दोस्त की बीवी के लिए दोस्त के हवस भरे ख़याल

हेलो दोस्तों ये मेरी पहली स्टोरी है. इसमें सेक्स करने की कुछ स्टोरी नहीं है (मई बे नेक्स्ट स्टोरी में पढोगे आप). बूत यू विल लिखे थिस.

मेरी ये स्टोरी रियल है. कैसे एक फ्रेंड की वाइफ एक-दम चेंज हो गयी ये आपको पढ़ने में मज़ा आएगा.तो दोस्तों वैसा मेरे मैं में लेडीज के लिए पहले से बहुत अट्रैक्शन है. इवन मैंने शादी से पहले एक लेडी का साथ सेक्स भी किया था. लेडी से पहचान करके फ्रेंडशिप करने के लिए मैं एक्सपर्ट हु.

कॉलेज में मेरा एक बेस्ट फ्रेंड बन गया था. उसका नाम रजत था. कॉलेज होने का बाद नौकरी और कर्रिएर के चक्कर में लेडीज के ऊपर ज़्यादा ध्यान नहीं गया.मेरी और रजत के फॅमिली जैसे रिश्ते हो गए थे. हम बोलते थे हमारी वाइव्स भी ऐसे ही दोस्त हो जाएँगी.

फिर सेटल होने का बाद मेरी शादी हो गयी. अभी मैं अपनी वाइफ का साथ सेक्स का बहुत मज़ा लेता था. मैं अपनी लाइफ में पूरी ख़ुशी में था. मेरे २ साल बाद रजत की भी शादी हो गयी.अभी उसकी और मेरी वाइफ की भी अछि फ्रेंडशिप हो गयी थी. हमारा बहुत बार गेट-टुगेदर पिकनिक होने लगे. वैसे उसकी वाइफ मेरी वाइफ की तरह एक-दम सिंपल थी. वो घर पे ही रहती थी. उसकी हाइट ५ फ़ीट है.

दिखने में सिंपल मतलब पटाने की भी ीचा भी आती थी और नहीं भी.उसके घर में फाइनेंसियल प्रॉब्लम थी. शादी के ३ साल बाद मेरे फ्रेंड ने उसको नौकरी करने की अडवीसे दी.

अब वो नौकरी करने लगी थी. दोस्तों उसके बाद वो दृस्टिकल्ल्य चेंज हो गयी. मैं एक बार खड़ा था रास्ते में. फिर एक-दम से वो सामने आ गयी. हेयर कट किया था उसने. एक-दम मॉडर्न लुक था. काकू बाई से एक-दम मॉडर्न बन गयी थी वो.

उस दिन फर्स्ट टाइम अंदर से उसके लिए कुछ सेक्स फीलिंग आने लगी. बूत ख़ास फ्रेंड की वाइफ थी तो उसके लिए आगे भी नहीं जा सकता था.

फिर उसने ड्रेस स्टाइल भी चेंज कर दिया. अभी वो बिंदास जीन्स टी-शर्ट शार्ट टॉप पंजाबी ड्रेस ज़्यादा साइड कट वाली पहनती थी. अभी मेरी उसकी तरफ ज़्यादा नज़र जाने लगी.

फर्स्ट टाइम अट्रैक्शन आया जब हम बीच पर गए. हम २ दिन के ट्रिप पर गए थे. मेरी वाइफ भी थी साथ में. पूरे ट्रिप मैं उसको जीन्स ३/४ तह में देख के परेशान था.

जिस दिन हम वापस घर निकले तो उस दिन हम समंदर में भीगे. उसका प्लान नहीं था और उसने ऑफ-वाइट ३/४ तह पहना था. लेकिन वो पानी में लास्ट मोमेंट पर आ गयी.

बाहर आने का बाद वो रेती में मेरे फ्रेंड का नाम लिख रही थी. मैं उसके पीछे ही था तभी उसकी टी-शर्ट थोड़ी ऊपर हो गयी और पिंक कलर की चड्डी/ पैंतीस दिखी.

हमारा रूम ५ मिनट की दूरी पर था लेकिन वो चलने लगी. तब भी उसकी पंतय दिख रही थी. उस दिन रूम पर बाथरूम में मैंने पहली बार उसके नाम पे मुठ मार दी

थें हमारे इधर एक एरिया है उधर बारिश के सीजन में लोग भीगने के लिए आते है. हमने भी एक साथ ट्रिप निकला. उस वक़्त उसने वाइट कलर की सलवार पहनी थी और पंजाबी टॉप का कट ज़्यादा था.उस वक़्त पानी में वो इतनी भीग गयी थी एंड वे वेरे शॉकेड. और तभी मेरी नज़र उसकी ब्रा पर गयी जो की पानी की वजह से ज़्यादा दिखने लगी थी.

