बार में मिले अंकल्स ने लड़की की ग्रूप चुदाई की

ही गाइस, ई’म बॅक वित अनदर स्टोरी. फॉर तोसे हू डॉन’त नो मे, मेरा नाम स्वरा है, और मैं 21 साल की हू. मैं सूरत से हू. ज़्यादा इंट्रो में टाइम वेस्ट ना करते हुए सीधे स्टोरी पे आते है.

बात तब की है जब मैं कॉलेज ट्रिप पे गोआ गयी थी. हम सभी कॉलेज के लोग बस से गये थे, और वाहा कॉलेज का स्टाफ भी था. मुझे और मेरी फ्रेंड्स पिंकी और हीली को दारू पीनी थी. तो हमने डिसाइड किया की हम चुपके से कॉलेज ग्रूप से बंक मारते है, और बार में चले जाते है.

बार मैं जाते ही हम देखते है की वो एक डॅन्स बार था, और सब पी के नाच रहे थे. पिंकी ने और हीली ने 2-2 पेग मारे, तब तक मैं 4-5 पेग मार चुकी थी, और मैं होश में बिल्कुल नही थी. नशे में मैं सीधे भीड़ में चली गयी और नाचने लगी. मैं अपनी धुन में नाच रही थी सॉंग्स की बीट पे, और वाहा पिंकी और हीली को स्टाफ का कॉल आया तो वो दोनो मुझे ढूँढने लगी.

क्यूंकी वो भी नशे में थी, तो वो मुझे इस भीड़ में ढूँढ नही पाई, और दोनो वापस होटेल चली गयी, जहा हम ठहरे थे. उधर मैं तो अपनी धुन में मस्त नाच रही थी. वही नाचते-नाचते मैं एक ग्रूप में आई जो 3 अंकल का था, और उनके साथ नाचने लगी. वो भी मेरे साथ नाचने लगे. वो भी नशे मैं थे.

तीनो अंकल मुझे घेर के नाच रहे थे, और मैं उनके बीच में नाच रही थी. तीनो अंकल बहुत ही हॅंडसम थे, और एक-दूं हटते-काटते थे. जिम वाली फिट बॉडी थी तीनो की. फिर मैने उनमे से एक अंकल को बोला-

मैं: अंकल मुझे टाय्लेट जाना है.

तो वो मुझे हाथ पकड़ कर बाहर टाय्लेट ले गये, और उनके साथ दूसरे 2 अंकल्स भी आए. टाय्लेट बार वालो ने बंद कर रखा था, और मुझे इतनी ज़ोर से सस्यू आई थी की मैने अपनी पनटी उतार के, स्कर्ट उपर करके वही पे फर्श पे सस्यू कर दी. मैं तब बहुत नशे में थी, और मुझे खुद नही पता था की मैं क्या कर रही थी.

मुझे ऐसे सस्यू करते हुए देख कर तीनो अंकल आपस में हासणे लगे. जैसे ही मैं सस्यू करके आई, तो अंकल ने मेरा नामे पूछा, और मैं कहा से हू पूछा. फिर मैने उनका नाम पूछा तो उन्होने बताया एक का नामे विक्रम था, वो 42 यियर्ज़ के थे और अंबाला से थे. दूसरे अंकल का नामे जातीं (36 यियर्ज़) और संकल्प (38 यियर्ज़) था, और वो दोनो देल्ही से थे.

मुझे सस्यू करने विक्रम अंकल ही ले गये थे हाथ पकड़ कर. मैं ठीक से चल भी नही पा रही थी. तभी विक्रम अंकल ने बोला-

विक्रम: स्वरा तुम अभी होश में नही हो, ऐसा करो हमारे साथ रिज़ॉर्ट चलो.

और मैं चलने को रेडी भी हो गयी. जातीं अंकल कार लेके आए, और संकल्प अंकल आयेज की सीट पे बैठ गये. विक्रम अंकल ने मुझे पीछे की सीट पे बिताया, और वो भी बैठ गये. विक्रम अंकल को देख कर मैं इतना हॉर्नी फील कर रही थी, और वो मुझे आचे लगने लगे थे, की मैने अचानक से उनको किस कर दिया. वो भी मेरा साथ देने लगे.

हम पूरी जर्नी गाड़ी मैं बैठ कर स्मूच करते-करते आए. जातीं आंड संकल्प अंकल आयेज बैठ के हस्स रहे थे, और बोले-

वो दोनो: ये तो अभी से ही चालू पद गयी.

रिज़ॉर्ट आते ही विक्रम अंकल मुझे अपने रूम में ले गये. मुझे वापस सस्यू आई तो मैं पनटी बाहर बेड पे ही उतार के बातरूम चली गयी. मैं अपनी स्कर्ट उपर करके सस्यू कर रही थी. तभी विक्रम अंकल अंदर आ गये बातरूम में और मेरी छूट को देख कर बोले-

विक्रम: छूट तो तेरी मस्त है स्वरा. पहले कभी चूड़ी हो? मैने कहा: हा अंकल, मैने 2 बार किया है अपने एक्स-ब्फ के साथ.

फिर अंकल बोले: छूट तो तेरी अभी भी मस्त है, टाइट एक-दूं, तेरा ब्फ तुझे ठीक से नही छोड़ता था क्या?

तो मैने कहा: अंकल आप छोड़ दो मुझे प्लीज़, मैं बहुत हॉर्नी हू, और मुझे आप से चूड़ना है.

फिर अंकल बोले: आजा चुदाई का असली मज़ा देता हू तुझे. पहले मूट के आता हू.

