शीला की जवानी को चोदकर उसे औरत बनाया

Hindi Sex Story : हेल्लो दोस्तों, मैं आप सभी का  में बहुत बहुत स्वागत करता हूँ। मेरा नाम सुकेतूहै। मैं पिछले कई सालों से नॉन वेज स्टोरी का नियमित पाठक रहा हूँ और ऐसी कोई रात नही जाती तब मैं इसकी रसीली चुदाई वाली मदमस्त कहानियाँ नही पढ़ता हूँ और मजे मारता हूँ। आज मैं आपको अपनी स्टोरी सूना रहा हूँ। मैं उम्मीद करता हूँ कि यह कहानी सभी लोगों को जरुर पसंद आएगी। ये मेरी जिन्दगी की सच्ची घटना है।

मैं झांसी का रहने वाला हूँ। मेरे घर के पास में एक खूबसूरत लड़की रहती थी जिसका नाम शीला था। पहला मेरा उस पर कोई ध्यान नही जाता था। पर धीरे धीरे मैं उसे ध्यान से देखने लगा क्यूंकि उसकी जवानी दिन पर दिन खिलती जा रही थी। जब शीला १२ साल की थी तो फ्रॉक पहनती थी पर जब वो 18 साल की कच्ची कली हो गयी तो वो उसने फ्रॉक पहनना बंद कर दिया क्यूंकि उसमे उसकी गोरी गोरी टांगें दिखती थी। समय के साथ साथ उसकी छातियाँ भी भरने लगी और 34″ की हो गयी। उसकी लम्बाई, कद काठी सब कुछ बढ़ गया था। उसका सीना अब काफी विशाल हो गया था और अब वो शीला पहली वाली मासूम शीला नही रही थी। अब वो मस्त चोदने लायक छमिया बन चुकी थी। मेरा घर शीला के घर के ठीक सामने ही पड़ता था। वो रोज मेरे सामने रहती थी। सुबह उठकर जब वो अपने आँगन में झुक झुक कर झाड़ू मारना शुरु करती थी तो उसके दूध अब मुझे उसके सूट के अंदर दिख जाते थे।

उसका हर सूट जो उसकी माँ उसके लिए सिलवाती थी कुछ ही दिनों में मम्मो से टाईट हो जाता था। साफ़ था की जैसे जैसे दिन गुजर रहे थे शीला एक मस्त जवान चोदने लायक माल बनती जा रही थी। पूरे मोहल्ले में सिर्फ कुछ लोगो के पास ही लैपटॉप था। सब जानते थे की सब से जादा ब्लू [चुदाई] फिल्मे मेरा पास ही होती थी। उस समय मेरे पास 50 जी बी का मसाला [ब्लू फिल्म] हमेशा लैपटॉप पर रहता था। इसलिए मोहल्ले में सब लोग मुझसे ही ब्लू फिल्म मांगते रहते थे। एक दिन शीला मेरे पास ब्लू फिल्म मांगने चली आई।

यह कहानी भी पड़े  मेरी सहेली के बेटे ने परम सुख दिया

उसे देख के ही मेरा 9″ का मोटा लौड़ा खड़ा हो गया और मन हुआ की आज उसे कसके मैं चोद लूँ। धीरे धीरे शीला को ब्लू फिल्म देखने का चस्का लग गया। अब वो हर दूसरे तीसरे दिन मेरे पास ब्लू फिल्म मांगने आने लगी। फिर मैंने उसे एक दिन घर में पकड़ लिया और किस करने लगा। धीरे धीरे उसे भी अच्छा लग रहा था।

