जवान बहन ने भाई को चुदाई के लिए पटाया

हेलो फ्रेंड्स, मी नामे इस प्रताप यादव. आंड तीस इस मी फर्स्ट स्टोरी ओं देसी कहानी वेबसाइट. उम्मेड करता हू मेरी ये जीवन की घटना आपको पसंद आएगी. वक़्त ज़ाया ना करते हुए मेरी दास्तान आपको सुनता हू.

ये बात है सर्दियों की. डिसेंबर चल रहा था. मेरी फॅमिली में 5 लोग है. मम्मी, पापा, मैं, मेरी छ्होटी बेहन सुहानी, और एक छ्होटा भाई अभिराज. मेरी आगे 20 है, और सुहानी की 19 है. इस घटना के केवल हम दोनो ही मैं किरदार है

मेरे शरीर की बनावट आत्लेटिक है. मुझे स्पोर्ट्स में दिलचस्पी है, और मैं रोज़ाना रात में बॅडमिंटन खेलने जाता हू अपने फ्रेंड्स के साथ. मेरी बेहन अभी 1स्ट्रीट एअर में है और एग्ज़ॅम्स की प्रेपरेशन कर रही है.

उसका फिगर ज़्यादा ठीक-ताक है. उसके बूब्स एक आम कॉलेज गर्ल जैसे है, और उसकी गांद काफ़ी बड़ी है, और वो काफ़ी फॅशनबल भी है. मेरा और सुहानी का सेपरेट पर्सनल रूम है, और छ्होटा भाई अभी भी मम्मी पापा के साथ सोता है. तो अब कहानी पर आते है.

एक दिन मैं बॅडमिंटन खेल कर आया था हमेशा की तरह. मैने अपनी पसीने से भारी त-शर्ट को वॉशिंग मशीन के उपर रखा, और बातरूम में नहाने गया. जब मैं बातरूम से आया नहा कर तो मैने देखा सुहानी मेरी त-शर्ट को हाथ में लेकर स्मेल कर रही थी.

मैने देखा और सोचा ये क्या अजीब हरकत कर रही थी. पर ज़्यादा ध्यान ना देते हुए मैं वाहा से निकल गया. फिर आ कर खाना खाया, और सोने चला गया. हफ़्ता भर बीट गया. ऐसे ही एक रात मैं अपने कमरे में था. रात के करीबन 12:30 हो रहे थे, की मुझे व्हातसपप पर एक मेसेज आता है. और वो मेरी बहें सुहानी थी. मैने व्हातसपप खोला.

सुहानी: हेलो भैया.

मे: हेलो, क्या हुआ इतनी रात को मेसेज कर रही है तू?

सुहानी: अर्रे एग्ज़ॅम्स की टेन्षन है. बहुत से चॅप्टर्स बाकी है.

मे: टेन्षन मत ले, आराम से हो जाएगा.

सुहानी: ह्म, कोशिश करूँगी. आप क्या कर रहे हो?

मे: बस बैठा हू. अब सोने जौगा थोड़ी देर में.

सुहानी: ओके, आप सो जाओ गुड नाइट.

मे: ओके गुड नाइट.

ऐसे कभी उसके मेसेजस नही आते थे, पर पता नही क्या हुआ था आज. खैर उसका अगले दिन फिर मेसेज आता है.

सुहानी: हेलो भाई.

मे: एस, क्या हुआ? फिर इतनी रात में मेसेज कर रही हो.

सुहानी: आपकी कोई गर्लफ्रेंड है?

मे: नही, पर तुम्हे इससे क्या लेना देना?

सुहानी: बस ऐसे ही पूच रही थी.

मुझे लगा कोई तो होगी मेरी भाभी.

मे: नही पगली, कोई नही है. और तू सोजा, रात बहुत हो रही है.

सुहानी: मेरे को नींद नही आ रही.

