कलिग की वाइफ को चीटिंग करते हुए पकड़ा

हम दोनों लिफ्ट में थे तब मैंने उसके बॉस का मोबाइल नम्बर माँगा. वो डरी हुई थी और मैंने उसे शांत किया. उसने नम्बर ददे दिया और एड्रेस भी. शीतल ने कहा वो मुझे घर पर ले जा के भी चोद चूका हे जब उसकी फेमली बहार थी तब. मैंने उसके बॉस की कुछ और डिटेल्स ली और भाभी को कहा की घबराओ मत अब वो आगे से कुछ नहीं कर पायेगा तुम्हे. बदले में मुझे क्या लेना था वो भी मैंने लिफ्ट में ही क्लियर कर दिया.

दुसरे दिन मैंने उसके बॉस को कॉल किया और कहा की तूम जिस औरत के साथ गए थे होटल में उसका क्लिप हे मेरे पास. वो बोला, हु ध हेल आर यु? मैंने कहा, अगर अब चू चां की तो वो क्लिप मैं तेरी वाईफ को भेज दूंगा और उस औरत के पास पुलिस केस बी ही करवा दूंगा जबरदस्ती का. उसने फोन काट दिया. फिर उसकी कॉल आई सामने से. मैंने कहा अच्छा हे तूने कॉल किया वरना मैं तेरी वाइफ को ही डायल कर रहा था. वो बोला, प्लीज़ ऐसा मत करना मेरे ससुर के पैसे से ही मैं बिजनेश जमाया हे. वो मुझे निकाल देगी घर से.

मैंने कहा मुझे सिर्फ 2 लाख रूपये दे दो और वादा करो की उस औरत को तंग नहीं करोगे फ्यूचर में. मैं सब सबूत मिटा दूंगा. उसने कहा उसका क्या भरोसा की तुम मुझे बाद में ब्लेकमेल नहीं करोगे?

मैंने कहा भोसड़ी के क्या मैं तुझे चवनप्राश वाला दिख रहा हूँ जो उतना पूछ रहा हे. वो रेडी हो गया पैसे देने के लिए. अगले दिन मैं शीतल भाभी के घर गया. मेरा कलिग काम पर था उस वक्त. मैंने घर में घुस के दरवाजे को लोक किया. मैंने पूछा आशित (उसका बेटा) कहा हे. वो बोली सो रहा हे. मैंने उसे अपने पास में बिठाया. और उसे पूरी बात बताई. लेकिन मैंने उसके बॉस से पैसे लेने वाली बात छिपाई थी. मैंने उसे कहा की अब तुम्हारा बॉस कभी तंग नहीं करेगा तुम्हे. उसकी आँख भर आई और वो अपने बेडरूम में भागी.

मैं भी उसके पीछे चला गया और उसके कंधे पर हाथ रख के उसे शांत किया. वो बोली, मेरा बॉस बड़ा हरामी हे उसने मुझे अपने दोस्तों से भी चुदवाया हे काफी दफा. मैंने कहा, तो हम उसे सजा देंगे उसकी. वो बोली कैसे? मैंने कहा वो मुझपर छोड़ दो. वो बोली, मेरा नाम नहीं आना चाहिए प्लीज़, मैं एक शादीसुदा औरत हूँ. मैंने कहा, डार्लिंग अब तुम मेरी जिम्मेदारी हो.

वो अपने बेड के ऊपर बैठी हुई थी. मैंने उसे अपनी तरफ घुमा के उसे एक किस कर ली. फिर मैंने उसे कहा की आई लाइक यु सो मच. फिर मैंने उसे कहा की मैं तुम्हारे साथ जबरदस्ती से नहीं लेकिन शान्ति से और तुम्हारी सहमती से प्यार करना चाहता हूँ.

इतना कह के मैं हॉल में चला गया और उसकी वेट करने लगा. 10 मिनिट के बाद वो आई और उसने मुझे शरबत दिया. उसने कहा की मेरे बॉस का कॉल आया था उसने मुझे सोरी कहा और ये भी बोला की अब कभी वो परेशान नहीं करेगा.

यह कहानी भी पड़े  गाओं की सेर पॉर्न कहानी

वो मेरे पास बैठी और मैंने उसके कंधे के ऊपर हाथ रख दिया. फिर मैंने उसके चहरे को ऊपर उठाया और अपने होंठो से उसे चूसने लगा. मैंने उसे कहा तू बहुत सेक्सी हे भाभी. और फिर से हमारे होंठ भीड़ गए. फिर वो बोली, यहाँ कुछ भी नहीं चलो मैं तुम्हे बेडरूम में बुलाने के लिए ही आई थी. वो मेरा हाथ पकड़ के बेडरूम में ले गई. मैंने उसका टॉप उतार दिया और मैं उसे नंगी देखने के लिए बेताब था.

उसकी बॉडी का आकार एकदम सेक्सी था और अंदर उसने एक डिजाइनर ब्रा पहनी हुई थी. मैंने हुक खोल दिए और उसके मस्त बूब्स बहार आ गए. वो सिन एकदम ही हॉट था. उसके बूब्स एकदम सफ़ेद थे और निपल्स एकदम गुलाबी यानी की पिंक. शीतल भाभी को बूब्स दिखा के शर्म आ गई और उसने अपने चहरे को हाथ से ढंक लिया. मैंने निचे हो के अपने होंठो से उसके बूब्स को मुहं में ले लिए. मैंने धीरे से उसके दूध के जग के साथ खेलना चालू कर दिया था.

