भाई ने प्लान की बहन की चुदाई की ट्रैनिंग

हेलो तेरे, मेरा नाम गौरव है. मैं 21 साल का हू. मेरी छ्होटी बेहन श्वेता 19 साल की है. मैं आपको आज अपनी छ्होटी बेहन की चूड़िया वाली रात की कहानी बतौँगा. कैसे मैने उसको गरम करके उसकी सील तोड़ी, कैसे मैने उसकी दो घंटे चुदाई की, कैसे मैने अपनी वर्जिन इनोसेंट सिस्टर को अपनी रंडी बनाया.

श्वेता आवरेज हाइट और स्लिम फिगर वाली एक हॉट लड़की है. उसके मीडियम साइज़ के ब्रेस्ट और टाइट बॉडी एक-दूं पर्फेक्ट कॉंबिनेशन है. उसकी बॉडी कुवर्व्स आंड बूब्स सब को हाइप्नटिज़ कर देते है. उसकी स्मूद और लाइट ब्राउन स्किन, जो उसे एक-दूं हॉट आंड सेक्सी फेमिनाइन चर्म बना देती है. ओवरॉल एक-दूं फ्रेश और छोड़ना लायक माल है.

लेकिन इतनी हॉट और सेक्सी होने के बावजूद भी मेरी बेहन बहुत शर्मीली और इनोसेंट लड़की है. उसे तो सेक्स और मास्टरबेशन तो डोर की बात है, उसको पॉर्न का बता भी नही पता था. पर अब मैने उसको सब सीखा दिया था.

ये बात 2 जन्वरी की है. मेरे मम्मी-पापा बाहर गये हुए थे. घर पे हम दोनो अकेले थे. रात के 9:00 बाज रहे थे, और मैं कंप्यूटर पे बैठा था. मेरी छ्होटी बेहन श्वेता मेरे पास आई. उसने लोवर आंड त-शर्ट पहन रखी थी.

मे: क्या हुआ श्वेता?

उसने मुझे अपना फोन दिखाया. उसको किसी ने इंस्टाग्राम पे वीडियो मेसेज भेजा था, मगर उसने अब भी मेसेज आक्सेप्ट नही किया था. तो मेसेज ब्लू था.

श्वेता: भैया, देखो ये एक मेसेज आया है मुझे.

मैं उससे फोन लिया, और रिक्वेस्ट आक्सेप्ट की तो वीडियो विज़िबल हो गयी. वीडियो एक लड़की की थी जिसमे वो मास्टरबेशन कर रही थी. श्वेता बहुत हैरान हुई वो देख कर, क्यूंकी उसने ऐसा पहले कभी नही देखा था. कुछ बोल भी नही पा रही थी वो.

मे: श्वेता, तुझे पता है क्या है?

श्वेता: नही भैया (नर्वस आवाज़ में जवाब दिया).

मे: सच में तुझे नही पता?

श्वेता: नही भैया, सच में पता नही है. ये मेसेज क्यूँ भेजा किसी ने?

मे: तुम्हे आया मेसेज स्पॅम मेसेज है. अगर कोई और मेसेज आए तो मुझे बताना.

मैने सोचा मुझे अपनी छ्होटी बेहन को एजुकेट करना चाहिए. कही कोई उसका ग़लत फ़ायदा ना उठा ले.

मे: देख श्वेता. इन चीज़ो का पता होना भी बेहद ज़रूरी है आज कल. एक बात बताओ, तुम मेरे साथ बात करने में कंफर्टबल हो?

श्वेता: हंजी भैया.

मे: इसको मास्टरबेशन बोलते है, और लोग इसका उसे अपने पर्सनल सॅटिस्फॅक्षन के लिए करते है.

मैं सोचा ये अछा मौका था बेहन को सब एक्सप्लेन करने का.

श्वेता: शादी करने से.

मैं: नही बेहन नही. सेक्स करने से होता है. एक मिनिट तुम्हे एक चीज़ दिखता हू.

मैं ने अपना लॅपटॉप लेकर उसकी वीडियो प्ले की. वो उसको 10 मिनिट तक देखती रही बिना कुछ बोले. फिर मैने वीडियो पॉज़ करके उसको सब एक्सप्लेन करना स्टार्ट कर दिया.

मे: ये सेक्स होता है. इसको लोग अपने अपनी एंजाय्मेंट के लिए करते है, और बच्चे सेक्स करने से बनते है. मास्टरबेशन, सेक्स जैसी ही चीज़ है. लेकिन ये खुद की खुशी के लिए होता है.

मैं उसे एक्सप्लेन करे जेया रहा था. वो सुनना रही थी बिना कुछ बोले. मैने उसको बहुत सारी बातें बताई. श्वेता बस सुनती रही. लेकिन उसको ये सब बताते टाइम मेरी नीयत चेंज हो चुकी थी. मैं चाहता था की मेरी छ्होटी बेहन मास्टरबेशन का आनंद प्राप्त करे. मुझे लगा अगर वो मास्टरबेशन करने लग जाएगी, तो मुझे उसे नंगा देखने का मौका मिल जाएगा.