फिर ध्यान से देखा तो वाइट सलवार से उसकी ऑरेंज कलर की पंतय दिखने लगी. ऐसे ३ तो ४ घंटे था. एक तो भीगने से वो एक-दम सेक्सी दिख रही थी और ऊपर से िन्नेर्स दिख रहे थे उसके.मेरी हालत बहुत खराब थी. मैं उसके पीछे ही था दिन भर. एक बार तो मेरा हाथ उसके कंडे के करीब गया था लेकिन फ्रेंड बीच में आ गया.

उसके बाद एक पार्टी में वाइट सलवार से फिरसे उसकी पैंतीस दिखी. अभी मैं ज़्यादा उसकी तरफ देखने लगा था. ऐसे हर बार इनर नहीं दीखते थे. बूत जब हम मिलते थे तो मेरी नज़र जाती थी.डार्क ड्रेस वो पहनती थी तो मैं मायूस हो जाता था.उसके बाद बहुत दिन उसका ऐसा कुछ किस्सा नहीं हुआ. उसके प्रेगनेंसी के बाद हमारा गेट-टुगेदर काम हुआ.

थें बीच में लोखड़ौन आ गया तो हम सब फ़ोन पे ही बाते करते थे. लोखड़ौन के बाद वो हमारे घर आये थे. लेकिन कुछ ज़्यादा मज़ा नहीं आया.जब उसने नयी जगह undefined लिया तो एक दिन खाना खाने बुलाया रात को. उस दिन उसने पिंक और वाइट डिज़ाइन वाला ट्रैकसूट और टी-शर्ट पहने थे. एक-दो बार थोड़ी टी-शर्ट ऊपर गयी तो उसकी ब्लू कलर की पंतय दिखी.

ये एक-दो बार हुआ. ी स्टिल डॉन’टी बिलीव की ये ट्रैकसूट से पैंतीस कैसे दिख रही थी.उस दिन हमने फ्रेंड्स के फाॅर्स करने की वजह से उनके घर स्टे किया. थें वो हॉट ड्रेस पहन के निकली.

उस वक़्त मेरे मैं में बार-बार ख़याल आ रहा था की सच में उसने ब्लू कलर की पंतय पहनी थी या नहीं. लेकिन कन्फर्म नहीं हो रहा था. फोटो सेशन के बाद हमने ड्रेस चेंज की.

फिर उसने अपना मैक्सी मेरी वाइफ को दी. उसने भी मैक्सी/गाउन पहना. उसकी आदत है की वो मैक्सी में पेटीकोट या सलवार नहीं पहनती ओनली पंत पहनती है. तो ये एक चांस था सच में ब्लू कलर का पंतय देखने के लिए.

लेकिन मैक्सी का कलर डार्क था तो कुछ दिखा नहीं. मैं ऐसे ही मायूस मैं से सोया. दुसरे दिन हम सब बाते कर रहे थे आराम से. तभी वो उठी टिया लेके आयी और नीचे बैठ गयी.

बैठने के समय थोड़ी सी मैक्सी ऊपर हो गयी और गैप में से उसकी पंतय दिखी वो भी ब्लू कलर की.

ये इंसिडेंट का बाद मैं उसके लिए पागल हो गया. उसके बाद हमने फिर एक बार बीच पिकनिक निकली. मेरे को लगा वो अभी सुधर गयी थी. क्युकी बीच पर उसने कॉफी कलर का ३/४ तह और टी-शर्ट पहने थे तो िन्नेर्स दिखने के चान्सेस काम थे.

लेकिन अगेन मेरा लक ज़ोरो पे था. जब वो भीग गयी तो अगेन उसकी टी-शर्ट ऊपर आ गयी और ब्लैक कलर की पंतय क्लियर दिखी. मैं बहुत पागल हो गया. उस ट्रिप में मैंने उसका एक-दो बार हाथ में हाथ लिया.

ये उसके िन्नेर्स के किस्से ने मेरी हालत खराब कर दी थी. मैं उसको पटाने के बहुत पीछे था. मई बे मेरी नेक्स्ट स्टोरी उसको पटाने के बाद आएगी.

इस स्टोरी के लिए कमैंट्स ज़रूर देना.

यह कहानी भी पड़े  मोटी पड़ोसन भाभी की चुदाई की स्टोरी

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published.


error: Content is protected !!