कस्टमर को डिन्नर पर बुला कर चोदा

दोस्तो ये कहानी एक प्रॉपर स्टोरी के टाइप लिख रहा हू उमीद है पसंद आएगी. डाइरेक्ट चुदाई पर ना आते हुए धीरे धीरे आयेज बढ़ेंगे…

हेलो दोस्तो ये कहानी ये मेरी एक कस्टमर और मेरे बीच.

कस्टमर:

नामे- संगीता

आगे- 34

डिवोर्स्ड.

दोस्तो मेरा ऑनलाइन सेक्स टाय्स सेल्लिंग का काम है और मेरी टीम कपल्स को प्रॉपर एंजाय करने मे हेल्प करती है थ्रू फोन कन्सलटेन्सी आंड ओवर टेक्स्ट्स.

नामे – जे

आगे- 30

अनमॅरीड.

तो दोस्तो बात कुछ इस तरह है, हुंसे एक पारोडुक्त लेने के बाद कुछ टाइम बाद संगीता का म्स्ग आया.

संगीता- ही, मैने आपसे एक पारोडुक्त लिया था उसमे फॉल्ट आ गया है.

जे- जी माँ, योउ कॅन सेंड इट तो तीस अड्रेस. वी विल रिपेर इट इफ़ पासिबल ओर इफ़ योउ वॉंट वन ऑफ और मेंबर विल कम तो योउ आंड टके थे पारोडुक्त.

संगीता- नही, यहा तो नही आ सकते आप अड्रेस बता दो मई सेंड करती हू.

जे- जी माँ. **#, न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी, देल्ही.

संगीता- ओक थॅंक्स.

अभी तक हुमारी टेक्स्ट पर ही कॉन्वर्सेशन हो रही थी. और 4 दिन बाद पारोडुक्त रेसीएवे होने के बाद हुँने देखा तो पारोडुक्त की बॅटरी मे इश्यू था और हुँने चेंज करके माँ को म्स्ग किया.

जे- हेलो माँ, योउ तेरे? युवर पारोडुक्त इस रेडी. टेल उस वेर योउ वॉंट उस तो डेलिवर इट.

संगीता- ******, **********, गुरगाओं.

जे- ओक माँ, कॉंटॅक्ट नंबर भी बता दीजिए.

संगीता- ***7***4**

जे- थॅंक्स माँ.

संगीता- इट्स जस्ट संगीता.

जे- ई आम जे. ई आम थे ओनर आक्च्युयली.

संगीता- श, थॅंक्स जे. युवर सर्विस इस रियली गुड.

जे- थॅंक्स माँ, इट्स जस्ट ऑल युवर लोवे आंड सपोर्ट.

संगीता- फिर माँ.

जे- ओक संगीता.

संगीता- गुड, अब कब तक मिल जाएगा पारोडुक्त?

मैने तोड़ा फ्लर्टी वे मे दोस्त के लिहाज़ से बोला..

जे- जी मेरा बस चले तो सामने आके ही डेलिवर करू आपको.. बुत तोड़ा काम ज़्यादा है. विनटर्स आ रही है तो.

संगीता- हन हन क्यू नही, ज़रूर टाइम निकलना

जे- जी.. चलो मई सेंड कर दूँगा, आपको रेसीएप्ट भेजता हू.

संगीता- ओके जे, अछा तुम्हारा नंबर मिल सकता है?

मैं अभी तक सोच रहा था की संगीता मॅरीड है और आपकी मॅरीड लाइफ को ही आचे से एंजाय करने के लिए पारोडुक्त उसे कर रही है. मैने अपना नंबर दे दिया और 4 दिन बाद अननोन नंबर से म्स्ग आया.

संगीता- हिी, गॉट मी पारोडुक्त डेलिवर्द थॅंक्स.

जे- ओके, वेलकूमे.

फिर मैने कोई म्स्ग नही किया मुझे लगा कोई होगा, ड्प शो नही हो रही थी इसलिए.

2 दिन बाद-

संगीता- शायद अपने मेरा नंबर सवे नही किया, या वर्क लोड ज़्यादा है?

जे- जीई, वर्क लोड ज़्यादा है वैसे आप???

संगीता- अर्रे यार, संगीता. ई विश तुम्हारा वर्क लोड तोड़ा कम कर पाती.

जे- ऑश ही, हांजी बिल्कुल.. ई विश आप यहा होते तो ज़रूर कर देते लोड कम.

संगीता- मई वर्क लोड की बात कर रही थी.

जे- श हन वो भी..

मैने विंकी एमोजी सेंड किया और मेरे ऐसे रिप्लाइ के बाद संगीता भी तोड़ा और ओपन होने लगी और बोली-

संगीता- अछा और कों सा लोड कम करते तुम?

जे- यहा होते तो बता देता अब फोन पर क्या ही बतौ…

संगीता- नही यार मई मिल नही सकती, मेरे डाइवोर्स का केस चल रहा है अभी फाइनल होने तक कुछ नही कर सकती मई ऐसा वैसा जिससे असर पड़े.

जे- ओह सॉरी, बुरा वक़्त है निकल जाएगा.

संगीता- हांजी थॅंक्स, चलो कार्लो तुम काम मई करती हू बाद मे.

जे- कुछ बुरा लगा हो तो सॉरी, चलो आप एंजाय करो गुड नाइट.

फिर बस ऐसे ही ही हेलो और फेस्टिवल्स विश हुई और करीब 6 मंत्स के बाद संगीता का फिर म्स्ग आया.

संगीता- हेलो जे, कैसे हो ? अब भी वर्क लोड है क्या?

