दोस्त की चुड़क्कड़ मॉम को मज़े से चोदा

हेलो एवेरिवन, ई’म सेखार फ्रॉम वडिषा, आगे 25, हाइट 5’7″. दोस्तों जैसा की आप लोगों ने मेरी स्टोरी पढ़ के बहुत सारे कॉमेंट्स दिए मुझे. उसमे बहुत खुशी हुई. इसलिए मैं आप लोगों को मेरे साथ हुआ एक और किस्सा बताने जेया रहा हू. तो चलिए दोस्तों लंड को उपर नीचे और छूट में उंगली डालते हुए स्टोरी पे आते है.

दोस्तों बात एप्रिल मंत की है. उस दिन सॅटर्डे था, तो मैं फ्राइडे नाइट को घर आ गया था. सॅटर्डे मॉर्निंग करीब 8 बजे मैं अपनी गाड़ी को वॉश कर रहा था. उधर मुझे राजेश की मों तापसी आंटी ने बोला बेटा तुमसे एक ज़रूरी काम था.

मैने बोला: कहिए आंटी क्या काम है?

दोस्तों तापसी आंटी एक नंबर की चुड़क्कड़ औरत थी. ये मुझे पहले से पता था. उसकी आगे करीब 42 और वो दिखने में बिल्कुल नेहा सिंग (इंस्था इन्फ्लुयेन्सर) टाइप की है. वो मेरे पास आके बोली-

आंटी: तुम गाड़ी वॉश करने के बाद मेरे घर में आ जाना, तोड़ा काम है.

मैने कहा: ठीक है.

फिर मैं उनके घर 9 बजे गया. उनका घर मेरे घर से 5 घर छ्चोढ़ के है. मैं जब गया तो उन्होने कहा एक एलेक्ट्रिक बोर्ड और एक फन लगाने को. दोस्तों एलेक्ट्रिक काम में मुझे तोड़ा बहुत नालेज है, तो मैं उनका काम करने लगा. उस वक़्त बहुत गर्मी लग रहा थी, और हम दोनो पसीने से भीगे हुए थे.

उनके फॅमिली में 4 लोग है. लेकिन उस वक़्त सिर्फ़ तापसी आंटी अकेली घर में रहती थी. राजेश और उसका छ्होटा भाई दोनो मुंबई में जॉब करते थे, और अंकल जी अब्रॉड में जॉब करते थे.

कुछ देर बाद राजेश का कॉल आया. मुझे उसने कहा: भाई मम्मी को कुछ काम था तुझसे. ज़रा जाके काम कर देना.

मैने कहा: भाई तेरे घर पर ही हू.

और फिर आंटी से राजेश बात करने लगा.

तब तक मैं बोर्ड की फिटिंग कर रहा था, तो मैने आंटी को बोला-

मैं: कुछ देर के लिए लाइट काटनी पड़ेगी.

आंटी ने बोला: जो करना है करो.

फिर मैने म्क्ब को बंद किया, और काम करने लगा. रूम में अंधेरा था, तो आंटी को मैने बोला की अपना मोबाइल फ्लश ओं करके देना, क्यूंकी मैने अपना फोन नही लिया था. फिर आंटी मुझे उनका फोन देके अपना काम करने लगी.

फिर मैने बोर्ड लगा दिया. जब मैं फ्लश ऑफ करने के लिए उनके फोन में देखा, तो उनके Wहत्साप्प पर 30+ मेसेजस थे. तो मैने ऐसे ही ओपन कर दिया. जब मैने वो चट्स पढ़ी, तो मेरे होश उडद गये.

आंटी का किसी के साथ चक्कर चल रहा था, और आंटी ने उस बंदे को अपनी बहुत सारी पिक्स भी दी थी. फिर मैने पिक्स सेक्षन में जब देखा तो आंटी ने उसको अपनी बहुत सारी न्यूड पिक्स भी दी थी. उस बंदे से आंटी ने कुछ पैसा उधार लिया था.

फिर आंटी ने उससे संबंध बनाए. वो बंदा आंटी को 4 मंत्स पहले प्रेग्नेंट कर दिया था और फिर बाद में अबॉर्षन किया आंटी ने. ये सब मुझे उनकी चट्स पढ़ के पता चला.

जब आंटी आई तो मैने उनको फोन देके लाइट ओं कर दी. उस वक़्त मैने बोर्ड का काम कर दिया था. फिर आंटी कोल्ड-ड्रिंक लेके आई. हमने साथ में कोल्ड-ड्रिंक पी. फिर मैं आंटी के बूब्स और गांद को घूर रहा था. ये सब उन्होने नोटीस कर लिया था.

आंटी ने कहा फन लगाने को. फिर वो एक स्टूल लेके आई, और मैं उसमे चढ़ के फन को लगा रहा था. आंटी नीचे से स्टूल को पकड़ रखी थी. उनका फेस बिल्कुल मेरे लंड के सामने था. मैने जब नीचे देखा, आंटी मुझे देख के हल्की स्माइल दे रही थी. जब आंटी की न्यूड पिक के बारे में ध्यान आया, तब मेरा लंड धीरे-धीरे पंत में बड़ा होने लगा, और आंटी उसको देख के अपने फेस को मेरे लंड को और करीब ला रही थी.