फिर हमारी काफ़ी बातें होने लगी रात में, और हम काफ़ी फ्रॅंक होने लगे. पर मुझे पता नही सुहानी के बिहेवियर में कुछ बदलाव दिख रहा था. वो अब अपनी प्रोफाइल बदल कर डालने लगी थी, जिसमे कभी उसकी क्लीवेज या कभी उसकी हाइ वेस्ट दिखा करती थी. और स्टेटस पर वो रोमॅंटिक किस्सिंग सीन वीडियोस भी डाला करती थी. खैर मैने फिर भी बहुत नज़र-अंदाज़ किया.

अब जन्वरी 1 की रात की बात है. मैं न्यू एअर पार्टी पर गया था अपनी गर्लफ्रेंड के साथ. मैने आपको बताया नही पर मेरी एक गर्लफ्रेंड है, जो की काफ़ी सीधे मिजाज़ की है, और उल्टी-सीधी चीज़ो से उसे मतलब नही रहता.

हमारे बीच हमेशा एक टॉपिक पर लड़ाइयाँ होती थी, और वो टॉपिक था सेक्स का. वो मुझे सेक्स नही करने दिया करती थी. क्यूंकी उसे दर्द होता था सेक्स के दौरान. क्यूंकी मेरा डिक 8 इंच लंबा है, और उसे सेक्स में कोई इंटेरेस्ट नही था.

लेकिन मुझे सेक्स करना बहुत पसंद था. वो महीनो में कभी एक बार करने देती थी. उस रात भी यही हुआ. मैने उसे सेक्स के लिए कमरे में चलने को कहा. पर उसने माना कर दिया. फिर हमारे बीच एक काफ़ी बड़ी आर्ग्युमेंट क्रियेट हो गयी, और मैने उससे कहा अब से हमारा ब्रेकप.

फिर उस रात में काफ़ी लाते घर आया, और उपर आ कर अपने कमरे में ज़ोर से गाते लगा कर लेट गया. उसके बाद मैं अपना फोन ओपन करके पॉर्न वीडियो देख रहा था. रात के करीब 1:30 बाज रहे थे, और फिर सुहानी का मेसेज आया.

सुहानी: हेलो, क्या हुआ?

मैने सीन करके इग्नोर कर दिया. लेकिन फिरसे उसका मेसेज आया-

सुहानी: प्लीज़ बात करो मुझसे.

मैने रिप्लाइ दिया-

मे: क्या है सुहानी, तुम्हे रोज़ बात करनी है. मेरा मूड खराब है. अभी कल बात करेंगे.

सुहानी: मैं आपका मूड सही कर दूँगी, पहले बताओ हुआ क्या?

मे: कुछ भी नही, तुम्हे समझ नही आएगा.

सुहानी: बताओ तो सही, तुम्हे मेरी कसम.

अब कसम दी थी तो माननी पड़ी मुझे.

मे: मेरा ब्रेकप हो गया.

सुहानी: आपकी तो गफ़ नही थी ना? फिर ब्रेकप कैसे?

मे: सॉरी तुमसे झूठ बोला (और साद वाला एमोजी भेजा मैने).

सुहानी: अछा कोई बात नही. ये बताओ क्यूँ हुआ?

मे: तुम्हे बताने लायक नही है ये बात. इट’स सम्तिंग पर्सनल.

सुहानी: अर्रे बताओ ना मुझे. मैं समझ सकती हू. ई’म ऑल्सो आन अडल्ट.

मे: बुत इट’स सम्तिंग सेक्षुयल सुहानी.

उसका 1 मिनिट तक मेसेज नही आया. उसके बाद-

सुहानी: इट’स ओके, तुम मुझे बता सकते हो क्या बात है.

मेरा लंड एक-दूं खड़ा था पॉर्न की वजह से, और मैं काफ़ी मूड में था. तो मैने उसे बता दिया.

मे: मैने अपनी गफ़ से ब्रेकप कर लिया, क्यूंकी उसे लगता था मेरा लंड बहुत बड़ा है, और उसे सेक्स में इंटेरेस्ट नही था.

अब उसका 5 मिनिट बाद मेसेज आया.

सुहानी: ओह, तो ये बात है. वैसे कितना बड़ा है?

