बॉस की वाइफ ने प्रमोशन दिलाया

हेलो दोस्तों मेरा नाम विक्रम गुप्ता है मैं कानपुर से बिलोंग करता हूं मेरी उम्र 26 साल है मेरे लंड का साइज ७ इंच मोटा ४ इंच चौड़ा है.

जैसा की मैंने बताया मैं कानपुर से बिलोंग करता हूं, मैं जॉब के लिए आगरा गया, वहां मैंने एक इंस्टिट्यूट ज्वाइन कर लिया एस अ टीचर.. मेरी मुलाकात ओनर से हुई उन्होंने मेरा वेलकम किया और काम समझाया और बाकी के स्टाफ से मिलवाया..

थोड़ी देर बाद उन्होंने मुझे अकोडेशन बताया और मुझे एक रूम प्रोवाइड कर दिया, मैं रूम में गया वह रुम ठीक-ठाक ग्राउंड फ्लोर का था और आने जाने की कोई पाबंदी नहीं थी..

मैंने अपना सामान सेट किया और लेट गया, मेरी आंख लग गई. फिर शाम को मैं उठा और बाहर निकला मुझे भूख लगी थी तो मैं थोड़ी दूर पैदल चलकर गया तो देखा कि एक नॉनवेज की दुकान में बहुत भीड़ थी.

मैं वहां गया तो देखा कि सामने इंग्लिश शराब का ठेका था और जस्ट बगल में बीयर की शॉप थी, मैंने मन में सोचा कि कबाब और शराब एक ही जगह.. तो मैंने एक बियर ली और एक बिरयानी.. मैंने खाना खत्म किया और रूम में आकर सो गया..

सुबह में इंस्टिट्यूट गया सब से मिला.. मैं बॉस के केबिन में जा रहा था कि मैंने देखा कि एक लड़की बैठी थी. मुझे लगा स्टाफ होगी, पीछे से कयामत लग रही थी. मस्त सिल्की खुले बाल स्लीवलेस टॉप गोरा बदन मस्त माल था.. मैं अंदर गया गुड मॉर्निंग विश किया बॉस को.. बॉस ने मुझे उसे इंट्रोड्यूस कराया, उसके चूचे बड़े-बड़े थे. मैं देखने लगा तो वह मुझे हेलो बोली मैंने हाय कहा, बॉस ने बताया कि यह उनकी बिजनेस पार्टनर है.

मेरे बॉस का पार्ट टाइम बिजनेस भी था, जिसमें वह दोनों पार्टनर थे, तो उसने कहा कि मुझे इस बिज़नेस में भी अपनी स्किल दिखानी होगी. मैंने कहा ओके सर. फिर मैं ऑफिस में बैठा और वह दिन ऐसे ही निकल गया..

यह कहानी भी पड़े  आयशा खान से सच्चा प्यार और चुदाई

एक हफ्ता ऐसा ही रहा और मैं लेट तक काम करता और बॉस और उनकी पार्टनर भी वही रहते, मेरे जाने के बाद भी वह दोनों वही रहते थे, मंडे का दिन था मैं ऑफिस गया तो देखा कि क्यूट सी लड़की फ्रंट डेस्क पर बैठी हुई है..

मैं अंदर गया उसने मुझे गुड मॉर्निंग विश किया मैंने भी रिप्लाई दिया. फिर मुझे पता चला कि यह नहीं आई है, मेरी उससे बात हुई और कुछ ही दिनों में मेरी उससे अच्छी दोस्ती बन गई..

एक दिन लेट काम कर रहा था, तो मैं अपने रूम में जा रहा था, रास्ते में मैंने बिरयानी खाई औरत दो बियर पी. फिर मैंने देखा कि मेरा मोबाइल वही ऑफिस में रह गया. मुझे लगा कोई अर्जेंट कॉल ना आए. तो मैं वापिस ऑफिस गया जैसे ही मैं वहां पर पहुंचा तो सारी लाइट ऑफ थी. बॉस की केबिन में हल्की सी लाइट जल रही थी..

मैंने धीरे से अंदर देखा तो मैं देखते रह गया, मेरे बॉस और उसकी पार्टनर दोनों नंगे बैठे थे, और वह बॉस का लंड चूस रही थी. उसके मुंह से आवाजे अहह उऔ ओ हां उऔ ह हां हिः हह्ह्ह आ रही थी, मेरा मूड बन गया और मैं वही खड़ा देखने लगा.. फिर बॉस ने उसके पैरों को उपर किया और अपना लंड उसकी चूत में पेलने लगे..

में उन की सेक्स लीला देख रहा था कि अचानक उसने मुझे देख लिया इससे पहले वह कुछ बोल पाती मैं वहां से निकल गया, फिर दूसरे दिन में जब ऑफिस आया तो वह वही थी और आज तो और भी ज्यादा माल लग रही थी, मुझे लगा कि यह बवाल करेगी लेकिन कुछ नहीं बोली.

यह कहानी भी पड़े  हिंदी सेक्स कहानियाँ दीदी ने चुदवाइ दोस्त की बहन

मैंने यह बात फ्रंट डेस्क वाली लड़की प्रियंका को बताइ, तो वह बोली सच में? मैंने कहा हां. वह बोली कि वह तुमसे कुछ नहीं बोली?? मैंने कहा नहीं.. प्रियंका मेरी बात सुनकर गर्म होने लगी और वह मुझे पता चलने लगा.

उस दिन मैंने कुछ नहीं किया. अगले दिन में जब ऑफिस आया तो देखा कि एक हॉट सी लेडी मेरी बॉस के केबिन में बॉस की चेयर में बैठी थी, मे बॉस के केबिन में अक्सर जाता हूं तो मैं आज भी गया तो देखा वहां पर वह बैठी थी, मैंने गुड मॉर्निंग विश किया और बोला सॉरी मुझे लगा सर होंगे यहां पर..

वह बोली कोई नहीं और मैं स्माइल दी, उसने भी स्माइल दिया, उसने ऊपर से नीचे तक मुझे देखा यह मैंने नोटिस किया, मैं और प्रियंका दोनों साथ में लंच करते थे, प्रियंका आज बहुत ही कमाल की लग रही थी, लंच के बाद हम दोनों हैंड वॉश करने गए, वह हैंड वॉश कर रही थी कि मैं उसके पीछे से हैंड वॉश करने लगा और मेरा लंड उसकी गांड से टच हुआ, उसकी गांड की गर्मी से मेरा लंड खड़ा हो गया. वह उसको फील हुआ और वह अपनी गांड हीलाकर मेरे लंड पर प्रेस करने लगी, और वहां से भागने लगी, मैंने उसको पकड़ा और देखा कोई और तो नहीं आ रहा, और मैं उसको किस करने लगा. पहले उसने रिस्पांस नहीं दिया लेकिन फिर वह मुझे लिप किस करने लगी.

Pages: 1 2 3 4

error: Content is protected !!