लेज़्बीयन सेक्स का मज़ा लिया लड़की ने

हेलो दोस्तों, कैसे हो आप सब? मेरी रियल स्टोरी में आप सभी का स्वॅग से स्वागत है. आज मैं अपनी एक और रियल सेक्स स्टोरी लेके आया हू. जिसमे मैने एक खूबसूरत लड़की को लेज़्बीयन सेक्स का मज़ा दिया.



मेरा नामे रोहित है. मेरे आगे 27 है. मेरा लंड 7 इंच का है, और मैं राजस्थान से हू. मुझे कुछ दिन पहले एक मैल आया जिसमे एक लड़की ने मुझे बोला की उसे लेज़्बीयन सेक्स चाहिए. वो लेज़्बीयन थी. उसने कहा की उसे लंड का मज़ा नही लेना था.

लड़की बोली: छूट में लंड डालने के अलावा आपको मेरे साथ सब कुछ करना है.

मैने कहा: ठीक है, आप आ जाओ.

मैं उस लड़की के बारे में बता डू. उसका नामे सुधा है. उसकी आगे 24 थी. वो उ.प. की रहने वाली थी.

उसने मुझसे कहा: आप कॉल बॉय हो, मुझे आप से लेज़्बीयन सर्विस चाहिए.

मैने कहा: ओक बेबी, आप आ जाओ?

हमने मिलने का प्लान बनाया. उसने 4 दिन बाद आने का बोला. मैने फिर उसे अपना नंबर दे दिया. फिर वो 4 दिन बाद सॅटर्डे को मेरी सिटी के किसी होटेल में आ गयी. उसने मुझे व्हातसपप पर लोकेशन सेंड कर दी.

मैं भी उससे मिलने चला गया. जब मैं उसके रूम में गया, तो उसने उस टाइम ब्लू जीन्स और ब्लू टॉप पहना था. खूबसूरत फेस के साथ वो मुझसे गले लग गयी. मैने भी उसकी नेक पर किस करके उससे ही बोला.

उसने कहा: आज आपको मेरे साथ क्या करना है पता है ना?

मैं: हा मेरी जान. चुदाई नही करनी है, बाकी सब करना है.

सुधा: अर्रे पागल. चुदाई भी करनी है, लेकिन लंड से नही.

मैं समझ गया की उसे उंगली डालना पसंद था. फिगरिंग चुदाई करनी थी उसे. मैने उसे उठाया और सीधा बेड पर ले गया. वो स्माइल करते हुए मेरे गले में हाथ डाल कर मुझे किस करने लगी. मैने भी उसके सॉफ्ट होंठो को किस किया.

सुधा अब मेरे नीचे लेती हुई थी, और मैं उसके उपर था. उसके मुलायम फेस को मैं चाटने लगा. सुधा मेरे बालों को सहलाते हुए सिसकियाँ ले रही थी.

सुधा: उम्म्म उहह रोहित. एस मज़ा आ रहा है.

अब मैं उसकी ज़ुबान को चूसने लगा. उसने भी मूह खोल कर मेरी ज़ुबान को चूसा था. मैं सुधा की लिप्स को खूब मज़े से किस करने और काटने लगा. सुधा बेड पर मचलने लगी. वो गरम-गरम मोन्स भरने लगी.

सुधा: श उहह आह. और करो ना जान. खा जाओ मेरे होंठो को.

सुधा भी गरम होके मेरे होंठो को चूसने लगी. 10 मिनिट किस्सिंग करने के बाद उसने मेरे त-शर्ट निकाल दी. मैने भी उसका टॉप उतार दिया. सुधा ने अंदर ब्लू ब्रा पहनी हुई थी. उसके बूब्स टाइट हो गये थे.

मैं सीधा ब्रा के उपर से उसके बूब्स चूसने लगा. सुधा मेरा सिर बूब्स में दबाने लगी. वो गरम ज़ोरदार सिसकी लेके बोली-

सुधा: आह उहह क्या मज़ा देते हो तुम. बहुत बढ़िया. और करो ना बेबी.

