फॉरिन से आई सेक्सी लेडी की तबाद-तोड़ चुदाई की कहानी

हेलो दोस्तों, कैसे हो सब? मैं कॉल बॉय रोहित आज एक और न्यू रियल स्टोरी लेके आया हू. इस कहानी में मैने एक फॉरिनर लेडी को छोड़ा है. वो एक हाइ रिच लेडी थी. तो दोस्तों मैं ज़्यादा टाइम खराब ना करते हुए, सीधा स्टोरी पर आता हू.

उसने मुझे मैल किया था, और बताया की मेरी मैल ईद उसकी इंडियन फ्रेंड ने दी थी. वो इंडियन फ्रेंड भी मुझसे चुड चुकी थी. तो उसने ईद दे दी, और इंडियन कॉल बॉय के साथ एंजाय करने को कहा था उसे.

उस फॉरिनर लेडी का नामे अन्ना (नामे चेंज) था. उसकी आगे 28 थी. वो ऑस्ट्रेलिया की रहने वाली थी. उसने मुझे सेक्यूर सर्विस देने के लिए कहा था. उसने सब बातें इंग्लीश में की थी. लेकिन मैं आपको हिन्दी में बता रहा हू.

उसने मुझसे 5 से 10 दिन तक खूब बातें की, और मैने उसे ट्रस्ट भी दिलाया, की उसे मेरे साथ सेक्यूर फील होगा. उसने मुझे कहा-

अन्ना: मैने आपकी स्टोरीस इंग्लीश वर्षन में पढ़ी है. आप बहुत सेक्सी हो, और मुझे भी ऐसा हार्ड और लविंग सेक्स चाहिए.

फिर उसने बताया की वो 5 दिन के तौर पर इंडिया आ रही थी. और मुझे उसके साथ रहना होगा. मैने उसे एस बोल दिया, और आने को बोल दिया. उसने मुझसे मेरा नंबर ले लिया. फिर 5 दिन बाद वो इंडिया आ गयी, और उसने मुझे देहली से कॉल किया.

उसने मुझे बताया: मैं होटेल आ गयी हू. आप भी आ जाओ. मैने लोकेशन ली, और उसके होटेल पहुँच गया.

मैं अब आपको अन्ना के बारे में बता देता हू. उसका फिगर 32-30-34 था. वो रूम में थी. तो मेरे सामने वो ब्लू जीन्स और ब्लॅक त-शर्ट में थी. उसने मुझे हग किया. मैने भी उसे हग करके एक लंबा सा स्मूच किया. उसका बदन बहुत भरा हुआ था.

मैने एक हाथ उसकी सेक्सी गांद पर रखा, और ज़ोर से दबा दिया. उसकी आ निकल गयी. अन्ना के बाल हल्के ब्लॅक ब्राउन थे. बहुत ही खूबसूरत लेडी थी.

अब हम बेड पर बैठे, और उसने कॉफी ऑर्डर की. 5 मिनिट में हमने कॉफी ख़तम की. वो बातरूम जाने लगी. मैं वही रूम में था. 10 मिनिट बाद वो बातरूम से आई, तो मैं उसे देखता रहा.

उसने इंडियन सेक्सी निघट्य पहनी हुई थी. पर्पल कलर की सेक्सी निघट्य में बहुत ही ग़ज़ब लग रही थी. मैने उससे कहा-

मैं: वाउ! बेबी सो हॉट.

वो स्माइल देने लगी, और पास आके बैठ गयी. अन्ना का बदन गीला था, और बाल भी.

वो बोली: रोहित, मैने आपके बारे में अपनी फ्रेंड से बहुत सुना है. आप बहुत एक्सपीरियेन्स्ड हो, और आप किसी भी लेडी को आचे से ऑर्गॅज़म दिला देते हो.

मैं: मी बेबी डॉल. मैं ये सब करके बतौँगा.

फिर मैने उसके गीले बालों को पकड़ा, और उसका सिर ज़ोर से पकड़ा, जिससे उससे दर्द होने लगा. मैने उसका सेक्सी लीप अपने लिप्स से चिपका दिया, और किस्सिंग करने लगा. वो भी मेरा साथ देने लगी. मैं उसकी निघट्य के उपर से ही, उसके बड़े सॉफ्ट बूब्स दबाने लगा. वो गरम होने लगी. वो भी मुझे अग्ग्रासीवे किस करने लगी. हम दोनो किस करते हुए बेड पर लाते गये. कभी मैं उसके उपर, तो कभी वो मेरे उपर आ जाती.

