भाभी की मस्त चुदाई

हेलो फ्रेंड्स, मैं देवराज फिरसे हाज़िर हूँ आपके लिए एक नयी कहानी ले कर, मुझे पता है बहोत टाइम बाद मैं आया हूँ अपनी स्टोरी लेके पर क्या करू दोस्तो कोई नयी चुत मिल ही नही रही थी, जिसके बारे मे लिखता और फेक स्टोरी लिखना मुझे पसंद नही है, फ्रेंड्स जो लोग मुझे जानते नही है उनको मैं बता दू की मेरा नाम देवराज हैं और मैं ग्वेलियार का रहने वाला हूँ और मेरी मैल आईडी है “[email protected]”, मैने ग्वेलियार से ही अपनी इंजिनियरिंग कंप्लीट की हैं और मेरी उमर 22 साल हैं, आज कल मैं इन्दोर मे हूँ और एमबीए कर रहा हूँ, तो मैं आपको अपने सामने वाली भाभी की स्टोरी बताने जा रहा हूँ, जोकि बहोत ही सेक्सी माल है अब ज़्यादा बकवास ना करते हुए स्टोरी पे आता हूँ, दोस्तो मैं एक महीने पहले ही इन्दोर शिफ्ट हुआ हूँ तो यहा मैने एक रूम रेंट पे ले के रह रहा हूँ, क्योकि मुझे किसी के साथ रूम शेर करना पसंद नही इसलिए अकेला रहता हूँ, मेरी हाइट 5 फिट 7 इंच हैं, मैं गोरा हूँ और मेरी बॉडी आथेलेटिक टाइप की हैं और मेरे लॅंड का साइज़ ६ इंच हैं जो की 3 इंच मोटा है, आंटी के मूह मे अगर पानी आ रहा हो तो उसे रोकिए क्योकि अभी आपकी चुत मे पानी आना बाकी है.

मैं इन्दोर मे राजेंडा नगर के पास रहता हूँ वाहा पे मेरे वाले फ्लॉर पे 5 रूम्स है, जिसमे दो मे फॅमिलीस रहती हैं और एक मे मैं रहता हूँ और दो रूम खाली हैं मेरे सामने वाले रूम मे एक मस्त भाभी रहती थी, वो लोग ज़्यादा रिच नही थे पर वो देखने मे ऐसी लगती थी जैसे कोई अप्सरा हो, उसके दो बच्चे थे एक 3 साल का एक 5 साल का और उस मस्त आइटम का नाम सुनीता था, उसका पति नाइट वॉच-में था जो रात को जाता था सुबह आता था, वो दिन भर सोता था मैं आपको उसका फिगर बता दू उसके बूब्स 38 के थे और उसकी कमर 36 थी और उसकी गॅंड के बारे मे क्या बतौ दोस्तो एक दम मस्त मलाई के जैसी थी, उसकी गॅंड जब भी देखो तो लॅंड खड़ा हो जाता था, हमारे बाथरूम बाहर थे सो हमे सुबह चीज़ो के लिए बाहर पोर्च से हो के जाना पड़ता था, स्टार्टिंग मे तो मेरी उनकी फॅमिली से कोई बात नही होती थी पर एक दिन मेरे यहा पीने का पानी ख़तम हो गया, तो मैने सोचा उसके यहा जाके माँग लून उसका पति सो रहा था और उसने मुझे पानी दे दिया, अब नेक्स्ट मॉर्निंग मैं नहा के अपने बाथरूम से रूम पे जा रहा था तो और मैने बस एक टॉवेल लपेटा हुआ था, सुनीता बाहर खड़ी हुई थी उसने मुझे अज़ीब सी निगाहो से देखा कातिलाना अंदाज़ मे अहहा भरी.

यह कहानी भी पड़े  भाभी की चिकनी चूत की चुदाई

मैं समझ गया की इसे लॅंड की प्यास है अब ये रोज़ का नियम हो गया, मैं रोज़ नहा के आता वो रोज़ बाहर खड़ी होके मुझे देखती पर इससे आगे बात नही बढ़ पा रही थी और उसके मस्त दूध मुझे अपनी तरफ रोज़ बुलाते थे की आओ पियो हमे पर चाह के भी मैं कुछ कर नही पा रहा था, एक दिन वो मेरे पास आई और बोली की उसके मोबाइल मे बॅलेन्स नही है तो मैं अपने मोबाइल से एक फोन कर दू इसके बाद किसी ना किसी बहाने वो आने लगी और हमारी अछी बात होने लगी, एक दिन उसने मुझ से पूछा तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड हैं क्या, तो मैने कहा नही है उसने कहा क्यो नही हैं तो मैने कहा आपके जैसी कोई मिली ही नही इतने मे उसका हज़्बेंड आ गया और वो चली गयी मेरे खड़े लॅंड पर छूट हो गयी, एक दिन उसने मुझे खाने पे बुलाया उसका पति नही था और बच्चे घर पे सो गये थे उसने मेरे पसंद का खाना बनाया, फिर खाना खा के हम साथ बैठ गये और टीवी देखने लगे वो मेरे पास ही थी और टीवी पे एक ज़बरदस्त रोमॅंटिक सीन आने लगा जिसमे हीरो हेरोइन को किस कर रहा था, तो उसने पूछा की तुमने किया हैं कभी किस तो मैने कहा की नही आपने कभी मौका ही नही दिया तो उसने कहा की चलो समझ लो आज ही तुम्हारा वो मौका है.

मैं समझ गया की लोहा गरम है मार दो हठोड़ा मैने उसे पास खिछा और उसके लिप्स पे किस करने लगा, वाउ उसके लिप्स इतने सॉफ्ट थे की क्या बताउ आपको दोस्तो इतने सॉफ्ट लिप्स बस मेरे फर्स्ट और माय ट्रू लव के ही थे, उसके बाद इतने सॉफ्ट लिप्स मैने आज तक किसी के फील नही किए, मेरा लॅंड खड़ा हो चुका था उसने मेरी बेल्ट खोली और मेरी पैंट मे हाथ डाल के मेरे अंडरवेर के उपर से मेरे लॅंड को सहलाने लगी, मेरे पास कॉंडम था इसलिए मुझे कोई टेन्षन नही थी जब तक मैने इतना सोचा तब तक वो मेरी पैंट को मेरी लेग्स से अलग कर चुकी थी, उसने ब्लॅक कलर की सारी पहनी हुई थी मैने उसे लिप्स पे किस करते हुए उसकी सारी निकाल दी और उसे गोद मे उठा के बिस्तर पे लिटा दिया और उसका पेटिकोट और ब्लाउस भी उतार दिया, अब वो पिंक कलर की ब्रा और पैंटी मे मेरे सामने लेटी हुई थी, अब आज मेरा सपना पूरा होने जा रहा था उसकी गॅंड मारने का सपना मैं उस पे कुत्ते की तरहा टूट पड़ा, वो भी अहह आआआहह सस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सहह आस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्शह सस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्ससा की सेक्सी आवाज़े निकाल के मेरा जोश बड़ा रही थी, मैने उसकी ब्रा को निकाल दिया और खुद भी अपने सारे कपड़े उतार दिए.

यह कहानी भी पड़े  प्यासी भाभी संग xxx मस्ती

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!