मे: सुहानी ये क्या पूच रही हो तुम? शरम नही आ रही तुम्हे?

पर उसके इस क्वेस्चन ने मेरे लंड में खून का बहाव और तेज़ कर दिया था.

सुहानी: जब आपको लंड शब्द उसे करते समय शरम नही आई, तो अब बताने में क्या शरमाना मेरे प्यारे भैया?

मैने उसका ये मेसेज देख कर खुद पर गौर किया, और सोचा बता ही देना चाहिए.

मे: 8 इंच बड़ा है मेरा.

उसका 5 मिनिट तक फिर मेसेज नही आया सीन करने के बाद. आफ्टर 5 मिनिट्स-

सुहानी: क्या कह रहे हो? ये हो ही नही सकता. आप झूठ बोल रहे हो. ऐसा सिर्फ़ वीडियोस में होता है

मे: अब मेरे लंड का साइज़ मैने देखा है तो मुझे पता होगा ना. और मैं झूठ क्यू बोलूँगा?

सुहानी: क्या आप फोटो भेज सकते हो?

ये सुनने के बाद मेरे लंड में करेंट दौड़ गया. मेरा 8 इंच लंबा काला लंड एक-दूं टाइट हो चुका था.

मे: क्या कह रही हो, सच में?

सुहानी: ह्म.

मैने ज़्यादा सोचा नही, क्यूंकी मैं पहले से ही काफ़ी गरम था. फिर मैने उसे अपने सीधे लंड की फोटो भेज दी, और फोन बंद करके सोचने लगा की क्या रिप्लाइ देगी वो. उसका 10 मिनिट बाद मेसेज आता है.

सुहानी: सच मच बहुत बड़ा है भैया आपका लंड.

तभी मैं कुछ टाइप ही करने जेया रहा था, की छत पर उसने एक वीडियो भेजी, जिसे देख कर मेरे होश उडद गये. सुहानी ने अपने बूब्स की एक पिक्चर भेजी थी. उसके गोल-गोल बूब्स पर उसके ब्राउन हार्ड निपल्स देख कर मेरा लंड एक-दूं टाइट हो गया. और अब मैं अपना लंड ज़ोर-ज़ोर से हिलने लगा. मैने भी अबकी बार उसे अपना लंड हिलाते हुए एक वीडियो भेजी, जिस पर उसका रिप्लाइ आया-

सुहानी: म्‍मह अया सो हॉट भैया.

उसने अपनी निपल्स पर अपना थूक रगड़ते हुए एक वीडियो भेजी, जिसे देखा मैने और उससे कहा-

मे: सुहानी मुझे अपनी छूट दिखाओ

सुहानी: नही भैया.

मे: क्यूँ क्या हुआ?

सुहानी: मेरी छूट पर बाल है.

पर अब मेरे मूड पर हवस हावी थी, तो मैने कहा-

मे: मुझे लड़कियों की छूट पर बाल पसंद है.

सुहानी: नही भैया, मुझे शरम आती है.

मैं उसका ये रिप्लाइ देख कर अपने बिस्तर से केवल अंडरवेर पहन कर उठा, और सुहानी के रूम की तरफ जाने लगा. मैने उसका गाते खटखटाया. थोड़ी देर बाद उसने गाते के पास आ कर कहा-

सुहानी: कों है?

मे: मैं हू.

सुहानी ने गाते खोला. उसका फेस एक-दूं लाल था. वो केवल ब्रा और शॉर्ट्स में थी. मैं उसे देखते ही उस पर टूट पड़ा. मैने उसे किस करते-करते गाते लॉक किया अंदर से, और उसे बिस्तर पर ले गया. हम दोनो बिस्तर पर एक-दूसरे के होंठो को ऐसे चूस रहे थे, जैसे आज एक-दूसरे को खा जाएँगे.

बस गाइस अभी के लिए शायद इतना काफ़ी है. अगर नेक्स्ट पार्ट आपको जल्दी से जल्दी चाहिए, तो मुझे एमाइल करे

यह कहानी भी पड़े  सास लेटी दामाद जी के निचे

error: Content is protected !!