मैं फन का कनेक्षन करके, ऐसे ही उपर देख के इधर-उधर हाथ लगा रहा था. सही टाइम का वेट कर रहा था मैं. कुछ टाइम में मुझे कुछ फील हुआ. जब मैने नीचे देखा तो आंटी मेरी पंत के उपर से अपने होंठ मेरे लंड में घिस रही थी. मुझे तो मज़ा आने लगा.

फिर मैने आंटी को कहा: ये क्या कर रहे हो आंटी? ये सब ठीक नही है.

उन्होने कहा: जब से तुम आए हो, तो ये क्यूँ खड़ा है (लंड को पकड़ के कह रही थी)?

मैं नीचे उतार के आंटी को अपने पास खींच लिया, और किस करने लगा. वो पूरा साथ दे रही थी.

कुछ देर किस करने के बाद आंटी डोर लॉक करके मेरे पास आई. फिर मैने उनकी सारी का पल्लू हटा दिया, और उनके 40″ साइज़ बूब्स को दबाने लगा.

मैने उनके ब्लाउस को निकाला, फिर एक-एक करके चूसने लगा. आंटी की साँसे तेज़ हो रही थी. फिर मैने उनकी सारी निकली. आंटी नीचे कुछ नही पहनी थी. आंटी की सेक्सी नेवेल और उनके पेट को देख के सब की नीयत खराब हो जाएगी. फिर मैं उनके उपर आके बूब्स को चूसने लगा, और दो उंगली छूट में डाल के सहलाने लगा.

आंटी: आआ ह क्या कर रहे हो बेटा? मेरी आग बुझा दो आज प्लीज़.

मैने कहा: ज़रूर बूझौँगा आज.

फिर मैने अपनी त-शर्ट और पंत उतार के अपने लंड को उसके मूह में दिया, और उसके गले तक पेल दिया.

आंटी: बेटा आराम से करो, मैं कही भाग नही रही.

5 मिनिट लंड चूस के आंटी ने पूरा गीला कर दिया. फिर मैने अपनी 7″ लंड लेके छूट की तरफ गया और आंटी के हाथ में दे दिया. आंटी खुद अपनी छूट में लगा कर बोली धक्का मारो. मैने एक झटका दिया, और मेरा पूरा लंड उसकी छूट में समा गया.

दोस्तों आंटी एक नंबर की रांड़ थी, ये तो पता चल गया था. फिर मैं धक्के पे धक्के मारने लगा, और वो भी गांद उठा के चुड रही थी. मैने उसके कानो में बोला-

मैं: इतनी ढीली कैसे हो गयी है आंटी आपकी छूट?

आंटी हस्स के बोली: मैने 4 लोगों के साथ अफेर्स रखे थे, इसलिए.

फिर मैने आंटी को कहा: 4 मंत पहले आपको किसने प्रेग्नेंट किया था. आपने बाद में जाके अबॉर्षन किया था.

ये बात मेरे मूह से सुन के आंटी बोलने लगी: तुम्हे कैसे पता?

मैने कहा: वो तुम्हारे फोन में सब देख लिया था.

आंटी कहने लगी की वो उनका कोई दोस्त था. फिर मैने डॉगी पोज़िशन में आने को कहा. आंटी की 40″ साइज़ बाड़ी गांद देख के मैं बहुत एग्ज़ाइटेड था. मैं रुक-रुक के छोड़ रहा था आंटी को. 10 मिनिट बाद आंटी झाड़ गयी. फिर हम मिशनरी पोज़िशन में आ गये.

मैं तबाद-तोड़ शॉट मारने लगा. आंटी चीख रही थी, और पुर रूम में ठप ठप की आवाज़ गूंजने लगी. ऐसे ही 15 मिनिट के बाद मैं झड़ने वाला था.

मैने पूछा: कहा निकालु?

आंटी ने बोला: बाहर निकालो, नही तो प्रेग्नेंट हो जौंगी.

मैने कहा: बाद में गोली खा लेना.

आंटी ने गोली खाने को माना किया. फिर मैने उनको कहा-

मैं: आंटी मज़ा तो अंदर छ्चोढने में है.

आंटी ने कहा: तुम अंदर छ्चोढ़ के ही मानोगे. चलो छ्चोढ़ ही दो.

फिर मैने ज़ोरदार झटका मारा, और लंड को अंदर पेल दिया. अब मेरा वीर्या उसकी छूट में जाने लगा. दोस्तों इतना वीर्या निकला, की आंटी का पेट फूलने लगा. हम दोनो हाँफ रहे थे. ऐसे ही मैं उनके उपर पड़ा रहा आधा घंटा. फिर मैं उनके बूब्स को सहला रहा था.

आंटी ने कहा: चलो अब जाओ तुम.

फिर मैं घर आ गया, और शाम को मैने घर में कह दिया की दोस्तों के साथ पार्टी करने जेया रहा हू. ये बोल के के तापसी आंटी के घर आ गया उनके घर में रात गुज़ारने का प्लान बना के. फिर हमने रात भर चुदाई की

तो दोस्तों अगर आपको ये स्टोरी अची लगे तो ये मेरी एमआई ई’द: सेखरक्म92@गमाल.कॉम पर कॉमेंट करके ज़रूर बताए. ताकि में अगली स्टोरी भी आपके साथ शेर करू.

यह कहानी भी पड़े  पड़ोस की आंटी की खेतो में चुदाई की कहानी


error: Content is protected !!