हॉट सीमा Xxx की चूदाई कहानी 7

हॉट सीमा Xxx कहानी 7
मेरी पिछली कहानी आई थी
हॉट सीमा Xxx कहानी 6
हॉट सीमा सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक दिन मुझे 6 लड़कों से एक साथ चुदाई करवाते देखा मेरे पति ने . तो उस ने मेरे बारे में सोचा कि मेरी अन्तर्वासना कभी शांत नहीं होगी.
हैलो फ्रेंड्स, मैं आपकी अपनी सीमा की चुदाई की कहानी में फिर से एक बार मजा देने आ गई हूँ.
मेरी पिछली कहानी में अपने पड़ा कि
मेरी चूत गांड की चुदाई हवालात हुई ये अब तक आपने पढ़ा था, मे अति चुदक्कड़ बन चुकी थी
मेरी चुदाई पुलिस ऑफिस में बहुत सारे मर्द कर चुके थे जिस में मुझे बहुत मजा आया .
में घर के ड्राइंग रूम बैट कर टीवी पर मूवी देख रही थी कि दरवाजे की घंटी बजी मेने दरवाजा खोला तो तीन आदमी खड़े थे.
मेने उन से पूछ की क्या काम है आप तीनो को मुझसे
उनमें से एक आदमी ने फोन से किसी को कॉल किया और फोन को मेरी ओर कर दिया
में उस के हाथ से फोन हाथ में लेकर कान से लगाया ही था.
कि सामने से फोन पर आवाज़ आई, इन तीन आदमीयों को मेने भेजा है खास खियाल रखना इनका.
इन तीनो को कोई प्राब्लम नही होनी चाहिए जो करना है करने दो
में फोन पर आवाज़ सुनकर में समझ गई कि सलमान जी फोन पर है, मैनें हां कहा .
तो सलमान जी ने कॉल काट दिया.
वो तीनो अंदर आ गए और दरवाजा लोक कर दिया,
मेने सोचा की अनिल को सब बता दू फिर सोचा की बताकर भी क्या होगा.
अब वो तीनो शराब पीने लगे और मुझे देख रहे थे
में उन की आंखो में देख सकती थी के वो क्या सोच रहे है मेरे बारे में.
तीनो नंगे होने लगे ये देखकर मेने भी ऐसा ही किया.
उन्होंने मुझे टेबल पर उल्टा लिटाया एक आदमी ने अपनी पेंट की जेम से एक तेल की शीशी निकाली .
उस आदमी ने तेल हाथ में लिया और मेरे चूतड़ों की मालिश करने लगा.
फिर दूसरे और तीसरे आदमी ने भी मेरे चूतड़ों की मालिश कि उन सब को अच्छे से मालिश करना आता था.
उस तेल में कुछ न कुछ तो जादुई था ऐसा लग रहा था कि मेरे चूतड अभी स्वर्ग में है मुझे आनंद महसूस हो रहा था कि मेरे दोनो चूतड़ों एक एक बहुत तेज चाटा पड़ा.
मेरे मुंह से चीख निकल गई में बोली क्या कर रहे हो तो उन में से एक आदमी बोला जब भी हम तीनो साथ में किसी रण्डी को चोदते है तो सबसे पहले उस के चूतड चोदते है
में कुछ समझ पाती इस से पहले उन तीनो ने मेरे हाथ पैरो को बन्द दिया और मेरी अंडरवियर मेरे मुंह में गु़सा दी
मेरे चूतड़ों पर चाटे मरने लगे मुझे ऐसा लग रहा था जैसे कोई तबला-कलाकार तबला बजा रहा हो.
दस मिनिट करने के बाद उन सब ने मेरे हाथ खोल दिए
और फिर वो मुझे अपने बीच में खड़ा किया, मेरी टांगे फैला दी एक आदमी घुटनो पर बैट कर मेरी चूत , दूसरा में गांड , तीसरा मेरे मम्मो को चूसने लगा.
अभी कुछ ही मिनिट हुए थे कि दरवाजे की घंटी फिर से बजी तो एक आदमी बोला की बजने तो वो खुद ही वापिस चला जाएगा.
अब आगे सीमा हॉट सेक्स कहानी: अनिल के नजरिए से
किसी अनहोनी की आशंका के साथ मैं तुरंत ऑफिस से निकला और घर की तरफ भागा.
