बेटी के अपने बाप से सील तुड़वाने की हॉट कहानी

पिछले पार्ट में आपने पढ़ा की मैं अपने पापा के साथ सोई थी, और वो मेरे साथ खुल गये थे. फिर उन्होने मेरी ब्रा का स्ट्रॅप खोला. अब आयेज-

फिर वो ऐसे ही पीठ सहलाते रहे. मैं हॉट हुई थोड़ी सी, और पापा की नेक पे दांतो से काटा. पापा ने भी मेरी नेक पे हल्का सा किस करना स्टार्ट किया, और मैने भी किया.

फिर पापा ने मेरी ब्रा के स्ट्रॅप्स शोल्डर्स से नीचे किए, और किस कर रहे थे. उनको अब तोड़ा जोश आया था. मैं कराहने लगी आहह आहह. मैं भी पापा का अब आचे से साथ देने लगी थी.

मैने पापा की अंडरशर्ट खींच के निकाल दी, और अब मेरी ब्रा की बारी थी. उन्होने भी वैसे ही उसको उतार फेंका, और मैं अब लेट के बैठ गयी उपर की तरफ फेस करके.

फिर पापा तोड़ा उठे, और मेरे लिप्स पे किस किया, और मुझे पूरी तरह अपनी बाहों में लिया. वो मेरे लिप्स इतने आचे से चूस रहे थे, की मैं क्या बोलू. उनका हाथ मेरे बूब्स को दबा रहा था ज़ोर से, और मेरे मूह से आ निकल रही थी.

अब पापा मेरे उपर चढ़े, और मेरी रिघ्त साइड आए. लेफ्ट साइड से वो कंफर्टबल नही थे. अब वो आचे से मुझे किस कर रहे थे, और बूब्स भी दबा रहे थे. पापा ने अब मेरे लिप्स छ्चोढे, और मुझे देख रहे थे.

उनके पुर लिप्स पे लिपस्टिक लगी थी. मुझे हस्सी आई, और पापा ने बोला-

पापा: सियु, क्या हुआ?

मैने बोला: पापा आप ने मेरे लिप्स की लिपस्टिक अपने लिप्स पे लगा ली. पापा आपके फोन से एक पिक निकली, और मुम्मा ने आपका बेड पे आना बंद किया. अगर उन्होने ये लिपस्टिक देखी, तो फिर आपका तो डाइवोर्स पक्का है.

उन्होने बोला: हा सियु, बुत उसको बोलेगा कों?

मैने बोला: कोई नही, डॉन’त वरी.

और वो मेरा पूरा जिस्म चूसने लगे. उन्होने मेरे बूब्स पे लिप्स रखे, और निपल चूसने लगे. दोनो बूब्स चूसने के बाद मेरी बेल्ली को चाट-चाट के पूरा गीला किया और मुझे उल्टा किया.

फिर वो मेरी कमर पे किस करने लगे, और अपने दाँत गाड़ने लगे. वो मेरी कमर पर काटने लगे. वो नीचे हिप्स तक चाट रहे थे मेरे जिस्म को, और फिर उन्होने मेरी ट्राउज़र निकाल दी. फिर वो मेरे पैरों को मूह में लेके चूसने लगे.

मेरी लेग्स को उन्होने पूरा गीला किया टंग से, और मेरी थाइस को काट-काट के कला किया. मेरे मूह से आ आ निकल रहा था जब वो काट रहे थे. अब वो मेरी पनटी पे आया. उन्होने मेरी तरफ देखा, और मैने कुछ नही बोला.

फिर उन्होने खींच के मेरी पनटी निकाल दी, और फेंक दी. उसके बाद वो मेरी गांद को चूमने लगे, और बीते करने लगे. अब बारी थी छूट की. वो मेरे उपर आए और मुझे सीधा किया, और मुझे किस किया.

फिर वो बोले: सियु, अगर तू रेडी नही है तो हम इससे आगे नही करेंगे कुछ.

मैने उनकी तरफ देखा और बोला: ई’म रेडी, डॉन’त वरी.

उन्होने कुशन मेरी कमर के नीचे रखा, जिससे मेरी गांद थोड़ी उपर उठी, और मैने काफ़ी रिलॅक्स फील किया. फिर वो मेरे लिप्स के पास आए, और वाहा से मेरी छूट पे अपना हाथ फेर के रब कर रहे थे.

