दीदी की खुशी के लिए

हेलो एवेरिवन, मैं सिद्धार्ट वापस आया हू अपनी स्टोरी का सेकेंड पार्ट ले के.

मैने कुछ दिन पहले ही स्टोरी अपडेट की थी आंड मुझे अपनी स्टोरी को ले कर काफ़ी अछा रेस्पॉन्स मिला इसलिए मैं नेक्स्ट पार्ट लिख रहा हू.

अब तक आपने पढ़ा की…

कामिनी दी शादी के बाद घर आ चुकी थी. मैं उनसाई मिलने उनके घर गया था आंड उनके रूम के गाते पे पौच् के मुझे उनके रोने की और फोन पे बात करने की आवाज़ आए जिसको सुन के मैं शॉक हो गया.

अब आयेज…

तो मैं दी का रोना सुन मई शॉक हो गया की अभी तो शादी हुई है और ये किस से बात कर रही है और वो भी रोते हुई.

मैं सीधा उनको आवाज़ देते हुई चल पड़ा. मेरी आवाज़ सुन के उन्होने फोन रख दिया और अपने आँसू पौचने लगी.

उन्होने उस वक़्त एक वाइट टॉप और ब्लू जीन्स पहनी थी. आँखो मे आइ लाइनर, माँग भारी, लिपस्टिक लगी हुई, हाता चूड़ियो से भरे हुई और रोने की वजा से आँखो से आता हुआ पानी. और वाइट टॉप मे से उनकी ब्लॅक ब्रा सॉफ दिख रही थी.

मैने उनको पहली बार इस तरह देखा था. मैं तो देखता रह गया बुत उनके आँसू देख के मैं होश मे आया.

मुझे देख के दी नई भाग के मुझे गले से लगा लिया और उनके बूब्स टॉप मे से ही मुझे फील होने लगे. मैने भी उनको हग कर लिया.

फिर थोड़ी देर बाद दी अलग हुई और बोली-

दी- कहा था तू इतने दिन से मुझे कॉल म्स्ग ना करा! 15 दिन हो गये मुझे लेने भी ना आया.. ऐसे करता है क्या कोई अपनी भें से?? पता है मैने तुझे कितना मिस किया..

मे- यार दी आपकी न्यू न्यू शादी हुई है और मैं कैसे कॉल करता. आपको जीजू के साथ टाइम स्पेंड करना चाहिए इसलिए मैने कॉल ना की और कॉलेज की वजा से लेने भी ना आ पाया.

दी- जीजू कों होते है हुमरे बीच आने वाले??

मे- वो सब चोरो क्या मस्त लग रही हो यार. आपको देख के तो मैं होश ही को बेता अपने अभी.

दी- चल पागल.

मे- आओ बेत के बात करते है, आप मुझे बताना क्या क्या हुआ आपके ससुराल मे.

दी- सब अछा है सब आचे है.

मे- जीजू कैसे है?

दी- (तोड़ा साद फेस कर के बोली) वो भी आचे है.

मे- क्या हुआ जीजू के नाम पे साद क्यू हो गये?

दी- तू वो सब चोर तू बीटीये तू कैसा है?

मे- क्या चोरू सच सच बताओ बात क्या है. मैने रूम के भर से सब सुन लिया था आपके रोने की आवाज़ और कॉल पे बात करने की, किस से बात कर रही थी आप?

दी- अरे किसी से नही ब्स तेरे जीजू की याद आ गये थी उन्ही से बात कर रही थी.

मे- दी सच सच बताओ मैने काफ़ी कुछ सुना, क्या बात है मुझ से क्यू छिपा रही हो? पहले तो कभी ना छिपाया, आपको मेरी कसम है.

दी – सिड क्यू कसम डाई रहा है, मैं नही बता पवँगी.

मे- अब तो कसम डाई दी है अब बताओ.

दी- यार अछा सुन, तू तो जानता है की मेरी कितना अरमान थे शादी को ले कर. मैने शादी से पहले कभी ब्फ नही बनाया. सोचा था हेमशा जो एंजाय करना होगा पति के साथ करूँगी आंड अपनी लाइफ का वो अरमान पूरा करूँगी जो शादी से पहले नही किया. लेकिन तेरे जीजू नई सब पानी फेर दिया, लाइफ बर्बाद करदी मेरी…

मे- दी ऐसा क्या हुआ की आप ऐसा स्टात्मेंट डाई रही हो, वो भी बस 15 दिन मे??

दी- ये स्टात्मेंट तो मैं शादी के अगले दिन ही डाई देती लेकिन कोई सुनने वाला कहने वाला नही था तेरे साइवा. लेकिन तुझे भी कैसे कुछ बता थी इस सब के बारे मे.

मे- क्या बात है यार घुमा घुमा के मत बताओ, सॉफ सॉफ बोलो.

दी – युवर जीजू इस गे…

मैं तो शॉक्ड हो गया ये सुन के और अंदर ही अंदर एक जघा खुशी भी हो रही थी बुत शॉक्ड ज़्यादा था.

मे- यर्र दी कैसी बात कर रही हो, वो गे कैसे हो सकते है?? शादी से पहले आप लोगो मे कितनी बात हुई थी, आपको तभी पता लग जाता..

दी- कैसे लग जाता बातो मे तो वो अब भी वैसे ही है जैसे पहले थे. ई लोवे उ बोलना मेरा ख्याल रखना लेकिन कमी है तो ब्स…

मे- ब्स क्या…

दी- यर्र तू छोटा है तू नही समझेगा और ऐसी बाते तेरे सामने भी नही कर स्क्ति तू जेया.

