डॉक्टर को लंड चुस्वाया और वीर्या पिलाया

उसके बाद हम दोनो किस करते हुए ही फ्लोर पर आ गये, और शवर ओं किया. वो मेरे उपर थी. वो बिना रुके मेरे फेस पर, और मेरे गले पर किस किए जेया रही थी. सोनिया ने मेरे शर्ट निकाल फेंकी, और मैने उसकी त-शर्ट फाड़ के फेंक दी. हम दोनो अग्रेसिव हो गये थे.

उसने मुझे ज़ोर-ज़ोर से किस करना और चाटना शुरू कर दिया. मैं उसके बालों में हाथ घूमने लगा. वो आह उफ़फ्फ़ करे जेया रही थी. अब मैने उसे अपने नीचे लिया, और उसकी चेस्ट को चाटने लगा. सोनिया की सिसकियाँ निकल रही थी.

सोनिया: उहह आह एस रोहित. बहुत आनंद आ रहा है. इस मस्ती के लिए मैं बहुत टाइम से तड़पति रही हू. श बेबी, क्या मस्त मज़े देते हो तुम. एक हाउसवाइफ को खुश करना तुम जानते हो. ऐसे ही करते रहो प्लीज़, रुकना मत जान.

मैं: उघह मुझे भी बहुत मज़ा आ रहा है, आपके इस मादक बदन को चूसने में. बहुत ही हसीन जिस्म है.

मैं अब ब्रा के उपर से सोनिया के बूब्स को चूसने लगा. सोनिया को अपने जिस्म में एक अलग सी सेक्सी गर्मी और आनंद महसूस हुआ. उसका बदन मचल रहा था. वो मेरे बालों में हाथ घुमा रही थी, और सिसकियाँ लेने लगी.

सोनिया: उहह आह रोहित. मेरे राजा, बहुत अछा लगता है. तुम ऐसे सेक्सी अंदाज से मुझे प्यार देते हो. काश तुम पहले मिलते तो मैं कब का तुमसे अपने बदन की गर्मी मितवा देती.

मैं: कोई बात नही, मेरी रानी. अब तो मैं आ गया हू.

सोनिया: आज से तुम मेरे हब्बी हो ओक. बेबी मुझे बहुत प्यार दो. मुझे चूसो छातो, खा जाओ मेरे जिस्म को.

सोनिया की मादक जोश वाली बातों ने मेरे अंदर भी गर्मी ला दी. मैं उसके बूब्स को और ज़ोर-ज़ोर से दबा रहा था, और दोनो साथ-साथ में चूस रहा था. अब मैने उसकी ब्रा भी फाड़ दी.

अब सोनिया मेरे सामने उपर से न्यूड थी. मैं उसकी आँखों में देख रहा था, और वो मुझे कामुक नज़रो से देख रही थी. मैने फिरसे उसके लिप्स को लॉक कर लिया, और चूसने लगा. वो भी पूरी कामुकता से मेरा साथ दे रही थी. हम दोनो खो गये किस में.

फिर मैं उसके बूब्स को चूसने लगा. एक बूब को दबाने लगा. उसके बदन में बिजली दौड़ने लगी. वो मेरा मूह बूब्स में दबा रही थी, और बोली.

सोनिया: ऑश चूस ले मेरे हब्बी, ऑश बूब्स चूस, आहह मज़ा आ रहा है. बहुत ही ज़्यादा मज़ा आ रहा है रोहित. तुम वाकाई में एक्सपीरियेन्स्ड बॉय हो.

मैं: मेरे रानी, तुम्हे खुशी देने के लिए ही सब सीखा है मेरी डार्लिंग.

सोनिया: एस बेबी, सक इट नाउ फास्ट. उहह आह उफ़फ्फ़ एस.

मैं अपना एक हाथ उसकी जीन्स के उपर से ही छूट पर सहला रहा था. वो कमर उठा-उठा के मचल रही थी. शायद वो झाड़ गयी थी. उसका बदन अब तोड़ा शांत था. 20 मिनिट मैने उसके ज़ोरदार तरीके से बूब्स चूज़. उसके निपल को मैने काट लिया था, जिससे वो लाल हो गये.

अब मैं सोनिया की नेवेल को चाटने लगा, और वो मेरा सिर अपने पेट में दबा रही थी. उसकी टमी थोड़ी निकली हुई थी. डॉक्टर सोनिया का बदन ठंडे पानी में गरम हो गया था. वो सिसकियाँ ले रही थी.

सोनिया: ष्ह रोहित, आह बेबी एस.

मैने उसके पेट की चर्बी को तोड़ा सा काट लिया, तो उसकी चीख निकल गयी.

सोनिया: ह उघह उफफफ्फ़ रोहित धीरे करो.