वो बोले: सियु, तुम्हारी छूट बहुत चिकनी है. तुम्हारा हज़्बेंड बहुत लकी होगा. ऐसी छूट नसीब वालो को मिलती है.

मैने बोला: फिलहाल आप सबसे ज़्यादा नसीब वाले हो.

उन्होने अपनी एक उंगली को अंदर डालने की कोशिश की, और मैं चीख पड़ी. फिर उन्होने उंगली बाहर ही निकाल दी, और वो खुश हुए और बोले-

पापा: सियु, इसको आज तक किसी से नही च्छुआ है?

मैने बोला: नही पापा, आप पहले इंसान है, जिसने इसको च्छुआ है. ई आम वर्जिन.

उन्होने मेरे लिप्स चूज़, और मेरी लेग्स के बीचे में आए.

फिर वो बोले: मैं तेरी इस ओपनिंग को ऐसा बनौँगा, की तुम हमेशा इस पल को याद करोगी. मैने बोला: मैं भी वही चाहती हू पापा.

और पापा ने मेरी लेग्स उपर की तरफ फोल्ड की, और खुद झुक गये, और अपने लिप्स मेरी छूट पे रखे. मुझे जैसे करेंट लगा. उन्होने मेरी छूट के लिप्स को तोड़ा वाइड किया, और छूट के दाने को मूह में लिया, और छूट को फुल जोश के साथ चाटने लगे.

मैं चीख उठी अया अया उफ़फ्फ़ ह. मैने बेड की बॅकसाइड को हाथो से पकड़ा, और सिसकियाँ ले रही थी. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.

करीब 20 मिनिट बाद मैने पापा के सर को अपनी छूट पे ज़ोर से दबाया, और मुझे ऐसा फील हुआ की कोई चीज़ मेरी टाँगो से चढ़ि और छूट से बाहर निकली.

मैं उनके मूह में ही झाड़ गयी. मैने उनके सर को ऐसे ही दबाए रखा, जब तक मैं पूरी तरह नही हुई. करीब 30 मिनिट तक पापा ने मुझे किस की, और मेरे निपल्स के साथ खेल रहे थे, और उन्हे चूस रहे थे.

कुछ देर बाद मैने पापा को बोला की मैं वॉशरूम जौंगी. फिर मैं वॉशरूम गयी, सस्यू किया, लिपस्टिक लगाई, और वापस आई.

मैने पापा को बोला: पापा मैं बहुत तक गयी हू.

पापा ने बोला: कोई नही, तू ऐसे ही बैठ. मैं तेरे लिए कॉफी बना के लता हू.

मैने बोला: ओक थॅंक्स.

फिर वो गये, और कुछ देर बाद कॉफी लाए. उस टाइम करीब 1 बजे थे. हमने कॉफी पी, और मैने बेडशीट उपर ली थी. पापा मेरी रिघ्त साइड से उतरे, और हम बातें करने लगे.

फिर उन्होने बोला: सियु, अब कुछ करे?

मैने उनकी तरफ देखा और स्माइल दी. फिर मैने बेडशीट साइड में की, और पापा के उपर चढ़ि. मैने उनके सीने को ज़ोर से काटा, जिससे वो चीख पड़े.

मैने उनको बोला: इट’स मी लोवे बीते.

और मैं उनके लिप्स को चूसने लगी ज़ोर से. मैने उनके पुर फेस पे लिपस्टिक के मार्क बनाए, और नीचे तक उनको चूमा, और फिरसे लिप्स चूज़ ज़ोर से करीब 10 मिनिट तक. वो मेरी गांद सहला रहे थे.

मैं अब फिरसे तोड़ा नीचे गयी, और उनकी निक्कर निकाल दी. उनका इतना मोटा लंड देख कर मैं हैरान हो गयी. मैं पापा को देख रही थी, और पापा बोले-

पापा: क्या हुआ, दर्र गयी?

मैने बोला: नही तो.

पापा ने मेरे सर को तोड़ा झुकाया, और इशारा किया. बिलीव मे, मैं नही करना चाहती थी. बुत मुझे पता नही क्या हुआ, की मैं नीचे झुकी, और उनका लंड मूह में ले लिया, और चूस रही थी, लीके आ स्लट.

