सग़ी छोटी बहन के साथ मज़े

हेलो दोस्तो उमीद करता हू आप सब लोग ठीक होंगे. मई काफ़ी समय से बेहन और भाई की चुदाई की स्टोरीस पढ़ और वीडियोस भी डैख रहा हू. तो मैने सोचा की क्यू ना मई अपनी स्टोरी अपनी भईओ और बहनो से शेर करू.

अपनी बारे मा बता देता हू, मई लाहोर से हू. मेरा नामे फखार है (नामे चेंज्ड) 19 साल आगे और मई दिखनी मे एक नॉर्मल यानी बहोट ज़्यादा खूबसूरत नही हू और ज़रा स्लिम हू. तो स्टोरी पी आती है.

मेरी बेहन का नामे सबा है (नामे चेंज्ड) आंड हेर आगे इस 18. हम दोनो मे सिर्फ़ एक साल का फराक है इस वजह से जब हम दोनो छोटी थाइ तो बहोट सारे उल्टे सीधी हरकतान करती थाइ. तो स्टार्ट असी हुआ के हम दोनो एक साथ नहाती थाइ और हम दोनो ये ही सोचती और एक दूसरी से पूछती थाइ के आपके टॅंगो के बेच जो चीज़ है (लंड और चूत) वो अलग अलग क्यू दिखता है.

जब मई 8 साल का था और मेरी बेहन 7 की तो हम दोनो साथ नहा रही थाइ और खैल रही थाइ. तो खैल खैल मे हम दोनो एक दूसरी के गली लगी. मुझे बहोट अजीब सी फीलिंग आई जो के एक लरका और लरके के नंगी जिस्म के आपस मी मिलनी के होते है. और हम दोनो को मज़ा अन्य लगा.

काफ़ी दायर तक असी ही रुकनी और एक दोसरी के जिस्म के साथ जिस्म रगरनी के बाद जब हम अलग हुआ तो मेरा लंड जो के उस वक़्त लाफ़ी छोटा था फुल टाइट और बरा हो गया था. और ऐसा क्यू हुआ मुझे इस का बिल्कुल आइडिया ना था.

कुछ दायर डैखहनी का बाद मेरी बेहन नाइ पूछा के भाई या कैसे किया अपनी? मई बोला मुझे नही पता ये खुद ही हो गया और उस्नी मेरा लंड अपनी हाथ मे लिया.

ये पहली बार था की किसी नाइ मेरा लंड पकरा हो. उस वक़्त मुझे मूठ मारनी के बारे मा कुछ नही पता था और ना ही मेरी बेहन को. तो कुछ दायर हाथ मे पाकारणी के बाद उस्नी मेरा लंड चोर दिया और हम दोनो टवल लाइ कर बहिर आ गये. और या सब बात मेरी दिमघ मे या बात घुस गए और मा यहे स्चोटा रहा.

अगला मोका मुझे तब मिला जब एक दिन मई अपने नानो के घर अपनी मामू का कंप्यूटर अपनी कुछ दोस्तों के साथ उसे कर रहा था. जो के सब ही मुझ से आगे मा बहोट बरी थाइ और कंप्यूटर उसे करती है.

तो हमीं एक क्लिप मिला जिस लरके एक लार्की का लंड चूस रहे थे. और हम लोग इस वीडियो को डैखहनी लगी. मेरी सब दोस्त अपना लंड हाथ मा पाकर कर हिला रही थाइ और मा पूछा के या क्या कर रही हो? तो उन्हो नाइ ब्टाया नही, कुछ दायर असी ही हुआ और फिर वो सब चली गये.

उस के बाद डोपेहर मैं मा अपने बेहन को इस रूम मी लाइ कर गया और वोे वीडियो दिखाए. या सब डैखहनी के बाद मेरी बेहन का चेहरा बिल्कुल आसा ही था जस्ी उसी भी या सब करना का मोड़ हो रहा हो. जब मा या डैखहा तो मा बोला-

मे: सबा हम दोनो भी यहे कराईं?

सबा: हन भाई मेरा भी दिल कर रहा है.

मे: चलो फिर हम भी असी करती है जो ये लरका कर रहा है वो सब मई करूँगा और जो ये लर्की कर रही है वो तुम करना.

सबा: ठीक है भाई.

मेरी बेहन का या कहनी के दायर थे और मा वीडियो स्टार्ट से लगाई और अपना लंड बहिर निकाला. और वीडियो के तरफ डैखहती हुए मेरी बेहन नाइ मेरा लंड अपनी मूह मे लिया.

या पहली बार था के केसी लर्की नाइ मेरा लंड मूह मा लिया हो और मुझे बहोट अछा लगा. आसा लगा मा हवा मा उर रहा हू. कुछ दायर बाद वीडियो मा लरके डोगी स्टाइल मा आ गई और लरका उसके छूट मा लंड डालनी लगा. हम नाइ भी या ट्राइ की मगर लंड छोटा और कोई एक्सपीरियेन्स ना होनी के व्जा से लंड अंदर ना जा स्का.

मा असी ही झटकी मरता रहा और मुझे कोई ख़ास मज़ा ना आया. इस लिया मा दुबारा कभी इस टरफ़ दहन ना दिया और वक़्त गुज़रता च्ला गया.

