देल्ही मसाज पार्लर मे मसाज के साथ कुछ ओर

ही फ्रेंड्स, मई साइट का बहोट पुराना रीडर हू. ये मेरी पहेली कहानी है. होप आप लोगो को अची लगे आंड कोई ग़लती हो तो उसके लिए सॉरी.

मई देल्ही मे रहने वाला एक 25 साल का लड़का हू. दिखने मे ठीक ताक हू. मई एक बड़े घर से बिलॉंग करता हू. ये कहानी आज से 5 साल पहले की है जब मई 20 साल का था.

मैने देल्ही मे ही कॉलेज जाय्न किया था बुत मेरे बॅच मे मोस्ट्ली लड़के ही थे. इसी कारण मेरा मॅन कॉलेज जाने मेी नही लगता था. एक दिन कॉलेज बंक करके मेी गाड़ी मे घूम रहा था जब मुझे एक मसाज पार्लर से मेसेज आया. मैने देखा तो वो पास मे ही था.

तो मैने सोचा चलो आज ये ट्राइ करते है. मई तोड़ा सीधा था आंड मुझे पता नही था मसाज पार्लर मेी क्या क्या होता है. जब मई वाहा पोोचा तो बड़ी सुंदर सी रिसेप्षनिस्ट ने मेरा वेलकम किया आंड मुझे रूम मेी ले गयी.

वाहा उसने मुझे 5-6 लड़किया दिखाई आंड उसमे से एक मुझे बहोट पस्संद आई. उसने मुझे चेंज करने को कहा आंड वो बाहर आयिल लेने चली गयी.

मई आराम से लेता हुआ था जब वो आई आंड उसने मेरी मसाज स्टार्ट करी. मसाज के बीच वो मुझसे काफ़ी बाते कर रही थी. उसने अपना नाम नेहा बताया. उसकी उमर 25-26 साल की होगी आंड उसका फिगर बहोट ही कमाल था, 34-28-36 का होगा.

जबसे मैने उससे देखा था, मई उसकी गांद का देवाना हो गया था. मॅन तो कर रहा था वही पर उसके कपड़े फाढ़ के उसकी गांद फाड़ डू. बुत क्यूकी मई पहली बार मसाज पार्लर गया था तो मुझे तोड़ा दर्र भी लग रहा था.

वो मस्स्सगे करते समय मेरे लंड के पास हल्का हल्का टच करती जिससे मेरा खड़ा होने लगा. उसने मेरी बॅक की मसाज करी. उसने मेरे बॉक्सर्स नीचे किए आंड मेरी गांद मेी आयिल लगाके मेरे क्रॅक के अंदर तक मसाज किया.

कोई मेरी गांद के साथ खेले मुझे बहोट पसंद है तो मेरे मूह से भी 1-2 बार आ की आवाज़ निकल गयी.

फिर वो मेरे इन्नर थाइस को मसाज करने लगी जिससे उसका हाथ मेरे लंड को टच हो रहा था. इससे मई और गरम होने लगा और मेरा पूरा खड़ा हो गया. फिर उसने मुझे सीधा होने को बोला जिससे मेरा 7 इंच का लंड बॉक्सर्स के अंदर सीधा खड़ा दिख रहा था.

वो बार बार उससे तिरछी नज़रो से देखे जेया रही थी आंड थाइस की मसाज कर रही थी. बातो बातो मेी पता चला की उसके बाय्फ्रेंड ने 1 महीने पहेले ब्रेक उप कर लिया था आंड वो देल्ही मेी बिल्कुल अकेली थी.

फिर उसने मेरे बारे मेी पूछा आंड मैने भी उससे अपनी ब्रेकप की कहानी बताई. हुमारी इस बात से काफ़ी अची बॉनडिंग हो गयी. अब वो मेरे उप्पर आके बैठ गयी और मेरे चेस्ट मेी आयिल डाल के हाथ फेरने लगी जिससे मुझे थोड़ी गुदगुदी हुई.

वो ठीक मेरे लंड पे बैठी थी और मुझसे अब कंट्रोल नही हो रहा था बुत फिर भी मेी चुप रहा. वो धीरे धीरे अपनी गांद हिलाने लगी आंड दूसरे हाथ से मेरे निपल्स के साथ खेलने लगी. जिससे मेरे मूह से आ की आवाज़ निकल गयी.

ये सुनके उसने अपना एक हाथ मेरे लंड के पास रखा आंड धीरे धीरे टच करने लगी. वो मेरे उप्पर से उठी आंड मेरे लंड को बॉक्सर्स के उप्पर से सहेलने लगी और मेी आँखे बंद करके लेता रहा.

