दोस्त की गफ़ के साथ बॉटम की गांद मारी

ही मेरा नाम महेश है. मई मुंबई का रहने वाला हू. ये कहानी मेरे दोस्ती की गफ़ की है जिसे मई छोड़ा करता था. उसका नाम शिवानी है, 24 आगे की है, सेक्सी लुक.

अब शिवानी की शादी हो गयी है मेरे दोस्त से नही किसी और से. लेकिन उसकी शादी से फेले मैने उसे बहुत बुरी बुरी तरीके से छोड़ा है. इतना की आज तक किसी लड़की को नही छोड़ा होगा.

शिवानी ने भी मूज़े जो मज़ा दिया वो किसी ने नही दिया ओर काफ़ी मस्त थी. अब उसे शादी को 1 साल हो गया और मेरे पास भी जो लड़किया थी छोड़ने को उनकी भी शादी हो गयी. आंड अब शादी के बाद वो चूड़ना नही चाहती थी बाहर किसी और से.

मेरे पास चुदाई के लिए कोई गफ़ नही थी, ना लड़की. मेरे गफ़ की भी शादी हो गयी है इसलिए मैने सबसे कॉंटॅक्ट किया कोई भी रेडी नही हो रही थी. आख़िर शिवानी रेडी हो गयी लेकिन एक प्र्ब थी. की मई मुंबई मे और वो गुजरात मे रहती थी, गुजरात के सूरत मे.

लेकिन मई जा नही सकता था क्यू की ट्रेन टिकेट इश्यू लॉक्कडोवन् मे. तो मैने बिके से जाने का सोचा.

कुछ दिन फेले मेरी दोस्ती सूरत के एक बॉटम से हुई नेट पे. मई सिर्फ़ टाइम पास के लिए उसे कभी कभी बात करता. उसको भी मेरा लंड चूसना था और गांद मे लेना था.

तो मैने उसे बता दिया मई सूरत आने वाला हू मेरे दोस्त की गफ़ छोड़ने. वो बोला प्ल्ज़ मेरी भी गांद मार दो. मैने कहा जब लड़की सामने हो चूड़ने को तो लड़के के गांद कोई क्यू मारेगा?

मेरे से रिक्वेस्ट करने लगा मैने कहा देख भाई मई कन्फर्म नही बोल सकता. अगर किसी कारण शिवानी का कॅन्सल हो गया मेरे वाहा आने पर तो तुझे ज़रूर बूलौँगा.

मई सुबा 5 भजे बिके से निकला आंड 11 भजे तक सूरत पहुच गया. मैने शिवानी को बोला हम होटेल के रूम मे जाएँगे और वाहा सेक्स करेंगे. तो वो रेडी हो गयी.

फिर शिवानी का कॉल आया की उसका हज़्बेंड की चाची की बेटी आने वाली ह घर. उसको एक डॉक्युमेंट छाईए, उसको आने मे शायद 1-2 ह्र्स लग सकता है. और आने के बाद वो तोड़ा रुकेगी भी.

मेरे लंड पे जैसे किसी ने तलवार मार दी ऐसा हो गया. तो मैने कहा पासिबल है क्या आना? वो बोली कन्फर्म नही. अब मैने कहा ठीक ह.

फिर मैने उस बॉटम को फोन लगाया जिसका नाम जयेश था. उसको बोला तू आजा आंड कॉंडम आंड आयिल लेके आ साथ मे, तेरी गांद मे आज अपना पूरा लंड डालूँगा.

मैने उसको होटेल के बाहर भुलाया वही शिवानी को भी बोला था आने को. लेकिन उसके घर काम आने की वजह से जयेश को बुलाया. जैसे ही जयेश आने वाला था शिवानी आ गयी और बोली सूप्राइज़!

अब उसके सूप्राइज़ से मेरा लंड जैसे मॅर गया. क्यू की उसको पता नही था मई आज एक बॉटम को छोड़ने वाला हू. आंड तुरंत जयेश भी आ गया बोला कंट्रोल नही हो रहा जल्दी चलो, चूसना है टुमारा.

शिवानी पूछी कों है तू? क्या चूसना ह? तो जयेश बोला तुमसे मतल्ब, मई मेरे ब्फ के साथ यहा हू, तुम कों हो? वो बोली ब्फ तो मेरा है, तू कों है?

तब मेरे पास शिवानी आंड जयेश को सब बताने के आल्वा कोई रास्ता नही था.

शिवानी बोलने लगी मई सूप्राइज़ देने झुत बोली नही आ सकती. तो तुम एक हिजड़े को भुला लिया? तो जयेश गुस्से से बोला हिजड़ा नही बॉटम हू. शिवानी समझी नही बोली तू यहा गांद मरवाने आया तो हिजड़ा हुवा!

फिर जयेश भी बोला तू भी तो चूड़ने आई रंडी. फिर मैने दोनो को शांत कराया आंड बोला शिवानी को मई तेरे साथ अवँगा. आंड जयेश को बोला तू जेया कभी और ओँगा.