और वो बातरूम चले गये. अंकल बातरूम से बाहर आए, तब तक मैं कपड़े उतार के पूरी नंगी लेती थी बेड पे. अंकल बाहर आते ही मुझे नंगा देख चौंक गये और बोले-

विक्रम: बेहन की लोदी, तू तो तैयार होके लेट गयी नंगी होके. इतनी तड़प है क्या तुझे चूड़ने की? आजा तुझे छोड़ता हू.

ऐसा बोलते ही पंत और शर्ट उतार के अंकल मुझ पर चढ़ गये, और मेरी छूट चाटने लगे. अंकल इतना मस्त छूट चाट रहे थे, की मुझे ऐसा लग रहा था की मैं जन्नत में थी. मेरी पूरी छूट अपने मूह में लेके अंकल मज़े से चूस रहे थे, और अपने मज़बूत और हेरी हाथ से मेरे बूब्स दबा रहे थे.

अंकल ने अपनी उंगलियों से मेरी छूट खोली, और चाटने लगे, और बोले-

विक्रम: भोंसड़ी की, छूट है या मलाई? इतनी चिकनी छूट मैने आज तक नही देखी.

फिर अंकल ने मेरे पैर उनके कंतो पर रखे, और एक ही झटके में उन्होने उनका पूरा लोड्‍ा मेरी छूट में डाल दिया. मुझे बहुत दर्द हुआ. फिर धीरे-धीरे करके अपनी गांद उठा के अंकल झटके मार के मुझे छोड़ने लगे.

तभी संकल्प अंकल ने बाहर से दरवाज़ा नॉक किया और बोले: सेयेल तू अकेले ही लेता रहेगा, या हमे भी मौका देगा?

ये सुनते ही विक्रम अंकल ने मेरी छूट में लोड्‍ा फ़ससा के मुझे हवा में उठा लिया, और खड़े हो गये. उनका लंड मेरी छूट में ही था, और ऐसे ही मुझे हवा में उठा के वो दरवाज़ा खोलने गये. फिर जातीं और संकल्प अंकल अंदर आ गये, और दोनो नंगे हो गये.

विक्रम अंकल ने मुझे सोफा पे ही पटक दिया, और तीनो अंकल खड़ा लोड्‍ा लेके मेरी तरफ खड़े हो गये. अब मैं घुटनो के बाल बैठ के तीनो का लंड बारी-बारी से चूसने लगी. विक्रम अंकल का लंड सबसे मोटा और क्लीन शेव्ड था. जातीं अंकल का छ्होटा था मगर क्लीन था, और संकल्प अंकल का बड़ा और बालों वाला था.

तीनो बारी-बारी से मेरा मूह छोड़ने लगे. फिर संकल्प अंकल सोफा पे लेट गये, और मैं उनके उपर लेट गयी, और वो ज़ोर-ज़ोर से मेरी छूट छोड़ने लगे. मैं जातीं और विक्रम अंकल दोनो का एक साथ लंड चूस रही थी.

तभी मैने कहा: अंकल एक मिनिट, मुझे सस्यू करने जाना है.

तो विक्रम अंकल बोले: यही मूट दे, कही नही जाना है. साली ये मूट-ती बहुत है.

मैं सोफा पे टाँगे फैला के बैठ थी. तभी वो तीनो अंकल अपना मूह खोल के मेरी छूट के पास ले गये और बोले अब मूट. फिर मैने बारी-बारी से तीनो के मूह में मूट दिया. वो मेरा मूट पी रहे और और मेरे मूट से अपना फेस धो रहे थे. फिर जातीं अंकल आए, और मेरी गांद छोड़ने लगे.

जातीं अंकल का लंड मेरी गांद में, संकल्प अंकल का छूट में, और विक्रम अंकल का मेरे बूब्स के बीच में था. तीनो मज़े से मुझे छोड़ रहे थे. बारी-बारी से तीनो अंकल मुझे छोड़ रहे थे, और झाड़ रहे थे. पूरी रात में तीनो अंकल ने मुझे 5-5 बार छोड़ा टर्न्स लेके, और मुझे इतने सारे ऑर्गॅज़म्स आए.

मुझे पहली बार चुदाई करके इतना मज़ा आ रहा था. मैं चाहती थी की इस रात की सुबह कभी ना हो, और पता नही ऐसे ही चुदाई करते-करते कब हम सब सो गये. सुबह जब मैं उठी तो मैने देखा की मैं ज़मीन पे नंगी लेती थी. संकल्प अंकल नंगे सोफा पे लेते थे, और विक्रम और जातीं अंकल बेड पे सोए हुए थे.

मैने चुपके से कपड़े पहने, और रिज़ॉर्ट के बाहर चली गयी. मुझे छूट में और गांद में इतना दर्द हो रहा था की मैं ठीक से चल भी नही पा रही थी. मैने फोन देखा तो पता चला की पिंकी और हीली के 50 मिस्ड कॉल्स थी.

ये चुदाई के बाद मुझे मेरे पीरियड्स नही आए तो मैने सोचा की मैं प्रेगा-शुवर से टेस्ट करती हू. फिर मैं प्रेग्नेन्सी कीट ले आई और देखा की मैं प्रेग्नेंट थी. ये जानते ही मेरे होश उडद गये. गाइस आपको क्या लगता है कों से अंकल ने मुझे प्रेग्नेंट किया कॉमेंट में बताओ. मेरे पेट में किसका बच्चा है विक्रम अंकल, संकल्प अंकल, या जातीं अंकल का?

यह कहानी भी पड़े  मेरी मम्मी और मौलाना की सुहागरात


error: Content is protected !!