कुछ देर के बाद घर पहुंचा और दरवाजे की घंटी बजाई लेकिन दस मिनट तक घंटी बजने के बाद भी दरवाजा नहीं खुला.
मेरे पास भी एक चाभी रहती थी, मुझे चाभी ख्याल आया.
उससे मैंने दरवाजा खोला और अन्दर गया.
जैसे ही ड्राइंग रूम में पहुंचा तो देखा सीमा एकदम नंगी सोफा टेबल पर पड़ी हुई है. एक आदमी उसकी चूत चोद रहा था, दूसरा आदमी उसके दोनों हाथों को पकड़ कर दबा कर रखा था और उसके निप्पल्स और मम्मों से मज़े ले रहा था.
सीमा का सर गले के पास से टेबल से थोड़ा नीचे लटका हुआ था, सो तीसरा आदमी उसके मुँह में अपना लंड डाल कर उसका मुँह चोद रहा था.
मुझे देख कर वो सब थोड़ा सकपकाए और सीमा पर पकड़ ढीली की.
सीमा ने तुरंत लंड अपने मुँह से निकाला और मुझे देखा.
मैंने सवालिया निगाहों से उसे देखा, तो उसने अपनी सांस सँभालते हुए कहा- ये तीनों सलमान जी के ख़ास आदमी हैं. इसलिए मुझे चोदने के लिए उन्होंने इन सबको घर भेजा हुआ है. आपको बताना भूल गई थी और बताती भी तो कुछ बदल नहीं जाता, चुदना तो पड़ता ही.
एक तरीके से पहली बार सीमा ने मुझे ताना मारा था और सही भी था, मेरी कायरता के कारण ये स्थिति बद से बदतर हो गई थी.
मैंने तुरन्त सलमान जी को कॉल करके थोड़ा भड़क कर पूछा.
वो भी भड़क कर बोले- सुन बे भड़वे, तेरी रंडी को चुदवाने के लिए मुझे तेरी रजामंदी नहीं चाहिए. मेरे ख़ास आदमी हैं, जो भेज दिए. इतना क्या हाय तौबा मचा रहा है?
इतना बोल कर उन्होंने फ़ोन काट दिया. वो लोग अब भी मुझे देख रहे थे और रुके हुए थे.
मैंने कुछ नहीं कहा, तो जिसका लंड सीमा के मुँह में था, उसने दोबारा अपना लंड सीमा के मुँह में डाल दिया और चोदने लगा. जो उसकी चूत चोद रहा था, उसने भी लंड पेलना चालू कर दिया.
मैं ख़ामोशी से बेडरूमआ गया और कुछ काम की फाइल को खोलकर काम करने लगा, रूम के अंदर सीमा और उन तीनो की आवाज साफ सुनाई दे रही थी, वो सीमा को गंदी गालियां देते तो वो हस्ती.
जब वो सीमा के बारे में गंदी बाते करती तो सीमा भी उन का पूरा साथ देती,अब एक घंटा टाइम मुझे हो चुका .
फिर में रूम से बाहर गया तो देखा कि सीमा कुतिया की तरह टेबल पर है और दो लोग उसका मुँह और गांड मार रहे.
मैं बेडरूम में जाकर लेट गया और तीस मिनट बाद आकर देखा कि एक सोफे पर था, पर दो मर्द सीमा को खड़ा करके उसकी चूत और गांड एक साथ चोद रहे थे.
गांड मर रहे आदमी ने सीमा को छोड़ा , वो अभी झड़ा नही था इतने में सोफे पर बैठ आदमी हुटा और सीमा की गांड मारने लगा .
एक घंटे में उस की चूदाई देखता रहा . जब तीनों साथ में झड़ गए और अपने कपड़े पहन कर निकल गए, तब मैं भी शांत हो गया.
सीमा बाथरूम गई नहाने लगी और सीमा लगातार डाई घंटे से चुद रही थी, मेने बाहर से खाने का ऑडर कर दिया, हम ने खाना खाया.
सीमा बेडरूम में आकर सो गई. उसने ना मुझसे कुछ कहा, ना कोई बात की.
सीमा – सुबह जब सीमा सो कर उठी तो सोच रही थी कि मजा तो आया पर मर्द कम पड़ गए , काश और मर्द होते.
तो में उन सब से चुदवती , कल मेरी कम चूदाई हुई थी काश कल सलमान जी और मर्दों को भेजते.
वैसे उन तीनो मर्दों ने मुझे अच्छे से चोदा था.