उसने मेरे बॉक्सर्स नीचे किए आंड मेरे मोटे लंड को देख कर वो चौक गयी. उसने कहा काफ़ी दीनो बाद इतना मोटा लंड देखने को मिला और एक नॉटी सी स्माइल दी.

वो उससे हाथ मेी लेके उप्पर नीचे करने लगी. इतने सॉफ्ट आंड गरम आयिल से भरे हाथ लंड पे बहोट अछा लग रहा था. फिर वो नीचे झुकी आंड मेरे लंड के टॉप को मूह मेप लेके चूसने लगी.

मुझे तोड़ा शॉक लगा बुत अब हवस मेरे उप्पर पूरी तरह चढ़ गयी थी. मैने उसका सिर अपने लंड मेी दबाना चालू करा और उसके मूह को छोड़ना शुरू कर दिया. वो आधा लंड ही अंदर ले पा रही थी.

15 मीं बाद मैने उससे उठाया आंड उसके त शर्ट के उप्पर से उसके बूब्स के साथ खेलने लगा. उसने अपनी त शर्ट और पंत उतार दी और मेरे उप्पर आके मुझे किस करने लगी.

उसके बूब्स देख के मेी पागल हो गया आंड उनपे टूट पड़ा. इतने मुलायम बूब्स थे उसके. उन्हे बारी बारी से मूह मेी लेके चूस रहा था आंड दूसरे हाथ से उसकी गांद दबा रहा था.

हम फिर 69 मेी आ गये. उसकी चिकनी छूट और बड़ी गांद को देख कर मेरे मूह मेी पानी आने लगा. आंड मैने अपना मूह उसके गांद मेी घुसा दिया. वो तेज़ तेज़ मोन करने लगी और पागलो की तराहा मेरा लंड चूसने लगी.

मैने उसकी गांद के छेड़ को आचे से छाता और फिर उसके छूट मेी अपना जीभ घुसा दिया. उसी दौरान मेने अपनी एक उंगली उसके गांद मेी डाल दी जिससे उससे एक झटका सा लगा बुत उसने कुछ बोला नही.

10 मीं चाटने के बाद वो अचानक से हिलने लगी और ज़ोर से मोन करते करते वही झढ़ गयी. मैने उसका पानी पी लिया जो की तोड़ा नमकीन बुत बहोट टेस्टी था.

फिर वो उठी और मुझे उल्टा लेटने को कहा. जैसे ही मई उल्टा हुआ उसने मेरी गांद पे एक थप्पड़ मारा और उससे चाटना शुरू कर दिया. साथ वो मेरा लंड सहलाने लगी. इसमे मुझे बहोट मज़्ज़ा आ रहा था.

वो बारी बारी कभी लंड चुस्ती और गांद चाट्ती. वो अपनी जीभ को मेरी गांद से लंड के टॉप तक पूरा चाट्ती. उसने मेरी गांद मेी उंगली भी करी जिससे मुझे पहले तोड़ा दर्द हुआ बुत बाद मेी काफ़ी मज़ा आया.

गांद मेी उंगली करते वक़्त वो मेरा लंड चूस रही थी. वो बिल्कुल पोर्नस्तर जैसे चूस रही थी. चूस्ते चूस्ते वो मेरे बॉल्स के साथ भी खेल रही थी.

करीब 15 मीं और चूसने के बाद मैने उससे कहा मेरा निकालने वाला है. तो उसने लंड बाहर निकाल के अपने बूब्स के बीच मेी दबा दिया और उप्पर नीचे करने लगी. इससे मुझे इतना मज़ा आ रहा था की मई 2 मीं मेी झढ़ गया.

मैने उससे कहा मुझे उसे छोड़ना है बुत हम दोनो के पास ही कॉंडम नही था और हुमारा टाइम भी पूरा होने वाला था. फिर हम साथ मेी शवर लेने गये जहा उसने मुझे आचे से नहएलाया आंड मेरे लंड के साथ फिरसे खेला.

जाते वक़्त मैने उसे एक किस किया आंड 3000 टिप दिया. 2 दिन बाद मैं वाहा फिरसे गया बुत इस बार कॉंडम लेके, बुत ये कहानी फिर कभी 😉
आप मुझे संपर्क कर सकते ही इस मैल ईद पे – [email protected]

यह कहानी भी पड़े  शिवानी की ज़िंदगी का सफ़र

error: Content is protected !!