हम दोनो एक-दूसरे को किस करने और चाटने में खो गये. अन्ना ने मेरी शर्ट निकाल दी, और मेरी चेस्ट को चाटने लगी, और बोली-

अन्ना: उहह बेबी, आज मुझे हार्ड सेक्स चाहिए. मुझे आचे से फक करना.

अब मैने उसकी निघट्य फाड़ के फेंक दी. वो मेरे इस रूप को देख कर सर्प्राइज़ हुई, और खुश भी थी. वो मेरे सामने अब ब्रा पनटी में थी, और मैं उपर से न्यूड था. अन्ना मेरे उपर आके मुझे हार्ड किस करने लगी. उसने मेरा लीप काट लिया, और हमारी सिसकियाँ रूम में गूँज गयी.

अन्ना: उहह आह एस ऑश गोद. रोहित योउ अरे सो हॉट. बेबी प्लीज़ लोवे मे हार्ड.

मैं: एस बेबी. छातो जितना चाटना है. मज़ा आ रहा है.

उसने मेरे निपल को मूह में लिया, और चूसने लगी. मेरे पेट को चाटने लगी. मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था. अब मैने अन्ना को अपने नीचे लिया, और उसके बूब्स ब्रा के उपर से चूसने लगा. और दूसरा ज़ोर से दबाने लगा. जिससे उसकी ज़ोर की सिसकी निकल गयी.

अन्ना: आह उहह रोहित. योउ अरे सो हार्ड बॉय. प्लीज़ स्लो सक मे.

10 मिनिट बूब्स चूसने के बाद, मैने उसकी ब्रा निकाल फेंकी. और फिरसे 20 मिनिट बूब्स खूब चूज़. उसका ब्राउन निपल रेड कर दिया. उसकी आँखों में देखा तो हवस नज़र आ रही थी. मैं अब उसकी नेवेल पर गया, और अन्ना की मुलायम पेट को चाटने चूमने लगा. वो मदहोश हो गयी और बोली-

अन्ना: ऑश गोद एस एस रोहित बेबी.

मैने अपना एक हाथ उसकी पनटी में डाल दिया. छूट उसकी मुलायम और क्लीन शेव्ड थी. छूट ने अपना पानी पहले ही निकाल दिया था, जिससे पनटी गीली हो गयी. मैने उसकी पनटी का धागा खोल दिया. अन्ना अब मेरे सामने न्यूड थी. मैं उसकी छूट पर गया, और उसकी टांगे फैला कर, छूट को चाटने लगा. वो बेड पर मचल रही थी. वो मेरा सिर छूट में दबाने लगी, और सिसकियाँ ले रही थी.

अन्ना: एस, ऑश बेबी. बहुत मज़ा आ रहा है. प्लीज़ डॉन’त स्टॉप ओक. सक मी पुसी फास्ट.

मैं: मज़ा आ रहा है ना बेबी?

अन्ना: एस बेबी. रोहित योउ अरे सच आ सेक्सी बॉय. ई आम कमिंग बेबी.

फिर उसने मेरा सिर छूट में ज़ोर से दबाया, और छूट का पानी मेरे मूह में आ गया. मैने पुर 20 मिनिट छूट छाती थी. उसकी छूट बहुत टाइट फील हुई.

वो तोड़ा तक गयी थी. लेकिन मैं नही तका था. इसलिए मैने अन्ना को पेट के बाल किया, और उसकी 34″ की गांद को चाटने लगा. मुझे गांद मारना और चाटना बहुत पसंद है. अन्ना की गांद का च्छेद ब्राउन था. मेरी ज़ुबान उसकी टाइट गांद को च्छेद रही थी. अन्ना उल्टे लेते हुए बस सिसकियाँ ले रही थी.

अन्ना: एस रोहित. सक सक आह ग्रेट बेबी.

मैं गांद पर थप्पड़ मारते हुए चाटने लगा. मेरे हर एक थप्पड़ से उसकी सिसकी निकल जाती.

अन्ना: आह रोहित, उहह ऑश स्लो बेबी.