सुधा के बूब्स मैं ज़ोर से दबाने लगा. इससे उसकी चीख निकल जाती. अब मैने उसकी ब्रा भी निकाल दी. सुधा के नंगे बूब्स को ज़ोर-ज़ोर से चूसने लगा. उसके एक निपल को चूस्टा, और दूसरे को दबाने लगता. इससे उसकी गरम सिसकी निकल जाती.

सुधा: उहह आह ऑश एस मज़ा आ रहा है. बहुत अछा बेबी, और दब्ाओ मेरे बूब्स.

20 मिनिट बारी-बारी से दोनो बूब्स खूब चूज़, और निपल को खूब दबाया. इससे दोनो निपल कड़क हो गये. सुधा की आँखों में कामुकता भरने लगी. वो अब मेरे उपर आ गयी, और मेरी चेस्ट को चाटने लगी.

सुधा ने मेरे आर्म्स को खूब छाता. मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था. एक लेज़्बीयन लड़की के साथ फोरप्ले करने का मज़ा अलग है. उसने मेरे आर्म्स खूब दबा के छाता. सुधा की मुलायम ज़ुबान मेरे निपल पर आ गयी.

सुधा अपनी आँखें बंद करके उसे पुर दिल से चाट रही थी. उसके खुले बाल उसके गोरी पीठ पर और कुछ बाल मेरी चेस्ट पर फैल रहे थे. अब सुधा मेरी चेस्ट के दोनो निपल्स को खूब ज़ोर से चाटने लगी. वो स्किन को मूह में लेके चूसने लगी. इससे मेरी भी सिसकी निकल गयी.

मैं: उहह उम्म्म. मेरी रानी, क्या मज़ा दे रही हो तुम.

सुधा ने मेरी पूरी चेस्ट को 25 मिनिट तक खूब चाट के गीला कर दिया. अब वो मेरे पेट और नाभि को चाटने लगी. सुधा ने अपना मूह मेरी नाभि में दबा दिया, और उसकी स्किन को चूसने लगी. मैं तो जन्नत में था. क्या मज़ा आ रहा था.

मैं: श उहह और कर मेरी रानी.

सुधा: ह्म, नज़ा आ रहा है ना. मैं ऐसे ही करती हू.

मैं: बहुत मस्त चूस्टी है तू.

उसने अब मेरी जीन्स निकाल दी, जिसमे मेरा 7 इंच का लंड ककचे में खड़ा था. सुधा ने मेरा कक्चा भी निकाल दिया. मैं उसके सामने नंगा था. मेरा काला लंड उसके सामने था. वो मुझसे बोली-

सुधा: मैं पहली बार सामने से किसी लंड को देख रही हू. बहुत मस्त और बड़ा है. अब तक तो बस सेक्स वीडियो में देखा था.

सुधा: मैने अब तक लेज़्बीयन ही किया है. आज तुम्हारे साथ लेज़्बीयन करने में मज़ा आएगा. कुछ न्यू लेज़्बीयन होगा ये.

मैं: मुझे भी मज़ा आ रहा है इस लेज़्बीयन सेक्स में.

अब सुधा ने मेरा गरम लोड्‍ा हाथ में पकड़ लिया, और उसे आयेज-पीछे हिलने लगी. फिर बोली-

सुधा: वाउ यार! क्या मस्त लंड है ये. पहली बार किसी का लंड हाथ में लिया है. आज लंड चूसने का मज़ा भी लूँगी. हर बार छूट चाट-ती हू, आज इसे छूट समझ के चाट लूँगी.

सुधा ने झट से मेरे लोड के हेड को किस किया. मेरे काले लंड के हेड को चाटने लगी. उसकी ज़ुबान मेरे लंड पर बिजली का काम कर रही थी. मेरी आँखें बंद हो गयी. वो स्माइल करते हुए लंड को चाटने लगी.

