी, तो हम बाहर भी साथ में घूमते थे, और मज़े करते थे. बुत एक दिन जब हम सिगरेट पी रहे थे, तो जिया ने देख लिया.

मैं दर्र गया था की वो कही पापा को नही बता दे, और फिर मैं जल्दी घर पहुँचा और सीधे जिया के पास गया.

मैने उसको कहा: देख पापा से कुछ मत कहना. मैं अब नही पियुंगा.

जिया: अछा नही कहूँगी, पर एक शर्त पर.

मैं: बता क्या शर्त है?

जिया: तुम मुझे भी साथ घूमने ले जया करो जैसे खुद जाते हो घूमने.

मैं: हम तो कॉलेज बंक करके जाते है.

जिया: तो मैं भी चलूंगी. मेरा भी मॅन करता है घूमने का.

मैं: नही, तुम हमारे साथ नही आ सकती.

जिया: ठीक है, तो मैं पापा को बता देती हू.

मैं: अछा ठीक है चलना, मैं बात करके बताता हू.

फिर मैने जे और अमन को सब बताया, तो वो रेडी हो गये, और फिर मैने कह दिया जिया से की कल चलना. अगले दिन मैं और जिया कॉलेज बंक करके सीधे कॅंटीन से जे की कार में बैठ गये, और फिर जिया से अमन और जे को मिलवाया. फिर हम माल में घूमने गये, तो जे जिया से बोला-

जे: तुम इतनी स्मार्ट और ब्यूटिफुल हो, पर ड्रेसिंग सेन्स कितना खराब है तुम्हारा.

जिया: मैं तो मॉडर्न ड्रेसस पहनना चाहती हू, बुत पापा पर्मिशन नही देंगे.

जे: तो क्या हुआ, तुम घर से वही पहन कर आया करो, और यहा चेंज करके घूमा करो.

जिया: बुत मेरे पास वैसी ड्रेसस नही है.

जे: तो अभी ले लेते है. फिर मोविए देखते है.

जिया: बुत मैं तो पैसे नही लाई, और पापा देंगे भी नही.

जे: तुम पैसो की टेन्षन मत लो. मैं हू तो.

जिया: नही मैं तुमसे नही ले सकती.

जे: राज समझा अपनी बेहन को, और राज भी तो जीन्स लेता है मेरे कार्ड से.

मैं: अछा लेलो जिया.

जे: तू और अमन टिकेट लो, जब तक मैं जिया को शॉपिंग करवाता हू.

और फिर हम टिकेट लेने चले जाते है और वो जिया के साथ कपड़े लेने चला जाता है. बुत मुझे जे की नीयत ठीक नही लग रही थी. इसलिए मैं अमन से पेशाब का बहाना करके उनके पीछे गया. मैने देखा, की वो शॉर्ट्स और टॉप देख रहे थे आंड कुछ उन्होने खरीदे.

फिर जे जिया को अंडरगार्मेंट्स की शॉप में ले गया, और वाहा से ब्रा-पनटी भी दिलवाई. और फिर जिया ने चेंज कर लिया, और वो शॉर्ट्स और टॉप पहन कर बाहर आई. वो एक-दूं हेरोयिन लग रही थी. फिर मैं जल्दी से अमन के पास पहुँच गया, और जे जिया भी आ गये.

अब अमन भी जिया को आँखें फाड़ कर देख रहा था. फिर हम मोविए देखने गये, और फिर जे ने कहा-

जे: चलो अब कल भोपाल जाएँगे, और वॉटर पार्क चलेंगे.

तो सब ने डन कर दिया. और फिर हम सब घर आ गये. जिया तो आज बहुत खुश थी. फिर अगले दिन हम फिर जे की कार से भोपाल गये, तो जे ने कहा-

जे: वॉटर पार्क में ज़्यादा वक़्त तो रहेंगे नही. सो होटेल में रूम बुक कर देते है, और आ कर वही शाम तक पार्टी करेंगे.

सब अग्रीड थे इस बात पर. फिर हम एक होटेल गये तो वाहा 4 के लिए रूम नही था, तो जे ने 2 रूम बुक किए, और फिर हम रूम में समान रखने गये.

फिर जे बोला: जिया तुम मेरे रूम में आ जाओ, आंड अमन और राज एक रूम शेर कर लेंगे.

अब जिया क्या बोलती, तो वो चली गयी. आंड हम अपने रूम में चले गये. तब मुझे अमन ने बताया-

अमन: जे तेरी बेहन को आज छोड़ने वाला है. इसलिए उसने यहा का प्लान बनाया.

ये सुन कर मैं भड़क गया, और उसको मारने जाने लगा. तभी अमन ने मुझे रोका और बोला-

अमन: क्यूँ दुश्मनी ले रहा है. उसके पापा म्ला है, और वो उल्टा तुम दोनो को यहा होटेल में फसवा देगा, और फिर कुछ नही रहेगा.

मैं: तो क्या करू मैं?