जे- हेलो संगीता, मई ठीक हू आप ब्ताओ. हांजी अपने लोड कम करवाया ही नही तो अभी ऐसे ही है.. और हासणे वाली एमोजीस सेंड कर दी.

संगीता- ऑश ऐसा क्या, वैसे 2 चीज़े बतानी थी.

जे- हांजी बताओ, डाइवोर्स हो गया सेट्ल?
संगीता- अरे वाहह क्या गेस किया है, तुम्हे अब भी याद है..

जे- हांजी बिल्कुल, कंग्रॅजुलेशन्स, और दूसरी?

संगीता- परसो बर्तडे है मेरा..

जे- ओह वाउ वेरी नाइस, अड्वान्स मे हॅपी बर्तडे.

संगीता- ये क्या है अभी से विश, अभी तो है ना टाइम.

जे- हांजी वो मैने एग्ज़ाइट्मेंट मे बोल दिया, चलो पार्टी मेरी तरफ से.

संगीता- ठीक है डन, बताओ कितने बजे फ्री होगे?

जे- 7 बजे के बाद फ्री ही फ्री, फिर पूरी रात तुम्हारे नाम.

संगीता- हाहाहा अछा चलो देखते है, प्लान करोगे कुछ तो बता देना, ऐसा ना हो प्लान ही फैल हो जाए तुम्हारा.

जे- अरे नही, एक काम करते है ना कल ही 7 बजे से स्टार्ट करते है, 12 बजते ही ब्दे सेलेब्रेट कर लेंगे.

संगीता-पर जाएगे कहा..?

जे- रेस्टोरेंट मे चलते है, मई अज़ौगा वही.

संगीता- नही यार इधर नही, मई अज़ौंगी. यहा कोई देख लेगा तो अजीब सीन हो जाएगा.

उसकी ऐसी बातो से मुझे कुछ साँझ न्ही आ रहा था की संगीता किससे दर रही है और क्यू.

जे- ओके कोई नही इधर आ जाना यहा किसी रेस्टोरेंट मे चलते है.

संगीता- ठीक है कल दिन मे बताती हू फाइनल, ओके?

जे- जी ओके.

नेक्स्ट दे.

संगीता- सुनो जे, मुझे 8 बाज जाएगे आते आते.

जे- अछा कोई नि फिर डिन्नर करते है आराम से.

संगीता- ओके, बुकिंग्स चेक की किसी रेस्टोरेंट की?

जे- नही, ऐसे ही मॅनेज हो जाएगा.

संगीता सोच रही थी मई कुछ स्पेशल प्लान कर रहा हू.

जे- अछा सुनो तुम्हे घर जाने की जल्दी तो नही है ना, ई मीन यही रुक जाना.

संगीता- यही कहा???

जे- इफ़ योउ डोंट माइंड, फ्लॅट है ना यहा पर मेरा, सुबह चले जाना.

संगीता- नही मई 1 बजे तक कॅब लेकर चली जौगी, डोंट वरी ब्दे माना के ही जौंगी.

जे- ओके..

7 से 8 बजे के टाइम के बीच मे मैने फ्लॅट आचे से डेकरेट करवा लिया और केक लेकर और ड्रिंक्स रख के प्लान किया पूरा.

संगीता और मैं प्लान के अकॉरडिंग मिले.

अब 8.15 हो चुके थे और हम रेस्टोरेंट की तरफ गये. हम एक दूसरे से पहली बार मिल रहे थे और तोड़ा शाइ फील कर रहे थे. हुँने एक रेस्टोरेंट पर बैठ कर खाना ऑर्डर किया और करीब 15 मिंट बाद खाना आ गया.

जे- संगीता तोड़ा कम खाना, बाद मे केक भी खाना है.

संगीता- अछा ठीक है, एक काम करते है एक मे से खा लेते है और एक पॅक करवा के किसी को बाहर दे देंगे.

जे- हन गुड आइडिया, ड्रिंक करोगे?

संगीता- नही यार मैने किया नही है कभी..

जे- हन तभी तो बोल रहा हू मज़ा आएगा, डोंट वरी मई हॅंडल कर लूँगा.

संगीता- ओके पर कहा पिएगे..??

जे- क्लब??

संगीता- नही यार पब्लिक प्लेस मे नही.

जे- ठीक है फ्लॅट पर चलते है.

संगीता- कोई इश्यू तो नही होगा वाहा पर?

जे- नही यार रिलॅक्स, वी अरे जस्ट सेलेब्रेटिंग युवर ब्दे.

और हम दोनो खाना खा के आराम से फ्लॅट की तरफ निकल पड़े.. करीब 10 बजे हम फ्लॅट के पास पहुच गये और खाने का स्नॅक्स वगेरा और कोल्ड ड्रिंक आंड जूस ले लिया.

संगीता- मास्क लगा लू, कोई देखेगा भी नही?

जे- तुम डरो मत, फर्स्ट टाइम है ऐसे?

संगीता- हन यार तभी तो.

जे- अछा चल मेरा हाथ पकड़ ले.

संगीता- ठीक है..

हाथ पकड़ते ही दोनो को एक अजीब सा फील आया और हम उपर जाने लगे. हम फ्लॅट के सामने थे और मैने संगीता को आयेज किया की अंदर चलो.

संगीता फ्लश ओं करने लगी की तभी मैने संगीता की आँखे बंद कर ली अपने हाथ से.

दोस्तो नेक्स्ट पार्ट के लिए आप मुझे मैल करे और बताए की कैसी लग रही है आपको स्टोरी –

यह कहानी भी पड़े  पति ने अपनी बीवी को मुझसे चुडवाया

error: Content is protected !!