अब उसने लंड के नीचे से चाटना शुरू किया. सुधा बड़े प्यार से लंड चाट रही थी. 5 मिनिट चाटने के बाद उसने लंड को मूह में भर लिया, और उसे चूसने लगी.

सुधा लोड्‍ा चूस रही थी. मुझे बहुत आनंद महसूस हो रहा था. उसने सिर्फ़ 5 मिनिट ही लंड चूसा. फिर वो बोली-

सुधा: मैं इतना ही चूस सकती हू.

उसने अब मेरी बॉल्स चूसनी शुरू की, और एक-एक बॉल को बड़े आचे से मूह में भर के उसे चूस और चाट रही थी. 10 मिनिट तक सुधा ने मेरी बॉल्स चूसी.

सुधा ने कहा: चलो अब घोड़े बन जाओ. मुझे तुम्हारी गांद चाटनी है.

मैं पलट गया, और घोड़ा बन गया. सुधा मेरी गांद को सहलाने लगी. वो गांद के चारो तरफ किस करने लगी. मुझे भी लेज़्बीयन करने में मज़ा आ रहा था. सुधा ने गांद को चाटना शुरू किया.

अब वो मेरी गांद के च्छेद पर आ गयी, और गांद की लाइन में मूह दबा के चाटने लगी. बड़े मज़े से उसने मेरी गांद छाती. मुझे बहुत ज़्यादा मज़ा आ रहा था. मेरे मूह से सिसकी निकल गयी.

मैं: उहह उम्म्म श मज़ा आ गया.

सुधा: मुझे गांद चाटना पसंद है.

20 मिनिट तक सुधा ने मेरी गांद खूब मज़े से छाती. पूरी गांद को गीला कर दिया. अब मैने सुधा को जल्दी से नंगा कर दिया, और बेड पेर लिटा दिया. उसकी क्लीन शेव्ड छूट मेरे सामने थी.

मैने उसकी टांगे हटाई, उसने भी पैर फैला लिए, और छूट चाटने के लिए बोली.

सुधा: मेरे .. . ना इसका . पी जाओ.

मैं छूट के पास मूह ले गया, और उसकी . छूट को चाटने लगा. छूट के . को बड़े मज़े से चूस्टा, जिससे वो बेड पर . . थी. सुधा को बहुत मज़ा आ रहा था. उसकी गरम सिसकियाँ इसका जवाब दे रही थी.

सुधा: उहह श आह ..

सुधा की छूट के च्छेद को मैं चाटने लगा. उसकी गीली छूट और गीली होने लगी. मैने अब एक उंगली छूट में घुसा दी. इससे उसके मूह से ज़ोर की सिसकी निकल गयी.

सुधा: आह आह ऑश. बहुत दर्द हुआ बाबा आराम से.

मैने छूट में उंगली अंदर-बाहर करना शुरू किया. फिर छूट के दाने को मसालते हुए चाटने और चूसने लगा. इससे सुधा मेरे सिर को छूट में दबाती, और बेड पर उछालने लगती.

दोस्तों कहानी अभी यही तक है. अब नेक्स्ट पार्ट में मिलेंगे. अपना फीडबॅक ज़रूर दे मुझे.

किसी गर्ल, भाभी, डाइवोर्स लेडी, हाउसवाइफ को मुझसे रियल और सेक्यूर सेक्स चाहिए, तो मुझे आप मैल करे. आपकी सभी जानकारियाँ सेक्यूर और प्राइवेट रहेंगी. मैं एक रियल कॉल बॉय हू. एक बार मुझे गम0288580@गमाल.कॉम पर मैल करके मेसेज करे. बिना दर्रे मुझसे खुल के बात करे.

थॅंक्स ड्के.

यह कहानी भी पड़े  ज़ोया चुदी अपने अब्बू से


error: Content is protected !!