“शीला रोज ब्लू फिल्म ही देखेगी या कभी अपनी भी बनाएगी???” मैंने कहा

“चलो सुकेतु आज हम भी अपनी ब्लू फिल्म बनाते है!” शीला बोली

उस दिन किस्मत से मेरे घर में कोई नही था। घर के सब लोग बाहर किसी कार्यक्रम में गये हुए थे। हम दोनों बाथरूम में चले गये। धीरे धीरे मैंने और शीला ने अपने अपने कपड़े निकाल दिए। जब वो पूरी तरह से नंगी हुई तो मेरा तो दिमाग ही घूम गया था। क्या मस्त आइटम थी यार। बिलकुल सॉलिड बैनचो। मुझे तो वो बिलकुल मेगन फॉक्स लग रही थी वो ट्रांस्फोमर फिल्म की हीरोइन। मैं भी पूरी तरह से नंगा हो गया और मैंने शीला को पकड़ लिया और किस करने लगा। वो एक मस्त माल थी। उसे जैसे ही मैंने बाँहों में भर लिया मेरा लौड़ा तुरंत ही खड़ा हो गया और पानी बहने लगा। उसके बाद हम दोनों बाथरूम के शीले के सामने खड़े होकर चुम्मा लेने लगी। दोस्तों शीला मुझे हमेशा से अच्छी लगती थी, पर आज बाथरूम के आईने में वो कुछ जादा ही हॉट लग रही थी। उसके जिस्म की हर एक चीज बहुत हॉट और सेक्सी थी। उसका चेहरा तो मुझे हमेशा से ही पसंद था। शीला ने अपने काले लम्बे बाल भी खोल दिए और बिलकुल माल लग रही थी। उसके चूचे देख देख के तो मेरे मुंह में पानी आ रहा था। बस मैं उसके बूब्स को पी लेना चाहता था।

“सुकेतु कैसे दिख रही हूँ मैं????” शीला से हंसकर पूछा

यह कहानी भी पड़े  सेक्सी आंटी की गांड और चूत चोदी

“बिल्कुल माल!!” मैंने कहा

फिर मैंने दौड़कर अपना हैण्डीकैम कैमरा ले आया और रिकॉर्ड करने लगा। हम दोनों बाथरूम में गदर मचाने लगे। शीला मुस्करा रही थी क्यूंकि आज पहली बार वो मेरे और कैमरे के सामने नगी हुई थी।

“बेबी शुरू हो जाओ!” मैंने कहा

शीला मुस्काने लगी और अपने हाथों से अपने दूध दबाने लगी। मैं तो घायल हो रहा था। शिला का हाथ उसके दाए मम्मे पर था। वो उसे दबा रही थी और उपर करके मुझे शॉट दे रही थी।

“नाईस बेबी!! ग्रेट शॉट!!” मैंने अंगूठा उठाया।

शीला फिर से मुझे शॉट देने लगी। वो जोर जोर से अपने आमों को हाथ से दबाने लगी। ओह्ह गॉड इतनी खूबसूरत चूचियां मैंने आजतक नही देखी थी। गोल गोल बड़ी बड़ी और रसीली। मेरी तो आँखों में नई चमक आ रही थी उसे देखकर। जी कर रहा था की अभी मुंह में लेकर पीना शुरु कर दूँ। शीला अपनी दाई चूची को जल्दी जल्दी दबाने लगी। मैं कैमरा लेकर शूटिंग कर रहा था। दोस्तों शीला का जिस्म बहुत गदराया हुआ था। बस ये समझिये की अभी अभी लौंडिया जवान हुई थी और किसी ने उसे चोदा नही नही था। वो पूरी तरह से वर्जिन थी और मस्त माल थी। मैं हैण्डीकैम कैमरे को उपर नीचे करके उसके खूबसूरत जिस्म को रिकॉर्ड कर रहा था। आज हम दोनों अपनी ब्लू फिल्म खुद ही बना रहे थे। शीला अपने दाए बूब्स को हाथ में लेकर उठाने लगी और मुझे दिखाने लगी। भाई मेरा तो वो दिन ही खुशनुमा हो गया था। उफ्फ्फ्फ़ क्या खूबसूरत और रसीली चूचियां थी उसकी। क्या मस्त मस्त अनार जैसे निपल्स थे। मैंने अपनी भावनाओं पर काबू रखा और उसकी फिल्म बनाने लगा। फिर शीला भी सेक्सी महसूस करने लगी और अपनी बायीं चूची को जीभ से लगाकर चूसने और चाटने लगी।

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!