अमन: अब कोई रास्ता नही है. बस अपनी बेहन को देख, की अब वो चुडवाएगी या नही.

फिर मैं और अमन अपने रूम की बाल्कनी से जे की बाल्कनी में गये, और वेंटिलेटर से अंदर झाँकने लगे. वाहा बस जिया थी, और फिर जे बातरूम से बाहर आता है.

जिया: मैं चेंज करके आ जाती हू.

जे: बातरूम के शवर की पीपे बर्स्ट हो गयी है, तो वाहा पानी निकल रहा है सब में.

जिया: तो ठीक कब होगा?

जे: एक घंटा तो लग जाएगा, और हमे वॉटर पार्क भी जाना है. तो तुम यही चेंज कर लो. और मुझे भी चेंज करना है.

और फिर जे चेंज करने लगता है

जिया: बुत तुम्हारे सामने?

जे: तुम इतनी डंब हो? और कल तो मॉडर्न बन रही थी. बे फ्रॅंक यार, चलो जल्दी कर लो.

और फिर जिया तोड़ा शाइ फील करते हुए अपना सूट और सलवार उतार देती है, और तब तक जे तैयार हो चुका था.

जे: वाउ जिया, वॉट आ फिगर.

जिया: थॅंक्स.

फिर वो शॉर्ट्स और टॉप पहन लेती है, और हम भी जल्दी से रूम के बाहर आ जाते है. फिर हम सब वॉटर पार्क जाते है. वाहा जे की नज़र जिया पर ही थी. और मैं इसी सोच में था, की क्या करू मैं. फिर तभी जे कहता है-

जे: चलो अब चलते है, यहा का पानी सॉफ नही होता है.

मुझे पता था की वो इतनी जल्दी जिया को छोड़ने की वजह से जाना चाहता था. और फिर हम चल पड़ते है होटेल के लिए. 11 बजे हम होटेल पहुँच जाते है, और हम वाहा कुछ खाते है. फिर जे बोलता है-

जे: यार तक गये है, और वाहा का पानी भी सॉफ नही था, तो सब नहा कर थोड़ी रेस्ट कर लो. फिर निकलते है.

आंड फिर हम अपने-अपने रूम में चले गये. अमन और मैं जल्दी से जे के रूम की बाल्कनी में गये, और फिर झाँकने लगे.

जे: जिया तुम तो बल्कुल मॉडर्न गर्ल लग रही हो.

जिया: सच में?

जे: हा, चलो अब नहा लेते है.

जिया: ठीक है, पहले आप नहा लो, फिर मैं नहा लूँगी.

जे: मैने तुम्हे अभी मॉडर्न समझा, और फिर तुम वैसी ही बातें करने लगी.

जिया: क्या हुआ?

जे: अभी हम वॉटर पार्क में भी तो साथ ही नहा रहे थे, तो यहा भी साथ में नहा लेते है. टाइम भी सवे होगा, और क्या पता दोबारा शवर पीपे खराब नही हो जाए.

जिया: बुत यहा बातरूम में?

जे: ओह कम ओं जिया, बे मॉडर्न. अब तो ये गाओं वाली इमेज छ्चोढ़ दो.

और जिया मॉडर्न बनने के चक्कर में हा कर देती है. फिर वो बातरूम में चले जाते है दोनो. मैं और अमन जल्दी से होटेल मॅनेजर से दूसरी के लाते है, और उनके रूम में जेया कर बातरूम के वेंटिलेटर से देखते है. जे अपने कपड़े उतार देता है, और अंडरवेर में खड़ा होता है. फिर वो बोलता है-

जे: जिया खड़ी रहोगी, या कपड़े भी उतारोगी?

तो जिया अपनी टॉप और शॉर्ट्स उतार देती है, और बस रेड ब्रा पनटी में खड़ी होती है. तभी जे उसको शवर के नीचे ले जाता है, और शवर ओं कर देता है. आंड वो दोनो भीग जाते है.

जे: जिया अगर मैं कुछ पूचु, तो बुरा तो नही मानोगी?

जिया: नही बिल्कुल नही.

जे: तुम अपने घर पर भी ब्रा पनटी में नहाती हो?

जिया: नही, वाहा तो उतार कर नहाती हू.

जे: इसका मतलब तुम यहा शाइ फील कर रही हो, और घर पर एक-दूं मॉडर्न हो. और यहा ऐसे नहा रही हो, जैसे किसी गाओं में लड़की नहाती है.

जिया: नही, ऐसी बात नही है.

तभी जे जिया की ब्रा के हुक खोल देता है, और कहता है-

जे: घर जैसे मॉडर्न शवर लो.

और जिया के ना चाहते हुए भी वो उसकी ब्रा निकाल देता है. फिर वो जिया की गांद से अपना लंड चिपका कर नहा रहा होता है.

जे: तुम्हे नही लगता जिया की तुम गाओं की डंब लड़की ही हो.

जिया: क्यू अब क्या हुआ?