ई वाज़ फीलिंग लीके मैं पापा की बेटी नही थी, कोई कॉल गर्ल थी. जो पापा का बिस्तर गरम करने के लिए आई थी. मैं पुर जोश के साथ चूस रही थी, और पापा ने मुझे लंड छ्चोढने के लिए कहा. बुत मैने नही छ्चोढा, और उनका सारा स्पर्म मेरे मूह और मेरे जिस्म पे लगा.

फिर करीब 20 मिनिट बाद मैं फिर रेडी हुई, और पापा मेरी लेग्स के बीच में आए और बोले-

पापा: सियु कॉंडम नही है. अगर तू बोलेगी तो कल करेंगे. या अगर तू बोलेगी तो अभी.

मैने बोला: पापा मैने सुनना है, बिना कॉंडम के ज़्यादा मज़ा आता है.

उन्होने बोला: हा.

मैने बोला: तो ठीक है.

और उन्होने मेरी छूट को रब किया. जब मेरी छूट पूरी तरह गीली हो गयी, तो मैने बोला-

मैं: पापा इसको कुछ लगाओ तेल वग़ैरा.

उन्होने बोला: नही, तेरी छूट बहुत चिकनी है. आराम से जाएगा.

मैने बोला: बहुत मोटा है.

फिर पापा ने अपना टोपा बिल्कुल बीच में रखा, और तोड़ा पुश किया. और मेरी चीख निकल गयी. पापा ने अपना पूरा वज़न मुझपे डाल दिया, और मेरे लिप्स बंद किए अपने लिप्स से.

फिर उनका वो टोपा अंदर गया, और मेरे आँसू निकल गये. पापा ने मुझे ज़ोर से पकड़ रखा था, और फिर उन्होने तोड़ा पीछे हॅट के एक और ज़ोरदार झटका मारा. मुझे लगा मैं मॅर गयी, और वो ऐसे ही बैठे और आयेज-पीछे करने लगे.

तोड़ा-तोड़ा मुझे अछा फील हुआ, बुत पाईं भी था. बुत पापा भी आराम से कर रहे थे. फिर पापा ने भी स्पीड पकड़ी, और मैं कंफर्टबल हो गयी. फिर वो पुर जोश से छोड़ने लगे, और मीं बस आ आ अफ कर रही थी.

पापा करीब 20 मिनिट बाद आउट हुए, और में तब तक 2 बार आउट हो चुकी थी. उनको कंट्रोल ही नही रहा, और वो मेरी छूट के अंदर ही आउट हो गये. फिर वो मेरे उपर ही लेट गये.

मैं भी ऐसे ही पड़ी रही. कुछ देर बाद जब दोनो थोड़े रिलॅक्स हुए, तो मैने पापा को बोला-

मैं: पापा आप ने सब कुछ अंदर ही छ्चोढ़ दिया, कुछ होगा तो नही?

उन्होने बोला: हा, तुम मेरे बच्चो की मा बन जाओगी.

मैने बोला: पापा मज़ाक छ्चोड़ो, और बोलो ना.

उन्होने बोला: वो ड्रॉयर में देखना बाद में उम्म्मा ने ई-पिल रखी होगी.

मैने बोला: अछा मुम्मा भी लेती है?

उन्होने बोला: नही, मैने ही रखी है. मुझे ज़रूरत पड़ती है.

मैने बोला: पापा, आज से आपकी सारी ज़रूरत मैं पूरी करूँगी.

उन्होने बोला: यहा नही पगली, अब्रॉड में भी पड़ती है.

मैने बोला: मैं वाहा भी अवँगी आपके साथ. फिर आपको जितना करना है उतना करना. वाहा कोई नही है हमे रोकने वाला.

फिर हम वैसे ही सो गये, और फिर सुबा पापा ने एक और रौंद मारा. उसके बाद हम उठे, और फिर 4 दिन तक हम कंटिन्यू करते रहे. फिर मुम्मा आई, और हम अलग-अलग सोने लगे.

फ्रेंड्स आपको मेरी रियल स्टोरी कैसी लगी मुझे मैल करके ज़रूर बोलिएगा. लोवे योउ ऑल और मेरे नाम पे हिलना भूलना नही, आप सब की सुहानी (सियु).

यह कहानी भी पड़े  किचन में मारी मा की गांद


error: Content is protected !!