मे- दी आज तक हुँने कुछ छिपाया है क्या जो अब आप छिपा रही हो?

दी- लेकिन भाई ये बात अलग है गफ़-ब्फ की बात होना अलग बात है लेकिन ये उस से ज़्यादा है.

मे- आपको मुझ पे भरोसा है ना तो बताओ.

दी – भरोसा तो खुद से ज़्यादा है बुत…

मे- बुत वगेरा कुछ नही बताओ क्या है और आपको कैसे पता लगा की वो गे है सॉफ सॉफ बताओ.

दी- शादी के बाद हमारी फर्स्ट नाइट थी. वो रूम मे आए और हम बाते करने लगे. बाते करते करते उनको सोने का मॅन हुआ. मैने कहा आज तो हमारी फर्स्ट नाइट है आप सो रहे हो?

तो वो मेरे पास आए धीरे से आंड किस करने लगे. मेरा पहले किस था तो मुझे अछा लगने लगा. बुत उन्होने इससे आयेज कुछ किया ही नही. मैं उनके कपड़े भी उतारने लगी बुत उन्होने कोई रेस्पॉन्स ही नही दिया और सो गये. फिर मैं भी मॅन मार के सो गयी.

सुबा उठी तो वो सो रहे थे. मैं वॉश रूम गयी, जब वापस आई तो तेरे जीजू सो रहे थे आंड उनका फोन वाइब्रट हो रहा था, किसी का म्स्ग था. मैने सोचा उनके ऑफीस से होगा तो मैने इग्नोर कर दिया.

बुत कुछ देर बाद और म्स्ग आने लगे. वो सो रहे थे तो उन्होने ध्यान नही दिया. बुत मैने जब फोन हाथ मैं लिया तो 4 म्स्ग पड़े थे किसी सोहैल नाम के लड़के थे. मैने उनकी फिंगरप्रिंट से फोन अनलॉक किया तो मैने तो म्स्ग पढ़ के शॉक्ड हो गयी और मैने तेरे जीजू को उठया और म्स्ग दिखाए. उनकी तो फटी की फटी रहे गये थी म्स्ग देख के. मुझे समझने लगे की जैसा सोच रही हो वैसा नही है.

लेकिन मैने उनको बहोट सुनाया. फिर उन्होने खुद बताया की मैं गे हू और सोहैल मेरा बाय्फ्रेंड है. मैने उनसे पूछा की फोन वगेरा पे बात करते थे हम तब तो आपने कुछ ऐसा फील नही होने दिया. लेकिन ऐसा क्यू अब की तुम गे हो और फिर मुझ से शादी ही क्यू की??

तो वो बोले घर वालो के मर्ज़ी थी इसलिए मैं माना भी नही कर पाया.

मैने फिर उसको बहोट सुनाए और रोटी रही की मेरी लाइफ बर्बाद करदी त्मने. और इसी त्रह 15 दिन कटे मेरे वाहा. जब यहा आ रही थी तो उससे कहके आई की डाइवोर्स के किए रेडी रहना मैं अब नही अवँगी. इसलिए उसका कॉल आया था की तुम ऐसा मत करो और हमारी लड़ाई हो रही थी.

दी ये सब बताते हुई रोने लगी फिर से. तो मैने उनको हग किया और चुप करने लगा. इसी बीच मैने उनको ज़्यादा कस के हग कर लिया. उनके बूब्स टॉप के अंदर से ही मुझे बहोट फील हो रहे थे.

फिर मैं धीरे धीरे अपना हाथ उनकी पीठ पे फिराने लगा और चुप कराने लगा. पीठ पे उनकी ब्रा टॉप के अंदर से फील हो रही थी तो मेरा लंड खड़ा होने लगा.

उसके बाद मैने उनके फेस को पकड़ा और बोला की आप क्यू टेन्षन ले रही हो मैं हू ना आपके पास, आपकी फॅमिली है, सब है. कुछ नही होगा आप चुप हो जाओ ओकक.. तब उन्होने रोना बंद किया.

फिर मेरे दिमाग़ मे आइडिया आया की दी की जो सारी ख्वाहिश है वो अब मुझे पूरी करनी चाहिए और मैने उनको कही घूमने का प्लान बनाया.

पहले मैने उनसे कहा दी जो हो गया वो हो गया, अब आयेज क्या करना है वो सोचो. आप किसी बात की टेन्षन मत लो आपके पास और आपके साथ मैं हू ना. आपको कभी अकेलापन फील नही होने दूँगा और जो आपकी खवैिश है ना सब पूरी करूँगा. आपके हब्बी से ज़्यादा आपका ख़याल रखूँगा.

तो दी बोली भाई साची बुत हब्बी तो हब्बी होता है ना..

मैने कहा दी आप देखती जाओ ओकक..

रात को आप 8 बजे रेडी रहना मैं आपको कही ले जवँगा. जैसे आप घुमा छाती हो वैसे. और जैसा आप कपड़े पहनना छाती थी वैसे ही पहना ओकक दी.

उन्होने बोला ओक पर करना क्या चाहता है तू सिड?

मैने कहा आप बस वेट करो ओकक, शाम को 8 बजे रेडी रहना.

तो बे कंटिन्यूड…

मैं क्या करने वाले था, क्या होना था आयेज जानने के लिए प्लीज़ वेट फॉर नेक्स्ट पार्ट.

यह कहानी भी पड़े  सहेली सीमा की मस्त चुदाई ट्रेन से होटेल तक

error: Content is protected !!