मैने करीब 15 मिनिट गांद चाट कर और छानते मार कर लाल कर दी. अब मैं खड़ा हुआ, और मैने अपनी जीन्स निकाल दी. अन्ना भी समझ गयी थी. अब अन्ना को मेरा लोड्‍ा चूसना था. वो बेड पर बैठ गयी, और मैं नीचे खड़ा था. अन्ना ने मेरा कक्चा खुद निकाला, और उसके सामने मेरा 7 इंच का लंड आ गया. जिसे वो देख रही थी और बोली-

अन्ना: श रोहित, इट’स सो बिग. ई लोवे इट.

उसने लंड पकड़ा और टोपे पर किस किया. अन्ना अपनी ज़ुबान से मेरे टोपे को चाटने लगी. मैं जन्नत में पहुँच गया. फिर उसने मूह खोला और मेरा लंड मूह में लिया. वो एक बार में ही 5 इंच लंड ले पाई, और चूसने लगी. मैने 5 मिनिट बाद अन्ना का मूह पकड़ा, और लंड पूरा मूह में दे दिया. उसकी आँखों से आँसू आने लगे, और पूरा मूह लंड से भर गया. वो सिसक गयी.

अन्ना: उहह उहह ऑश.

मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था. मैने अब उसके बाल पकड़े, और ज़ोर-ज़ोर से अन्ना का मूह छोड़ने लगा. मैं पूरा लंड बाहर निकालता, और एक बार पूरा मूह में दे दिया. उसकी आँसू के साथ सिसकियाँ निकल जाती.

अन्ना: उहह आह उहह. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.

वो अपने हाथो से मुझे पीछे करने लगी. 20 मिनिट्स मैने उसके मूह को आचे से छोड़ा. बिना रुके छोड़ता रहा बस. मेरा अब निकालने वाला था. तो मैं और ज़ोर-ज़ोर से छोड़ने लगा. मेरा लंड अब पूरा कड़क था.

अन्ना का पूरा मूह लंड से भर गया था, जिससे उसकी जान निकल रही थी. उसकी आँखों से आँसू आने लगे. 2 मिनिट बाद मैने उसका मूह ज़ोर से दबा दिया. लंड उसके मूह में दबा के रोक दिया, और झाड़ गया. अन्ना खुद ही पूरा अमृत निगल गयी. फिर मैने लंड बाहर निकाला, और वो सिसकते हुए बोली.

अन्ना: आह उहह बेबी. योउ अरे सो हार्ड फकर बेबी. तुमने मेरे जान निकाल दी है. मेरी हालत बिगाड़ दी है.

अन्ना: रोहित, तुम तो बहुत हार्ड सेक्स करते हो. मेरा मूह दुख रहा है. प्लीज़ आराम से करा करो.

मैं: मी लविंग बेबी. टेल मे थे ट्रूथ. डिड योउ एंजाय इट?

अन्ना: रियली बेबी, बहुत मज़ा आया है. लेकिन तुम तोड़ा तो रहम करा करो. मुझे बिना रोके छोड़ा है. मेरा मूह दर्द हो रहा है. मेरी साँस अटक गयी. मेरी फ्रेंड सही बोल रही थी. तुम बहुत हार्ड फकर हो.

अब हम 10 मिनिट फिरसे एक-दूसरे को किस करने लगे. उसके बाद उसने मेरा लंड चूसा, और फिरसे खड़ा किया. मैने लंड पर कॉंडम लगाया, और अन्ना को बेड के किनारे लाया. फिर उसकी दोनो टांगे मेरे कंधो पर रखी. मैं बेड के नीचे खड़ा था, और मैं लंड उसकी छूट पर रगड़ने लगा. अन्ना मचलने लगी. वो मुझसे बोली-

अन्ना: फक मे, फक मे प्लीज़ बेबी. और हा, इंडियन डर्टी टॉक करके फक करो प्लीज़.

मैने कहा: ओक बेबी.

अब मैने लंड को छूट में धक्का दिया, और 2 इंच लंड जैसे ही अंदर गया, तो उसकी चीख निकल गयी.

अन्ना: ऑश आह उफ़फ्फ़ आह गोद. प्लीज़ स्लो फक आह रोहित.

मैने एक ज़ोर का धक्का और दिया, जिससे पूरा लंड छूट में घुस गया. अन्ना की छूट बहुत टाइट थी, इसलिए मेरा लंड छूट में फ़ासस गया. छूट की दीवारो ने लंड को पकड़ लिया, और अन्ना की ज़ोरदार चीख निकल गयी.