15 मिनिट तक मैने उसका पेट छाता. उसके पेट पर मेरे मूह की लार लग गयी थी. बहुत ही चमक रहा था. अब सोनिया से रहा नही गया, और वो मेरे उपर आ गयी. मेरे पेट को चाटने लगी, और मेरी जीन्स को निकालने लगी. सोनिया ने मेरी जीन्स निकाल कर फेंक दी.

अब मैं ककचे में था, जिसमे मेरा 7.4 इंच लंड तंबू बना हुआ था. वो उसे देखने लगी. उसने जल्दी से मेरा कक्चा भी निकाल फेंका, और अब मैं डॉक्टर सोनिया के सामने नंगा था. मेरा लंबा मोटा लंड उसको सलामी दे रहा था. मेरे मोटे लंड को देखते हुए बोली-

सोनिया: वाउ रोहित, सूपर हॉट. तुम्हारा लंड तो बहुत बड़ा है. तट’स मी हब्बी लंड. आज मैं खुल के तेरे इस लंड को प्यार दूँगी. मुझे रोकना मत मेरे राजा.

मैं: मेरी जान, आपका ही है. इसे आप अपनी मर्ज़ी से मॅन भर कर प्यार करो.

सोनिया: मैं आज इसे चूस-चूस कर इसका पानी पी जौंगी मेरे रोहित राजा.

सोनिया ने जल्दी से मेरा लंड पकड़ लिया, और लंड को हिलने लगी. मेरा गरम लंड जब उसके हाथो में आया. तो और ज़्यादा कड़क हो गया. उसे भी लंड हिला कर मज़ा आ रहा था. सोनिया ने अपना मूह नीचे किया, और लंड के टोपे पर किस किया. मेरे लंड में बिजली दौड़ गयी.

अब उसने धीरे से अपना मूह खोला, और मेरे मोटे लंड को मूह में लेने लगी. करीब 5 इंच ही मूह में ले पाई. फिर वो उसे ही धीरे-धीरे अपना मूह उपर-नीचे करके चूसने लगी.

सोनिया की मादक ज़ुबान मेरे लंड पर घूम रही थी. मैने उसका मूह लंड में दबा दिया, जिससे पूरा लंड उसके गले में चला गया. सोनिया का पूरा मूह मेरे 7 इंच के लंड से भर गया. उसके मूह से सिसकियाँ निकल गयी. सोनिया उहह उहह हाअ स्ष की आवाज़े निकाल रही थी.

वो मेरे लंड को बड़े प्यार से धीरे-धीरे चूस रही थी. अपने एक हाथ से मेरे टट्टो को सहला रही थी. फिर लंड मूह से निकाल कर, मेरे टट्टो को भी चाट रही थी. मेरे पुर लंड पर अपनी ज़ुबान घुमा रही थी.

मेरे मूह से आह उहह निकल जाती. सोनिया बड़े मज़े लेके लंड की चुसाई कर रही थी. 10 मिनिट ऐसे ही लंड चूसने के बाद, मैं खड़ा हुआ, और वो घुटनो पर आई. फिर मैने उसके बाल पकड़े, और लंड मूह में तूस दिया. उसकी आँखों से आँसू निकल गये. वो मेरी आँखों में देख रही थी, और अंदर से ज़ुबान लंड पर घुमा रही थी.

उसकी मादक ज़ुबान मेरे लंड को और मोटा बना देती थी. मैं अब ज़ोर-ज़ोर से उसके मूह की चुदाई कर रहा था. 5 मिनिट बिना रुके मूह की चुदाई की. फिर उसने अपने हाथ से लंड निकालने का इशारा किया, तो मैने लंड बाहर कर लिया. फिर वो साँस लेने लगी.

सोनिया: ह उूउउ उहह उः हाअ. तुमने तो मेरे जान निकाल दी. तोड़ा आराम से करो बेबी.

मैं: डार्लिंग, तुम बस एंजाय करो, और तोड़ा से लो इस प्यार को.

सोनिया: तुम्हारा लंड बहुत बड़ा है. मेरी जान कैसे लूँगी छूट में.

मैं: आप टेन्षन मत लो. आप मेरा लंड उछाल-उछाल के लॉगी. छूट में खलबली मचा देगा.

फिर मैने वापस उसका मूह पकड़ा, और अपने दोनो टट्टो को उसके मूह में दे दिया. वो बड़े मज़े से मेरे टट्टो को चूसने लगी. अपने मूह की लार से मेरे टटटे गीले कर दिए. 5 मिनिट तक मैने टट्टो को चुस्वाया. उसके बाद मैने लंड मूह में दे दिया.