जयेश बोला नही तू इस लड़की को भेज, तुझे जैसे छाईए वैसे मेरी गांद मे लंड डाल. जितनी ज़ोर से मारनी है मार सब करूँगा तू जो बोलेगा.

शिवानी भी बोलने लगी मई जितना मज़ा दूँगी ये हिजड़ा क्या देगा.

फिर मैने बोला डेको होटेल मे जेया तो 1 के ही सकता हू. शिवानी बोलने लगी मेरे साथ चल. जयेश बोला ठीक ह दोनो चलो. मैने बोला ये पासिबल नही.

तो जयेश बोला होटेल वाला पेचना का ह. मई फेले भी 2 लड़को के साथ आया हू. मैने बोला ठीक ह बोल फिर बात कर तो रेडी हो गया.

फिर अंदर जाते ही सबने तुरंत कपड़े उतार दिए पूरे. शिवानी भी पूरी नंगी हो गयी. मैने उसे किस करना शुरू किया आंड जयेश ने मेरा लंड चूसना.

क्या मस्त मज़ा आ र्ही थी शिवानी की हॉट बॉडी को सहला रहा था, किस कर रहा था. आंड जयेश पूरा मूह मे ले रहा था. फिर मैने शिवानी की छूट छाती और गांद भी.

फिर उसके बूब्स को मसल रहा था. मैने जयेश को बोला शिवानी के पैरो को चाट. तो ना बोला, मैने गाली दी बोला मई अब मलिक हू तेरा चल चूस शिवानी के पैर आंड मेडम बोल उसे.

इस पर शिवानी खुश हुई आंड पैर को उसके मूह पे मार कर बोली चाट इसे गन्दू. यही तेरी औकाड है. फिर वो पैर चाट रहा था. मई शिवानी के पूरे जिस्म को चूम आंड चाट रहा था, बूब्स चूस रहा था.

फिर शिवानी ने मेरा लंड मूह मे लिया आंड चूसने लगी. मैने हेर पकड़ कर मूह बुरी तरह से छोड़ने लगा. जिससे उसके गु गु हू आवाज़ निकल रही थी आंड मूह से पूरा थूक आंड आँखो से आँसू आ गये.

उसके बाद उसको मूह मे जो थूक था मैने जयेश की गांद पे डालने को बोला. जयेश तुरंत उल्टा सो गया आंड शिवानी ने उसकी गांद पे थूक दिया.

मैने शिवानी को बोला कॉंडम चड़ा मेरे लंड पे. आंड एक ही शॉट मे पूरा गुस्सा दिया. जयेश तोड़ा चीका बोला भाई धीरे.

तो शिवानी बोली तू तो ज़ोर से अपनी गांद देने वाला था ना. महेश अब इसको रुला डाल ऐसी गंद मार की याद रखेगा.

मैने फुल स्पीड से जयेश की गांद मारनी शुरू की. जयेश हिलने लगा तो शिवानी उस पे बैठ गयी आंड बोली महेश रुख़ मत छोड़ इस गन्दू को. 15 मिन्स छोड़ने के बाद मैने कॉंडम उतार दिया आंड शिवानी को गोद मे उठा लिया. आंड खड़े खड़े उछाल उछाल कर शिवानी की छूट मे अपना लंड गुस्सा कर मज़ा ले रहा था.

उसे भी मज़ा आ रहा था. अपनी छूट मेरे लंड पे पटक कर और अंदर लंड ले रही थी. 10 मिन्स बाद शिवानी को कुटिया बना कर फुल स्पीड से छोड़ रहा था.

शिवानी को दर्द होने लगा और वो आयेज होने लगी. तो जयेश ने उसे पकड़ लिया बोला छोड़ो इस रंडी को बुरी तरह से. मैने बिना कॉंडम शिवानी की चूर बहुत बुरी तरह से मार रहा था.

अब शिवानी को भी मज़ा आ रहा था. वो गांद आगे पीछे कर के लंड ले रही थी. शिवानी ज़ोर ज़ोर से छीलाने लगी आंड उसकी छूट से पानी निकल गया. मेरा भी निकालने वा था.

मैने बोला मेरा आ रहा है. तब शिवानी आंड जयेश नीचे बैठे गये. मैने दोनो के मूह मे हाफ हाफ पानी निकल दिया. आंड शिवानी ने पूरा लवदा चूस चाट कर सॉफ दिया.

बोली मज़ा आ गया आज तो पुराने दिन याद आ गये. फिर मैने आंड जयेश ने मिलकर शिवानी को बहुत ज़्यादा चोदा.

यह कहानी भी पड़े  मेरी सेक्सी गर्लफ्रेंड काजल

थॅंक्स फ्रेंड्स. ओर भी जवान भाभी लड़किया ओर आंटी को हॉट बाते करना ही तो आप मैल करे [email protected] आप की सारी डीटेल्स एक दम सीक्रेट रहेंगी उससे आप लोग बेफ़िक्र रहे.

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published.


error: Content is protected !!