अगर कल रात को तीनो मर्द वापिस नही जाते और हमारे घर रुक जाते तो में कुछ न कुछ करके उन तीनो से चुदवती.
में घर का काम कर रही थी अनिल भी ऑफिस जा चुके थे।
अनिल – ऑफिस से कॉल करता तो बोलती- ठीक हूँ, किसी से चुद नहीं रही हूँ.
कभी फ़ोन कट कर देती, कभी बोलती बार बार कॉल करके नज़र रखते क्या … या कहती कि कॉल करके परेशान मत किया करो.
मैंने भी कॉल करना बंद कर दिया.
लगभग एक हफ्ते बाद काम के चलते में सुबह 5 बजे घर से निकल गया मैं एक जरूरी फाइल लेने घर आया.
उस समय सुबह के 10 बज रहे थे.
मैं कार खड़ी करके उतरा और गेट तक पहुंचा.
गेट बंद था तो सोचा कि शायद सीमा सो रही होगी.
मुझे उसको उठाना मुझे ठीक नहीं लगा तो मैंने अपने चाभी से दरवाजा खोल लिया.
मैं बरामदे से अन्दर ड्राइंग रूम में जा रहा था कि मुझे सीमा की आवाज सुनाई दी.
‘बाबू को मम्मी का दुधु पीना है? नहीं आ रहा मुँह में? पापा को बोलो जोर से चोदे मम्मी को … तब तो दुधु आएगा.’
मैंने दरवाजे पर लगे परदे को जरा सा हटा कर अन्दर झांका. अन्दर सोफा टेबल पर सीमा नंगी पड़ी थी. दो लड़के टेबल के दोनों तरफ बैठ कर उसके निप्पल्स को चूस रहे थे.
उसके नीचे की तरफ एक और लड़का खड़ा था जो सीमा की जांघों को पकड़ कर उसकी चूत चाट रहा था.
एक और लड़का सीमा मुंह के पास खड़ा होकर लंड चुसवा रहा था.
उसके सर के पास की तरफ दो और लड़के खड़े थे, जिसका लंड थूक से गीला था.
इसका ये मतलब था कि थोड़ी देर पहले सीमा उसका लंड चूस रही थी.
ये सब की सब कॉलेज बॉय थे.
मुझे सलमान जी पर बड़ा गुस्सा आ रहा था इसलिए मैं दबे पांव बाहर आया और तुरंत सलमान जी को कॉल किया.
उन्होंने दो बार तो कॉल काट दिया.
पर तीसरी बार झल्ला कर उठाया, उन्होंने कड़क कर पूछा- क्या हुआ भड़वे?
मैंने आवाज में नर्मी लाते हुए कहा- आप मुझसे इतना क्यों नाराज हैं? सीमा को आप तीनों ने चोद लिया.
एक बार का आवेश सोच कर मैंने आप सबके कहने पर उसे अहसास करवाया कि मेरी मर्जी शामिल थी.
उसके बाद आप लोगों ने रोज का रूटीन बना लिया. जब जैसे मर्जी पड़ी, उसे चोदते रहे.
कभी मेरे घर पर कभी कहीं और. मैंने उस पर भी कोई प्रतिरोध नहीं किया.
लेकिन आप फिर भी इतना गुस्सा हैं कि पता नहीं मुझसे क्या गलती हो गई?
ये बोल कर मैं चुप हो गया.
तो सलमान जी बोले- सॉरी अनिल ! तुम ठीक बोल रहे हो, हम लोग कुछ ज्यादा ही ज्यादती कर रहे हैं.
चलो जो हो गया सो हो गया, आइंदा से ऐसा कुछ नहीं होगा. आज के बाद हम तीनो में से कोई भी सीमा को और तुम्हें परेशान नहीं करेगा.
मैं बाकी लोगों को भी बोल दूंगा, वैसे भी सीमा में मेरी दिलचस्पी खत्म हो गई है. अलबाज जी का मन है थोड़ा … लेकिन मैं उसको कॉल कर दूंगा.
उसके बाद उसकी गांड में इतना दम नहीं होगा कि वो मेरी बात काटे. तुम बेफिक्र रहो.
मैंने ताना मार कर कहा- और ये जो गाहे बगाहे सीमा को चोदने के लिए लोग भेज देते हो उसका क्या?
उन्होंने कहा- साले हरामी, एक बार ही तो भेजा था बस!