फिर कुछ सालो बाद जब मा 10 साल का हुआ तो मा बहोट सारे पॉर्न वीडियोस दिख चुका था. और मुझे या साँझ आई के मेरा लंड छोटा है इस लिया मेरी बेहन के गंद या छूट मा नही जा स्का.

फिर मा या सोचा के अब तो मा बरा होंगेआ हू और मेरा लंड भी पहली से बरा है. तो क्यू ना अब दुबारा कोशिश कराईं. मई मोकी के तलाश मा था, मोकी बहोट मिली मगर मई हिम्मत ना कर सका.

एक दिन जब हम सोनी के लिया लेयिटी तो हम दोनो रूम मा अकेली थाइ. मों दाद अभी सोनी के लिया आय नही थाइ रूम मा और मा डैखहा के मेरी बेहन उठे होए है. तो मा इस से बताईं करनी लगा और इस डॉरॅन मुझे महसूस हुआ के उसी वो सब भूला नही है और वो या सब करना चाहते है. मगर वो भी मेरी त्रहन कह नही पा रहे तो मा हिमात कर के बोला-

मे: सबा आपको वो याद है?

सबा: क्या भाई?

मे: वोे उल्टी काम जो हम किया करती थाइ.

सबा: हन भाई याद है मुझे.

इसके बाद हम दोनो कुछ दायर के लिया चुप होंगे और फिर वो बोले-

सबा: भाई फिर कराईं?

मे: हन करती हैं.

इतना कह कर मा नाइ अपना लंड बहिर निकाला और उस्नी मेरा लंड अपनी हाथ मा लाइ लिया. फिर मा उसको ब्टाया के इसको असी हिलाओ तो वो हिलनी ल्गे और मुझे बहोट अछा लग रहा था.

कुछ दायर हिलनी के बाद मैने उसे मूह मे लानी को कहा और उस्नी माना कर दिया. तो मा उस के नेक और कान प्र किस करनी लगा. और वो मेरी हेर्स पाकर कर मेज़ी लाइ रहे थे. कुछ दायर बाद मा रुक गया और उसके टरफ़ डैखहनी लगा तो वो बोले-

सबा: भाई आप रुक क्यू गये? और करो ना मुझे बहोट अछा लगा.

मे: अछा और कर डेन गा मगर पहली आप मेरा या (लंड) मूह मा डालो.

और इस के बाद उस्नी मेरा लंड मूह मा लिया और मा मेज़ी लानी लगा. वीडियोस मा जसा डैखहा था वासी ही मा उस के मूह को छोड़नी लगा हेर्स पाकर कर लंड को अंदर बहिर करनी लगा.

कुछ दायर बाद वो पेची होनी ल्गे तो मा ज़बरदस्ती उसको चुसवानय लगा. और कुछ दायर बाद उसी चोर दिया और उस्नी कहनी प्र मा दुबारा से उस्कको नेक और इयर्स प्रर किस्सिंग करनी लगा. काफ़ी दायर तक मा आसा करनी के बाद जब बस की तो मा बोला-

मे: सबा एक बार फिर मेरा या (लंड) मूह मा डालो ना.

सबा: भाई मजी आसा करना पसंद नही मुझे उल्टे आती है.

मे: डैखहो मा भी वो की जो अपनी कहा था अब आपको भी करना परेगा.

सबा: ओक भाई मगर ज़बरदस्ती म्ट करना और मा ज़्यादा नही करूँगी.

मे: थेक ह ज़बरदस्ती नही करूँगा मगर एक बार सहे से करदो जब तक मा ना कहूँ बहिर मत निकलना.

सबा: (ना खुश होती हुआ) अछा भाई ठीक है.

उस के बाद उस्नी मेरा लंड अपनी मूह मा लिया और मा उसना मूह छोड़नी लगा. कुछ दायर बाद मेरी मेज़ी मा इज़ाफ़ा हुआ और मुझे और भी ज़्यादा मज़ा अन्य लगा. और मा अपने बेहन को केंही लगा के “बस थोरे दायर और असी ही आ..”

या कह कर मा अपना पूरा लंड इस के मूह मा डाइ दिया और असी लगा जस्ी मा सस्यू कर रहा हू. कुछ दायर चटकी लगी और फिर मा अपना लंड बहिर निकाला. यहे सोच कर के मा अपने छोटी बेहन के मूह मा सस्यू कर दिया है. मगर उमर केयेम होनी के व्जा से स्पर्म ना निकले और उसको आसा कोई इहसास ना हुआ.

या पहले बार था के मा झार गया और वो भी अपने सग़ी छोटी बेहन के मूह मे. और उस के बाद मुझे बहोट नींद आने लगी और हम दोनो सो गये.

बाकी नेक्स्ट पार्ट मे बटौगा. अछा रेस्पॉन्स आने पर ही नेक्स्ट पार्ट आएगा.

तो कैसी लगी आपको लोगों को मेरी अब तक के स्टोरी ? मुझे अपनी ख़यालात ज़रूर बताए, मुझे एमाइल कराईं, मेरा एमाइल अड्रेस ([email protected] ) है. कोई भी बेहन या भाई या फिर बेहन भाई का कपल मुझे कॉंटॅक्ट करेगा तो मुझे बहोट अछा लगेगा.

यह कहानी भी पड़े  मनीषा मान गयी पहली बार मे

error: Content is protected !!