सोनिया मेरे लंड को गले तक, लेके चूसने लगी, और ज़ोर-ज़ोर से अपना मूह अंदर-बाहर करने लगी. 2 बच्चो की मा, एक हाइ क्लास डॉक्टर, मेरे लंबे और मोटे लंड को अपने गले तक लेके चूस रही थी. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. फिर मैं बोला-

मैं: आह, मेरी रानी सोनिया. बहुत आचे से चूस्टी हो तुम. अपने हज़्बेंड का चूसा था क्या कभी?

सोनिया: हा, कभी-कभी चूस्टी थी. वो देते नही थे. मुझे चूसना बहुत पसंद है. पर किसका लंड मूह में लू. ये मुझे समझ नही आया.

सोनिया: मेरी जान, आज तुम मुझे मिल गये. अब मेरे लंड चूसने की तमन्ना पूरी हो गयी. तुम्हारा लंड बहुत बड़ा है.

मैं: मेरे सोनिया, जानेमन चूसो ज़ोर से आह श.

सोनिया ने वापस लंड को अपने गले तक भर लिया, और पुर मज़े के साथ और जोश के साथ चूस रही थी. उसके बूब्स भी हिल रहे थे. बातरूम में उसके लंड चूसने की आवाज़ गूँज रही थी.

सोनिया: उघह उहह उहह आह आआ.

करीब 25 मिनिट उसने मेरा लंड चूसा था. अब मेरे लंड से पानी निकालने वाला था. मैने उससे कहा-

मैं: बेबी मेरा होने वाला है. उसने कहा: मेरे हब्बी, तुम मेरे मूह में छ्चोढ़ दो अपना वीर्या. मुझे पीना है. अब वो ज़ोर-ज़ोर से लंड को मूह से अंदर-बाहर कर रही थी.

मैं: एस एस एस बेबी. और ज़ोर से चूसो. मेरा निकालने वाला है. क्या लंड चूस्टी हो मेरी जान.

वो रंडी की तरह लंड को चूस रही थी. 2 मिनिट बाद मेरा पानी उसके गले में उतार गया. वो मेरे वीर्या को पी गयी और बोली.

सोनिया: उहह ऑश रोहित. मेरे हब्बी क्या वीर्या है तुम्हारा. तुम तो किसी को भी प्रेग्नेंट कर सकते हो. मैं डॉक्टर हू. तो मुझे पता है, तुम्हारा वीर्या बहुत ज़बरदस्त है. बहुत अछा टेस्ट है इसका. ह उघह.

उसने मेरा लंड चाट-चाट कर सारा वीर्या सॉफ कर दिया. लंड को उसने 2 मिनिट तक और चूसा. मुझे बहुत मज़ा आया. अब मैने सोनिया को फ्लोर पर लिटा दिया, और उसकी जीन्स उतारने लगा. उसने कमर उपर करके साथ दिया. जीन्स निकालने के बाद मैने उसकी ब्लॅक पनटी भी निकाल दी.

अब डॉक्टर मेडम मेरे सामने, पूरी नंगी थी. सोनिया की छूट क्लीन शेव्ड थी. एक 37 साल की औरत की मादक छूट, मुझे चाटने और चूसने को बुला रही थी.

मैं उसकी छूट के पास गया, और चूत पर एक हल्की फूँक मारी. तो सोनिया सिसक गयी.

सोनिया: ऑश आह रोहित. क्या किया तुमने ये?

फिर मैने छूट के उपर वाले दाने पर किस किया, और चाटने लगा. सोनिया की छूट के उपर ही चाटने लगा. जिससे वो सिसकियाँ लेते हुए बोली.

सोनिया: ह ऑश उहह हब्बी. एस बेबी, मज़ा आ रहा है बहुत. मेरे छूट आज तक किसी ने नही छाती है. तुमने क्या कर दिया ये? बहुत मज़ा आ रहा है.

मैं छूट के दाने को मूह में लेके चूसने लगा, और छूट में उंगली करने लगा. वो कमर उठा के मचल रही थी. मैं छूट की रानी को काटा तो उसकी आह उहह निकल गयी. फिर मैं छूट के च्छेद पर आया, और ज़ुबान छूट के अंदर डालने लगा. छूट में घूमने लगा तो वो सिसक गयी.

दोस्तों कहानी अभी यही तक है. नेक्स्ट पार्ट का इंतेज़ार करो. किसी गर्ल भाभी को रियल में सेक्यूर्ली चूड़ना है, तो मुझे मैल करे. आंड आप मुझसे हॉट छत भी कर सकते हो. मेरी मैल ईद गम0288580@गमाल.कॉम है.

थॅंक्स ड्के.

यह कहानी भी पड़े  कॉल बॉय ने तोड़ी देसी लड़की की सील


error: Content is protected !!