अन्ना: आह मों सवे मे प्लीज़. रोहित प्लीज़ धीरे करो. योउ अरे रियली सो हार्ड फकर. प्लीज़ स्लो फक मे.

अन्ना की आँखों से आँसू और छूट से ब्लड आने लगा. मैं 5 मिनिट तक ऐसे ही रुका, और उसके बूब्स चूसने लगा. उसके बाद लिप्स को किस देने लगा. जिससे 10 मिनिट में उसका दर्द कम हुआ. मैं नीचे से धीरे-धीरे धक्के देने लगा. उसकी हल्की सिसकी निकल रही थी.

मैं नीचे से खड़े होके हल्के-हल्के धक्के देने लगा. 10 मिनिट अन्ना को ऐसे ही धीरे-धीरे छोड़ा. अब उसका दर्द कम हुआ, और उसे भी मज़ा आने लगा. मैं अब नीचे से ज़ोर-ज़ोर से धक्के देने लगा. उसकी चीख निकल जाती मेरे हर एक धक्के से.

अन्ना: आह उहह उफ़फ्फ़ स्लो बेबी.

मैं: तूने ही बोला था ना साली हार्ड सेक्स चाहिए, तो ले अब हार्ड सेक्स.

मैं उसकी आवाज़ बिना सुने उसे ज़ोरदार तरीके से छोड़ने लगा. अब मैं लोड्‍ा बाहर निकलता और एक बार में पूरा लोड्‍ा छूट में घुसा देता. जिससे उसकी चीख निकल जाती.

अन्ना: ऑश गोद. प्लीज़ रोहित स्लो फक मे.

15 मिनिट ऐसे ही दबा के छोड़ने के बाद, अन्ना को छूट में दर्द अब कम होने लगा. अब अन्ना भी नीचे से कमर हिला के मुझे छोड़ने में हेल्प कर रही थी. मैने अन्ना के लिप्स पर अपने लिप्स रख दिए, और एक-दूसरे को चूसने लगे. फिर नीचे से मैं लगातार धक्के देने लगा.

छूट से पूछ-पूछ की आवाज़ आ रही थी. चुदाई के दौरान अन्ना 1 बार झाड़ गयी थी. मुझे इस पोज़िशन में छोड़ते हुए करीब 25 मिनिट हो गये थे. अब मेरा भी निकालने वाला था, तो मैने कहा.

मैं: आह बेबी, मेरा निकालने वाला है. कहा लॉगी?

अन्ना: एस बेबी, प्लीज़ मेरे मूह में देना. मुझे ये पवरफुल पानी पीना है. बेबी, फक फक आह हार्ड फक प्लीज़.

5 मिनिट बाद मैने लंड बाहर निकाला, और अन्ना के मूह में दे दिया. फिर वो मेरे लंड को आचे से चूसने लगी. वो मेरे लंड को ज़ोर-ज़ोर से मूह में लेने लगी. मैने अन्ना का मूह ज़ोर से पकड़ा, और मेरा पानी निकल गया.

अन्ना बड़े प्यार से मेरी आँखों में देखते हुए पूरा पानी पी गयी, और मुझे देख कर स्माइल देने लगी. वो मुझे पकड़ कर मुझसे लिपट गयी. मैं भी अन्ना के मुलायम जिस्म से चिपक गया. अन्ना की डुमदार चुदाई के बाद वो तक गयी थी.

अब आयेज की कहानी नेक्स्ट पार्ट में. यहा बहुत सी भाभी, आंटी, हाउसवाइफ ऐसी है, जो सेक्स लाइफ से दुखी है. वो अपने प्राइवेट सीक्रेट किसी से शेर करने से डरते है. अगर आपको ऐसी प्राइवेट बातें और रियल सेक्स चाहिए, तो मुझे मैल करे.

मैं आपकी सेवा में हर टाइम अवेलबल हू. आप मुझ पर ट्रस्ट कर सकते हो. एक बार सेवा का मौका ज़रूर देना. आपकी डीटेल्स सेक्यूर रहेंगी.

यह कहानी भी पड़े  एहसान के बदले में सेक्रेटरी के दोनो छेद फाडे


error: Content is protected !!