चार लड़कों ने मिलकर खूब चुदाई की

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम गीतांजलि है और में हरयाणा की रहने वाली हूँ। मेरी उम्र 26 साल है और मेरा फिगर 34-28-33 है में अब तक कुंवारी हूँ और मेरा एक बॉयफ्रेंड है जिसका नाम रोहित है जो कि मेरा स्टूडेंट भी है और अब आप सभी मेरे साथ घटी एक सच्ची घटना सुनिए जिसके लिए में आज  पर आई हूँ। वैसे में अब तक कहानियों को पढ़ती आ रही हूँ और ऐसा करने में मुझे बहुत मज़ा आता है। एक दिन हम दोनों मोटरसाइकिल पर किसी रिज़ॉर्ट पर घूमने गये थे जो कि सिटी से बहुत अलग हटकर शांत जगह पर बना हुआ था। रात को हम दोनों वापस आने में थोड़ा सा लेट हो गये इसलिए तब तक अँधेरा बहुत हो चुका था और वो सर्दी का सीज़न था इसलिए वो रोड़ बहुत ही सुनसान था। तो रोहित और में उस मोटरसाइकिल पर धीरे धीरे बातें करते हुए आ रहे थे कि दूर एक लड़का दिखा जो कि हमे हाथ दे रहा था वो एक फार्महाउस के सामने खड़ा हुआ था। रोहित ने मेरे मना करने के बावजूद भी मोटरसाइकिल को रोक दिया। अब एकदम से दो और लोग हमारे सामने आकर खड़े हो गए और उन्होंने चाकू निकाल लिया और रोहित के पेट पर लगाकर वो बोले कि चलो पैसा निकालो। फिर रोहित ने तुरंत अपना पर्स निकालकर उनको दे दिया, लेकिन उसके पर्स में सिर्फ़ 100 रूपये ही थे, वो तीन लड़के थे उनकी उम्र 28-30 के बीच होगी और वो सब थोड़े पिए हुए थे। फिर एक पर्स खोलने के बाद बोला अरे इसमे तो सिर्फ़ 100 रुपए है, दोस्तों इससे क्या होगा वैसे वो लोग दिखने में लूटेरे भी नहीं लग रहे थे, क्योंकि उन तीनों ने अच्छे कपड़े पहने हुए थे फिर दूसरा लड़का बोला अरे जेब में पैसा है तो बाहर निकाल दो नहीं तो में इस चाकू को तुम्हारे पेट में डाल दूँगा। अब रोहित ने कहा कि बस इतना ही है। मेरे पास और कुछ नहीं है चाहे तो तुम लोग मेरी तलाशी ले सकते हो, लेकिन इस चाकू को तुम दूर रखो।

यह कहानी भी पड़े  पति की सहमति से परपुरुष सहवास-1

फिर अगला लड़का बोला दोस्तों इतने में तो एक बोतल भी नहीं आएगी, अब क्या करे, एक काम करो इसकी बीबी की सोने की चैन ले लो। तभी रोहित ने कहा कि यह मेरी बीबी नहीं है यह मेरी गर्लफ्रेंड है, तो दूसरा लड़का बोला अच्छा तो यह तेरी गर्लफ्रेंड फिर तो तुम बड़े ऐश करके आ रहे हो, चलो हमे इससे क्या मतलब? लेकिन इस समय रात को चैन बेचकर पैसे हमें कहाँ मिलेंगे और इतनी ही देर में एक ने मेरी चैन की तरफ अपना हाथ बढ़ा दिया जो कि मेरे निप्पल पर लटक रही थी। वो चैन को पकड़ने ही वाला था कि उसकी नज़र मेरे निप्पल पर गयी और फिर वो बोला कि रहने दो वैसे भी हमने अब बहुत पी ली है ज़्यादा मत पियो और उसने इशारा करके अपने साथियों को मेरे निप्पल दिखाए और वो बोला कि अरे यह तो बड़ा मस्त माल है चलो दारू नहीं तो यही सही। दोस्तों उस समय में खड़ी हुई थी और रोहित मोटरसाइकिल पर बैठा हुआ था एक ने मुझे पीछे से पकड़ लिया और उसने मेरे मुहं को हाथ से पकड़ लिया। फिर उसके बाद मेरे गले पर चाकू रख दिया और वो बोला कि चलो तुम अंदर चलो वहाँ हम तुम्हारी तलाशी लेंगे। अब उन लोगो के साथ हम दोनों चुपचाप उनके साथ अंदर आ गये, तो में तुरंत समझ गयी थी कि इनका क्या प्लान है क्योंकि में उस समय काले रंग की साड़ी में बहुत ही आकर्षक लग रही थी और मेरा ब्लाउज भी काले रंग का था और उसके अंदर भी मैंने काले रंग की ब्रा पहनी थी। दोस्तों रोहित ने तो हॉस्टल से बाहर निकलते वक़्त ही कहा था कि आज तुम इस साड़ी में वाह क्या मस्त कयामत लग रही हो? लेकिन उसे यह नहीं पता था कि आज हमारे साथ आज क्या होने वाला है? थोड़ी देर में हम कमरे के अंदर आ गये तो उन्होंने रोहित को कुर्सी पर बैठने को कहा। तो डरने की वजह से वो बैठ गया। फिर उन तीनो ने जबरदस्ती उसको रस्सी से उस कुर्सी पर बाँध दिया और उसका मुहं भी एक कपड़े से बाँध दिया जिससे वो आवाज़ ना कर सके और उसके बाद एक लड़का बोला कि पैसे तो तुम्हारे पास नहीं है, लेकिन तुम्हारी गर्लफ्रेंड तो बहुत मस्त है और आज हम तीनों इसकी चुदाई करेंगे, तूने तो इसको बहुत बार चोदा होगा, क्यों में सही कह रहा हूँ ना, चलो आज इसको छोड़कर थोड़ा मज़ा आज हम भी ले लें और हाँ सुबह तुम लोग आराम से यहाँ से जा सकते हो कोई प्राब्लम नहीं होगी, लेकिन उसके बाद अगर तुमने कुछ शिकायत करने की कोशिश की तो उसमे बदनामी तुम्हारी ही होगी क्योंकि हमारा तुम कुछ नहीं कर पाओगे इसलिए ज़्यादा होशियार मत बनना और चुपचाप कुर्सी पर सो जाओ और अब वो तीनों रोहित को उस रूम में बंद करके मुझे दूसरे रूम में ले आए इतने में उनके एक दोस्त का फोन आया, तो उन्होंने उसको बोला कि हम फार्महाउस पर है और हमारे पास दारू तो नहीं है अगर तुम एक बोतल लेकर आओ तो एक माल है हमारे पास आज रात के लिए तुम्हे भी मज़ा आ जाएगा बस तुम दारू लेकर जरुर आना।

यह कहानी भी पड़े  Meri Kunvari Gaand Ki Shaamat Aa Gai- Part 2

Pages: 1 2 3 4 5

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!