मुझे झटका लगा, मैंने सोचा की – उनकी बात से तो लग रहा था कि जो 6 लड़के अन्दर सीमा को चोद रहे थे, उनको यदि सलमान जी ने नहीं भेजा है, तो फिर किसने भेजा था.
मैंने उन्हें कुछ नही बताया और धन्यवाद बोल कर फ़ोन काट दिया और वापस अन्दर आ गया.
इस बार मैं धड़ल्ले से अन्दर घुस गया.
सीमा की चूत में एक लंड, मुँह में दूसरा, हाथ में तीसरा और दो लड़के उसके निप्पल्स को चूस रहे थे.
जिसका लंड सीमा के मुँह में था उसने अपना लंड बाहर निकाला.
मैंने सीमा को घूरा, तो उसने कहा- ये लोग सलमान जी के ख़ास लोग हैं, उन्होंने भेजा है.
मेरी तो सलमान जी से बात हो ही चुकी थी, पर ये बात सीमा को पता नहीं थी.
अगर सलमान जी से मेरी बात नहीं हुई रहती, तो सीमा की बात मान भी लेता.
मुझे भी थोड़ी देर पहले यही लगा था.
लेकिन सलमान जी से बात करने के पश्चात ये तो तय था कि सीमा साफ़ झूठ बोल रही थी.
मैंने उससे कुछ नहीं कहा और अन्दर जाकर फाइल निकाल कर वापस आया.
वो लोग वैसे ही जड़ रुके हुए थे.
मैं बरामदे में गया और जोर से दरवाजा बंद कर दिया लेकिन मैं अन्दर ही रुक गया.
मैंने परदे के पास कान लगा दिया कि इनकी बात सुन सकूं.
एक लड़का तुरंत बोला- मुझे तो सलमान जी ने भेजा है, लेकिन बाकी के पांच लड़कों को मुझे कहकर से तुम ने खुद अपनी मर्जी से बुलाया है.
फिर आपने उस आदमी से झूठ क्यों कहा? कौन था वो आदमी?
सीमा ने तुरंत कहा- भड़वा है साला भोसड़ी वाला! नाम भर पर पति है. उसके कारण मुझे हर किसी मादरचोद से चुदवाना पड़ता है. सब साले अपनी मर्जी से चोदते हैं. जब चुदवाना है ही तो मैंने सोचा की अपनी मर्जी से ना चुदवाऊं. मैं बोलूं तो मेरी चूत चुदे और मैं चाहूँ तो गांड चुदे. इसलिए जब मन
दूसरे ने पूछा- आप अब तक अपने मन से कितने बार चुदवा चुकी हो?
सीमा हंस कर बोली- अनेकों मर्दों से चुदी हु चूदाई में मजा भी बहुत आया, पर किसी ने मेरी मर्जी से नही चोदा मुझे सब ने अपनी मर्जी से चोदा , पहली बार मुझे तुम 6 लौंडे मिले. अब तुम सब मेरा इंटरव्यू लेना बंद करो और चोदना चालू करो.
अनिल – उसके बाद अन्दर से आवाज आना बंद हो गई और मैं वहां से निकल गया.
सीमा – में उस सब को बेडरूम में ले आई, और बोली सब कुछ मेरी मर्जी से होगा में जैसे कहू वैसे चूदाई होगी.
चूदाई का खेल खेलेंगे इस में जो भी झड़ गया वो खेल से बाहर हो जाए मुझे भी तो पता चले तुम में से को जड़ा ताकत बार है.