चूसने पर मुझे उसके बूब्स से दूध का सवाद आ रहा था. मैंने सरप्राइज से उसकी तरफ देखा. उसने कहा की मेरा बच्चा होने के बाद भी आप के कलिग मेरे बूब्स को चूसते रहे इसलिए दूध बंद नहीं हुआ हे. मैंने उसके बूब्स को दबाया और वापस से निपल को मुहं में ले के भाभी के दूध को पिने लगा. दोनों बूब्स से मैंने वन बाय वन दूध को पिया.

उसके दूध खाली होने तक मैंने उसके निपल चुसे. फिर मैंने उसे बिस्तर के ऊपर बिठा दिया. मैंने उसकी पेंट को खोली और निकाल दी. मैंने सोचा की जब ये शीतल भाभी इतनी हॉट हे फिर उसके बॉस का मन बिगड़ जाए उसमे कोई बुराई ही नहीं हे. ऐसे सेक्सी बदन को पाने के लिए तो कितना बड़ा रिस्क भी लिया जा सकता था.

मैंने उसके सेक्सी लेग्स और जांघो को किस किया. फिर मैं धीरे से उसकी चूत की तरफ बढ़ गया. उसकी पेंटी भी महंगी और डिजाइनर थी. मैंने उसे साइड में की तो उसकी बिना बाल की गुलाबी चूत दिखी. उसके पुसी लिप्स भी एकदम गुलाबी ही थे.

मैंने उसे बेड में धकेल के वो मजा दिया जिसके लिए कोई भी लड़की मरती हे. वो जोर जोर से मोअन कर रही थी और मुझे रोकने के लिए कह रही थी, मनीष भाई वहां गन्दा हे मत चाटो!

मैंने कहा, भाभी वहां चाटने के लिए तो मैं कुछ भी कर जाऊ!

उसकी चूत से पेशाब की स्मेल आ रही थी. मैंने उसे कहा, गन्दा तो गन्दा ही सही लेकिन मैं तुम्हारी चूत को चाटे बिना नहीं रह सकता हूँ मेरी जान. मैं उसकी चूत की फांको को और अंदर की दीवारों को चाटता रहा.

फिर मैंने धीरे से अपनी दो बड़ी उंगलिया उसकी चूत में डाली. उसकी बॉडी सख्त हुई और वो अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह कर उठी. उसने एक जोर की मोअन की और मुझे अपनी चूत से दूर कर दिया. उसकी साँसे उखड़ चुकी थी और आँखे बंद हो गई थी.

यह कहानी भी पड़े  मामा ने ढूंढा तिल

कुछ पल के बाद उसने आँखे खोल के मेरी तरफ देखा. अब उसकी आँखों में भी वासना उमड़ पड़ी थी जो मैंने आज से पहले कभी नहीं देखी थी. उसने मुझे एकदम टाईट हग दिया और मेरे होंठो के ऊपर किस करने लगी. उसने मेरे होंठो को काट भी लिया और एकदम जंगली के जैसे उन्हें चूसने लगी. फिर कुछ देर ऐसे किस कर के उसने अपना चहरा हटाया. उसने कहा, आज से पहले किसी ने भी मेरी चूत नहीं चाटी थी.

फिर शीतल भाभी ने मेरी चड्डी को निचे कर दी और मेरे लंड को हाथ में ले लिया. वो लोहे के जैसा सख्त था. उसने अपनी टांगो को पूरा खोल दिया और सही आसन बना लिया. मैंने अपने लंड को उसकी चूत के मुख पर रख के रगड़ना चालू कर दिया. उसने मुझे अपनी तरफ खिंचा मेरे बम्स पकड के. मेरा लंड उसकी चूत में था बिन्स किसी अवरोध के. वो गीली थी और उसकी चूत पानी छोड़ने की वजह से एकदम ढीली थी. मैंने रिध्म के साथ शीतल भाभी को चोदना चालू कर दिया.

चोदते हुए मैं उसे चूस भी रहा था और उसके बूब्स भी दबा रहा था. निपल से बिच बिच में दूध बहार आ जाता था जिसे मैं पी लेता था.

भाभी एकदम चुदासी हो गई और बोली, जोर जोर से करो मनीष भाई.

मैंने उसके बूब्स पकडे और एकदम कस कस के उसकी चूत पेलने लगा. मैंने उसे कहा, अब मनीष कहना जब हम दोनों अकेले हो. हसबंड के सामने मनीष भाई कह सकती हो बस.

वो हंस पड़ी. मैं एकदम वाइल्ड तरीके से उसकी चूत से पूरा लंड निकाल के फिर अन्दर घुसेड देता था. पांच मिनिट की हार्ड फकिंग के बाद मेरा लंड पानी मार उठा उसकी चूत के अंदर ही. वो बड़ी खुश थी और उसने कहा की मुझे आज से पहले ऐसा मजा किसी भी मर्द के साथ नहीं आया.

मैंने कहा, अब तो ये मजे आप को रेगुलर मिलेंगे.

उसी हफ्ते मैं शीतल के बॉस से दो लाख रूपये ले आया. शीतल को मैंने उसमे से एक लाख का सोना दिलवा दिया ताकि उसे ऐसा लगे के मैं उसका यूज नहीं कर रहा था.

दो साल तक मेरी और शीतल भाभी की चुदाई चली. उसके हसबंड ने जेक लगा के वापस हिमाचल पोस्टिंग ले ली थी इसलिए वो लोग मुंबई से चले गए. आज भी शीतल भाभी का सेक्सी बदन और उसे चोदने के एक एक पल की याद दिल में बसाए हुए हूँ मैं.

Pages: 1 2

error: Content is protected !!