जे: तुमने कहा था तुम ब्रा-पनटी उतार कर नहाती हो, और यहा अब तक पनटी पहनी है.

जिया: नही, ऐसे ही ठीक है.

जे: नही ऐसे ठीक से नही नहा पाते.

और वो एक-दूं से पनटी पकड़ कर खींच देता है, और अब जिया बिल्कुल नंगी थी. वो बहुत ऑक्वर्ड फील कर रही थी. फिर तभी जे अपना अंडरवेर भी निकाल देता है, और फिर जिया की गांद से अपना लंड दबा कर नहाता है.

जिया: तुमने भी निकाल दिया.

जे: तुम ही मॉडर्न हो क्या, मैं भी तो हू.

जिया: चलो बहुत हो गया नहाना.

और जिया जाने लगती है. तभी जे उसका हाथ पकड़ लेता है, और कहता है.

जे: साथ नहाने का मतलब है साथ जाएँगे.

और फिर वो जिया को अपनी तरफ खींच लेता है.

जिया: बस हो गया.

जे: रैन डॅन्स करते है.

जिया: ये कॉन्सा डॅन्स है?

जे: मैं बताता हू.

और फिर वो एक हाथ जिया की कमर पर रखता है, और खुद से चिपका लेता है. उसका लंड जिया की छूट से चिपक रहा था, और फिर वो ऐसे ही डॅन्स करने लगा.

जे: तुम्हारी बॉडी शेप अची है, बुत तुम्हारे बूब्स की शेप कराब है.

जिया: तो कैसी शेप होनी चाहिए?

जे: चलो बाहर, ठीक से देख कर बताता हू.

और फिर वो टवल से अपने आप को पोंछते है, और हम बाहर चुप जाते है. फिर वो भार आते है पुर नंगे, और जिया को देख कर अमन कहता है-

अमन: पूरी माल है तेरी बेहन, और आज जे बहुत दबा कर छोड़ेगा इसको. मॅन तो मेरा भी है वैसे.

फिर जिया को न्यूड देख कर मेरे मॅन भी उसको छोड़ने का ख़याल आने लगा. तभी जे जिया के बूब्स को हाथ में लेकर कहता है-

जे: इनका साइज़ कम है, और तुम्हारे हिप्स को बाहर होना चाहिए.

जिया: कैसे होगा ये?

जे: बूब्स की मसाज करनी होगी.

जिया: ये कैसे होती है?

और जे उसके बूब्स को थाम लेता है, और कहता है-

जे: मुझे आती है.

और फिर वो बूब्स को मसालने लगता है.

वो कहता है: निपल्स को भी बाहर निकाल डू शेप के साथ?

जिया: हा जिससे पर्फेक्ट हो जाए.

और फिर जे उसके निपल्स को मूह में ले लेता है, और चूसना स्टार्ट कर देता है.

जिया: ये क्या कर रहे हो?

जे: ये सबसे एफेक्टिव तरीका है.

और ऐसे ही वो दोनो बूब्स चूस लेता है. और अब जिया के बूब्स दबने की वजह से थोड़े बड़े हो जाते है.

जे: देखो बड़े हो गये ना.

जिया: हा, ये तो कितनी फास्ट हो गया.

जे: हिप्स को भी करें?

जिया: हा कैसे?

तो जे जिया को लिटा देता है, और अपना लंड जिया की छूट पर रखता है. तो जिया चीखती है-

जिया: ये क्या कर रहे हो? मैं सेक्स करवाने वाली लग रही हू.

फिर जे मोबाइल लता है, जिसमे उसने इस सब की रेकॉर्डिंग की थी, और जिया को दिखा कर बोलता है-

जे: नाता अब चुडवाएगी, या तेरे बाप को सेंड करू?

जिया: प्लीज़ ऐसा नही करो.

जे: हा या नही, बस लास्ट बार पूच रहा हू?

जिया: हा.

जे: मूह से बोल हा मैं तुमसे चूड़ना चाहती हू.

जिया: हा मैं तुमसे चूड़ना चाहती हू.

जे: अब अगर कभी भी तूने ना किया, तो सोच लेना.

और फिर जे अपना लंड जिया की छूट में डाल देता है, जिससे उसकी चीख निकल जाती है. पर जे अपने जोश में जिया को छोड़ना शुरू कर देता है, और 10 मिनिट छोड़ने के बाद अपना माल छूट में भर देता है.

जे: चल आज तेरी छूट की ओपनिंग हो गयी. और अब सुन, कल तू अकेले आएगी कॉलेज, बुत कॉलेज की जगह मेरी कार में आएगी, और उस बहनचोड़ राज को मैं माना कर दूँगा.

जिया: कल क्यू?

जे: कल तेरी असली चुदाई होगी पुर दिन.

आयेज की कहानी नेक्स्ट पार्ट में बतौँगा दोस्तों.

यह कहानी भी पड़े  बेंच पर चुदाई की वो रात

error: Content is protected !!