मे: श्वेता तू ये भी करके देख, बहुत मज़ा आता है.

श्वेता: भैया, मैं नही करने वाली ये सब.

मे: जाओ बातरूम में जाके करो.

श्वेता: भैया, मैं ये सब नही करूँगी (वो तोड़ा गुस्से में बोली).

मे: श्वेता प्लीज़ जाके अपने आप को टाय्लेट में भी ट्राइ करो. ये काफ़ी सेक्सी होता है

श्वेता: भैया मैं नही करूँगी सब कुछ. मेरी मर्ज़ी.

मैं पूरा मूड में था. एक ही मौका मिला था, किसी तरीके से उसे कन्विन्स करना चाहता था. मैने देखा वो नही मान रही थी.

मे: ठीक है ठीक है. यहा बैठ तो सकती है ना काउच पर?

मैने टीवी ओं कर लिया, और उसकी रिघ्त साइड में जेया कर बैठ गया. वो मेरे साथ बैठी थी. उसने लोवर आंड त-शर्ट पहन रखी थी. मैं उसकी वर्जिनिटी लेना चाहता था, और उसको अपने लंड पेर राइड करवाना चाहता था. थोड़ी देर बाद मैने आक्षन लेने का सोचा, और उसका मैने हाथ पकड़ा.

मे: श्वेता मैईन क्या बात कर रहा था.

बात करते-करते मैने उसका हाथ पकड़ा, और टाँगो के बीच रख दिया. फिर तोड़ा सा पुश किया.

श्वेता: नही भैया, मुझे नही करना ये सब. आप मेरी बाउंड्रीस क्रॉस कर रहे हो. प्लीज़ रुक जाओ.

मैं ज़बरदस्ती नही करना चाहता था तो मैने अपना हाथ छ्चोढ़ दिया.

मे: श्वेता देख किसी को नही पता चलेगा.

श्वेता: मैने कहा ना मैं नही हू इंट्रेस्टेड (ओ गुस्से में आ कर बोली).

मे: देख अपने भैया की बात नही मानेगी?

श्वेता: क्या बात मानु? आप मेरी बाउंड्रीस क्रॉस कर रहे हो.

मे: ऐसा कुछ नही है. तेरे फ़ायदे की बात कर रहा हू.

श्वेता: बहुत हो गया है भैया. आपका बिहेवियर बहुत बुरा है. अभी मुझे आपके बिहेवियर की वजह से बहुत गुस्सा आ रहा है. आप अपना बिहेवियर ठीक करे, तब तक मैं यहा नही रहूंगी.

वो कमरे से उठ कर बाहर जाने लगी.

मे: श्वेता, बात सुन.

वो रुक कर बोली-

श्वेता: अब क्या भैया?

वो बात सुनने के लिए रेडी हो गयी.

मे: मेरे को सिर्फ़ 5 मिनिट दे, प्लीज़ बेहन 5 मिनिट. फिर देख तुझे गरम करके कैसे मज़े दिलाता हू.

श्वेता: ये क्या बात है? आप मेरे साथ बहुत गंदे से बिहेव करते हो, और फिर मुझे 5 मिनिट दे रहे हो? मैं आपको एक भी सेकेंड नही दे रही हू. मैं मुझ पर फोर्स और प्रेशर नही लेना चाहती हू.

लेकिन मैं भी उसे ऐसे नही जाने देना चाहता था. मैने उसको जैसे-तैसे माना लिया. थोड़ी सी रिक्वेस्ट करने के बाद वो मेरी बात मान गयी.

श्वेता: ठीक है भैया. बुत किसी को बताना मत.

मे: ठीक है श्वेता. ये बात बस तेरे और मेरे में रहेगी.

आज मेरी बरसों की मुराद पूरी होने जेया रही थी. अब मैने अपनी छ्होटी बेहन की चुदाई का मॅन बना लिया था, और उसकी कभी ना मारी गयी फ्रेश छूट मारने जेया रहा था.

सबसे पहले मैने एक वियाग्रा की गोली ले ली, ताकि मैं उसकी आचे से चुदाई कर साकु. मैं उसे ऐसा एक्सपीरियेन्स देना चाहता था, जिसे वो कभी ना भूले. घंटो तक उसको अपने लोड की राइड करवाना चाहता था. बस अब मैं एक स्टेप डोर था उसकी छूट लेना से. मेरे पास 5 मिनिट थे उसको गरम करने के लिए.

मैने फिर क्या किया, और इसके आयेज क्या हुआ, वो आपको कहानी के अगले पार्ट में पता चलेगा. अगर किसी को फीडबॅक देनी है, कॉमेंट करेया, या फिर मैल गौरव2क@गमक्श.कॉम पर.

यह कहानी भी पड़े  भाइयों ने मिल कर बहन की सील तोड़ी


error: Content is protected !!