हॉट मामी और कॉकरोच

एक बार की बात है, आइ वेंट टू देल्ही टू माइ मामाज हाउस, फॉर ए शॉर्ट ट्रिप ऑफ 4 डेज़. माइ मामी ईज़ आ ब्यूटिफुल लेडी हॅविंग अटरॅक्टिव फिगर विद बिग बूब्स आंड बिग बूट्स. वो जब चलती थी उसकी चूतर के गोले जब उपर नीचे होते थे तो बहुत ही अट्टरक्त करते थे. मामी की गांद इतनी मस्त थी कि उसे एक बार टच कर दबाने का दिल करता था वो सारी भी ऐसे पहनती है की पीछे से उनकी कमर सॉफ दिखती है उनके बड़े बड़े बूब्स को में हमेशा ही देखा करता, मैं उनकी तरफ बड़ा ही आकर्षित था.

मैं जब पहुँचा अगले राज ही मामा को कोई बिज़्नेस ट्रिप से दो दिन के लिए बाहर जाना पड़ा, वो मामी को बोले इसका ठीक से ख्याल रखना, बहुत दिन बाद तो आया है. मामी बोली आपको इसके लिए बोलना पड़ेगा क्या, ये मेरा भी तो भांजा है.मामा मेरे को भी बोले कोई संकोच मत करना, अपना ही घर समझ के रहना. मैं जल्दी ही आ जाउन्गा. घर मे उनके और कोई नही था. उनके कोई संतान नही थी. मामी बोली बेटे तुम मेरे रूम मे ही सो जाना, अकेले कहाँ सोएगा. मुझे बहुत अच्छा लगा. मेरी मामी कॉकरोच से बहुत डरती थी, ये मुझे रात को पता चला जब उनके बेड पर कॉकरोच चल रहा था तो वो उसे देख कर इधर उधर भाग रही थी, और वो अचानक उन पर चढ़ गया तो बहुत उपर नीचे हो रही थी बड़ी उच्छल कूद मचाई इधर उधर भागी तो मैने कॉकरोच के उपर एक कपड़ा डालकर उसे पकड़ कर रूम से बाहर फेका तो उसकी जान मे जान आई.

वो बोली मुझे बहुत डर लगता है, आज तुम थे नही तो पता नही क्या होता. मैं बोला मामी जब तक मैं यहा हू तो तुमको ज़रा भी डरने की ज़रूरत नही है और तो मैं भी तुम्हारे पास ही तो सो रहा हूँ. मैं मन ही मन मामी की तरफ सेक्षुयली अट्टरकटेड तो था ही और मुझे एक अच्छा बहाना मिल गया. रात को अपने देर तक टीवी पर मूवी देखी और उसमे अच्छे सेक्सी सीन थे, मैने एक दो बार मज़ाक मे मामी को फ्लर्ट करते हुए कहा भी तुम भी तो कम सेक्सी नही हो, और हमारी मामी भी सुंदरता मे किसी से कम नही है. और दोनो ने हंसते बोलते एंजाय किया और फिर सो गया. रात को मैं जान भुज कर मामी के करीब हो गया और बीच मे उनकी छाती पर हाथ रख देता था,

यह कहानी भी पड़े  Bua Ki Beti Ki Choot Ki Pyas

और फिर मैं सो गया. अगले दिन मैने सुबह उनके स्टोर्स के समान मे कॉकरोच देखे, मुझे तुरंत आइडिया आया और मैने एक बॉटल मे 3 कॉकरोच बंद कर लिए, बॉटल के ढक्कन मे होल कर दिया था ताकि वो मरे नहीं. और रात को मामी के साथ सेक्स के सपने देखने लगा. फिर दिन मे मैं मामी के साथ मार्केट गया कुच्छ शॉपिंग की ओर घूमे फिरे. डिन्नर के बाद मैने टीवी चलाया टीवी पर हवस मूवी आ रही थी जिसमे जॉन अब्राहम ओर बिपाशा के बड़े ही हॉट उत्तेजक सीन्स थे. मामी बोली आजकल फ़िल्मो मे क्या क्या दिखा देते है. तभी मैने कहा आजकल तो फ़िल्मो मे ब्लू फिल्म से कम सेक्सी सीन होते ही नही, सब कुच्छ तो दिखा देते है. मामी बोली हाँ यह तो है आजकल बच्चे भी शादी से पहले सब जान जाते है.

और इस तरह की बाते होती रही सीन देख कर मैं बहुत ही एग्ज़ाइट हो रहा था, मेरा लंड पैंट मे खड़ा था मैने पुछा मामी अपने कभी अडल्ट मूवी या ब्लू फिल्म देखी है क्या बोली हाँ केबल वाला कभी कभी दिखा देता था. आजकल नही दिखाता है. और हम मूवी देखते रहे. रात को मूवी के बाद मामी ने मुझे मिल्क रोज़ पिलाया और बोली मैं सोने जा रही हूँ, तुमको भी नींद आए तो सो जाना. मामी के जाने कुच्छ देर बाद मैने भी कपड़े चेंज किए और मैने भी लूँगी पहन ली. मैने स्टोर्स से कॉकरोच की बॉटल निकाली और बाहर रख ली. जब मुझे लगा कि मामी सो गयी है तो मैं उस बॉटल के साथ उसके बेडरूम मे चला गया और बॉटल को पलंग के नीचे रख दिया. रूम का नाइट बल्ब जल रहा था,

यह कहानी भी पड़े  Chudai ke Wo Sat Din Fufa Ji Ke Sath

मामी सो गयी थी. मैं भी उनकी बगल मे पिच्छले रोज की तरह सो गया और फिर मामी से सट कर लेट गया और उनके उपर हाथ भी रख दिया, आज तो मेरे दिल मे कुच्छ और ही था. मैने पलंग के नीचे से बॉटल निकाली और मामी के पैरों के पास लेजा कर थोड़ा साड़ी पेटिकोट के अंदर बॉटल के मूहको किया और ढक्कन खोल दिया, फॅट से तीनो कॉकरोच बॉटल से बाहर निकले और मामी के पेटिकोट के अंदर घुस गये, और मैने धीरे से बॉटल पलंग के नीचे सरका दी, जैसे कॉकरोच उनकी टाँगो पर चढ़े और उपर जाँघो तक पहुँचे तो वो ज़ोर से चिल्लाई कौन है और झटके के साथ खड़ी हो गयी, मैने भी उनकी आवाज़ सुनकर उठने का नाटक किया और बोला क्या हुआ क्या हुआ मामी क्यो चिल्ला रही हो, वो बोली क्या घुस गया है मालूम नही.

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2 3