साली और बीवी को साथ में चोदा

हेलो दोस्तों मैं तुम शादीशुदा हो चुका हूं आप को सुनाने जा रहा हूं एक दम सच्ची है. यह कुछ महीने पहले की बात है. में अपने दोस्त राज के घर गया था, वहां पर मैंने एक बहुत खूबसूरत लड़की देखी और उसे देखकर मेरा लंड पैंट में ही खड़ा होने लगा.

मेने राज से उसके बारे में पूछा तो राज ने कहां पहचाना नहीं? यह अपनी भांजी है निशा.. निशा को ऊपर से नीचे तक देखता हुआ में बोला यह तो बहुत बड़ी हो गई है. और फिर मैं अपने घर आ गया और रात को मैं जब शालू को निशा समझकर चोदने लगा तो शालू ने कहा कि आज आपको क्या हुआ है? आज आपका वीर्य निकलने का नाम नहीं ले रहा और मैं शालू को निशा समझकर दनादन चोदे जा रहा है, और उस दिन मेरा वीर्य बहुत निकला और मैं निशा को कैसे चोदा जाए यह सोचने लगा और मेरे दिमाग में एक आईडिया आया.

मैंने राज से निशा की शादी अपने साले सोनू के साथ करने की बात की और राज मेरी बात सुनकर बोला टोनी हमे और क्या चाहिए? और मैंने यह बात अपने ससुर जी से की तो वह भी मान गए और फिर सोनू और निशा की सगाई हो गई. और उनकी शादी का मुहूर्त ४ महीने बाद का निकला और मैं यही चाहता था. अभी मेरी निशा से फोन पर सीधी बात होने लगी और निशा मुझे मामा से जीजू कहने लगी.

मैंने निशा को कहा निशा पहले तो मुझे मामा कहती थी अब जीजू कहने लगी हो और कल कुछ और मत कह देना. मेरी बात सुनकर निशा शरमा गई और कुछ नहीं बोली. एक दिन मैंने निशा को फोन करके कहा कि मैं तुझ से अकेले में मिलना चाहता हूं, निशा ने कहा क्यों? मैंने कहा कि मैं उसके ससुराल के बारे में पूरी बात करना चाहता हूं, निशा ने कहा जीजू क्या बात है?

यह कहानी भी पड़े  एनिवर्सरी वाली नाईट पर मोम डेड की चुदाई

मैंने कहा ऐसी घबराने वाली कोई बात नहीं है. निशा ने कहा जीजू फिर आप मेरे घर आ जाओ, मैंने कहा मैं घर नहीं आऊंगा तुम घर बताकर भी मत आना कि तुम मुझ से मिलने जा रही हो. निशा कुछ देर चुप रही और फिर बोली ठीक है, आप कल आ जाओ फिर मैंने कहा मैं कल सुबह ११ बजे तुम्हें फोन करूंगा और तुम आ जाना उसने कहा ठीक है और फोन काट दिया.

अगले दिन में अपनी कार लेकर घर से निशा को मिलने चल पड़ा. मेरे और निशा के शहर की दूरी ५० किलोमीटर थी और मैं ९:३० बजे वहां पहुंच गया और शहर से २ किलोमीटर दूर एक होटल में रूम बुक किया, और वेटर को १०० रूपये देकर उसे इशारा दे कर समझा दिया.

मैंने बैड पर सेट कर के एक वीडियो कैमरा सेट किया और मार्केट से शेव करने का सामान लेकर निशा को फोन कर के आने को कहा. निशा ने मुझे अपने घर के पास वाले चौक में आने को कहा, मैं वहां पहुंच गया जहा निशा ने मुझे आने को कहा था और मेरे वहां पहुंचते ही निशा आ गई.

निशा कार के पीछे वाली सीट पर बैठने लगी, मैंने उसे अपने साथ वाली सीट पर बैठने को बोला और निशा मेरे पास वाली सीट पर बैठ गई. फीर मैं निशा को लेकर होटल में आया और रूम में आ कर दरवाजा अंदर से बंद कर लिया और निशा को बेड पर बिठा कर उसकी जिस्म से कपड़े के ऊपर से खेलने लगा.

निशा यह देख कर बोली की जीजू आप क्या कर रहे हो? मैं आपके साले की होने वाली पत्नी हु, मैंने कहा फिर क्या हुआ? तू थोड़ी देर के लिए मुझे अपना पति मान ले. निशा ने कहा जीजू प्लीज मुझे छोड़ दो, मैं आपके आगे हाथ जोड़ती हूं.

यह कहानी भी पड़े  चुदाई बाय्फ्रेंड ओर उसके दोस्त के साथ

मैंने कहा निशा सीधे से मान जाओ वरना मैं सबको बता दूंगा कि तूने मुझे बुलाकर मेरे साथ अपना मुंह काला करने की कोशिश की है और तेरी सगाई टूट जाएगी और तेरी बदनामी होगी. अब यह तेरी मर्जी है कि तुझे क्या चाहिए बदनामी या जिंदगी.

मेरी धमकी का असर निशा पर हुआ और वह अब चुप हो गई, फीर मैं उसके कपड़े उतारने लगा और एक एक करके निशा के कपड़े उतार कर नंगी कर दिया. निशा अपने हाथों से अपने दोनों चुचे छुपाने लगी और अपनी टांगे भीच कर अपनी चूत छुपा दी.

निशा को फिर कहा निशा अगर तूने मेरी बात नहीं मानी तो मे तेरे कपड़े अपने साथ ले जाऊंगा और तुम जैसे थी बैठी रहना और निशा के कपड़े उठाकर जाने लगा. निशा ने हाथ अपने चूचों से हाथ हटा दिए और मैने जट से निशा के दोनों चुचे पकड़ लिए और मसलने लगा. फिर अपना एक हाथ निशा के जिस्म पर फेरता रहा और अपना हाथ उस की चूत पर लगा दिया.

उसकी चूत पर बहुत बाल थे. मैं निशा से पूछा अपनी चूत अभी साफ नहीं की? निशा कुछ नहीं बोली, मैंने फिर कहा निशा अगर तुम मेरी बात का जवाब नहीं दोगी तो मैं चला जाता हूं. निशा ने कहा कि जीजू मैंने सफाई इसलिए नहीं कि क्योंकि में शादी के टाइम कर लूंगी. फिर निशा को ले कर बाथरूम में गया और निशा की चूत पर शेविंग क्रीम लगाई.

Pages: 1 2 3 4

error: Content is protected !!