ये सुन कर मैंने उन सब की आखों में एक चमक देखी , इस का मतलब में उस टाइम समझी नहीं थी।
राउंड 1 चूत का
सीमा – में बोली सब को 3 चांस मिलेंगे मेरी चुत चोदने के, सब को 5 मिनिट, पहले लड़का चोदेगा, मोबाइल में वेल बजेगी तो पहला हट जायेगा और दूसरा चोदने लगेगा, फिर वेल बजने के बाद दूसरा हट जायेगा और तीसरा चोदने लगेगा, इसी तरह मुझे सब चोदोगे, पहले चांस के बाद में पोजीसन बदलुगी और फिर से इसी क्रम में मेरी चूदाई करना, तीसरे चांस से पहले में फिर से पोजिशन बदलूगी और तुम सब इस क्रम में मुझे चोदना, और तुम सब में से कोई झड़ गया तो वो इस चूदाई से पूरी तरह बाहर कर दिया जाएगा, इस बार पर सब ने हां कहा l
अब में गोड़ी बन गई और मेरी चूदाई शुरू हो गई,पहले लड़के ने किया , फिर दूसरे ने , फिर तीसरे ने, बारी बारी से सब ने किया।
अब दूसरा चांस में – बेड पर टांगे फैलाकर लेट गई, सब ने बारी बारी से मुझे चोदा।
तीसरा चांस में – अब बेड के किनारे हो गई पहले लड़का मुझे बेड के किनारे खड़ा होकर मुझे चोदने लग,बारी बारी से सब ने किया।
अभी तक कोई भी लड़का झड़ा नहीं था।
मेंने 15 मिनिट रेस्ट किया।
राउंड 2 गांड का
सीमा – सब कुछ पहले की ही तरह करना बस इस बार चूत की जगा गांड मरना मेरी।सब ने ऐसा ही किया ।
अभी भी कोई लड़का झड़ा नही था, तो में समझ गई कि जब मैंने बोला था कि जो झड़ जाएगा वो बाहर हो जायेगा तब इस सब की आंखों में चमक इस लिए थी कि इस सब ने सेक्स की गोलियां खा रखी है, पर मैने इन सब की परवा नहीं की मुझे तो चूदाई में मजा आ रहा था।
सब ने फिर से 15 मिनिट का रेस्ट किया।
राउंड 3 चूत और गांड एक साथ
सीमा – सब लड़के दो दो के जोड़े बना लो, मेरी बेड पर सैंडविच चूदाई करना, इस में 4 चांस होगे ,पहले चांस में पहला लड़का मेरी चूत और दूसरा मेरी गांड मरेगा, उन के बाद तीसरा मेरी चूत और चौथा मेरी गांड मरेगा, फिर पांचवा मेरी चूत और छटवा मेरी गांड मरेगा। दूसरा चांस में पहला लड़का मेरी गांड और दूसरा मेरी चूत मरेगा, उन के बाद तीसरा मेरी गांड और चौथा मेरी चूत मरेगा, फिर पांचवा मेरी गांड और छटवा मेरी चूत मरेगा। अब तीसरा चांस सेम पहले चांस की तरह करेगे, और चौथा चांस सेम दूसरे चांस की तरह करेगे।
मेरी चूदाई शुरू हो गई, जब चूदाई खत्म हुई तो सब थोड़े थके लग रहे थे। पर झड़ा कोई नही था।
सब ने फिर से 15 मिनिट का रेस्ट किया।
राउंड 4 खड़े हो कर
सीमा – सब लड़के खड़े होकर, मुझे गोद में लेकर मेरी सैंडविच चूदाई करना, सेम तीसरे राउंड की तरह।
सब मुझे चोदने लगे, चौथा राउंड खत्म होते ही सब लड़के हाफ रहें थे, मैंने तुरन्त पांचवा राउंड शुरू कर दिया
राउंड 5 मुंह का
अब मेंने सब के लांडो को मुंह से चूस चूस कर झड़ा दिया और बोली में जीत गई और फिर सब लड़कों ने अपने अपने कपड़े पहन कर घर से चले गए।
अनिल – एक साइड प्रोजेक्ट का काम कहा तक हो चुका है ये देख कर में घर वापिस आ रहा था.
मेने घर के पास की चाय की दुकान पर कार रुकी और चाय पीने लगा, में सोच रहा था कि 5 लड़कों को तो सीमा के कहने पर एक लड़के ने बुलाया था, और वो लड़का कहा रहा था कि उसे सलमान जी ने भेजा है, पर सलमान जी तो माना कर रहे थे कि उन ने किसी को नही भेजा है.
मेरी नजर उन्ही 6 लड़कों पर पड़ी वो मेरे घर की ओर से निकल कर बस स्टैंड की तरफ चल जा रहे थे.
में घर गया तो सीमा नंगी सोफे पर सौ रही थी, वो 7 घंटे से उन के साथ थी, मेने उस की पूरी बॉडी को साफ किए और उसे बेड पर सुला दिया
आप मेरे साथ बने रहिए और इस हॉट सीमा हार्ड सेक्स कहानी पर किसी भी प्रकार की राय देने के लिए आप मेल पर मुझसे संपर्क कर सकते हैं.

[email protected]

यह कहानी भी पड़े  हॉट सीमा Xxx की चूदाई कहानी 9


error: Content is protected !!